home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

प्रेग्नेंसी प्लानिंग के चांसेज में करते हैं इजाफा, ये फर्टिलिटी बढ़ाने वाले फूड

प्रेग्नेंसी प्लानिंग के चांसेज में करते हैं इजाफा, ये फर्टिलिटी बढ़ाने वाले फूड
आज के समय में शायद ही कोई ऐसा हो, जो यह कहें कि उसे कोई तनाव नहीं है। अगर हेल्थ से संबंधित तनाव की बात करें, तो अब प्रेग्नेंसी प्लानिंग के दौरान लोगों को कई तरह की दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। ये उनके लिए एक प्रकार का मेंटल स्ट्रेस बनता जा रहा है। इंफर्टिलिटी की बात करें, तो इसके होने के कई कारण हो सकते हैं, लेकिन खराब लाइफस्टाइल एक सबसे बड़ा रिस्क फैक्टर (Risk Factor) है। इसमें खानपान भी शामिल है। आप क्या खाते हैं और क्या नहीं, यह दोनों ही बातें बहुत महत्वपूर्ण हैं, जिसका असर आपकी प्रजनन क्षमता पर भी पड़ता है। प्रेग्नेंसी के लिए बहुत से लोग आईवीएफ का भी रास्ता अपनाते हैं, जिसके लिए भी प्रजनन क्षमता (Fertility) का मजबूत होना जरूरी है। आज हम यहां बात करेंगे फर्टिलिटी बढ़ाने वाले फूड (Foods to boost fertility) के बारे में। क्योंकि माहिलाओं की ओवरीज से रिलीज होने वाले एग्स की क्वॉलिटी, उनकी उम्र और उनके खानपान पर भी निर्भर करता है। इस आर्टिकल में हम बात करेंगे कुछ ऐसे ही फूड्स के बारे में, जो फर्टिलटी को बूस्ट (Fertility Boost) करने का काम करते हैं।

फर्टिलिटी बढ़ाने वाले फूड्स : जानिए क्या खाना है जरूरी! (Foods to boost fertility)

आप प्रेग्नेंसी प्लानिंग करने की सोच रहें हैं, तो सबसे पहले आपको अपने डायट को सुधारना चाहिए। इस बात पर भी ध्यान देना चाहिए कि क्या आपके प्लेट में वो सभी न्यूट्रिशन शामिल हैं, जो आपकी फर्टिलिटी के लिए अच्छे है। जो आपके कंसीव करने की संभावना को बढ़ा सकते हैं। इन फर्टिलिटी फूड्स में ऐसे पोषक तत्‍व होते हैं, जो हाॅर्मोंस को संतुलित करते हैं और एग की क्‍वालिटी में सुधार लाने में मदद करते हैं।

एग (Egg)

फर्टिलिटी बढ़ाने वाले फूड की बात करें, तो आप अंडे को भी अपनी डायट में शामिल कर सकते हैं। इसमें एंटीऑस्किडेंट की उचित मात्रा पायी जाती है। एंटीऑक्सिडेंट अंडे के अलावा मछली, अखरोट और नट्स में पाया जाता है। एंटीऑक्सिडेंट महिलाओं में फर्टिलिटी के अलावा, पुरुषों में स्पर्म की क्वालिटी को भी बढ़ाता है। इसके अलावा अंडे के सफेद हिस्से में प्रोटीन (Proteins) की भी उच्च मात्रा होती है, जो एग की क्वालिटी को भी अच्छा बनाती है। एंटीऑक्सिडेंट शरीर में हॉर्मोनल फंक्शन को भी अच्छा बनाता है।

अखरोट (Walnuts)

Assorted dried fruits

फर्टिलिटी बढ़ाने वाले फूड्स में आप नट्स (Nuts) और ड्रायफ्रूट्स (Dry fruits) का सेवन काफी प्रभावकारी है। अखरोट में ओमेगा -3 (Omega-3) और ओमेगा-6 (Omega-6) फैटी एसिड की भरपूर मात्रा पायी जाती है। इसका सेवन प्रजनन क्षमता को बढ़ाने में मदद करता है। इसके अलावा, ड्राय फ्रूट्स में प्रोटीन, मिनरल्स और विटामिन की भी अधिक मात्रा मौजूद होती है। ड्राय फ्रूट्स में आप खजूर और किशमिश का भी सेवन कर सकते हैं, इसमें मौजूद सेलेनियम शरीर के लिए अच्छा होता है। स्वस्थ्य महिलाएं रोजाना 50 ग्राम से 75 ग्राम तक अखरोट का सेवन कर सकती हैं। लेकिन आपके लिए बेहतर होगा कि आप डॉक्टर की सलाह पर ही इसकी मात्रा का सेवन करें। वॉलनट का सेवन शरीर में हाॅर्मोनल फंक्शन काे भी अच्छा बनाता है।

और पढ़ें: प्रेग्नेंसी में गोनोरिया बन सकता है बच्चे की मौत की वजह? बचने के हैं बस 2 तरीके

अनार (Pomegranates)

कई महिलाएं एनीमिया की शिकार होने की वजह से कंसीव नहीं कर पाती हैं। तो ऐसे में अनार के सेवन, उनमें एनीमिया की समस्या के खतरे को कम करता है। इसके अलावा फर्टिलिटी बढ़ाने वाले फूड में रोजाना अनार के सेवन करने से कमजोर प्रजनन क्षमता में सुधार आता है। इसमें एंटीऑक्सिडेंट (Antioxidant) की भी भरपूर मात्रा होती है। एक शोध के अनुसार, अनार एंटीऑक्सिडेंट से भरपूर होता है और यह शुक्राणु की गुणवत्ता को बढ़ाने का का काम करता है। अनार का सेवन शरीर को और भी कई बीमारियों से बचाता है।

तिल (Sesame)

फर्टिलिटी बढ़ाने वाले फूड (Foods to boost fertility) में सफेद और काले तिल का सेवन भी प्रजनन क्षमता (Fertility) को मजबूत बनाने के लिए किया जा सकता है। तिल में जिंक की अधिक मात्रा पायी जाती है। इससे प्रजनन के लिए एग्स के निमार्ण में मदद मिलती है। यह हॉर्मोन्स के उत्पादन में भी मददगार है। तिल का कई रूपों में सेवन किया जा सकता है। तिल के तेल में मोनोसैच्युरेटेड फैट भी होता है, जो फर्टिलिटी के लिए अच्छा माना जाता है। इसका रोजाना सेवन शरीर को मजबूत बनाता है।

बीन्स और दालें (Beans and Lentils)

फर्टिलिटी बढ़ाने वाले फूड (Foods to boost fertility) में दाल एक अच्छा ऑप्शन माना जाता है। इसमें प्रोटीन के अलावा फाइबर (Fiber) की भी उच्च मात्रा पायी जाती है, जो ओव्यूलेशन में सुधार कर सकते हैं। कई अध्ययनों में भी पाया गया है कि दाल और फलियां फोलिक एसिड का एक अच्छा स्रोत है। यह एक महत्वपूर्ण घटक है, जो गर्भाधारण के लिए साहयक माना जाता है। यह स्वस्थ भ्रूण को विकसित करने में मदद करता है। इसका सेवन मासिक धर्म में भी सुधार लाता है। प्रेग्नेंसी प्लानिंग के अलावा, इसका सेवन अन्य स्वस्थ्य दृष्टि से भी फायदेमंद है। यह ब्रेन फंक्शन के लिए भी अच्छा माना जाता है। प्रेग्नेंसी प्लानिंग के लिए भी महिलाओं के लिए प्रोटीन की सही मात्रा लेना आवश्यक है।

और पढ़ें: जानें 50 प्लस के बाद प्रेग्नेंसी प्लानिंग में होने वाले रिस्क और किन बातों का रखें ध्यान

सूरजमुखी का बीज (Sunflower Seeds)

फर्टिलिटी को बेहतर बनाने के लिए सूरजमुखी के बीजों का सेवन भी लाभकारी है। इसके लिए आप रोस्टेड सनफ्लावर सीड्स का भी सेवन कर सकते हैं। इसमें विटामिन ई की अच्छी मात्रा पायी जाती है। इसके नियमित सेवन से शुक्राणुओं की संख्या और गुणवत्ता बेहतर बनती है। इसके अलावा, सूरजमुखी के बीज में पर्याप्त मात्रा में जिंक, फोलिक एसिड और सेलेनियम पाया जाता है। यह डायबिटीज (Diabetes) वालों के लिए भी कई प्रकार से फायदेमंद है।

बेरीज (Berries)

एंटीऑक्सिडेंट युक्त बेरीज का सेवन प्रजनन क्षमता को बढ़ाने के साथ इंफर्टिलिटी की समस्या को भी कम करता है। बेरीज में आप रास्पबेरी, ब्लूबेरी और स्ट्रॉबेरी आदि का सेवन कर सकते हैं। यह एक नैचुरल एंटीऑक्सिडेंट और एंटी-इन्फ्लेमेटरी फाइटोन्यूट्रिएंट्स (Anti-inflammatory phytonutrients) है, इसमें पाए जाने वाले दोनों घटक आपकी प्रजनन क्षमता में सुधार लाते हैं। इसमें विटामिन सी और फोलिक एसिड की भी उच्च मात्रा पायी जाती है। इसका रोजाना सेवन कई प्रकार से हेल्थ के लिए बेनेफिट्स होता है।

और पढ़ें: जानें 50 प्लस के बाद प्रेग्नेंसी प्लानिंग में होने वाले रिस्क और किन बातों का रखें ध्यान

क्विनोआ (Quinoa)

फर्टिलिटी बढ़ाने वाले फूड (Foods to boost fertility) में प्रेग्नेंसी प्लानिंग के लिए क्विनोआ को काफी लाभदायक माना जाता है। यह कार्ब-फ्री होता है, इसी के साथ ही इसमें प्रोटीन, जिंक और फोलिक एसिड की अच्छी मात्रा पायी जाती है। यह हेल्दी प्रेग्नेंसी के लिए काफी अच्छा है। इसमें पाया जाने वाला एमिनो एसिड हेल्दी एग के निमार्ण में भी मदद करता है। क्विनोआ में भी आपको कई प्रकार मिलेंगे, जैसे कि सफेद क्विनोआ या ब्लैक क्विनोआ। यह दोनों ही फायदेमंद है। इसका उपयोग प्रेग्नेंसी प्लानिंग के अलावा डायबिटीज आदि समस्या के लिए भी प्रभावकारी है।

और पढ़ें: जानें प्रेग्नेंसी की पहली तिमाही में होने वाले कुछ ऐसे लक्षणों के बारे में, जो इबैरेसमेंट का कारण बन सकते हैं

अच्छी प्रजनन क्षमता के लिए ये न खाएं

बेहतर प्रजनन क्षमता के लिए आपको जिस प्रकार कुछ खाद्य पदार्थों का सेवन करना चाहिए, उसी प्रकार कुछ खाद्य पदार्थों से दूरी भी बनानी चाहिए। अभी तक आपने पढ़ा कि फर्टिलिटी बढ़ाने वाले फूड (Foods to boost fertility) कौन से हैं, अब आप जानिए कि किन फ़ूड्स से दूरी आपको इंफर्टिलिटी से बचने में मदद कर सकती है।

  • कैफीन का अत्यधिक सेवन आपमें इंफर्टिलिटी का कारण बन सकता है। जो महिलाएं कंसीव करना चाहती हैं, उन्हें इसके सेवन से बचना चाहिए।
  • धूम्रपान यानि की स्मोकिंग भी कंसीव करने की क्षमता को कमजोर करता है। इसके करने से गर्भपात होने के रिस्क भी अधिक बढ़ जाता है।
  • आपको शराब के सेवन से भी बचना चाहिए। इन सबका सेवन शरीर में कई प्रकार की बीमारियों का कारण बनने के साथ एग की क्वालिटी को भी खराब करता है। शराब का अधिक सेवन करने से भी बांझपन की समस्या बढ़ती है।
  • ट्रांस फैट वाले फूड आपमें इनफर्टिलिटी का करण (Cause of infertility) भी बन सकते हैं। ऐसे फूड्स में शामिल है चिप्स, माइक्रोवेव पॉपकॉर्न, बेक्ड आइटम्स, फ्राइड फूड्स आदि, जिनका सेवन नहीं करना चाहिए। ये इंफ्लेमेशन बढ़ाने के साथ डायबिटीज की समस्या का भी कारण बन सकते हैं। जिससे भी इनफर्टिलिटी की संभावना बढ़ जाती है।
  • ऑयली फूड के सेवन से भी बचें। इससे शरीर का वजन बढ़ता है। ओवर वेट यानि कि मोटापा (Obesity) भी कई महिलाओं में इंफर्टिलिटी का बड़ा कारण देखा गया है। आप फ्राईड आइटम खाने से बचें, इससे हार्ट, डायबिटीज या ब्लड प्रेशर की प्रॉब्लम भी हो सकती हैं।

फर्टिलिटी बढ़ाने वाले फूड (Foods to boost fertility) आपकी प्रजनन क्षमता को मजबूत बनाते हैं। लेकिन यह जरूरी नहीं कि इनके सेवन से प्रेग्नेंसी प्लानिंग में रुकावटें नहीं आ सकती। प्रेग्नेंसी के लिए बहुत सारे फैक्टर जरूरी होते हैं। लेकिन ये फूड्स आपकी कमजोर प्रजनन क्षमता को मजबूत करने में साहयक हो सकते हैं। ध्यान रखिए कि इन खाद्य पदार्थों के सेवन से पहले आपको अपने डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र
लेखक की तस्वीर
Dr. Pranali Patil के द्वारा मेडिकल समीक्षा
Niharika Jaiswal द्वारा लिखित
अपडेटेड 3 weeks ago
x