आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

कामसूत्र टिप्स जो हर किसी की सेक्स लाइफ को बना सकते हैं रोमांचक

    कामसूत्र टिप्स जो हर किसी की सेक्स लाइफ को बना सकते हैं रोमांचक

    सेक्स की बात हो तो कामसूत्र का नाम भी जरूर आता है। अब तो विदेशों में भी सेक्स के बारे में ज्ञान लेने के लिए कामसूत्र की मदद ली जाती है। आपने भी कामसूत्र के बारे में काफी सुना होगा लेकिन, क्या आपको यह पता है कि कामसूत्र आखिर है क्या? इसकी रचना किसने की या इसमें किन-किन बातों का जिक्र है? अगर नहीं, तो इस आर्टिकल में जानें ये सारी बातें और सेक्स के लिए कामसूत्र के असरदार टिप्स के बारे में बताया गया है।

    और पढ़ें: स्टेप-बाय-स्टेप जानिए महिला कंडोम (Female condom) का इस्तेमाल कैसे करें

    कामसूत्र क्या है? (Kamsutra)

    कामसूत्र में सेक्स लाइफ को और ज्यादा आनंददायक बनाने के लिए सेक्स पुजिशन (Sex Position) और अन्य तरीकों के बारे में बताया गया है। सेक्स लाइफ का आनंद लेने के लिए कामसूत्र बहुत मददगार साबित हो सकता है और फिर इस प्राचीन ग्रंथ में सेक्स लाइफ को बेहतर बनाने के लिए बहुत जरूरी बाते बताई गई हैं।

    कामसूत्र टिप्स (Kamsutra Tips) से पहले जानें कामसूत्र किसने लिखा?

    कामसूत्र टिप्स से जुड़ी सारी बातें

    माना जाता है कि पौराणिक भारतीय ग्रंथ “कामसूत्र” गुरु वात्स्यायन ने लिखा है जो कि, पहली से छठी सदी के बीच लिखा गया है। इसके साथ ही यह भी माना जाता है कि कामसूत्र को वेदों में वर्णित जानकारी के आधार पर लिखा गया है।

    ऐसा माना जाता है कि, सबसे पहले वेदों के आधार पर काम शास्त्र की रचना हुई थी और इसकी रचना से भगवान शिव के वाहन नंदी को जोड़ा गया है।

    बाद में ऋषि वात्स्यायन ने काम शास्त्र में मौजूद जानकारियों को एक सिलसिलेवार ढंग से सात भागों में कामसूत्र में पेश किया है। यह मूल रूप से संस्कृत में लिखा गया था और कई सदियों तक पश्चिमी दुनिया को इसकी जानकारी नहीं थी। लेकिन, 1883 में सर रिचर्ड फ्रांसिस बर्टन ने इसका अंग्रेजी संस्करण प्रकाशित किया।

    और पढ़ें: शादी और रिलेशनशिप से जुड़े रोचक तथ्य

    सेक्स के लिए कामसूत्र टिप्स (Kamsutra Tips)

    कामसूत्र टिप्स

    यहां सेक्स के लिए कामसूत्र के कुछ टिप्स दिए गए हैं, जिन्हें अपनाकर आप अपनी सेक्स लाइफ (Sex Life) को और ज्यादा आनंददायक और मजेदार बना सकते हैं। तो चलिए जानते हैं इन कामसूत्र टिप्स के बारे में।

    health-tool-icon

    बीएमआई कैलक्युलेटर

    अपने बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) की जांच करने के लिए इस कैलक्युलेटर का उपयोग करें और पता करें कि क्या आपका वजन हेल्दी है। आप इस उपकरण का उपयोग अपने बच्चे के बीएमआई की जांच के लिए भी कर सकते हैं।

