डिप्रेशन में डेटिंग के टिप्सः डिप्रेशन के हैं शिकार तो ऐसे ढूंढ़ें डेटिंग पार्टनर

चिकित्सक द्वारा समीक्षित | द्वारा

अपडेट डेट जून 16, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
अब शेयर करें

​साथी की चाह हर किसी को होती है पर यदि आपको डिप्रेशन हो तो साथी ढूंढ़ने की कोशिश और मुश्किल भरी हो सकती है। क्लिनिकल साइकोलॉजिस्ट शिखा शर्मा का कहना है कि तनाव में आप हंसना-बोलना पसंद नहीं करते हैं लेकिन, डेटिंग में हंसना और बोलना दोनों ही बहुत जरूरी होते हैं। इसलिए अवसाद ग्रस्त लोगों के लिए ​डिप्रेशन में डेटिंग थोड़ी टेढ़ी खीर बन सकती है।

​डिप्रेशन में डेटिंग कर रहे हैं तो यह टिप्स आएंगे काम

1. खुद की खुशी का ख्याल रखें फिर करें डिप्रेशन में डेटिंग

यदि आप खुद खुश नहीं हैं तो आप दूसरों को भी खुश नहीं रख सकते। डिप्रेशन में डेटिंग का यह सबसे बड़ा नुकसान है। इसलिए सबसे पहले खुद को समय दें। यदि आप मानिसक परेशानी से जूझ रहे हैं, तो सबसे पहले डिप्रेशन को कम करने में अपनी मदद करें। अपनी नींद, खान-पान, एक्सरसाइज के साथ ही दवा या थेरिपी में नियमित रहें। डेटिंग के पीछे न भागें जब आपको लगे कि आपका पुराना दर्द भर चुका है और आप नया रास्ता तलाश रहे हैं तब ही किसी को डेट करें।

और पढ़ेंः प्यार और मौत से जुड़े इंटरेस्टिंग फैक्ट्स

2. डिप्रेशन में डेटिंग के लिए अपनी मनपसंद जगह चुनें

अपने जैसे लोगों को चुनने का मतलब है कि आप जहां सबसे ज्यादा रहना पसंद करते हैं, उसी जगह को तलाशें। य​ह कॉफी शॉप, पब, जिम कुछ भी हो सकता है। अपने मन के मुताबिक जगह चुनेंगे तो वही लोग आपसे जुड़ेंगे, जिनका मिजाज आपसे मिलता हो। एक जैसे माइंड सेट वाले व्यक्ति के साथ आप खुलकर बातचीत करने में भी आसानी महसूस करेंगे।

और पढ़ें: डिप्रेशन ही नहीं ये भी बन सकते हैं आत्महत्या के कारण, ऐसे बचाएं किसी को आत्महत्या करने से

3. डिप्रेशन में डेटिंग के बारे में पहली मुलाकात में बात न करें

पहली ही मुलाकात में अपने तनाव के बारे में बात करना सही नहीं है। एक-दूसरे के स्वभाव को पहले जान लें। जब लगे कि आपको सामने वाले व्यक्ति से मिलना अच्छा लग रहा है और आप रिश्ते को आगे बढ़ाना चाहते हों तब ही अपनी चिंताओं के बारे में बातचीत करें।

और पढ़ेंः ऑफिस में अपने एक्स पार्टनर के साथ ऐसे करें डील

4. पार्टनर को बताएं परेशानी

आप अपने पार्टनर से क्या एक्सपेक्ट करते हैं यह उसे साफ बता दें। आपको यदि अपने पार्टनर के साथ अच्छा लगता है पर आप पार्टी या कहीं घूमने फिरने के मूड में नहीं हैं तो यह सारी बातें पार्टनर के सामने साफ तौर पर रखें। इससे आपके पार्टनर को भी आपको समझने में आसानी होगी और आपके रिश्ते में तनाव नहीं आएगा।

5. डिप्रेशन के कारण सेक्स की इच्छा न हो तो बात करें

​उदास होने के कारण कई बार आपका मन सेक्स से उचट जाता है। ऐसा हो तो सबसे पहले अपने पार्टनर के सामने यह जाहिर करें कि आप बस सेक्स से दूर भाग रहे हैं अपने पार्टनर से नहीं। उनकी तारीफ करने या उसे बाहों में भरने के मौके मिस न करें।  इस समस्या को सुलझाना चाहते हैं तो डॉक्टर से भी बातचीत कर सकते हैं।

6. नई डेटिंग में अपने पास्ट को न दोहराएं

डिप्रेशन में डेटिंग कर रहे हैं तो इसे और बढ़ावा न मिले इसेलिए अपने अतीत को न दोहराएं। यदि ब्रेकअप की ही वजह से आप डिप्रेशन में हैं तो यह बात गांठ मार लें कि उन गलतियों को दोबारा न दोहराएं। उदाहरण के तौर पर यदि आपका पिछला पार्टनर आपको हमेशा लो महसूस कराता हो या आपके आत्मविश्वास को ठेस पहुंचाता हो तो नए पार्टनर को ऐसा करने से रोक दें। यदि रोकने के बाद भी बात बनती नजर न आ रही हो तो किसी अन्य साथी की तलाश करें।

7. ऑनलाइन डेटिंग का चुनाव सोच-समझकर करें

ऑनलाइन डेटिंग तलाश करने में कोई बुराई नहीं है लेकिन, सोच-समझकर ही डेंटिंग की साइट और पार्टनर का चुनाव करें। एक-दो मुलाकातों के बाद हताश न हो। अपनी असफलता को ​स्वीकार करें और परिवार के सदस्यों या दोस्तों से मुलाकात की चर्चा करें। वह आपको आपकी खामियां या सामने वाले की खामियां बताएं और सही सलाह देंगे।

और पढ़ेंः डायरी लिखने से स्ट्रेस कम होने के साथ बढ़ती है क्रिएटिविटी

8. डेटिंग में डेट को दें समय

डिप्रेशन में डेटिंग की एक बड़ी समस्या बहुत ज्यादा दिमागी घौड़े दौड़ाना भी हो सकता है। रिश्ता शुरू भी नहीं हुआ और आप ख्याली पुलाव पकाने लगे। यदि यह स्थिति होती है तो थोड़ा ब्रेक लगाएं। सबसे पहले दोस्ती की शुरुआत करें। अच्छा रिश्ता अच्छी दोस्ती पर ही निर्भर करता है। प्यार के बजाए दोस्ती के बारे में सोचेंगे तो आप अपने सामान्य व्यवहार को पेश कर सकेंगे नहीं तो संकोच और डर ही अपनी जगह बना लेगा।

9. डिप्रेशन के कारण खुद को कम न आंके

आप डिप्रेस हैं इसका यह मतलब नहीं है कि आप नाकाबिल हैं। यह मनोविकार किसी भी अन्य बीमारी की ही तरह है। इसे एक्सेप्ट करें और आगे बढ़ें। हर कोई आपके बारे में खराब सोचे यह जरूरी नहीं कई लोग मानसिक बीमारी को नॉर्मल तरह से लेते हैं और उन्हें आपसे जुड़ने में भी दिक्कत नहीं होती।

और पढ़ेंः क्या वाकई में सेक्स टॉयज का इस्तेमाल रियल सेक्स जैसा प्लेजर देते हैं?

डिप्रेशन पर क्या कहते हैं आंकड़ें?

वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन (WHO) द्वारा जारी किए गए आंकड़ों के मुताबिक, भारत में लगभग 5.6 करोड़ लोग डिप्रेशन का शिकार है और लगभग 3.8 करोड़ लोग एंग्जाइटी डिसऑर्डर जैसी समस्या से जूझ रहे हैं। डिप्रेशन या अवसाद एक ऐसा मानसिक विकार है, जिसका अगर समय रहते पता न चले, तो इसकी स्थिति बहुत ही गंभीर बन जाती है। डिप्रेशन के इलाज के लिए साइकोथेरिपी या लाइटथेरिपी जैसे उपचार की मदद भी ली जा सकती है। हालांकि, इनका असर होने में काफी वक्त लग सकता है। कई बार इनका उपचार सालों-साल चलता रहता है।

लखनऊ स्थित सूर्या हॉस्पिटल में साइकोलॉजिस्ट, डॉक्टर आशुतोष श्रीवास्तव ने “हैलो स्वास्थ्य” से बातचीत के दौरान बताया कि “अगर आप तनाव के कारण परेशान हैं तो ध्यान रखें कि स्ट्रेस से हमारा दिमाग ऑक्सीडेटिव डैमेज के प्रति संवेदनशील बन जात है। यानी कोशिकाओं को मिलने वाली ऑक्सिजन की मात्रा प्रभावित होने लगती है। जो मस्तिष्क के कार्यों को प्रभावित करने लगती है। ऐसे में एंटी-ऑक्सीडेंट्स से भरपूर खान-पान अपने आहार में अपनाना चाहिए। डिप्रेशन से बाहर निकलने के लिए न सिर्फ एक अच्छा और खुशनुमा माहौल जरूरी होता है, बल्कि उचित पोषण भी मानसिक स्वास्थ्य के लिए बेहद जरूरी होते हैं।

हो सकता है कि आपका डेटिंग या अपने पार्टनर को लेकर पिछला अनुभव अच्छा नहीं हो सकता। इस वजह से डिप्रेशन में डेटिंग आपके लिए समस्या बन सकती है। इसके लिए जरूरी है कि आप पहले खुद को संभालें और इसके बाद ही डेटिंग के बारे में सोचें।

हैलो स्वास्थ्य किसी भी तरह की मेडिकल सलाह नहीं दे रहा है। अगर आपको किसी भी तरह की समस्या हो तो आप अपने डॉक्टर से जरूर पूछ लें

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

संबंधित लेख:

क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
happy unhappy"
सूत्र

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

क्यों और किसे है ऑस्टियो सार्कोमा कैंसर का खतरा ज्यादा?

सुशांत सिंह राजपूत एवं संजना स्टारर फिल्म 'दिल बेचारा' में Osteosarcoma cancer से पीड़ित हैं सुशांत। ऑस्टियो सार्कोमा कैंसर का खतरा किसे होता है सबसे ज्यादा?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Nidhi Sinha
स्वास्थ्य बुलेटिन, लोकल खबरें जुलाई 10, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

Amixide-H: एमिक्साइड एच क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

जानिए एमिक्साइड एच की जानकारी in hindi, फायदे, लाभ, एमिक्साइड एच के उपयोग, इस्तेमाल कैसे करें, कब लें, कैसे लें, कितना लें, खुराक, Amixide-H डोज, ओवरडोज, साइड इफेक्ट्स, नुकसान, दुष्प्रभाव और सावधानियां।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया shalu
दवाइयां A-Z, ड्रग्स और हर्बल जून 30, 2020 . 6 मिनट में पढ़ें

Librium 10: लिब्रियम 10 क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

लिब्रियम 10 की जानकारी in hindi, लिब्रियम 10 के साइड इफेक्ट क्या है, क्लोरडाएजपॉक्साइड (Chlordiazepoxide) दवा किस काम में आती है, रिएक्शन, उपयोग, Librium 10.

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shayali Rekha
दवाइयां A-Z, ड्रग्स और हर्बल जून 17, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें

रोज करेंगे योग तो दूर होंगे ये रोग, जानिए किस बीमारी के लिए कौन-सा योगासन है बेस्ट

योग से रोग निवारण, योग से रोग भगाएं, डायबिटीज के योगासन, रोग अनुसार योगासन, माइग्रेन के योगा पोज, पीसीओएस योगासन, डिप्रेशन के लिए योग, थायरॉइड के योगासन, योग व्यायाम या ब्रीदिंग टेक्निक से कहीं ज्यादा एक इंडियन आर्ट फॉर्म है।...yoga poses for diseases

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pooja Daphal
के द्वारा लिखा गया Shikha Patel
योगा, स्वस्थ जीवन जून 16, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

Recommended for you

समीर शर्मा

एक्टर समीर शर्मा ने किया सुसाइड, ‘क्योंकि सास भी कभी बहु थी’ सीरियल में कर चुके हैं रोल प्ले

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shikha Patel
प्रकाशित हुआ अगस्त 6, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
डिप्रेशन के घरेलू उपाय

डिप्रेशन से बचना है आसान, बस अपनाएं यह घरेलू उपाय

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Anu Sharma
प्रकाशित हुआ जुलाई 24, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
रेक्सिप्रा टैबलेट

Rexipra Tablet : रेक्सिप्रा टैबलेट क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shikha Patel
प्रकाशित हुआ जुलाई 17, 2020 . 6 मिनट में पढ़ें
प्रीगाबिड एनटी टैबलेट

Pregabid NT Tablet : प्रीगाबिड एनटी टैबलेट क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shikha Patel
प्रकाशित हुआ जुलाई 15, 2020 . 7 मिनट में पढ़ें