Wasabi: वसाबी क्या है?

By Medically reviewed by Dr. Shruthi Shridhar

परिचय

वसाबी(Wasabi) क्या है?

वसाबी एक हर्ब है जिसे जापानी हॉरसरेडिश भी कहा जता है। इसकी जड़ का प्रयोग खाने में मसाले के रूप में किया जाता है। टेस्ट में ये बहुत तीखा होता है। इसकी खेती मुख्य रूप से जापान में की जाती है। पोषक तत्वों से भरपूर वसाबी कई स्वास्थय संबंधी परेशानियों से बचाने में मद्दगार है। इसमें फाइबर, प्रोटीन, कैल्शियम, मैग्नीजियम, सोडियम और जिंक होता है। इसके साथ ही इसमें फोलेट, विटामिन-ए, विटामिन-बी6 और विटामिन-सी भी होते हैं, जो कई तरह से हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत जरूरी होते हैं। बहुत सारे लोग इसका सेवन दिल संबंधित बीमारियां, कैंसर और ऑस्टियोपोरोसिस से बचाव के लिए करते हैं।

यह भी पढ़ें: Gastroenteritis: गैस्ट्रोएंटेराइटिस क्या है?

वसाबी का उपयोग किस लिए किया जाता है?

ब्लड सर्क्युलेशनको करे बेहतर

कई रिसर्च के अनुसार, वसाबी में सल्फिनिक यौगिक पाया जाता हैं जो बल्ड सर्क्युलेशन के लिए बहुत फायदेमंद होता है। स्ट्रोक और ब्‍लड क्‍लॉट को रोकने में भी हेल्‍प करता है।

यह भी पढ़ें: पेट दर्द (Stomach Pain) से बचने के प्राकृतिक और घरेलू उपाय

कैंसर से करे बचाव

इसमें एंटी-कैंसर गुण पाए जाते हैं जो शरीर से फ्री रेडिकल्‍स को दूर करने में कारगर है। कई अध्ययनों में इस बात की पुष्टी हुई कि यह आपके शरीर में मौजूद कैंसर सेल्स को नष्ट करने में मदद करता है। इसमें मौजूद आइसोथियोसाइनेटस (isothiocyanates) कैंसर से कवच प्रदान करता है।

दिल को रखे स्वस्थ

वसाबी के सेवन से दिल संबंधित बीमारियां दूर रहती हैं। इसमें एंटी-हाइपरकोलेस्ट्रॉलेमिक (hypercholesterolemic) प्रॉपर्टीज होती हैं, जो कोलेस्ट्रॉल को कम करने के साथ स्ट्रोक और हार्ट अटैक के खतरे को कम करती हैं।

यह भी पढ़ें: जानिए महिलाओं में हार्ट अटैक के लक्षण पुरुषों की तुलना में कैसे अलग होते हैं

वेट लॉस

कुछ रिसर्च बता ते हैं कि वसाबी की पत्तियों में कुछ ऐसे कंपाउंडस होते हैं जो वसा कोशिकाओं के विकास को रोकता है।

सांस संबंधित परेशानियों को करे दूर

वसाबी में गैस कंपोनेंट्स होते हैं जो नाक के रास्ते से साइनस के लिए शक्तिशाली प्रतिक्रिया का कारण बनते हैं। ये निमोनिया और इन्फ्लूएंजो को होने से रोकता है। इसकी गंध बहुत तेज होती है, लेकिन स्वास्थ्य के लिए यह बहुत असरदार होती है। ये उन लोगों के लिए बहुत फायदेमंद होती है जो मौसमी एलर्जी से पीड़ित होते हैं।

यह भी पढ़ें: साइनस (Sinus) को हमेशा के लिए दूर कर सकते हैं ये योगासन, जरूर करें ट्राई

आर्थराइटिस को रखे दूर

वसाबी भी एंटी-इंफ्लमेटरी गुण होते हैं जिनसे सूजन और दर्द से राहत मिलती है। इसमें पाए जाने वाला आइसोथियोसिएनिन्स, मसल्‍स और लिगमेंट की सूजन को कम करता है। कई शोध में पाया गया कि वसाबी ऑस्टियोपोरोसिस (osteoporosis) के जोखिम को कम करने में मदद करता है।

इंफेक्शन को करे कम

इसमें एंटी-बैक्टीरियल, एंटी-माइक्रोबियल और एंटी-वायरल एजेंट होते हैं, जो बैक्टीरिया की ग्रोथ को रोकते हैं। साथ ही शरीर में इंफेक्शन को फैलने से भी रोकते हैं।

डाइजेस्टिव सिस्टम

वसाबी हमारे शरीर से हानिकारक टॉक्सिन को निकालने और आंतों को साफ रखने में मदद करता है। ये कब्ज और पेट में होने वाली सूजन को भी कम करता है। इसके अलावा ये आपको गैस्ट्रिक समस्याओं से भी राहत दिलाता है।

कैसे काम करता है वसाबी?

वसाबी में एंटी-बैक्टीरियल, एंटी-कैंसर और एंटी-इंफ्लमेटरी गुण होते हैं, जिसके चलते यह एलर्जी, सूजन, इंफेक्शन और कैंसर के इलाज में मदद करता है। ये पोटेशियम और विटामिन-सी का भी अच्छा स्त्रोत है। इसमें हाई लेवल के एंटी-ऑक्सीडेंटस भी होते हैं जो कोलेस्ट्रॉल लेवल को कम करने में मदद करते हैं। Wasabi also slows blood clotting and stimulates bone growth.

यह भी पढ़ें: विटामिन-सी के ये 5 फायदे, शायद नहीं होंगे पता

यह भी पढ़ें: विटामिन-सी की कमी होने पर क्या करें? जानें इसके उपाय

यह भी पढ़ें: नाखूनों में ये बदलाव हो सकते हैं नेल इंफेक्शन के लक्षण, जानिए इसके उपचार

उपयोग

कितना सुरक्षित है वसाबी का उपयोग ?

इसका सीमित मात्रा में सेवन करना सुरक्षित है, लेकिन अधिक मात्रा में इसे लेना नुकसानदायक हो सकता है। इसका अधिक मात्रा में सेवन करना लिवर को डैमेज कर सकता है। इसमें हिपैटोटॉक्सिन नामक केमिकल कंपाउंडस होता है जिसकी अधिक मात्रा होने से टोक्सिनस बाहर नहीं निकलते और लिवर के खराब होने की संभावना बढ़ जाती है।

यह भी पढ़ें: हेल्दी लिवर के लिए खतरनाक हो सकती हैं ये 8 चीजें

  • अगर आपको किसी खाने की चीज से एलर्जी है तो इसका सेवन करने से पहले अपने डॉक्टर से सलाह लें।
  • प्रेग्नेंट और ब्रेस्ट फीडिंग कराने वाली महिलाएं इसके सेवन से बचें। डॉक्टर से कंसल्ट करें बिना इसका सेवन करने की गलती बिल्कुल न करें।
  • ब्लीडिंग डिसऑर्डर से ग्रसित लोगों का इसका सेवन नहीं करना चाहिए।
  • अगर आपकी कोई सर्जरी होने वाली है तो उसके 15 दिन पहले ही इसका सेवन करना बंद कर दें।

साइड इफेक्ट्स

वसाबी से मुझे क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?

यह भी पढ़ें: डायरिया होने पर राहत पाने के लिए अपनाएं ये 7 घरेलू उपाय

डोसेज

वसाबी को लेने की सही खुराक

इस हर्बल की खुराक हर मरीज के लिए अलग हो सकती है। आपके द्वारा ली जाने वाली खुराक आपकी उम्र, स्वास्थ्य और कई चीजों पर निर्भर करती है। हर्बल सप्लीमेंट हमेशा सुरक्षित नहीं होते हैं। इसलिए सही खुराक की जानकारी के लिए हर्बलिस्ट या डॉक्टर से चर्चा करें।

यह भी पढ़ें: प्रोटीन सप्लीमेंट (Protein Supplement) क्या है? क्या यह सुरक्षित है?

उपलब्ध

किन रूपों में उपलब्ध है?

  • रॉ वसाबी
  • वसाबी कैप्सूल्स
  • वसाबी डायटरी पाउडर

रिव्यू की तारीख अक्टूबर 7, 2019 | आखिरी बार संशोधित किया गया अक्टूबर 8, 2019