आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

कब नवजात में होता है बाल, त्वचा और नाखूनों का विकास?

    कब नवजात में होता है बाल, त्वचा और नाखूनों का विकास?

    जब महिला मां बनने वाली होती है, तो उसके मन में समय बीतने के साथ ही यह सवाल भी आता है कि आखिर बच्चे का विकास कितना हुआ है? बच्चे के कब स्किन बनना शुरू हो जाती है या कब बालों का विकास होता है या कब नाखून बनने शुरू हो जाते हैं। यह यह प्रक्रिया धीमे-धीमे शुरू होती है और प्रसव से पहले ही बच्चे में बालों का विकास, नाखूनों का विकास और त्वचा का विकास हो जाता है। जब बच्चा पैदा होता है, तो उसके सर पर और शरीर पर आपको हल्के-हल्के बाल दिखाई देने लगते हैं। प्रश्न यह उठता है कि आखिर गर्भावस्था के किस महीने में बाल, त्वचा और नाखूनों का विकास (Growth of hair, skin and nails) होता है। आइए इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको इस विषय के बारे में विस्तार से बताते हैं।

    और पढ़ें: Best Baby Mittens: बेबी मिटन्स के कितने होते हैं प्रकार, जानिए बेबी मिटन्स के बारे में!

    बाल, त्वचा और नाखूनों का विकास (Growth of hair, skin and nails)

    गर्भधारण के कुछ समय बाद ही भ्रूण 3 लेयर यानी कि 3 परतों से बनकर तैयार हो जाता है। यह एंडोडर्म, मेसोडर्म और एक्टोडर्म कहलाती है। गर्भावस्था के तीसरे सप्ताह में एक्टोडर्म बन जाने से त्वचा बाल और नाखून का विकास शुरू हो जाता है। जब बच्चा गर्भ में होता है, तो धीरे-धीरे तो त्वचा, नाखून और बालों का विकास शुरू हो जाता है। इस दौरान शरीर में विभिन्न प्रकार के परिवर्तन होते हैं।

    बाल, त्वचा और नाखूनों का विकास: जानिए कब होता है बालों का विकास?

    गर्भावस्था के करीब 14 सप्ताह बाद बच्चे के बाल आना शुरू हो जाते हैं। यह बहुत ही छोटे होते हैं और बच्चे के आयलैशेज और आइब्रोज भी करीब 22 सप्ताह में आ जाते हैं। प्रेग्नेंसी के दौरान बच्चों के बालों का विकास होने के बाद एक बार वह उगते हैं और झड़ने के बाद दोबारा बाल आते हैं। यह एक प्रकार की सायकल होती है, जिसमें रोम की तरीके बाल आते हैं और फिर उसके बाद बाल झड़ना भी शुरू हो जाते हैं। ऐसा जरूरी नहीं है कि बच्चे के जन्म के बाद उसके सिर पर बहुत सारे बाल है। कुछ बच्चों के सिर पर बहुत हल्के बाल होते हैं, वहीं कुछ बच्चों के सिर पे ज्यादा बाल होते हैं। यह सायकल पर निर्भर करता है।

    और पढ़ें: Babyproofing: घर को कैसे बनाएं बेबीप्रूफ, ताकि आपके नन्हें को न पहुंचे चोट!

    अक्सर माओं के मन में ये सवाल आता है कि आखिर बच्चे के सिर पर बाल पतले होंगे या फिर मोटे। इसका जवाब है कि यह बच्चे की अनुवांशिकी पर निर्भर करता है। अगर आप प्रेग्नेंसी के दौरान बहुत ज्यादा हार्टबर्न की समस्या (Heartburn problem) महसूस करती हैं, तो इस बात का मतलब यह हो सकता है कि आपके बच्चे के बाल बहुत अच्छे होंगे या उनकी ग्रोथ अच्छी हो सकती है। कुछ शोधकर्ताओं ने इससे संबंधित सबूत भी पाए हैं। इस बात का सौ प्रतिशत समर्थन नहीं किया जा सकता है। शिशु के बालों का विकास 8 से 12 सप्ताह के दौरान हो जाता है।

    अगर आपके मन में ये सवाल हो कि आखिर बच्चे के बालों का रंग कैसे निर्धारित होता है, तो हम आपको बताते चले कि ये पूरी तरह से माता-पिता के जीन पर निर्भर करता है। अगर आपके बालों का रंग भूरा है, तो संभावना बढ़ जाती है कि बच्चे के बालों का रंग भूरा हो। आप इसे ऐसे भी समझ सकते हैं कि यदि माता-पिता में से एक गोरा है, और दूसरे का रंग गहरा है, तो एक बच्चे के गोरा होने की संभावना लगभग 50 प्रतिशत है। लैनुगो बालों की एक नीची परत है, जो बच्चे के शरीर को यूट्रस में ढकती है ताकि उसे गर्म रखने में मदद मिल सके। गर्भावस्था के 14वें सप्ताह तक, आपके शिशु पर इसकी एक कोटिंग हो जाएगी। जानिए बाल, त्वचा और नाखूनों का विकास (Growth of hair, skin and nails) के क्रम में, कैसे बच्चे की स्किन का होता है विकास।

    और पढ़ें: बेबी स्लीप रिग्रेशन: इस तरह से मैनेज करें बच्चों के इस स्लीप डिसऑर्डर को!

    बाल, त्वचा और नाखूनों का विकास: जानिए कब होता है बच्चे की स्किन का विकास?

    बालों के विकास के बाद शरीर की त्वचा का विकास भी महत्व रखता है। गर्भावस्था के पांचवे से 8वें सप्ताह के बीच बच्चे की एपिडर्मिस उभरने लगती है। इसमें दो परते होती हैं। एक होती है बेसल सेल्स और दूसरी होती है पैरीडर्म। लगभग 9 या 10 सप्ताह की गर्भवती महिला में एक इंटरमीडिएट लेयर बनना शुरू हो जाती है। यह बेसल और पैरीडर्म परत के बीच में होती है, जहां पर बच्चे के रोम छिद्र का विकास होता है। आने वाले सप्ताह में बच्चे की स्किन का बनना जारी रहता है और 4 महीने के अंदर बच्चे की त्वचा की सभी परते बन जाती हैं। गर्भावस्था के अंतिम सप्ताह में शिशु की ट्रांसपेरेंट स्किन दिखने लगती है क्योंकि उसके शरीर में फैट यानी की वसा की मात्रा बहुत कम होती है। 32 सप्ताह में बच्चे की पारदर्शिता त्वचा बदलने लगती है।

    19वें सप्ताह तक बच्चे की त्वचा वर्निक्स केसोसा (vernix caseosa) से ढकी रहती है। वर्निक्स केसोसा सफेद परत की तरह, तेल की तरह त्वचा कोशिकाओं और वसा के सिकरीशन से बना होता है।एमनियोटिक द्रव से स्किन से बचाने में इसकी महत्वपूर्ण भूमिका होती है। अगर ये न हो, तो बच्चे की स्किन जन्म के समय सिकुड़ सी जाएगा, जैसा कि अक्सर लंबे समय तक पानी में रहने के कारण होता है।

    और पढ़ें: शिशु के लिए बेबी सोप कहीं ना बन जाए एलर्जी का कारण!

    जानिए कब होता है बच्चे की स्किन का विकास?

    गर्भावस्था के 11वें सप्ताह में आपके बच्चे के हाथों के नाखूनों और पैर के नाखून बनना शुरू हो जाते हैं। और 12वें सप्ताह में नाखून बढ़ने लगते हैं। जन्म से पहले ही बच्चे के नाखून, त्वचा और बालों का विकास शुरू हो जाता है, जो समय के साथ साथ बढ़ता रहता है। बच्चों के नाखून, बाल और त्वचा कैसे दिखेंगे, यह माता-पिता के जीन पर निर्भर करता है।

    प्रेग्नेंसी के विभिन्न चरणों में बच्चे के शरीर का विकास होता रहता है। बच्चे के बाल, नाखूनों और त्वचा का विकास इसी क्रम में जारी रहता है। बच्चे के शरीर के विकास को जानने के लिए या देखने के लिए डॉक्टर समय-समय पर अल्ट्रासाउंड करवाते हैं। इससे बच्चे के सही विकास के बारे में जानकारी होती है। अगर फिर भी आपके मन में कोई प्रश्न है, तो आप अपने डॉक्टर से इस बारे में जानकारी जरूर ले सकते हैं।

    और पढ़ें: बेबी पाउडर के साइड इफेक्ट्स: इंफेक्शन, कैंसर या सांस की परेशानी दे सकती है दस्तक!

    इस आर्टिकल में हमने आपको शिशु के बाल, त्वचा और नाखूनों का विकास (Growth of hair, skin and nails) से संबंधित अहम जानकारी दी है। उम्मीद है आपको हैलो हेल्थ की ओर से दी हुई जानकारियां पसंद आई होंगी। अगर आपको इस संबंध में अधिक जानकारी चाहिए, तो हमसे जरूर पूछें। हम आपके सवालों के जवाब मेडिकल एक्स्पर्ट्स द्वारा दिलाने की कोशिश करेंगे।

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    लेखक की तस्वीर badge
    Bhawana Awasthi द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 10/04/2022 को
    डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
    Next article: