home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

योनि से जुड़े तथ्य, जो हैरान कर देंगे

योनि से जुड़े तथ्य, जो हैरान कर देंगे

महिलाओं को भी योनि से जुड़े तथ्य पता नहीं होते हैं। आमतौर पर लोग योनि से जुड़े रोगों, साफ-सफाई या उससे जुड़ी किसी भी तरह की बात करते हुए कतराते हैं। कई लोगों को लगता होगा कि योनि सिर्फ संभोग सुख और बच्चे के जन्म से ही जुड़ी होती है। लेकिन ऐसा नहीं है। बता दें कि योनि के बारे में कई ऐसी बातें हैं जो आपको हैरान कर सकती हैं। दुनिया की लगभग आधी आबादी के करीब महिलाओं की जनसंख्या है लेकिन, योनि से जुड़े तथ्यों के बारे में बहुत ही कम महिलाओं को पता होते हैं। तो चलिए जानते हैं योनि (गुप्तांग) से जुड़े 10 रोचक तथ्य।

और पढ़ें : Quiz : सेक्स, जेंडर और LGBT को लेकर मन में कई सवाल लेकिन हिचकिचाहट में किससे पूछें जनाब?

जानिए योनि (गुप्तांग) से जुड़े तथ्य

1.क्लिटरस

क्लिटरस, योनि का ऐसा हिस्सा है जिसे मात्र छूने से ही अधिकतर महिलाएं संभोग के लिए उत्तेजित हो जाती हैं। आपको जानकर हैरानी होगी कि इसमें आठ हजार नसें होती हैं। वहीं, पुरुषों के लिंग में चार हजार नसें ही होती हैं। यह भी वजह है कि योनि महिला के शरीर का सबसे अधिक संवेदनशील अंग होता है।

2.योनि से जुड़े तथ्य समझने से पहले समझें वजायना का अर्थ

‘वजायना’ शब्द लैटिन भाषा के लिए इस्तेमाल किया जाता है, जिसका अर्थ है ‘तलवार की म्यान’।

3.शार्क से है जुड़ी

योनि में एक प्राकृतिक गंध पाई जाती है, जिसे स्कुआलेन कहा जाता है। स्कुआलेन शार्क के लिवर में भी पाई जाती है। योनि से जुड़े तथ्य में यह भी शामिल है।

और पढ़ेंः क्या बीयर्ड ऑयल सच में फायदेमंद है?

4.योनि का आकार

जिस तरह लिंग का आकार छोटा-बड़ा, मोटा-पतला, सीधा-टेढ़ा होता है, ठीक उसी तरह योनि के आकार और रंग भी अलग-अलग होते हैं। इसके अलावा, कुछ महिलाओं की योनि में क्लिटरस योनि के खुलने वाले द्वार के नजदीक होता है, तो कुछ में क्लिटरस योनि से थोड़े दूर हो सकते हैं।

5.आकार से हो सकती है बड़ी

योनि मांसल मांसपेशियों से घिरी होती है, जो उन्हें जरूरत पड़ने पर फैलने या बड़ा होने में मदद करती हैं। इसी कारण सेक्स और बच्चे को जन्म देने के दौरान योनि 200 प्रतिशत तक फैल सकती है।

6. उत्तेजना के समय साइज में बदलाव

उत्तेजना के समय योनि के आकार में भी बदलाव आ सकता है। इस समय योनि का आकार तीन से चार इंच तक बढ़ सकता है।

और पढ़ेंः जानिए क्या करें अगर पार्टनर न कर पाए सेक्शुअल सैटिस्फैक्शन

6.खुद को रखती है साफ

योनि स्वयं ही खुद की सफाई करती है। इसे साफ करने लिए सिर्फ पानी ही बहुत है और योनि की सफाई ले लिए किसी केमिकल या मेडिकेटिड प्रोडक्ट की जरूरत नहीं होती है।

7.योनि का लचीलापन

कई स्थितियों में योनि का लचीलापन बढ़ सकता है और वर्कआउट की मदद से इसमें कसाव लाया जा सकता है। इसके लिए कीगल एक्सरसाइज सबसे अच्छा विकल्प होता है।

8.उम्र के साथ बढ़ती रहती है

30 साल की महिला की योनि किसी किशोरी के मुकाबले 2 गुना बड़ी होती है। वहीं, जन्म के समय से लेकर मेनोपॉज तक पहुंचने पर यह 7 गुना तक बढ़ जाती है।

9. दस सेकंड में पहुंचे चरम पर

क्लिटरस की मदद से महिलाएं संभोग का सुख 10 से 30 सेकंड के बीच ही पा जाती हैं।

10. सिर्फ योनि से नहीं मिलता ऑर्गेज्म

केवल 18 प्रतिशत महिलाओं का कहना है कि उन्हें अकेले योनि सेक्स से ऑर्गेज्म मिल जाता है जबकि 80 फीसदी महिलाओं को क्लिटोरिस से ऑर्गेज्म मिलता है। कुछ महिलाओं को एक साथ ही योनि और क्लिटोरिस से ऑर्गेज्म मिलता है।

और पढ़ेंः रिलेशनशिप टिप्स : हर रिलेशनशिप में इंटिमेसी होनी क्यों जरूरी है?

एक्सपर्ट टिप्स

इमरजेंसी मेडिकल ऑफिसर डॉक्टर शरयु माकणीकर, जो काउंसलिंग भी करती हैं, उन्होंने हैलो स्वास्थ्य की टीम के साथ योनि से जुड़े फैक्ट्स शेयर किए हैं। उनका मानना है कि ”महिलाओं में शुरू होने वाला पीरियड उनके शरीर में कई तरह के बदलाव लाता है।

जब तक लड़कियों में प्यूबर्टी यानी यौन अवस्था शुरू नहीं होती है, तब तक उनकी योनि से किसी भी तरह का कोई पदार्थ डिस्चार्ज नहीं होता है। जब उन्हें पीरियड्स शुरू होते हैं, तो इसे एक अच्छी बात मानी जाती है, क्योंकि पीरियड्स का साइकिल उनके मां बनने की स्थिति से जुड़ा होता है।”

योनि या गुप्तांग से जुड़े तथ्य ये भी आपको जरूर जानना चाहिए

आमतौर पर अधिकांश पुरुष अपने पेनिस (लिंग) से जुड़ी बातों को जानने के लिए हमेशा तैयार रहते हैं और वे इसके बारे में करीबी दोस्तों और इंटरनेट के माध्यम से भी जान सकते हैं। एक तरफ जहां पुरुष मास्टरबेशन के बारे में एक-दूसरे साथी से खुलकर बातें किया करते हैं, तो वहीं दूसरी तरफ महिलाएं अपनी ही सहेलियों से योनि या योनि से जुड़े तथ्य या फीमेल मास्टरबेशन के बारे में बात करने से भी कतराती हैं।

लगभग हर तीसरी महिला मास्टरबेशन का भरपूर आनंद लेती है, लेकिन वो हमेशा इस बारे में बात करने से कतराती है। लेकिन आपको जानकर हैरानी होगी कि महिला की योनि सेक्स का आनंद लेने, हर महीने पीरियड्स के दौर से गुजरने और बच्चे पैदा करने से कहीं ज्यादा खास है।

लंदन की यूनिवर्सिटी ऑफ यूरिन साइंस कॉलेज में सलाहकार डॉ. सूजी एलेन ने बहुत सी महिलाओं के साथ काम किया है। उनका कहना है कि “लोगों के व्यवहार की ही तरह हर दूसरी महिला की योनि भी अलग होती है।

कोई महिला अपनी योनि की तुलना किसी अन्य या दूसरी महिला की योनि से नहीं कर सकती है। लोगों को ऐसा लगता है कि सभी महिलाओं की योनि आकार और प्रकार में एक जैसी ही होगी, लेकिन असलियत एकदम इसके उलट है।

किसी भी दो महिला की योनि एक आकार या प्रकार या साइज की नहीं हो सकती है। इसलिए अगर किसी महिला को चिंता है कि उसकी योनि अन्य महिलाओं की योनि की तुलना में कैसी दिखती है, तो उसे इसके बारे में फिक्र करनी छोड़ देनी चाहिए।

योनि से जुड़े तथ्य हमें बताते हैं कि योनि के दो हिस्से होते हैं – एक अंदरूनी हिस्सा और दूसरा बाहरी हिस्सा। योनि के अंदरूनी हिस्से योनि के अंदर होते हैं, जिसमें गर्भ और अंडाशय शामिल होते हैं, वहीं योनि के बाहरी हिस्से में योनि के बाहर दिखने वाले अंग होते हैं जिन्हें वल्वा के रूप में जाना जाता है। इसमें योनि के मुख, आंतरिक और बाहरी होंठ (लेबिया) और भगशेफ शामिल हैं। भगशेफ योनि के शीर्ष पर स्थित अंग होता है।

इसके अलावा योनि से जुड़े तथ्य आपको यह भी बताते हैं कि योनि के अंदर एक लंबी ट्यूब होती है, जो लगभग आठ से.मी तक बड़ी होती है और गर्भाशय ग्रीवा (गर्भ की गर्दन) से जुड़ी हुई होती है और नीचे योनि तक जाती है, यहां पर यह पैरों के बीच खुलती है। इसके अलावा योनि बहुत ही लोचदार होती है, इसलिए यह सेक्स करने के दौरान और बच्चे के जन्म के समय आसानी से फैल जाती है।

आपको योनि से जुड़े इन तथ्यों को जानकर हैरानी महसूस हो सकती है लेकिन, यही सच्चाई है और इसे नकारा नहीं जा सकता है।

ओव्यूलेशन कैलक्युलेटर

ओव्यूलेशन कैलक्युलेटर

अपने पीरियड सायकल को ट्रैक करना, अपने सबसे फर्टाइल डे के बारे में पता लगाना और कंसीव करने के चांस को बढ़ाना या बर्थ कंट्रोल के लिए अप्लाय करना।

ओव्यूलेशन कैलक्युलेटर

अपने पीरियड सायकल को ट्रैक करना, अपने सबसे फर्टाइल डे के बारे में पता लगाना और कंसीव करने के चांस को बढ़ाना या बर्थ कंट्रोल के लिए अप्लाय करना।

ओव्यूलेशन कैलक्युलेटर

सायकल की लेंथ

(दिन)

28

ऑब्जेक्टिव्स

(दिन)

7

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

23 Vagina Facts You’ll Want to Tell All Your Friends. https://www.healthline.com/health/womens-health/vagina-vulva-facts#1. Accessed on 06 February, 2020.

The 10 things you should know about your vagina. https://www.medicalnewstoday.com/articles/320939.php#1. Accessed on 06 February, 2020.

Is my vagina normal?. https://www.nhs.uk/live-well/sexual-health/vagina-shapes-and-sizes/. Accessed on 06 February, 2020.

Five things you didn’t know about vaginas & vulvas/https://www.jeanhailes.org.au/news/five-things-you-didnt-know-about-vaginas-and-vulvas-free-health-article

What are the parts of the female sexual anatomy?/https://www.plannedparenthood.org/learn/health-and-wellness/sexual-and-reproductive-anatomy/what-are-parts-female-sexual-anatomy

लेखक की तस्वीर badge
Ankita mishra द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 21/05/2021 को
डॉ. हेमाक्षी जत्तानी के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x