home

आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

नवजात शिशु का औसतन वजन कितना होना चाहिए? इसे जानने में आपकी मदद कर सकता है यह वेट चार्ट!

नवजात शिशु का औसतन वजन कितना होना चाहिए? इसे जानने में आपकी मदद कर सकता है यह वेट चार्ट!

नवजात शिशु का औसतन वजन कितना होना चाहिए? या बढ़ते महीनों के अनुसार बच्चे का वजन कितना होना चाहिए? यह सवाल अधिकतर पेरेंट्स के मन में होता है। बच्चे का वजन सही होना बहुत जरूरी है, लेकिन औसतन वजन किसे कहते हैं? यह भी एक बड़ा सवाल है। हम आपको बता दें कि औसतन वजन, बच्चे की उम्र और लिंग के अनुसार तय किया जाता है। लेकिन बच्चे का वजन कम होने का यह बिल्कुल भी मतलब नहीं है कि आपके बच्चे का शरीरिक विकास ठीक नहीं। वजन को सीधे तौर पर खराब शारीरिक विकास से नहीं जोड़ सकते हैं। जानिए यहां नवजात शिशु का औसतन वजन (Average Newborn Baby Weight) और बढ़ते उम्र के अनसार वेट चार्ट के बारे में।

और पढ़ें: सोते हुए शिशु को डकार दिलाने में होती हैं परेशान? ये स्ट्रेटजी कर सकती हैं मुश्किल आसान

नवजात शिशु का औसतन वजन कितना होना चाहिए (What is the average weight of a newborn baby)?

नवजात शिशु का औसतन वजन कितना होना चाहिए, यह वजन मापने के आधार को समझना पड़ेगा। कई पेरेंट्स अपने बच्चे के वजन को लेकर परेशान रहते हैं, सभी पेरेंट्स चाहते हैं कि उनके बच्चे का वजन औसत हो। वजन अच्छे पोषण और शारीरिक विकास का एक संकेत है। इसलिए हर महीने शिशुओं के औसत वजन के बारे में जानना मददगार हो सकता है। सबसे पहले, ध्यान देने योग्य बात यह है कि औसत वजन “सामान्य” वजन नहीं होता है। वयस्कों की तरह, बच्चों का वजन उनकी हाइ्ट और उम्र के अनुसार सही माना जाता है। यदि किसी बच्चे का वजन कम पर्सेंटाइल में है, तो यह जरूरी नहीं कि उस बच्चे के शारीरिक विकास में किसी समस्या हो रही है। तो ऐसे में बच्चे की बढ़ती उम्र के अनुसार उसके वेट चार्ट का उपयोग कर के बच्चे का औसत वजन और उसके विकास को सामान्य रूप से ट्रैक किया जा सकता है।रोग नियंत्रण और रोकथाम केंद्र (सीडीसी) द्वारा 2 वर्ष तक के बच्चों के लिए विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के वजन चार्ट का उपयोग करने की सलाह देते हैं।

और पढ़ें: Baby Modeling: बेबी मॉडलिंग के दौरान इन टिप्स का रखा जा सकता है ध्यान!

नवजात शिशु का औसतन वजन (Average weight of newborn)

डब्ल्यूएचओ के अनुसार, बच्चाें में लड़के का औसत बर्थ वेट 7 पाउंड (एलबी) 6 औंस (ओज) या 3.3 किलोग्राम (किलो) के लगभग माना जाता है। वहीं जन्म ली एक लड़की का औसतन बर्थ वेट 7 पौंड 2 औंस या 3.2 किलोग्राम है। 37-40 सप्ताह में जन्म लेने वाले बच्चे का औसत वजन 5 पौंड 8 औंस से 8 पौंड 13 औंस तक होता है। यह 2.5 से 4 किलो है। प्रसव के समय, विशेषज्ञों का मानना है कि जन्म के समय कम वजन 5 पौंड 8 औंस या 2.5 किलोग्राम से कम होना चाहिए। जन्म के तुरंत बाद शिशुओं का अपना लगभग 10% वजन कम होना आम बात है। आमतौर पर इसमें कोई चिंता की बात नहीं है। अधिकांश शिशुओं का वजन 1 सप्ताह के भीतर वापस बढ़ जाता है।

और पढ़ें: ऑर्गेनिक बेबी फॉर्मुला में किन प्रोडक्ट का किया जा सकता है इस्तेमाल?

नवजात शिशु का औसतन वजन : उम्र के हिसाब से बच्चे का वेट चार्ट (Average weight of newborn)

नवजात शिशु का औसतन वजन जानना चाहते है, तो यहां इस चार्ट को समझें। वेट चार्ट पेरेंट्स को बच्चे का वजन ट्रेक करने में मदद कर सकता है कि उसके बच्चे का वजन किस प्रतिशतक में आता है। उदाहरण के लिए, यदि उनका वजन 60वें पर्सेंटाइल में है, तो इसका मतलब है कि समान उम्र और लिंग के 40% शिशुओं का वजन अधिक होता है, और इनमें से 60% शिशुओं का वजन कम होता है। इसका मतलब यह नहीं है कि किसी भी बच्चे का वजन बहुत अधिक या बहुत कम होता है। यह केवल यह संकेत कर सकता है कि एक बच्चे का वजन एक स्पेक्ट्रम पर कहां निधार्रित है। ध्यान दें बच्चे के इस वेट चार्ट की तरफ:

  • जन्म के समय नवजात शिशु का औसतन वजन 3.3 किलोग्राम के लगभग।
  • 1 महीने के लड़के का वजन 4.2 किग्रा और लड़की का वजन 4.5 किग्रा।
  • 2 महीने महीने के लड़के का वजन 5.1 किग्रा और लड़की का वजन 5.6 किग्रा।
  • 3 महीने के लड़के का वजन 5.8 किग्रा और लड़की का वजन 6.4 किग्रा।
  • 4 महीने के लड़के का वजन 6.4 किग्रा और और लड़की का वजन 7.0 किग्रा
  • 5 महीने के लड़के का वजन 6.9 किग्रा और लड़की का वजन 7.5 किग्रा।
  • 6 महीने के लड़के का वजन 7.3 किग्रा और लड़की का वजन 7.9 किग्रा।
  • 7 महीने के लड़के का वजन 7.6 किग्रा और लड़की का वजन 8.3 किग्रा।
  • 8 महीने के लड़के का वजन 7.9 किग्रा और लड़की का वजन 8.6 किग्रा।
  • 9 महीने के लड़के का वजन 8.2 किग्रा और लड़की का वजन 8.9 किग्रा।
  • 10 महीने के लड़के का वजन 8.5 किग्रा और लड़की का वजन 9.2 किग्रा।
  • 11 महीने के लड़के का वजन 8.7 किग्रा और लड़की का वजन 9.4 किग्रा।
  • 12 महीने के लड़के का वजन 8.9 किग्रा और लड़की का वजन 9.6 किग्रा।

और पढ़ें: बेबी स्लीप रिग्रेशन: इस तरह से मैनेज करें बच्चों के इस स्लीप डिसऑर्डर को!

नवजात शिशु का औसतन वजन को लेकर क्या उम्मीद करें (What to expect about the average weight of a newborn)

जन्म के बाद के पहले 6 महीनों में बच्चे सबसे तेजी से बढ़ते हैं और उनका वजन भी बढ़ता है। हालांकि यह अलग-अलग हो सकता है, पहले 4-6 महीनों में शिशुओं का वजन प्रति सप्ताह लगभग 113-200 ग्राम के लगभग बढ़ जाता है। उसके बाद वजन बढ़ना थोड़ा धीमा हो जाती है।जब बच्चा 6-18 महीने का होता है, तब उसका वजन बढ़ना थोड़ा धीमा हो जाता है , तो प्रति सप्ताह औसतन 85-140 ग्राम के लगभगर की वृद्धि होती है। औसतन, बच्चे अपने पहले जन्मदिन तक उसका वजन जन्म के वजन से तीन गुना तक हो जाता है। हालांकि, कुछ बच्चों का वजन लगातार बढ़ता जाता है और कई महीनों तक उसी पर्सेंटाइल या उसके करीब रहते हैं।

और पढ़ें: बेबी स्लीप रिग्रेशन: इस तरह से मैनेज करें बच्चों के इस स्लीप डिसऑर्डर को!

नवजात शिशु का औसतन वजन को क्या प्रभावित करता है (What affects the average weight of a newborn)?

यह महत्वपूर्ण है कि शारीरिक विकास के एकमात्र संकेतक के रूप में वजन पर ध्यान न दिया जाए। अन्य मापों की तरफ भी ध्यान दें कि बच्चे की लंबाई और उम्र के अनुसार वजन कितना सही है। इस बात की तरफ भी ध्यान दें कि आपके बच्चे के उम्र के लिंग वाले दूसरे बच्चों का कितना वजन है। इसके अलावा, बच्चे के वजन को प्रभावित करने वाले कारकों में शामिल हैं:

लिंग (Gender)

नर नवजात शिशु मादा नवजात शिशुओं से बड़े होते हैं, और वे आमतौर पर शैशवावस्था के दौरान थोड़ा तेजी से वजन बढ़ाते हैं।

पोषण (Nutrition)

वजन बढ़ना और वृद्धि दर इस बात पर भी निर्भर कर सकती है कि बच्चा मां का दूध पीता है या फार्मूला मिल्क।अमेरिकन एकेडमी ऑफ पीडियाट्रिक्स ने नोट किया है कि पहले 6 महीनों के दौरान स्तनपान करने वाले बच्चों का वजन, फार्मूला से पीड़ित बच्चों की तुलना में तेजी से बढ़ता है।हालांकि, यह दर 6 महीनों के दौरान बदल सकती है। स्तनपान करने वाले शिशुओं का वजन 6 महीने से 1 वर्ष की आयु के होने पर फार्मूला मिल्क लेने वाले शिशुओं की तुलना में अधिक धीरे-धीरे बढ़ सकता है।

और पढ़ें: शिशु के लिए बेबी सोप कहीं ना बन जाए एलर्जी का कारण!

नवजात शिशु का औसतन वजन के बारे में आपने जाना यहां। कई स्वास्थ समस्याओं के कारण बच्चे का वजन अधिक धीरे-धीरे बढ़ सकता है, उदाहरण के लिए, जन्मजात हृदय संबंधी अनियमितताओं वाले बच्चे इस स्थिति के बिना शिशुओं की तुलना में धीमी गति से वजन बढ़ सकता है।स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं, जो पोषक तत्वों के अवशोषण या पाचन को प्रभावित करती हैं, जैसे कि सीलिएक रोग, भी धीमी गति से वजन बढ़ने का कारण बन सकता है। नवजात शिशु का औसतन वजन के बारे में अधिक जानकारी के लिए डाॅक्टर से बात करें।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Physical Growth in Newborns : https://www.uofmhealth.org/health-library/te6295 Accessed 10 Jan,2022

Your Newborn’s Growth : https://kidshealth.org/en/parents/grownewborn.html Accessed 10 Jan,2022

Average Newborn Weight : https://americanpregnancy.org/healthy-pregnancy/first-year-of-life/newborn-weight-gain/ Accessed 10 Jan,2022

Maternal Behavior and Infant Weight Gain in the First Year : https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC2695680/ Accessed 10 Jan,2022

Data Table of Infant Weight-for-age Charts : https://www.cdc.gov/growthcharts/html_charts/wtageinf.htm Accessed 10 Jan,2022

लेखक की तस्वीर badge
Niharika Jaiswal द्वारा लिखित आखिरी अपडेट कुछ दिन पहले को
Sayali Chaudhari के द्वारा मेडिकली रिव्यूड