QUIZ : आयुर्वेदिक डिटॉक्स क्विज खेल कर बढ़ाएं अपना ज्ञान

    QUIZ : आयुर्वेदिक डिटॉक्स क्विज खेल कर बढ़ाएं अपना ज्ञान

    आयुर्वेदिक डिटॉक्स क्विज शुरू करने से पहले बात कर लेते हैं आयुर्वेद की, आयुर्वेद सबसे पुरानी चिकित्सा प्रणाली है, जिसे जीवन का आधार माना गया है। आयुर्वेद के अनुसार मनुष्य का शरीर पांच तत्वों से मिल कर बना है- वायु, पृथ्वी, अग्नि, आकाश और जल। इन पांच तत्वों के अलग-अलग संयोजन को तीन दोषों में बांटा गया है। जिसे वात, कफ और पित्त दोष कहते हैं। जब शरीर में किसी भी तरह का असंतुलन होता है तो वात दोष, कफ दोष या पित्त दोष के कारण समस्या होने लगती है। जिसे शुद्ध करने की प्रक्रिया ही आयुर्वेदिक डिटॉक्स कहलाती है।

    आयुर्वेदिक डिटॉक्स पूर्वकर्म, पंचकर्म, आहार, ध्यान, योग आदि की मदद से किया जाता है। आयुर्वेद में आहार तीनों प्रकार के दोषों के हिसाब से किया जाता है। आयुर्वेदिक डिटॉक्स करने से वजन कम होता है, मोटापा कम होता है। इसके अलावा दिल की बीमारी, डायबिटीज, कई तरह के कैंसर का भी इलाज किया जाता है। हालांकि, आयुर्वेदिक डिटॉक्स में कुछ कमियां भी है। पंचकर्म में कई क्रियाएं ऐसी होती हैं, जो व्यक्ति को नुकसान पहुंचा सकती हैं या फिर उसे क्रियाओं के दौरान परेशानी हो सकती है।

    तो आइए आयुर्वेदिक डिटॉक्स क्विज खेलना शुरू करते हैं और इसके अन्य पहलुओं के बारे में भी जानते हैं :

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    सूत्र

    A glimpse of Ayurveda – The forgotten history and principles of Indian traditional medicine https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5198827/ Accessed on 25/8/2020

    Shirodhara: A psycho-physiological profile in healthy volunteers https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3667433/ Accessed on 25/8/2020

    Ayurnutrigenomics: Ayurveda-inspired personalized nutrition from inception to evidence https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4624353/ Accessed on 25/8/2020

    Exploring Ayurvedic Knowledge on Food and Health for Providing Innovative Solutions to Contemporary Healthcare https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4815005/ Accessed on 25/8/2020

    Ayurveda and the science of aging https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC6148064/ Accessed on 25/8/2020

    लेखक की तस्वीर badge
    Shayali Rekha द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 24/05/2021 को
    डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड