home

What are your concerns?

close
Inaccurate
Hard to understand
Other

लिंक कॉपी करें

Pectus Excavatum : पेक्टस एक्सकावाटम क्या है?

परिचय|लक्षण|कारण|जोखिम| उपचार|घरेलू उपचार
Pectus Excavatum : पेक्टस एक्सकावाटम क्या है?

परिचय

पेक्टस एक्सकावाटम (Pectus Excavatum) क्या है?

पेक्टस एक्सकावाटम छाती के हड्डियों से संबंधित समस्या है। पेक्टस एक्सकावाटम में ब्रेस्टबोन छाती के अंदर की तरफ दब जाती है। कुछ मामलों में सीने की हड्डियां छाती के अंदर गहरे तक धंस जाते हैं, जिससे फेफड़े (Lungs) और हृदय (Heart) को काम करने में समस्या होने लगती है। इसके अलावा ये फ्यूनल चेस्ट (Sunken chest), कॉब्लर चेस्ट (Cobbler’s chest) और सकिन चेस्ट (Funnel chest) के नाम से भी जाना जाता है।

और पढ़ें : समझें पैनिक अटैक (Panic attack) और एंग्जायटी अटैक (Anxiety attack) में अंतर

कितना सामान्य है पेक्टस एक्सकावाटम (Pectus Excavatum) होना?

पेक्टस एक्सकावाटम एक हजार में किसी एक बच्चे को होता है। इसके अलावा लड़कियों की तुलना में लड़कों को पेक्टस एक्सकावाटम (Pectus Excavatum) होने का जोखिम चार गुना ज्यादा है। ज्यादा जानकारी के लिए अपने डॉक्टर से बात कर लें।

और पढ़ें : घातक हो सकता है लू लगना, जानिए इससे बचने के घरेलू उपाय

लक्षण

पेक्टस एक्सकावाटम के क्या लक्षण हैं? (Symptoms of Pectus Excavatum)

पेक्टस एक्सकावाटम (Pectus Excavatum) का सामान्य लक्षण है कि सीने में खरोज सी महसूस होती है। कुछ लोगों को ये दर्द किशोरावस्था में ही होने लगता है और जैसे-जैसे वे बड़े होते हैं ये भी बढ़ता जाता है।

पेक्टस एक्सकावाटम (Pectus Excavatum) के कारण फेफड़ों और दिल तकलीफे बढ़ सकती है। कुछ अन्य लक्षण निम्न हैं :

  • एक्सरसाइज (Workout) करने की क्षमता में कमी होना।
  • दिल की धड़कन (Heart beat) का तेज होना
  • श्वसन तंत्र में संक्रमण होना।
  • खांसी या गले में घरघराहट होना।
  • सीने में दर्द (Chest pain) महसूस होना।
  • थकान (Tired) महसूस होना।
  • दिल संबंधी (Heart problem) समस्या होना।
  • एब्नॉर्मल हार्ट रिदम (Abnormal heart rhythms) होना।
  • एक्सरसाइज करने के दौरान (Poor exercise capacity) जल्दी थक जाना।
  • सांस (Shortness of breath) लेने में तकलीफ होना।
  • बिना कारण थकावट (Fatigue) होना।

इसके अलावा पेक्टस एक्सकावाटम (Pectus Excavatum) के ज्यादा लक्षणों की जानकारी के लिए अपने डॉक्टर से बात करें।

और पढ़ें : स्वीमिंग से पहले और बाद में नहाना क्यों जरुरी है

मुझे डॉक्टर को कब दिखाना चाहिए?

अगर आप में ऊपर बताए गए लक्षण सामने आ रहे हैं तो डॉक्टर को दिखाएं। साथ ही पेक्टस एक्सकावाटम (Pectus Excavatum) से संबंधित किसी भी तरह के सवाल या दुविधा को डॉक्टर से जरूर पूछ लें। क्योंकि हर किसी का शरीर पेक्टस एक्सकावाटम के लिए अलग-अलग रिएक्ट करता है।

[mc4wp_form id=”183492″]

और पढ़ें : यह चेस्ट एक्सरसाइज कर, पाएं चौड़ा सीना

कारण

पेक्टस एक्सकावाटम होने के कारण क्या हैं? (Cause of Pectus Excavatum)

पेक्टस एक्सकावाटम (Pectus Excavatum) का कारण अभी तक अज्ञात है, लेकिन कुछ वैज्ञानिकों का मत है कि पेक्टस एक्सकावाटम आनुवंशिक समस्या हो सकती है।

और पढ़ें : निमोनिया से 2030 तक 11 मिलियन बच्चों की मौत की आशंका

जोखिम

पेक्टस एक्सकावाटम के मुझे क्या रिस्क हो सकते हैं? (Risk factor of Pectus Excavatum)

पेक्टस एक्सकावाटम लड़कों में ज्यादा होता है। पेक्टस एक्सकावाटम कुछ अन्य बीमारियों से ग्रसित लोगों में ज्यादा होने का रिस्क है :

पेक्टस एक्सकावाटम (Pectus Excavatum) की वजह से ऊपर बताई गई शारीरिक परेशानी हो सकती है या अगर पहले से कोई शारीरिक परेशानी है, तो यह समस्या और ज्यादा बढ़ सकती है।

उपचार

प्रदान की गई जानकारी को किसी भी मेडिकल सलाह के रूप ना समझें। अधिक जानकारी के लिए हमेशा अपने डॉक्टर से परामर्श करें।

पेक्टस एक्सकावाटम का निदान कैसे किया जाता है? (Diagnosis of Pectus Excavatum)

पेक्टस एक्सकावाटम (Pectus Excavatum) का पता लगाने के लिए डॉक्टर कई तरह के टेस्ट करते हैं। इसके अलावा ठठरी या रिबकेज में समस्या होने से सांस संबंधी टेस्ट भी कराते हैं। इसके अलावा रिबकेज की माप के आधार पर भी पेक्टस एक्सकावाटम का पता लगाया जाता है। डॉक्टर आपको चेस्ट का एक्स-रे (X-ray), सीटी स्कैन (CT Scan), लंग फंक्शन टेस्ट (Lungs function test), इकोकार्डियोग्राम (Electrocardium) और एक्सरसाइज टेस्ट जैसे टेस्ट की सलाह दे सकते हैं।

पेक्टस एक्सकावाटम का इलाज कैसे होता है? (Treatment for Pectus Excavatum)

अगर रिबकेज में समस्या किसी भी तरह की फिजिकल समस्या को नहीं पैदा कर रहा है तो बच्चे को ट्रीटमेंट की जरूरत नहीं है। जब रिबकेज समस्या उत्पन्न करता है तो बच्चे को फेफड़े का संक्रमण (Lungs infection) हो सकता है। इसके अलावा कुछ अन्य गंभीर मनोविकार भी हो सकते हैं। इसलिए ज्यादा समस्या होने पर डॉक्टर सर्जरी को ही बेहतर विकल्प के रूप में देखते हैं। इसके अलावा मनोविकारों को दूर करने के लिए साइकोलॉजिकल काउंसलिंग की जरूरत पड़ती है।

घरेलू उपचार

पेक्टस एक्सकावाटम में निम्न एक्सरसाइज कर के आप कुछ हद तक आराम पा सकते हैं, लेकिन ध्यान रहे कि ये एक्सरसाइज करते समय अपने डॉक्टर और फिटनेस ट्रेनर की सलाह जरूर मानें।

पुश अप

डीक्लाइन डायमंड पुश अप्स

  • पुश अप वर्कआउट (Push up workout) का सबसे आसान तरीका माना जाता है। इसे करने के लिए आपको प्लैंक (Plank) की पुजिशन में आना होता है। इसके बाद नीचे की ओर यानी जमीन की ओर आएं और अपने सीने से जमीन को छुएं। दोबारा सामान्य पुजिशन में पहुंच जाएं। यह प्रक्रिया सेट के अनुसार दोहराएं।
  • डीक्लाइन डायमंड पुश अप्स एक अच्छी एक्सरसाइज है। इसे बॉडी वेट पर किया जाता है। सामान्य और डीक्लाइन पुश अप्स (Push ups) में छोटा सा अंतर है। डीक्लाइन डायमंड पुश अप्स में आपके पैर कंधों के मुकाबले ऊंचाई पर होते हैं। इसका मतलब यह हुआ कि आपकी अपर बॉडी नीचे की तरफ होती है।
  • इंक्लाइन पुश अप में बैंच की ओर मुंह करें और कंधों की चौड़ाई से ज्यादा हाथों को फैला लें। हाथों को बेंच के साइड में रखकर पुश अप (Push up) करें। इंक्लाइन पुश अप से सीने (Chest) में प्रेशर पड़ता है।

सुपरमैन

exercise

एक्टिव और फिट रहने के लिए आपको रोज सुपरमैन कर सकते हैं। इसका नाम सुपरमैन इसलिए हैं, क्योंकि इस एक्सरसाइज की स्थिति में शरीर ऐसा लगता है, जैसे सुपरमैन हवा में उड़ रहा है। यह थोड़ा मुश्किल है, लेकिन सीखने के बाद इसे आसानी से किया जा सकता है।

कैसे करें?

  • घर पर इस एक्सरसाइज को करने के लिए जमीन पर एक मैट पर लेट जाएं।
  • इस दौरान आपके पैर सीधे होने चाहिए और आपकी बाजुएं सामने होनी चाहिए।
  • अब अपनी बाजुओं और पैरों को एक समय पर ऊपर उठाएं और लगभग 10-15 सेमी ऊपर उठाएं।
  • इस स्थिति में कुछ देर रहने के बाद वापस अपनी पुरानी स्थिति में आ जाएं।

बेंट-ओवर रौ

exercise

बेंट-ओवर रौ व्यायाम शरीर के ऊपरी हिस्से की कई मांसपेशियों को टोंड और मजबूत बनाने का काम करता है। शरीर की सही शेप के साथ आपको पेक्टस एक्सकावाटम से राहत मिल सकती है।

कैसे करें

  • बेंट-ओवर रौ करने के लिए बिल्कुल सीधे खड़े हो जाएं।
  • अपने डंबल को दोनों हाथों में पकड़ें।
  • अपनी रीढ़ की हड्डी (Spine bone) को मोड़ते हुए थोड़े से झुक जाएं।
  • अपने हाथों को नीचे कर लें।
  • अब अपनी बाजुओं को मोड़ लें।
  • इसके बाद फिर से उसी स्थिति में आ जाएं।

इस संबंध में आप अपने डॉक्टर से संपर्क करें। क्योंकि आपके स्वास्थ्य की स्थिति देख कर ही डॉक्टर आपको उपचार बता सकते हैं।

हैलो स्वास्थ्य किसी भी तरह की मेडिकल सलाह नहीं दे रहा है। अगर आपको किसी भी तरह की समस्या हो तो आप अपने डॉक्टर से जरूर पूछ लें।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Pectus excavatum http://www.mayoclinic.org/diseases-conditions/pectus-excavatum/symptoms-causes/syc-20355483 Accessed on December 13, 2019

Pectus excavatum http://www.gosh.nhs.uk/medical-information/pectus-excavatum Accessed November 14, 2019. Accessed on December 13, 2019

Chest Wall Disorder: Pectus Excavatum https://kidshealth.org/en/parents/pectus-excavatum.html Accessed on December 13, 2019

Pectus Excavatum https://my.clevelandclinic.org/health/diseases/17328-pectus-excavatum Accessed on December 13, 2019

Pectus Excavatum https://www.hopkinsallchildrens.org/Services/Pediatric-General-Surgery/Conditions/Chest-Wall-Deformity/Pectus-Excavatum Accessed on December 13, 2019

लेखक की तस्वीर badge
Shayali Rekha द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 23/06/2021 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड