home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

सेक्स के बाद आफ्टरप्ले बढ़ाता है इमोशनल बॉन्डिंग

सेक्स के बाद आफ्टरप्ले बढ़ाता है इमोशनल बॉन्डिंग

सेक्स को तीन चरणों में वि​भाजित किया जा सकता है। फोरप्ले, सेक्स और आफ्टरप्ले। आफ्टरप्ले के बारे में बहुत कम लोग जानते हैं या यूं कहे कि बहुत कम पुरुष इसमें दिलचस्पी लेते हैं। महिलाओं को सेक्स के लिए तैयार करने के लिए बेशक फोरप्ले काम आता है। लेकिन यदि आप सेक्स को हर बार एंजॉय करना चाहते हैं तो आपको आफ्टरप्ले पर भी उतना ही ध्यान देना चाहिए। चूंकि महिलाओं के लिए आफ्टरप्ले बहुत महत्वपूर्ण होता है। यदि आप जानना चाहते हैं कि महिलाओं के लिए सेक्स के बाद आफ्टरप्ले क्यों इतना जरूरी है तो यह आर्टिकल पढ़ें।

और पढ़ें : ऑफिस में अपने एक्स पार्टनर के साथ ऐसे करें डील

क्यों​ जरूरी है सेक्स के बाद आफ्टरप्ले?

सेक्स के बाद आफ्टरप्ले है अगले सेक्स की गारंटी

सेक्स के बाद अक्सर पुरुषों में यह आदत देखी जाती है कि वह एक कौने में जाकर सो जाते हैं। ऐसा करने से महिला पार्टनर को लगता है कि वह पुरुष के लिए बस ऑर्गैज्‍म का जरिया मात्र है। यदि यही रूटीन बना रहे तो महिला पार्टनर में सेक्स में दिलचस्पी समाप्त होने लगती है। जाहिर है आप ऐसा नहीं करना चाहेंगे। कोशिश करें कि आफ्टरप्ले को अपने सेक्स का हिस्सा बना लें। इससे आप और आपका पार्टनर दोनों सेक्स को ज्यादा एंजॉय करेंगे। यूनिवर्सिटी और कैन्सस की एक स्टडी में पाया गया कि कि महिलाएं सेक्स से ज्यादा फोरप्ले और आफ्टरप्ले को एंजॉय करती हैं। इसलिए अगली बार के सेक्स को एंजॉय करने से पहले ही तैयारी कर लें।

और पढ़ें : ड्राई ऑर्गैज्म : क्यों कुछ पुरुषों को होती है ऑर्गैज्म में दिक्कत?

सेक्स के बाद आफ्टरप्ले से रिश्ता होता है मजबूत

सेक्स कोई काम नहीं है कि निपटाना है। यह संबंधों को गहरा करने और प्यार का इजहार करने का तरीका है। सेक्स से पहले यानी फोरप्ले के साथ ही आफ्टरप्ले पर भी ध्यान दिया जाना चाहिए। यदि आप महिला पार्टनर को आफ्टरप्ले से संतुष्ट कर पाते हैं तो यह आपके प्यार का सबूत होता है। महिलाएं सेक्स से ज्यादा इस बात पर गौर करती हैं कि सेक्स के बाद आप उनकी कितनी परवाह करते हैं। आफ्टरप्ले शारीरिक से ज्यादा भावनात्मक होता है। आफ्टरप्ले में आप कडलिंग, एक-दूसरे की मसाज, सहलाना या एक-दूसरे से नॉर्मल बातचीत में समय गुजार सकते हैं। आफ्टरप्ले का आपके रिश्ते पर एक सकारात्मक असर पड़ता है।

सेक्स के बाद आफ्टरप्ले से मल्टीपल ऑर्गैज्‍म का आनंद ले सकते हैं

गर्दन के पीछे किस करना, पीठ की मसाज करना, एक-दूसरे के शरीर को अंगुलियों से सहलाना जैसे आफ्टरप्ले दूसरी बार के सेक्स के लिए फोरप्ले का काम कर सकती हैं। यानी आफ्टरप्ले से आप मल्टीपल ऑर्गैज्‍म का आंनद ले सकते हैं।

और पढ़ें : हर दिन सेक्स करना कैसे फायदेमंद है, जानिए इसके 9 वजह

सेक्स के बाद आफ्टरप्ले से महिला पार्टनर के दिल की तमन्ना होती है पूरी

कहा जाता है कि पुरुष सेक्स के बाद जल्दी रिलेक्स हो जाते हैं लेकिन महिलाओं को कूल होने या रिलेक्स होने में समय लगता है। यदि आप अपनी महिला पार्टनर को रिलेक्स करना चाहते हैं तो आफ्टरप्ले इसमें भी कारगर हो सकता है। महिलाएं सेक्स के बाद भी पार्टनर से इंटिमेसी या नजदीकियां बनाए रखना चाहती हैं। ऐसे में आफ्टरप्ले महिलाओं की इंटिमेसी की जरूरत के प्रति सम्मान के तौर पर भी देखा जा सकता है।

और पढ़ें : प्यार और मौत से जुड़े इंटरेस्टिंग फैक्ट्स

सेक्स के बाद आफ्टरप्ले से जाहिर होती है महत्वता

एक महिला के लिए यह बहुत जरूरी होता है कि उसका पार्टनर उसे तवज्जो दे। यदि आप उनसे बातचीत करें तो इस वक्त वह इमोशनल होकर आपसे कई बातें शेयर करती हैं। इसके साथ ही वह यह उम्मीद भी करती हैं कि आप उनकी बातों पर पूरा ध्यान दें। यदि आप ऐसा करते हैं तो महिलाओं को यकीन हो जाता है कि आपकी जिंदगी में उनकी महत्ता है।

आफ्टरप्ले सेक्स में संतुष्टि का जरिया भर नहीं है। यह आपसी रिश्तों को मजबूत बनाने का काम करता है। इसके बावजूद आफ्टरप्ले को सबसे ज्यादा नजरअंदाज किया जाता है। सेक्स के बाद पुरुष सोना या अपने मोबाइल में झांकना पसंद करते हैं। वह इस बात से अंजान होते हैं कि महिलाओं को सेक्स के बाद भी इंटिमेसी की जरूरत होती है। इसके साथ ही यह महिला पार्टनर की भावनाओं से जुड़ा हुआ भी होता है।

सेक्स के बाद आफ्टरप्ले का महत्व तो आप समझ ही गए होंगे। अब हम आपको फाेरप्ले के टिप्स बता रहे हैं।

फोरप्ले (Foreplay) क्या है?

खाना खाने से पहले हम भूख को बढ़ाने के लिए सूप या ऐसी ही किसी चीज का सेवन करते हैं। फोरप्ले सेक्स से पहले उत्तेजना को बढ़ाने के लिए ऐसी ही क्रिया है। संक्षेप में कहा जाए, तो फोरप्ले अपने पार्टनर के साथ बिताया वो समय है जब आप उसे शारीरिक संबंध बनाने के लिए उत्साहित कर सकते हैं। ऐसा आवश्यक नहीं कि केवल पुरुष ही महिलाओं को इसके लिए उत्तेजित करें। लेकिन, पुरुषों की तुलना में महिलाओं को सेक्स के लिए तैयार होने में समय लगता है। ऐसे में सेक्स से पहले फोरप्ले से उन्हें तैयार करने में कम समय लगता है। आज हम आपको फोरप्ले टिप्स देने वाले हैं, ताकि आप अपने इस खास समय को और भी खास बना सके। आजकल लगभग हर कोई सेक्स को लेकर बहुत उत्साहित होता है ऐसे में फोरप्ले टिप्स के जरिए आप अपनी सेक्स लाइफ को और बेहतर बना सकते हैं। फोरप्ले टिप्स दोनों पार्टनर को एक-दूसरे की पसंद को समझने का मौका देता है। फोरप्ले टिप्स दोनों पार्टनर को एक दूसरे के साथ सेक्स करने के लिए कंर्फटेबल बनाता है।

यह भी पढ़ें : फोरप्ले (Foreplay) है बेहद जरूरी, इस दौरान बरतें ये सावधानियां

फोरप्ले के टिप्स:

किस करे काम

आमतौर पर फोरप्ले की शुरुआत किसिंग से ही होती है। लेकिन, कई बार एकदम जोश में आकर किस करने से फोरप्ले का सारा मजा किरकिरा हो जाता है। ऐसे में, आपको किसिंग की शुरुआत एक सॉफ्ट किस से करनी चाहिए। शुरुआती किस ऐसी होने चाहिए, जिससे आपका पार्टनर आपके प्यार और केयर को महसूस कर पाएं। बीच-बीच में अपने साथी को सहलाएं भी। ऐसा करने से न केवल आपका पार्टनर उत्तेजित होगा, बल्कि आपके संबंध भी मजबूत होंगे। फोरप्ले टिप्स में सबसे खास है एक-दूसरे को किस करना। एक दूसरे को अपनी भावनाएं जाहिर करने का यह एक पुराना और लोगों का पसंदीदा तरीका है।

फोरप्ले टिप्स में डर्टी टॉक्स है खास

आपका साथी आपके रंग-रूप, फिगर या कपड़ों से नहीं, बल्कि आपकी बातों से भी आप पर फिदा हो सकता है। अपने साथी को उत्तेजित करने के लिए आपको वो सब चीजें उन्हें धीरे से और मदहोश कर देने वाली आवाज में बोलनी हैं, जो आप उनसे करवाना चाहते हैं या उस दौरान करना चाहते हैं। इसके बाद वो सब कुछ भूल कर बस आप में ही खो जाएगा। कुछ लोग फोरप्ले टिप्स में एक-दूसरे से डर्टी टॉक्स करते हैं। ऐसा करने से पुरूष ज्यादा उत्तेजित होते है जिससे वह सेक्सुअल इंटरकोर्स ज्यादा एनर्जी के साथ करते हैं।

और पढ़ें : हर दिन सेक्स करना कैसे फायदेमंद है, जानिए इसके 9 वजह

मालिश

मालिश करने से भी आप अपने इस प्राइवेट टाइम को और भी स्पेशल बना सकते हैं। अपने पार्टनर को पैर, पीठ, गले या जहां भी आप और आपका पार्टनर चाहते हैं, वहां मालिश करें। इससे न केवल आपके पार्टनर की पूरी थकान मिट जाएगी, बल्कि उसका मूड भी अच्छा हो जाएगा। माहौल को और भी खुशनुमा और रोमांटिक बनाने के लिए सुगंधित तेल या मसाज कैंडल का प्रयोग करें। फोरप्ले टिप्स में आप अफने पार्टनर को मसाज दे सकते हैं। ये फोरप्ले टिप्स दोनों के लिए उपयोग किए जा सकते हैं।

उम्मीद करते हैं कि सेक्स के बाद आफ्टरप्ले के फायदे पर आधारित यह आर्टिकल आपको पसंद आया होगा। अधिक जानकारी के लिए सेक्सोलॉजिस्ट से संपर्क करें।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

PILLOW TALK Why afterplay is just as important as foreplay for sexual satisfaction… here’s five things to try/https://www.thesun.co.uk/fabulous/7220970/afterplay-important-foreplay-sexual-satisfaction/

Accessed on 31/10/2019

Sex differences in sexual needs and desires/https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pubmed/6466087 

Accessed on 31/10/2019

Sex Therapist Says Prioritising This One Thing Will Boost Your Sex Life/https://www.womenshealth.com.au/afterplay-is-just-as-important-as-foreplay-for-sexual-satisfaction

Accessed on 4/12/2019

लेखक की तस्वीर badge
Hema Dhoulakhandi द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 18/09/2020 को
डॉ. हेमाक्षी जत्तानी के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x