home

What are your concerns?

close
Inaccurate
Hard to understand
Other

लिंक कॉपी करें

तरह-तरह के कॉन्डोम फ्लेवर से लगेगा सेक्स लाइफ में तड़का

तरह-तरह के कॉन्डोम फ्लेवर से लगेगा सेक्स लाइफ में तड़का

सेक्स करते समय कॉन्डोम का इस्तेमाल न सिर्फ असुरक्षित प्रेग्नेंसी से बचाता है बल्कि यौन संचारित रोग (Sexually Transmitted Disease (STD)) से भी बचाता है। हेल्थ एक्सपर्ट्स की मानें तो कॉन्डोम का उपयोग यौन संबंध बनाने में हर वक्त करना चाहिए भले ही आप ओरल सेक्स ही क्यों न कर रहे हों। अगर बात करें कॉन्डोम की तो आज मार्केट में कई तरह के फ्लेवर्ड कॉन्डोम मौजूद हैं, जिससे आपकी सेक्स लाइफ और भी इंटरेस्टिंग बनेगी। आज हम आपको ऐसे ही कई कॉन्डम फ्लेवर (Flavoured Condom) के बारे में बताएंगे जो एकदम ही अलग हैं। इन फ्लेवर्ड कॉन्डोम को आप ऑनलाइन भी खरीद सकते हैं।

और पढ़ें : पार्टनर को सरप्राइज देना चाहते हैं? ट्राई करें ये तरीके

कॉन्डोम फ्लेवर्ड (Flavoured Condom) क्यों होते हैं?

फ्लेवर्ड कॉन्डोम वास्तव में ओरल सेक्स (Oral sex) के दौरान इस्तेमाल किए जाने के लिए बनाए गए हैं। कॉन्डोम पर फ्लेवर्ड कोटिंग, लेटेक्स की गंध को खत्म करती है। साथ ही ओरल सेक्स (Oral sex) और भी ज्यादा आनंददायक बनता है। ओरल सेक्स के दौरान कॉन्डोम का इस्तेमाल करना यौन संचारित संक्रमण (STI) से खुद को बचाने का एकमात्र तरीका है।

और पढ़ें : फर्स्ट टाइम सेक्स के बाद ब्लीडिंग होना सामान्य है या असामान्य, इसके पीछे का कारण जानें

कॉन्डोम फ्लेवर के प्रकार (Types of flavoured condom)

कॉन्डोम फ्लेवर (Flavoured Condom)

फ्लेवर्ड कॉन्डोम के निम्नलिखित प्रकार होते हैं। जैसे:

स्पाइसी कॉन्डोम फ्लेवर (Spicy condom flavor)

मार्केट में मौजूद कई तरह के फ्लेवर्स में से एक है स्पाइसी कॉन्डोम। आपको जानकर हैरानी होगी कि इसमें जिंजर, आचारी, बैंगन जैसे ढेरों स्पाइसी फ्लेवर मिलेंगे, जिससे आपकी सेक्स लाइफ में भी स्पाइस आएगा। बोरिंग हो चली सेक्स लाइफ (Sex life) में तड़का लगाने के लिए स्पाइसी कॉन्डोम फ्लेवर जरूर ट्राय करें।

और पढ़ें : जानिए जेनाइटल स्किन कंडिशन (Genital skin conditions) से जुड़ी बीमारियों एवं इंफेक्शन की पूरी जानकारी

फ्रूटी कॉन्डोम फ्लेवर (Fruity condom flavor)

फ्रूटी फ्लेवर्ड कॉन्डोम में अच्छी खुशबू होने के साथ ही ये अच्छे से लुब्रिकेटेड भी होते हैं। शारीरिक संबंधों के दौरान प्रोटेक्शन के लिए इस्तेमाल किए इन कॉन्डोम से सेक्स का अनुभव एक अलग ही सीमा पर पहुंचता है। इस प्रकार के कॉन्डोम एक्स्ट्रा डॉट्स (Extra dotted condom) और बिना डॉट्स के साथ आते हैं जो लव मेकिंग के तरीके को एक बेहतरीन रूप देते हैं। फ्लेवर्ड कॉन्डोम (Flavored condom) के रंग भी उन्हीं के फ्लेवर के अनुसार आते हैं। जैसे स्ट्रॉबेरी फ्लेवर्ड कॉन्डोम (Strawberry flavored condom) का कलर लाल जबकि बनाना फ्लेवर कॉन्डोम पीला होता है। फ्रूटी कॉन्डोम फ्लेवर में ब्लैक ग्रेप्स, एप्पल, स्ट्रॉबेरी, चेरी, ऑरेंज, पाइनएप्पल जैसे कई फ्लेवर्स आते हैं।

और पढ़ें : इन वजहों से कंडोम का इस्तेमाल नहीं करना चाहते पुरुष

फ्लावरी कॉन्डोम फ्लेवर (फूलों की महक वाला) (Flowery condom flavor)

फूलों की खुशबु किसको खुशी नहीं देती है। ऐसे में अगर कॉन्डोम फ्लेवर भी फूलों वाला हो तो यकीनन सोने पे सुहागा कहना बिलकुल भी गलत नहीं होगा। फ्लावरी कॉन्डोम फ्लेवर सेक्स के माहौल को खुशबूदार बनाता है। सेक्शुअल इंटरकोर्स (Sexual intercourse) के दौरान कॉन्डोम

कॉन्डोम

का उपयोग अनचाही प्रेग्नेंसी (Unwanted pregnancy) से बचाने के साथ ही आपके अंतरंग पलों को भी स्पेशल बनाता है। फ्लावरी कॉन्डोम के अंतर्गत जैस्मिन, रोज, लिली जैसे कई फूलों की फ्रेगनेंस मार्केट में उपलब्ध हैं।

और पढ़ें : कुछ इस तरह करें अपनी पार्टनर को सेक्स के लिए एक्साइटेड

स्वीट कॉन्डोम फ्लेवर (Sweet condom flavor)

कॉन्डोम फ्लेवर (Flavoured Condom)

आपके खास पलों को और भी खास और यादगार बनाने के लिए सेक्शुअल हेल्थ इंडस्ट्री मार्केट में अनेकों तरह के कॉन्डोम मार्केट में लेकर आई है उन्हीं में से एक है स्वीट कॉन्डोम। पार्टनर के साथ लव और पैशन की दुनिया में खो जाना चाहते हैं, तो ऐसे में स्वीट कॉन्डोम एक बेहतरीन विकल्प है। स्वीट कॉन्डोम की खुशबू आपके पार्टनर के मूड को अच्छा रखने के साथ ही बेहतर सेंसेशन भी देता है। चॉकलेट, वनीला, बटरस्कॉच, बबलगम, पान आदि स्वीट फ्लेवर्ड कॉन्डोम आपको ऑनलाइन भी मिल सकते हैं।

क्या ओरल सेक्स के समय भी फ्लेवर कॉन्डोम का इस्तेमाल करना चाहिए? (Use of Flavoured Condom)

अक्सर लोग यह सवाल पूछते हैं और बहुत लोगों यह लगता भी है कि ओरल सेक्स में कॉन्डोम का ही यूज होता है। आपको बता दें कि ओरल सेक्स के दौरान भी कॉन्डोम का इस्तेमाल करना चाहिए। ताकि सेक्शुअल ट्रांसमिटेड डिसीज (STD) का खतरा कम रहे। ओरल सेक्स करते समय ही इन कॉन्डोम फ्लेवर का इस्तेमाल किया जाना ही बेस्ट टाइम होता है।

और पढ़ें : Anal Sex: एनल सेक्स से जुड़े मिथक और उनके पीछे का सच

[mc4wp_form id=”183492″]

कॉन्डोम इस्तेमाल करने का तरीका (Tips to use flavoured condom)

कॉन्डोम को खरीदते और यूज करते समय ये कुछ बातें ध्यान रखें –

  • कॉन्डोम खरीदने से पहले पैक पर एक्सपायरी डेट जरूर ध्यान दें।
  • कॉन्डोम के उपयोग के बाद टिशू या टॉयलेट पेपर में रैप करके ही कचरे के डिब्बे में डालें।
  • चाहे वह फीमेल कॉन्डोम (Female condom) हो या पुरुष कॉन्डोम, इस्तेमाल किए गए कॉन्डोम का प्रयोग दोबारा न करें।
  • कॉन्डोम तभी पहने जब लिंग पूरी तरह से उतेज्जित हो।

कॉन्डोम के प्रकार (Types of condoms)

फ्लेवर्ड कॉन्डोम (Flavoured Condom) के अलावा भी कदम के कुछ अन्य प्रकार होते हैं जिन्हें आप जरुरत के हिसाब से खरीद सकते हैं। जैसे-

अल्ट्रा थिन कॉन्डोम (Ultra thin condom)

आम तौर पर पुरुषों का मानना रहता है कि कॉन्डोम के इस्तेमाल से सेक्स का आनंद कम हो जाता है। ऐसे में, अल्ट्रा थिन कॉन्डोम ठीक रहता है। ज्यादा चिकनाई और पतला होने की वजह से सेक्शुअल एक्टिविटी (Sexual activity) का एहसास सही से होता है।

एक्स्ट्रा लुब्रिकेटेड कॉन्डोम (Extra lubricated condom)

अगर वजाइना में ड्रायनेस की वजह से सेक्शुअल इंटरकोर्स (Sexual intercourse) के दौरान महिला साथी को दर्द का सामना करना पड़ता है तो ऐसे में सेक्स को पूरी तरह से एन्जॉय करने के लिए कॉन्डोम फ्लेवर (Flavoured Condom) का यह प्रकार सही रहता है। इस कॉन्डोम में लुब्रिकेट सामान्य मात्रा से ज्यादा होता है इसलिए, यह फ्रिक्शन और दर्द को रोकने में मदद करता है।

रिब्ड कॉन्डोम (Ribbed condom)

इस तरह के कॉन्डोम के इस्तेमाल से महिला की उत्तेजना ज्यादा बढ़ती है। सेक्स के दौरान ये रिब्ड कॉन्डोम महिला साथी को ऑर्गेज्म (Orgasm) तक ले जाने में भी सहायक होते हैं।

और पढ़ें : प्रेग्नेंसी सेक्स में ऑर्गेज्म के दौरान रोना क्यों आता है?

डॉटेड कॉन्डोम (Dotted condom)

डॉटेड कॉन्डोम की बाहरी लेयर पर डॉट्स होते हैं। जिससे वजाइनल सेक्स (Vaginal sex) का अनुभव और बेहतर होता है। ज्यादातर कॉन्डोम चिकनाई से युक्त होते हैं और उन पर डॉट्स होने से यह अधिकतम संतुष्टि की गारंटी देता है।

इन कॉन्डोम फ्लेवर का इस्तेमाल सेक्स लाइफ (Sex life) को और भी मजेदार बना सकता है। तो देर न करें,और जल्द ही ऊपर बताए गए कॉन्डोम फ्लेवर्स को ट्राय करें। सेक्स का भरपूर आनंद लेने के साथ ही खुद को यौन संचारित रोगों से भी दूर रखें। साथ ही बर्थ कंट्रोल (Birth control) भी करें। आपको यह आर्टिकल कैसा लगा? हमें कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं साथ ही अगर आपका इस विषय से संबंधित कोई भी सवाल या सुझाव है तो वो भी हमारे साथ शेयर करें।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र
लेखक की तस्वीर badge
Nidhi Sinha द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 21/07/2021 को
डॉ. हेमाक्षी जत्तानी के द्वारा मेडिकली रिव्यूड