home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

Herpes zoster: हर्पीस जोस्टर क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और उपाय

Herpes zoster: हर्पीस जोस्टर क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और उपाय
मूल बातों को जानें|लक्षण|कारण|खतरों को समझें|निदान और उपचार|घरेलू उपचार जीवन शैली में बदलाव

मूल बातों को जानें

हर्पीस जोस्टर क्या है? (What is Herpes zoster)

हर्पीस जोस्टर को शिंगल्स भी कहते हैं। ये एक ऐसी स्थिति है इसमें त्वचा पर दर्द भरे छाले हो सकते हैं, दवाओं की मदद से आप इस स्थिति से निजात पा सकते हैं।

50 साल से ज्यादा उम्र के लोगों में ये बीमारी बहुत आम है और कुछ दिनों में आपका इम्यून सिस्टम कमजोर भी हो सकता है। इसीलिए डॉक्टर 60 साल से ज्यादा उम्र के लोगों को वैक्सीन जोस्टवैक्स (Zostavax)] लेने के लिए कहते हैं जिससे कि इस बीमारी का खतरा कम हो सके।

हर्पीस जोस्टर होना कितना आम है? (How common is herpes zoster?)

हर्पीस जोस्टर

हर्पीस जोस्टर होना बहुत आम है। 50 साल से ज्यादा उम्र के लोगों में इस बीमारी का होना बहुत आम है। खतरों और लक्षणों को नियंत्रित करके इस बीमारी का खतरा कम किया जा सकता है।

और पढ़ें: हर्पीस इंफेक्शन से होने वाली बीमारी है, अपनाएं ये सावधानियां

लक्षण

हर्पीस जोस्टर के लक्षण क्या हैं? (What are the symptoms of herpes zoster?)

हर्पीस जोस्टर का वायरस स्पाइन में पाया जाता है। एक्टिवेटिड वायरस नसों से होते हुए त्वचा में जा सकता है जिससे रैशेज हो सकते हैं और नसों के अंत में संक्रमण फैल सकता है। अकसर ये शरीर के एक भाग में बैंड के रूप में पाया जाता है लेकिन कई बार ये शरीर में किसी भी जगह पर भी हो सकता है। जैसे कि आंखों पर शिंगल्स होना एक गंभीर अवस्था है और इसकी वजह से धुंधलापन हो सकता है।

शुरुआती लक्षण

इसके शुरुआती लक्षण हल्की खुजली, गुदगुदी, सिर दर्द, फ्लू या फिर बुखार हो सकते हैं। समय के साथ ये रैशेज बड़े होते जाएंगे और इनमें पस भर जाता है। इसके घावों में आपको खुजली हो सकती है लेकिन कोशिश करें कि आप खुजली न करे क्योकि इससे बैक्टीरियल संक्रमण हो सकता है।

आपको संक्रमण में दर्द हो सकता है। कुछ लोग जो कि 50 साल से ज्यादा उम्र के हैं उन्हें दर्द रहेगा (postherpetic neuralgia) और ये 30 दिन से ज्यादा तक रहेगा। इलाज न मिलने पर ये गंभीर हो सकता है और आपके दैनिक जीवन में खलल डाल सकता है।

अपने डॉक्टर से कब मिले ?

अगर आपको संकेत और लक्षण दिख रहे हैं तो अपने डॉक्टर से तुरंत मिले। हर शरीर अलग स्थिति में अलग तरीके से व्यवहार करता है इसलिए सही इलाज के लिए डॉक्टर से परामर्श जरूर ले।

और पढ़ें : पेनिस फंगल इंफेक्शन के कारण और उपचार

कारण

हर्पीस जोस्टर के कारण क्या हैं? (What are the causes of herpes zoster)

हर्पीस जोस्टर

माना जाता है कि ये वही वायरस है जो कि चिकनपॉक्स के लिए जिम्मेदार है। एक बार संक्रमण फैलाने के बाद ये वायरस निष्क्रिय रहता है। समय के साथ घटती हुई रोग प्रतिरोधक क्षमता की वजह से वायरस दोबारा एक्टिव हो जाएगा और शिंगल्स हो सकते है। इस प्रक्रिया में सदियों का समय लग सकता है।

जो लोग चिकनपॉक्स का टीका नहीं लगवाते है उन्हें शिंगल्स से प्रभावित व्यक्ति से संक्रमण हो सकता है।

और पढ़ें : प्रेग्नेंसी में STD (Sexually Transmitted Diseases): जानें इसके लक्षण और बचाव

खतरों को समझें

हर्पीस जोस्टर होने का खतरा किन कारणों से बढ़ सकता है? (What can increase the risk of herpes zoster?)

  • अगर आपको चिकनपॉक्स हुआ हो।
  • अगर आपकी उम्र 50 साल से ज्यादा है।
  • अगर आप HIV या फिर और किसी ऐसे संक्रमण से पीड़ित है जिससे कि आपका इम्यून सिस्टम कमजोर हो गया हो।
  • अगर आप तनाव से पीड़ित हैं।
  • अगर आपको कैंसर है या फिर आपने कभी कैंसर का इलाज करवाया है।
  • अगर आपने कभी इम्यून सिस्टम को प्रभावित करने वाली दवाएं खाई हैं , जैसे कि किसी ऑर्गन ट्रांसप्लांट के बाद स्टेरॉइड्स लेना।

और पढ़ें : हर्पीस के साथ सेक्स संभव है या नहीं, जानने के लिए पढ़ें यह आर्टिकल

निदान और उपचार

यहां दी गई जानकारी किसी भी चिकित्सा परामर्श का विकल्प नहीं है। अपने शरीर और स्थिति के अनुसार इलाज के लिए डॉक्टर से जरूर मिले।

हर्पीस जोस्टर की जांच कैसे की जा सकती है? (How to diagnose herpes zoster?)

आपकी स्पाइन में छालों को देखकर डॉक्टर आपको हर्पीस जोस्टर है या नहीं इसका पता लगा सकते हैं। छालों से निकलने वाले मवाद को लेबोरेटरी टेस्ट के लिए भेजा जा सकता है।

हर्पीस जोस्टर का इलाज कैसे किया जा सकता है? (How can herpes zoster be treated?)

हर्पीस जोस्टर कुछ हफ्तों में ठीक हो जाएगा। इलाज का मुख्य कारण संक्रमण को फैलने से रोकना, असहजता को कम करना और आगे किसी भी समस्या को रोकना है। अगर आपकी बीमारी के बारे में दो या तीन दिन के अंदर पता चल जाता है तो डॉक्टर आपको एंटीवायरल दवाएं दे सकते हैं जैसे कि असाइक्लोविर (acyclovir, valacyclovir, and famciclovir) जिससे की छाले और दर्द कम हो जाए। आप लोशन या क्रीम्स का भी इस्तमाल कर सकते हैं जिससे कि दर्द और खुजली कम हो जाए और घाव जल्दी भर जाए।

घरेलू उपचार जीवन शैली में बदलाव

इन बदलावों और घरेलू उपायों से आप इस संक्रमण से बच सकते हैं :

  • छालों से प्रभावित भाग को साफ और सूखा रखें।
  • बर्फ या किसी ठंडी चीज से सेकने पर आराम मिल सकता है।
  • जलन कम करने के लिए आप दवा ले सकते हैं। जैसे की आइब्रुफेन (एडविल , मोटरीन आदि )

इस रोग के वायरस हमारे आस-पास के वातावरण में मौजूद होते हैं। ये संक्रमण उसी तरह से हो सकता है, जिस तरह से जुकाम हो जाता है। इस संक्रमण से बचने के लिए इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाने की जरूरत है। आप कुछ उपाय करके इम्यून सिस्टम को मजबूत बना सकते हैं।

और पढ़ें : हर्पीस वायरस की इस गंभीर रोग से निपटने के लिए मिल गयी है वैक्सीन

हर्पीस जोस्टर ट्रीटमेंट के साथ ही इन बातों का रखें ख्याल

  • हर्पीस जोस्टर से निपटने के लिए अपने खानपान को संतुलित रखना बहुत जरूरी है। खाने में मसाले युक्त भोजन के बजाय साधारण भोजन को स्थान दें।
  • अगर शरीर में किसी स्थान पर घाव है तो उसे बार-बार न छुएं। जब भी घाव को छुएं तो पहले हाथों को साफ कर लें।
  • दिनभर तरल पदार्थों का अधिक मात्रा में सेवन करें।
  • हर्पीस जोस्टर ट्रीटमेंट के साथ ही अपनी दिनचर्या में भी बदलाव करें। रोजाना एक्सरसाइज या फिर योगा से अपने दिन की शुरूआत करें।
  • आप नहाने के दौरान सामान्य तापमान के पानी का उपयोग करें। गर्म पानी का उपयोग करने से घाव में जलन हो सकती है। अगर आप थोड़ा ठंडा पानी का उपयोग करते हैं तो आपको राहत मिलेगी। इस बारे में अधिक जानकारी के लिए एक बार डॉक्टर से भी पूछ सकते हैं।
  • इस बीमारी के दौरान हाइजीन का विशेष तौर पर ख्याल रखें। ऐसे में आपको अधिक गर्मी वाले स्थान में नहीं रहना चाहिए। सामान्य तापमान वाले स्थान में रहने से शरीर को राहत मिलेगी।
  • अगर आपर शरीर को पूरा आराम देते हैं और रात में अच्छी नींद लेते हैं तो ये आपके स्वास्थ्य के लिए बेहतर रहेगा।
  • अगर आपको अंकुरित खाना पसंद है तो आप खाने में इसे रोजाना शामिल कर सकते हैं।
  • खाने में पत्तेदार वेजीटेब्लस को शामिल करें। साथ ही फास्ट फूड को पूरी तरह से इग्नोर करें।
  • बेहतर होगा कि आप किसी भी बात की टेंशन न लें।
  • वर्तमान में टीके पर कई प्रयोग चल रहे हैं जो एचएसवी वायरस को रोक सकते हैं।

अगर चेहरे की मांसपेशियों में कमजोरी हो गई हो और आपको आंखें खोलने या बंद करने में परेशानी हो रही हो तो इन बातों का ध्यान रखें :

  • आंखों में आईड्रॉप्स डालें।
  • आंखों पर ऑइंटमेंट लगाए और आंखों को बंद रखें या फिर आई पैच पहनें।

इसके अलावा हर्पीस जोस्टर से निपटने के लिए और इसके दर्द को कम करने के लिए आप निम्न सुझाव अपना सकते हैं:

  • अगर आपके मुंह और जननांगों के आसपास पानी से भरे दाने हैं तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें।
  • घावों को छूने से बचें।
  • अपने जीवनसाथी से बात करें और हमेशा कंडोम का उपयोग करें।
  • आप दानों में बर्फ का उपयोग कर सकते हैं।
  • फोड़े को सूखा और साफ रखें।

उम्मीद करते हैं कि आपको यह आर्टिकल पसंद आया होगा और हर्पीस जोस्टर से संबंधित जरूरी जानकारियां मिल गई होंगी। अधिक जानकारी के लिए एक्सपर्ट से सलाह जरूर लें। अगर आपके मन में अन्य कोई सवाल हैं तो आप हमारे फेसबुक पेज पर पूछ सकते हैं। हम आपके सभी सवालों के जवाब आपको कमेंट बॉक्स में देने की पूरी कोशिश करेंगे। अपने करीबियों को इस जानकारी से अवगत कराने के लिए आप ये आर्टिकल जरूर शेयर करें।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Shingles: https://www.mayoclinic.org/diseases-conditions/shingles/symptoms-causes/syc-20353054 Accessed 13/11/2019.

Shingles. https://www.nlm.nih.gov/medlineplus/ency/article/000858.htm. Accessed 13/11/2019.

Shingles (Herpes Zoster). https://medlineplus.gov/shingles.html Accessed 13/11/2019.

Ramsay Hunt syndrome. http://www.drugs.com/mcd/ramsay-hunt-syndrome. Accessed 13/11/2019.

Shingles and chickenpox (Varicella-zoster virus). http://umm.edu/health/medical/reports/articles/shingles-and-chickenpox-varicellazoster-virus. Accessed 13/11/2019.

लेखक की तस्वीर
Dr. Pranali Patil के द्वारा मेडिकल समीक्षा
Suniti Tripathy द्वारा लिखित
अपडेटेड 20/09/2019
x