    पुरुष

    महिला

    1. कामसूत्र में सेक्स की 64 पोजीशन के बारे में बताया गया है, जो कि आपके आनंद को और बढ़ा सकती हैं और आपकी सेक्स लाइस को और ज्यादा रोमांचक बना सकती हैं। इन पोजीशन में डॉगी स्टाइल (Dogy Style), बटरफ्लाई, रिवर्स काउगर्ल, स्पून पोजीशन आदि शामिल हैं जिनके बारे में माना जाता है कि ये पाश्चात्य देशों से आई हैं और पूरी तरह से प्राचीन हैं।
    2. कामसूत्र में कुछ ऐसे फूड्स के बारे में भी बताया गया है, जिससे आपकी यौन इच्छा (Sex Drive) बढ़ती है और आपकी परफॉर्मेंस में भी बेहतरी आती है। इन फूड्स और ड्रिंक्स में दूध, केसर, एस्परैगस, लहसुन, अश्वगंधा, मेथी, जायफल और शिलाजीत आदि शामिल हैं।
    3. कामसूत्र में फोरप्ले पर भी लिखा गया है। कामसूत्र के मुताबिक फोरप्ले महिलाओं और पुरुषों को ऑर्गेज्म प्राप्त करने में काफी मदद करता है। इसके लिए, महिलाएं पुरुषों के पेनिस, गर्दन और अन्य संवेदनशील शारीरिक हिस्सों के साथ चुंबन, काटना या जीभ से आनंद दे सकती हैं।
      इसी तरह, कामसूत्र टिप्स में बताया गया है कि पुरुष महिलाओं के स्तनों, गर्दन, क्लिटोरिस , वजायना, कूल्हों, कमर, कान के नीचे का भाग आदि को दांत, होंठ और जीभ की सहायता से उत्तेजित कर सकते हैं।
    4. कामसूत्र टिप्स में यह भी जानकारी है कि, महिलाओं के संवेदनशील हिस्से आपस में जुड़े होते हैं। मतलब अगर आप महिला के निपल्स के साथ फोरप्ले करेंगे तो उन्हें क्लिटोरिस में भी सेंसेशन फील होगी और आप इन संवेदनशील हिस्सों को एकसाथ उत्तेजित करके उन्हें ऑर्गेज्म प्राप्त करने में मदद कर सकते हैं।
    5. कामसूत्र में बताया गया है कि, महिलाओं की वजायना से ऊपर पेट का हिस्सा काफी संवेदनशील होता है। जिसके साथ आप दांत, लिप्स और जीभ से आनंद दे सकते हैं। यह काफी काम का कामसूत्र टिप्स हो सकता है।
    6. इसके अलावा, कामसूत्र टिप्स में महिलाओं के जी-स्पॉट को उत्तेजित करने वाली सेक्स पोजीशन का इस्तेमाल करने की बात कही गई है। इसके लिए आप काउगर्ल या रिवर्स काउगर्ल सेक्स पोजीशन का इस्तेमाल कर सकते हैं।

    और पढ़ें: आखिर क्यों साथी से साथ सेक्स के बाद अटैचमेंट बढ़ने लगता है?

    कामसूत्र टिप्स : कामसूत्र (Kamsutra) और क्या कहता है?

    कामसूत्र टिप्स के साथ आपको बताते हैं कि कामसूत्र सिर्फ सेक्स पोजीशन या सेक्स टिप्स की बात ही नहीं करता बल्कि, इसमें पुरुषों, महिलाओं से जुड़ी अन्य जानकारियां भी दी गई हैं।

    जीवन साथी का चुनाव करना सिखाता है

    कामसूत्र का मार्गदर्शन जीवनसाथी के साथ 64 कलाओं को करना ही नहीं बल्कि अपनी पसंद का चुनाव करना भी है। कामसूत्र में बताया गया है कि स्त्री को कैसे पुरुष का चुनाव करना चाहिए और पुरुष को महिलाओं को जीवन साथी के रूप में चुनने से पहले किन बातों का ध्यान देना चाहिए?

    दूसरों को रिझाने का गुण सिखाता है

    अच्छे दाम्पत्य जीवन के लिए कामसूत्र टिप्स पति-पत्नी में प्रेम भाव व आदर को बढ़ाते हैं। पति को रिझाने के लिए सुंदर वस्तुओं व वस्त्रों का उपयोग करने की सलाह के साथ महिलाओं को सौंदर्य के साथ बुद्धिमता की देवी होने की शिक्षा भी दी गई है। कामसूत्र महिलाओं को एक अच्छी पत्नी बनने के साथ ही कुशल, सुन्दर और निपुण होने का मार्गदर्शन करता है।

    और पढ़ें : पुरुषों में ही नहीं महिलाओं में भी होती है हाई सेक्स ड्राइव, जानें क्या होती हैं उनकी चुनौतियां

    महिलाओं को बराबर समझने पर जोर

    सदियों पहले लिखे गए कामसूत्र ने पुरुष और महिला को साथ-साथ चलने की बात कही है। कामसूत्र का मार्गदर्शन ही है कि 64 कलाओं के माध्यम से महिलाओं को सदैव पुरुष के नीचे नहीं, उसके समान रहने को कहा गया है।

    इसमें महिलाओं को बताया गया कि उन्हें पुरुष की इच्छाओं की पूर्ति के लिए नहीं बल्कि अपनी इच्छाओं की पूर्ति की ओर भी ध्यान देना चाहिए। इससे भी संभोग की चरम सीमा प्राप्त हो सकती है

    अच्छा पति बनना सिखाता है

    कामसूत्र अच्छा पति बनने के लिए भी टिप्स देता है। कामसूत्र में उस समय में भी सेक्स के मामले में महिलाओं को अहमियत दी गई है। कामसूत्र के जरिए पुरुषों को अपनी पत्नी की खुशी का ध्यान रखने की सलाह दी गई है। इसमें विस्तार से बताया गया है कि पत्नी के साथ फिजिकल इंटिमेसी बढ़ाने से पहले इमोशनल इंटिमेसी बढ़ाना जरूरी है।

    सामाजिक व्यवहार की जानकारी

    इसमें बताया ​गया है कि वैवाहिक जीवन के बाद आपको किन-किन जिम्मेदारियों को निभाना है और समाज में किस तरह का व्यवहार करना है। रोज सुबह नहाने से लेकर दोस्तों व परिवार वालों के साथ उठने-बैठने और बातचीत करने की चर्चा भी इसमें की गई है।

    और पढ़ें : शादी से पहले या शादी के बाद, आखिर कब ज्यादा खुश रहती हैं महिलाएं?

    मानसिकता पहचानने की सीख

    कामसूत्र में सिखाया गया है कि पार्टनर को उसकी मानसिकता के अनुसार कैसे रिझाना है।

    धैर्य ही है कुंजी

    कामसूत्र बताता है कि महिला और पुरुष को धैर्य रखना चाहिए। महर्षि वात्स्यायन ने सुहागरात से संभोग तक महिला और पुरुषों में धैर्य के महत्व को बताया है। इसमें तैयारी, फोरप्ले, सेक्स और आफ्टरप्ले के चार चरण बताए गए हैं।

    स्वस्थ जीवन की जानकरी

    सेक्शुअल एनर्जी को सही तरह से इस्तेमाल करने से लेकर मोक्ष की प्राप्ति तक की बात इसमें बताई गई है। इसमें स्वस्थ जीवन जीने की जानकारी दी गई है। सौ साल तक स्वस्थ जीवन धर्म, अर्थ काम के साथ जीने के बाद मोक्ष की प्राप्ति के लिए जीवनशैली को महत्व दिया गया है। कहा जा सकता है कि काम कलाओं में ही नहीं बल्कि स्वस्थ जीवन में भी कामसूत्र का मार्गदर्शन देखा जा सकता है।

    कामसूत्र से सेक्स पुजिशन (Sex Position) के इतर स्वस्थ जीवनशैली, दूसरों को रिझाने, इमोशनल इंटिमेसी (Emotional Intimecy) बढ़ाने, महिलाओं को सुंदर व कुशल बनने के बारे में भी कामसूत्र टिप्स सीखे जा सकते हैं। इनसे जीवन को सुखमय बनाने की कला सीखी जा सकती है।

    उम्मीद करते हैं कि आपको यह आर्टिकल पसंद आया होगा और सेक्स लाइफ में कामसूत्र टिप्स का कितना महत्व है इससे संबंधित जरूरी जानकारियां मिल गई होंगी। अधिक जानकारी के लिए एक्सपर्ट से सलाह जरूर लें। अगर आपके मन में अन्य कोई सवाल हैं तो आप हमारे फेसबुक पेज पर पूछ सकते हैं। हम आपके सभी सवालों के जवाब आपको कमेंट बॉक्स में देने की पूरी कोशिश करेंगे। अपने करीबियों को इस जानकारी से अवगत कराने के लिए आप ये आर्टिकल जरूर शेयर करें।

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    लेखक की तस्वीर badge
    Surender aggarwal द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 16/06/2021 को
    डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
    Next article: