home

What are your concerns?

close
Inaccurate
Hard to understand
Other

लिंक कॉपी करें

सेक्स के बाद यूरिन पास करना क्यों है जरूरी

सेक्स के बाद यूरिन पास करना क्यों है जरूरी

शारीरिक इंटिमेसी वैसे तो तन और मन दोनों के लिए हेल्दी होती है। लेकिन, अगर इस दौरान सावधानी बरतने में कोई चूक की जाए, तो यह एक बड़ी गलती भी बन सकती है। आमतौर पर, आपने डॉक्टर्स को यह कहते सुना होगा कि हर बार सेक्स करने के बाद यूरिन पास जरूर करें। लेकिन ऐसा क्यों? क्या आपको इस तथ्य के पीछे छिपी वजह पता है? अगर नहीं, तो चलिए हम आपको बतातें है हर बार सेक्स के बाद पेशाब करना क्यों जरूरी है।

किस वजह से जरूरी होता है सेक्स के बाद यूरिन पास करना?

हर जगह बैक्टीरिया

इंटरकोर्स के दौरान पुरुष साथी के स्पर्म के साथ यूरिन भी महिला की योनि में प्रवेश कर सकता है। क्योंकि, पुरुषों में स्पर्म और यूरिन एक ही रास्ते से बाहर आते हैं, जिसकी वजह से महिलाओं की योनि में यूरिन इंफेक्शन भी हो सकता है। इसके अलावा, महिलाओं का मूत्रमार्ग काफी छोटा होता है, जिस कारण बैक्टीरिया आसानी से इसके अंदर प्रवेश कर सकते हैं। यही नहीं, अगर ओरल सेक्स भी किया जाए, तो बैक्टीरिया प्रवेश कर सकते हैं।

यूरिनरी ट्रैक इंफेक्‍शन (Urinary track infection) का खतरा

सेक्स के बाद यूरिन करने से योनि में फंसे बैक्टीरिया अपने आप ही बाहर आ सकते हैं। साथ ही, सही तरीके से सफाई करने पर यूटीआई यानी यूरिनरी ट्रैक इंफेक्‍शन के खतरे से भी बचाव किया जा सकता है। यूटीआई की समस्या होने पर पेशाब के दौरान दर्द की समस्या देखी जा सकती है।

और पढ़ें: क्या वाकई में सेक्स टॉयज का इस्तेमाल रियल सेक्स जैसा प्लेजर देते हैं?

बैक्टीरिया (Bacteria) खत्म करे

एनल सेक्स के बाद योनि सेक्स करना बैक्टीरिया को बुलावा देने का सबसे आसान रास्ता हो सकता है। एनल के कीटाणु और बैक्टीरिया इस दौरान बहुत ही आसानी से योनि में प्रवेश कर सकते हैं। इसलिए, सेक्स करने के बाद पेशाब जरूर जाएं ताकि, सेक्स का अनुभव हमेशा यादगार बना रहे।

आलस को सुधारें

सेक्स के बाद पेशाब करने जाना बहुत ही बोरिंग हो सकता है क्योंकि, ऑर्गैज्म प्राप्त करने के बाद शरीर कुछ पल के लिए आराम करने के मूड में होता है। ऐसे में महिलाओं को अगर स्वस्थ्य रहना है, तो उन्हें सेक्स के बाद यूरिन पास करने जाना ही होगा। यह धीरे-धीरे उनकी आदत भी बन जाएगी और उनका आलसपन भी खत्म हो जाएगा।

सेक्स का अनुभव हर बार कुछ अलग हो, इसके लिए सेक्स में जिनती अहमियत एक नयेपन की होती है, उतनी ही अहमियत साफ-सफाई को भी देनी चाहिए। क्योंकि, हेल्दी सेक्स तभी किया जा सकता है, जब शरीर पूरी तरह से स्वस्थ्य हो।

health-tool-icon

बीएमआई कैलक्युलेटर

अपने बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) की जांच करने के लिए इस कैलक्युलेटर का उपयोग करें और पता करें कि क्या आपका वजन हेल्दी है। आप इस उपकरण का उपयोग अपने बच्चे के बीएमआई की जांच के लिए भी कर सकते हैं।

पुरुष

महिला

क्या सेक्स के बाद यूरिन पास करना आवश्यक है? (Is it necessary to pass urine after sex?)

सेक्स के बाद यूरिन पास करना क्यों जरूरी है?

सेक्स के बाद यूरिन पास करना आवश्यक नहीं है, लेकिन यह मददगार साबित हो सकता है। सेक्स के बाद यूरिन पास करने से मूत्र मार्ग के संक्रमण (यूटीआई) को रोकने में मदद मिल सकती है। यूटीआई तब होता है, जब बैक्टीरिया मूत्र मार्ग में प्रवेश करते हैं। आमतौर पर आपके मूत्रमार्ग के माध्यम से ब्लैडर तक पहुंचते हैं।

सेक्स के बाद यूरिन पास करने से सेक्स के दौरान पैदा हुए बैक्टीरिया भी बॉडी से बाहर निकालने में मदद मिल सकती है। ये बैक्टीरिया आपके मूत्रमार्ग से दूर संभोग के दौरान पैदा होते हैं। हालांकि, यह भी नहीं कहा जा सकता कि सेक्स से संबंधित यूटीआई को रोकने के लिए यह तरीका हमेशा कारगर साबित होता है। लेकिन यह कोशिश करने का एक काफी आसान तरीका है।

और पढ़ें: प्रेग्नेंसी में सेक्स, कैफीन और चीज को लेकर महिलाएं रहती हैं कंफ्यूज

क्या यह नियम सभी पर लागू होता है?

सेक्स के बाद यूरिन पास करना कोई बुरा आइडिया नहीं है, लेकिन कुछ लोगों को इससे यूटीआई के जोखिम को कम करने में लाभ मिल सकता है। यदि आप एक महिला है और आप यूटीआई से ग्रस्त हैं, तो आप सेक्स के बाद पेशाब करने से सबसे अधिक लाभान्वित हो सकते हैं। महिलाओं में मूत्रमार्ग से मूत्राशय तक का मार्ग छोटा होता है, इसलिए बैक्टीरिया कम दूरी तय करके बहुत जल्दी यूटीआई का कारण बन सकता है।

सेक्स करने के कितनी देर बाद यूरिन पास करना चाहिए? (How long should you pass urin after having sex?)

सेक्स करने के तीस मिनट के अंदर आपको यूरिन पास कर देनी चाहिए। ऐसे में यूटीआई से बचने के चांसेज बढ़ जाते हैं। लेकिन अगर जल्दी करेंगे, तो और बेहतर होगा।

सेक्स के बाद यूरिन पास करने से प्रेग्नेंसी से बचा जा सकता है?

सेक्स के बाद यूरिन पास करने से प्रेग्नेंसी ने नहीं बचा जा सकता है। अगर आप सेक्स के कुछ सेकंड बाद भी कोशिश करें, तो भी इसका कोई फायदा नहीं होगा। क्योंकि वजायनल इंटरकोर्स के दौरान स्खलन वजायनल कनाल में रिलीज होता है और यूरिन मूत्रमार्ग से पास होता है। दोनों के लिए पूरी तरह से अलग ओपनिंग्स होती हैं। आसान शब्दों में कहें, तो सेक्स के बाद यूरिन पास करने से वजायना में से कुछ भी बाहर नहीं निकाला जा सकता। एक बार सीमन वजायना के अंदर प्रवेश करने के बाद उसे बाहर नहीं निकाला जा सकता। इसके बाद स्पर्म ऊपर की ओर बढ़ते हैं और एग्स को फर्टिलाइज करने की कोशिश करते हैं।

अगर आप प्रेग्नेंट होने की कोशिश कर रही हैं तो

जब आप प्रेग्नेंट होने की कोशिश कर रही हैं, तो मेडिकल एक्सपर्ट्स सलाह देते हैं कि सेक्स के कुछ देर बाद तक आपको उठना नहीं चाहिए। ऐसा माना जाता है कि ऐसा करने से बाकी बचे कुछ स्पर्म भी यूट्रस की ओर आराम से बढ़ पाते हैं। हालांकि एक्टिव स्पर्म्स लेटे रहने या उठ जाने के बावजूद अपना काम करते रहते हैं और यूट्रस की ओर बढ़ते रहते हैं। साथ ही यह भी जान लें कि अगर आप सेक्स के तुरंत बाद यूरिन पास करती भी हैं, तो इससे आपके प्रेग्नेंट होने के चांसेज कम नहीं होते हैं, लेकिन फिर भी अगर आप सावधानी बरतना चाहती हैं, तो कुछ मिनट इंतजार करके यूरिन पास कर सकती हैं।

सेक्स के बाद यूरिन पास करने से एक बात तो तय है कि आप यूटीआई के रिस्क को कम कर सकती हैं, लेकिन प्रेग्नेंसी से इसका कोई लेना-देना नहीं है।

और पढ़ें: गर्भधारण के लिए सेक्स ही काफी नहीं, ये फैक्टर भी हैं जरूरी

यूटीआई को रोकने के लिए यह सेक्स हाइजीन है जरूरी (This sex hygiene is necessary to prevent UTI)

अगर आप सेक्स के बाद यूटीआई यानी यूरिनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन से खुद को बचाना चाहते या चाहती हैं, तो आपको न सिर्फ सेक्स के बाद यूरिन पास करना चाहिए। बल्कि कुछ अन्य सेक्स हाइजीन टिप्स का भी ध्यान रखना चाहिए। सेक्स के बाद पेशाब करना सिर्फ एक तरीका है, जिससे यूटीआई के इंफेक्शन को थोड़ा कम किया जा सकता है। लेकिन अन्य टिप्स अपनाकर आप इस खतरे को और कम कर सकते हैं। आइए, जानते हैं इन टिप्स के बारे में और कैसे हम सेक्स को मजेदार बनाने के साथ हेल्दी भी बना सकते हैं।

  • जो कपल्स एनल सेक्स प्रैक्टिस करते हैं या सेक्स लाइफ में नियमित शामिल करते हैं, उन्हें यह टिप काफी अच्छी तरह अपने दिमाग में बैठा लेना चाहिए। आपको वजायनल और एनल सेक्स के बाद वजायना और एनस की सफाई करनी चाहिए। इससे आपके इन जननांगों से बदबू नहीं आएगी। लेकिन साफ-सफाई करने के लिए सिर्फ माइल्ड साबुन और पानी का ही इस्तेमाल करें और उसे तौलिये से रगड़कर न सुखाएं।
  • सेक्स के बाद यूरिन पास करना जितना जरूरी है, उतना ही जरूरी है आपका अंडरगार्मेंट्स और पैड की स्वच्छता का ख्याल रखना। क्योंकि ऐसा न करने से आपको फंगल और बैक्टीरियल इंफेक्शन का खतरा हो सकता है। सेक्स के दौरान आपके और आपके पार्टनर के शऱीर से पसीना निकलता है, जो कि आपके अंडरगार्मेंट्स के संपर्क में आ सकता है। इसलिए आपको टाइट फिटिंग कपड़े या अंडरगार्मेंट्स को बदल लेना चाहिए। वहीं, आपके लिए कॉटन से बने इनरवियर ज्यादा फायदेमंद रहते हैं। इसके अलावा, अगर आप पीरियड्स में सेक्स कर रही हैं, तो अपने पैड को ज्यादा देर तक इस्तेमाल न करें। इससे बैक्टीरिया पनपने और संक्रमण होने का खतरा हो सकता है।
  • फीमेल पार्टनर्स अपने मेल पार्टनर्स को इंप्रैस करने और उनका मूड बनाने के लिए जननांगों के पास या उनके ऊपर कॉस्मेटिक्स या फैंसी परफ्यूम व लोशन का इस्तेमाल करती हैं। यह उनके और उनके पार्टनर के जननांगों के लिए नुकसानदायक साबित हो सकता है। क्योंकि इन प्रॉडक्ट्स को बनाने के लिए कई कैमिकल्स का इस्तेमाल किया जाता है, जो कि आपकी स्किन और प्राइवेट पार्ट्स के लिए नुकसानदायक हो सकते हैं। इससे गुप्तांगों पर जलन, खुजली व संक्रमण हो सकता है, जो कि आपके गुप्तांगों के अंदरुनी हिस्से को भी प्रभावित कर सकता है। इससे न सिर्फ आपको सेक्स के दौरान दर्द महसूस होगा, बल्कि आप सामान्य स्थिति में असहज महसूस करेंगे।

  • महिला हो या पुरुष, दोनों के ही प्राइवेट पार्ट्स के पास प्यूबिक हेयर होते हैं। सेक्स के बाद पेशाब करना जितना जरूरी है, उतना ही इन प्यूबिक हेयर को साफ करना भी जरूरी है। क्योंकि गर्मियों के मौसम में प्यूबिक हेयर वाली त्वचा पर पसीना इकट्ठा हो जाता है, जिससे बैक्टीरिया व फंगल इंफेक्शन होने का खतरा रहता है। इसके अलावा सर्दियों के मौमस में इनमें डैंड्रफ की समस्या हो सकती है, जिससे आपको खुजली की परेशानी हो सकती है। यह समस्याएं कई तरह की स्किन प्रॉब्लम्स खड़ी कर सकती हैं। इसलिए हमेशा प्यूबिक हेयर को साफ करके रखें। इससे त्वचा संबंधी समस्याओं से बचाव के साथ सेक्शुअल एक्टिविटी के दौरान ओरल सेक्स में भी मदद मिलेगी।
  • एनल सेक्स करने के बाद वजायनल सेक्स नहीं करना चाहिए। क्योंकि यह आपकी हेल्थ पर नकारात्मक प्रभाव डालता है। जब आप एनल सेक्स करते हैं, तो पीनस एनस में मौजूद कई हानिकारक बैक्टीरिया के संपर्क में आता है। इसके बाद जब हम वजायनल सेक्स करते हैं, तो यही बैक्टीरिया वजायना और यूरिनरी ट्रैक्ट के संपर्क में आते हैं। जिससे इंफेक्शन का खतरा होता है। वजायना सेक्स हमेशा एनल सेक्स से पहले करना चाहिए। इसके साथ ही एनल सेक्स और वजायना सेक्स के लिए अलग-अलग कॉन्डोम का इस्तेमाल करना चाहिए।

और पढ़ें: आखिर क्यों साथी से साथ सेक्स के बाद अटैचमेंट बढ़ने लगता है?

  • अगर आप सेक्स टॉयज का इस्तेमाल करते हैं, तो आपको उनकी साफ-सफाई के बारे में ध्यान रखना चाहिए। क्योंकि समय के साथ उनकी क्वालिटी में गिरावट आती रहती है और स्टोर करते समय उनपर गंदगी, बैक्टीरिया, धूल-मिट्टी भी लग सकती है। इसलिए सेक्स के दौरान इन्हें इस्तेमाल करने से पहले और बाद में गर्म पानी और माइल्ड साबुन से इनकी साफ-सफाई करनी चाहिए। इसके बाद इन्हें सूखाने के लिए टिशू पेपर या टॉवेल का इस्तेमाल करें। जब भी आप इन्हें स्टोर करें, तो ध्यान रखें कि वहां गंदगी बिल्कुल न हो और इन्हें किसी प्लास्टिक में कवर करके रखें।
  • महिलाओं के मुकाबले पुरुष अपने जननांगों की साफ-सफाई के बारे में बहुत कम सतर्क और सजग होते हैं। जबकि पुरुषों को भी सेक्स के बाद यूरिन पास करने जैसी सेक्स हाइजीन के बारे में बराबर जागरुक होना चाहिए। इसलिए पुरुषों को पीनस को रोजाना साफ करना चाहिए। इसे साफ करने के लिए ऊपरी त्वचा को पीछे की तरफ हटाकर अंदर गुनगुने पानी से सफाई करें। क्योंकि इसके अंदर कुछ बैक्टीरिया और मृत कोशिकाएं जम जाती हैं, जो खुजली व इंफेक्शन का कारण बन सकती हैं। यह इंफेक्शन यौन संबंध के दौरान पार्टनर को भी शिकार बना सकता है।
  • सेक्स के दौरान फोरप्ले का चलन अब कपल्स के बीच काफी लोकप्रिय होता जा रहा है और इसी के साथ उन्हें मुंह से जुड़ी परेशानियों का भी सामना करना पड़ रहा है। दरअसल, जननांगों की ठीक से साफ-सफाई न करने पर ओरल सेक्स होने के कारण पार्टनर का मुंह कई समस्याओं से ग्रसित हो सकता है। इससे बचाव के लिए आपको माउथवॉश का इस्तेमाल करना चाहिए। आप सेक्स से पहले और बाद में अच्छी तरह माउथवॉश करें और यह सिर्फ एक साथी को नहीं बल्कि दोनों को करना चाहिए। यह टिप काफी जरूरी है, इसलिए इसका हमेशा ध्यान रखें।
  • सेक्स के बाद हाथ धोना काफी जरूरी है। क्योंकि सेक्स के दौरान आपके हाथ पार्टनर और खुद अपने जननांगों के संपर्क में आते हैं। इसके अलावा वह जननांगों से निकलने फ्लूइड के संपर्क में भी आ सकते हैं। फिर यही हाथ आपकी आंख, नाक और मुंह तक जाकर उन्हें भी संक्रमित कर सकते हैं। सेक्स के दौरान फ्लूइड के संपर्क में आने और फिर आंखों को छूने पर कई लोगों को आई इंफेक्शन का सामना करते हुए देखा गया है। इसलिए सावधानी बरतने के लिए आप सेक्स से पहले औऱ बाद में हाथों को माइल्ड साबुन और पानी से अच्छी तरह साफ करें।

हमें उम्मीद है कि आप सेक्स के बाद यूरिन पास करने और यूटीआई से बचाव के लिए जरूरी सेक्स हाइजीन टिप्स के बारें में हर जरूरी जानकारी जान चुके होंगे। लेकिन यदि आपको अभी भी किसी प्रकार की शंका या सवाल है, तो आप किसी डॉक्टर या एक्सपर्ट की सलाह लें। वह आपकी समस्या व सवाल को अच्छी तरह समझकर आपको उचित जानकारी उपलब्ध करवाने में मदद करेगा। इसके अलावा, अगर आप हम से किसी प्रकार की जानकारी चाहते हैं, तो हमारे सोशल मीडिया पेज पर जाकर हमें लिख सकते हैं।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Health behavior and urinary tract infection in college-aged women. https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/2324774/. Accessed On 21 September, 2020.

Why does my girlfriend pee after we have sex?. https://u.osu.edu/buckmdblog/2009/07/24/why-does-my-girlfriend-pee-after-we-have-sex/. Accessed On 21 September, 2020.

Urinary tract infections. https://www.womenshealth.gov/a-z-topics/urinary-tract-infections. Accessed On 21 September, 2020.

Chlamydia. https://health.mo.gov/living/healthcondiseases/communicable/stds/chlamydia.php. Accessed On 21 September, 2020.

Urine – bloody. https://medlineplus.gov/ency/article/003138.htm. Accessed On 21 September, 2020.

लेखक की तस्वीर badge
Ankita mishra द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 16/06/2021 को
डॉ. हेमाक्षी जत्तानी के द्वारा मेडिकली रिव्यूड