बढ़ती उम्र के साथ आपमें क्रेपी स्किन की समस्या देखने को मिल सकती है, जानिए उपचार यहां..

    बढ़ती उम्र के साथ आपमें क्रेपी स्किन की समस्या देखने को मिल सकती है, जानिए उपचार यहां..

    क्रेपी त्वचा पतली होती है और क्रेप पेपर की तरह बारीक झुर्रीदार दिखती है। इसमें आप त्वचा में ढ़ीलापन भी महसूस कर सकते हैं। क्रेपी त्वचा कई मायनों में आम झुर्रियों के समान होती है, यह स्थिति स्किन के बड़े क्षेत्रों को प्रभावित करती है। इससे प्रभावित होने पर त्वचा अधिक नाजुक और पतली हो सकती है। क्रेपी त्वचा आंखों के नीचे और ऊपरी भीतरी बाहों पर सबसे आम है। इसके अलावा यह समस्या शरीर के किसी भी हिस्से में देखने को मिल सकती है। जानिए यहां कि क्रेपी स्किन क्या और और बचाव के लिए किन बातों का ध्यान रखें:

    और पढ़ें: Red Circle On the Skin: त्वचा पर लाल चकत्ते सिर्फ एक नहीं, बल्कि कई स्किन डिजीज की ओर इशारा कर सकते हैं!

    क्रेपी त्वचा किन कारणों से होती है?

    क्रेपी स्किन का सबसे आम कारण सूर्य की क्षति है, लेकिन यह निश्चित रूप से एकमात्र कारण नहीं है। क्रेपी त्वचा उम्र बढ़ने, नमी की कमी, अत्यधिक वजन घटाने या कोई स्किन कंडिशन के कारण से भी हो सकती है। सूरज की किरणों की अल्ट्रावायलेट रेज त्वचा में कोलेजन और इलास्टिन को ब्रेक कर देती है। जब त्वचा अपनी कसावट खो देती है, तो त्वचा ढीली, पतली और झुर्रीदार हो सकती है। बढ़ती उम्र इसका सबसे बड़ा कारक है। जैसे-जैसे आपकी उम्र बढ़ती है, आपकी त्वचा उस समय की तुलना में कम नैचुरल ऑयल का प्रोडक्शन करती है, जब आप पहले की उम्र की अपेक्षा। कई बार हाॅर्मोनल परिवर्तन भी शुष्क त्वचा और कम प्राकृतिक तेल उत्पादन का कारण हो सकती है। इसके अलावा स्किन ड्रायनेस के और भी बहुत से कारण हो सकते हैं। क्रेपी त्वचा के अन्य कारणों में शामिल हो सकते हैं:

    • वजन का तेजी से घटना या बढ़ना
    • शराब का सेवन अधिक करना
    • त्वचा का अपनी नमी को खो देना
    • कुछ दवाएं, जैसे कि प्रेडनिसोन
    • नींद की कमी के कारण
    • प्रदूषण
    • खराब डायट का होना
    • सही मात्रा में पानी न पीना
    • तनाव अधिक लेना

    और पढ़ें : Skin Lesions: स्किन लीजन क्या है? जानिए स्किन लीजन का कारण, इलाज और घरेलू उपाय

    क्रेपी त्वचा को कैसे रोकें

    क्रेपी स्किन को रोकने के लिए सबसे अच्छा उपाय अपनी त्वचा को सूरज की हानिकारक किरणों से बचाना है । जितना हो सके धूप से दूर रहें और हमेशा सनस्क्रीन और धूप से बचाव वाले फूल कपड़े पहनें। एक अच्छे मॉइस्चराइजर या बॉडी लोशन भी आपके स्किन केयर में बहुत काम आ सकता है। आप स्किन केयर और त्वच की नमी को बनाए रखने के लिए नैचुल ऑयल्स का भी इस्तेमाल कर सकते हैं, जैसे कि नारियल तेल, जैतून का तेल और कोकोआ बटर आदि। इसके अलावा, अपना खानपान भी सही रखें। संतुलित आहार लें, खासतौर पर, जो एंटीऑक्सिडेंट में उच्च हो – जैसे कि आप रंगीन फलों और सब्जियों को अपने डायट में शामिल करें। विशेष रूप से विटामिन सी त्वचा के स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद हो सकता है क्योंकि यह कोलेजन उत्पादन में भूमिका निभाता है। क्रेपी स्किन से बचाव के लिए इन बातों का रखें ध्यान:

    धूप से सुरक्षा बहुत जरूरी है

    क्रेपी त्वचा को विकसित होने से रोकने का सबसे प्रभावी तरीका है कि आप सूर्य की हानिकारक किरणों से बचें। घर से बाहर जाने पर एसपीएफ़ 30 या उससे अधिक आवश्यकतानुसार सनस्क्रीन का इस्तेमाल जरूर करें। जैसे-जैसे लोगों की उम्र बढ़ती है, यह आवश्यक है कि वे अपने स्किनकेयर रूटीन को उसी के अनुसार करें।

    और पढ़ें : Blind Pimple: ब्लाइंड पिंपल से छुटकारा पाने के लिए 7 घरेलू उपाय एवं 9 टिप्स कर सकते हैं फॉलो!

    हाइड्रेशन

    लोग त्वचा को स्वस्थ रखने के लिए एक अच्छे माॅइश्चाइजर का इस्तेमाल करें। इसके अलावा, सही मात्रा में पानी पिएं, इन उपायों से आप त्वचा को हाइड्रेट रख सकते हैं। आप अपने स्किनकेयर रूटीन को भी अच्छा रखें है।

    इलास्टिसिटी

    रेटिनॉल युक्त सामयिक क्रीम का उपयोग त्वचा की लोच में सुधार करने और त्वचा में कोलेजन उत्पादन को बढ़ाने में मदद कर सकती है। रेटिनोइड्स त्वचा की कोशिकाओं को तेजी से पुनर्जीवित करने में मदद करते हैं, जिससे क्रेपी स्किन का प्रॉसेज धीमा हो जाता है। इसका थोड़ी मात्रा का उपयोग करना और तुरंत बाद में मॉइस्चराइज करना सबसे अच्छा तरीका है, क्योंकि रेटिनॉल त्वचा को शुष्क कर सकता है। सामयिक क्रीम में एक अन्य घटक पेप्टाइड्स है। ये त्वचा को क्षतिग्रस्त होने और नए कोलेजन बनाने के लिए एक संकेत के रूप में कार्य करते हैं, जो त्वचा को मजबूत बनाने में मदद करता है।

    और पढ़ें : सैलीसिलिक एसिड और ग्लाइकोलिक एसिड: ब्यूटी प्रोडक्टस में प्रयोग होने वाले यह एसिड किस तरह से हैं फायदेमंद, जानिए

    जरूरी पोषक लें

    क्रेपी त्वचा से बचाव के लिए, संतुलित आहार में निम्नलिखित को पोषण को शामिल करना आवश्यक है:

    • एंटीऑक्सिडेंट की मात्रा
    • विटामिन ए, सी, डी, और ई
    • ओमेगा -3 फैटी एसिड

    और पढ़ें : Non Cancerous Skin Tags: जानिए नॉन कैंसरस स्किन टैग से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी!

    घरेलू उपचार

    लोगों ने निम्नलिखित घरेलू उपचारों को भी क्रेपी त्वचा के उपचार और रोकथाम में उपयोगी पाया गया है:

    • चेहरे, हाथ और पैरों की मालिश करना
    • शारीरिक व्यायाम करना
    • तनाव कम करना
    • रात को अच्छी नींद लेना

    सप्ताह में 1-2 बार चीनी और जैतून के तेल से बने घर के बने स्क्रब से एक्सफोलिएट कर सकते हैं, क्योंकि बहुत अधिक एक्सफोलिएट करने से त्वचा को नुकसान हो सकता है। जो व्यक्ति इनमें से कोई भी घरेलू उपचार आजमाना चाहता है, उसे पहले अपने त्वचा विशेषज्ञ से बात करनी चाहिए।

    और पढ़ें : Herpes Skin Rash: हर्पीस स्किन रैश की समस्या क्या है? जानिए इसके लक्षण, कारण और इलाज

    त्वचा संबंधी उपचार

    क्रेपी त्वचा के लिए कई अलग-अलग उपचार हैं, यह इस बात पर निर्भर करता है कि यह कितना गंभीर है, इसके कारण क्या हैं और यह शरीर के किस हिस्से पर है, इस पर उपचार निर्भर करता है। क्रेपी त्वचा वाले लोग अपने त्वचा विशेषज्ञ से बात कर सकते हैं कि उनके लिए उपचार का सर्वोत्तम तरीका क्या है।

    ओटीसी उपचार

    कई ओटीसी उत्पादों में रेटिनॉल होता है, जो विटामिन ए परिवार का सदस्य है। अल्फा हाइड्रॉक्सी एसिड युक्त उत्पाद त्वचा में कसावट लाने और झुर्रियों को कम करने में मददगार है। अन्य उत्पादों में ग्लाइकोलिक एसिड, लैक्टिक एसिड, मैलिक एसिड, साइट्रिक एसिड और टार्टरिक एसिड शामिल हैं। इन उत्पादों को निर्देशित के रूप में उपयोग करना महत्वपूर्ण है।

    और पढ़ें : कोलेजन सप्लिमेंट से सिर्फ त्वचा ही नहीं, बल्कि दिल भी रहता है स्वस्थ्य

    रेटिनोइड प्रिस्क्रिप्शन

    रेटिनोइड प्रिस्क्रिप्शन क्रीम है जिसे एक व्यक्ति सीधे प्रभावित क्षेत्र पर लगा सकता है। यह विटामिन ए परिवार का भी हिस्सा है और त्वचा को यूवी जोखिम से बचाने के लिए अक्सर चेहरे पर इसका इस्तेमाल किया जाता है।

    फिलर्स

    कैल्शियम हाइड्रॉक्सीलैपटाइट के इंजेक्शन (Injection of calcium hydroxylapatite) जैसे फिलर्स, जो झुर्रियों को कम करने में मदद कर सकते हैं, विशेष रूप से ऊपरी बांह पर क्रेपी त्वचा का प्रभावी ढंग से इलाज कर सकते हैं। एक डॉक्टर फिलर को त्वचा में इंजेक्ट करता है, जहां इसका वॉल्यूमाइजिंग प्रभाव होता है।

    और पढ़ें : सिर्फ 3 बातों को समझकर स्किन केयर के लिए बेस्ट प्रॉडक्ट का चुनाव करना हो सकता है आसान!

    जैसे-जैसे लोगों की उम्र बढ़ती है, उनकी त्वचा अधिक ढीली और ढीली हो सकती है। लेकिन क्रेपी त्वचा झुर्रीदार त्वचा से अलग होती है। इससे बचाव के लिए ऊपर बताए गये कारणों से बचें और अपनी डायट के साथ स्किन केयर रूटिन अच्छा रखें। यह एजिंग के अलावा अनुवांशिक भी हो सकता है या लोगों को किसी भी उम्र के रूप में हो सकता है। क्रेपी स्किन से बचाव के लिए अपने डॉक्टर से बात करें।

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    लेखक की तस्वीर badge
    Niharika Jaiswal द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 22/06/2022 को
    डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड