home

What are your concerns?

close
Inaccurate
Hard to understand
Other

लिंक कॉपी करें

हल्दी और एलोवेरा से दमक जाएगी आपकी त्वचा

हल्दी और एलोवेरा से दमक जाएगी आपकी त्वचा

हल्दी और एलोवेरा क्यों है त्वचा के लिए लाभकारी?

हल्दी और चन्दन के गुण वाली बात तो आपने सुनी ही होगी लेकिन क्या आपको पता है कि हल्दी और एलोवेरा आपकी स्किन के लिए कितनी गुणकारी है। लड़कियों में होने वाली आम पिपल्स की समस्या हो या फिर चेहरे में थकान दिख रही हो, हल्दी के गुण इन सभी को दूर करने के लिए पर्याप्त हैं। हल्दी के इतने सारे गुणों के कारण ही शादी के पहले हल्दी की रस्म रखी जाती है। आज इस आर्टिकल के माध्यम से जानिए कि किस तरह से आप हल्दी के साथ जैल का यूज करके सुंदर त्वचा पा सकती हैं।

हल्दी और एलोवेरा क्या है?

हल्दी:- वैसे तो हल्दी किचेन की शान होती है लेकिन, अगर एक चुटी हल्दी त्वचा पर नियमित रूप से लगाई जाए तो स्किन से जुड़ी कील मुहांसे की परेशानी दूर हो सकती है। दरअसल हल्दी में एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटीऑक्सिडेंट तत्व मौजूद होते हैं जो त्वचा को निखार लाने में मददगार होते हैं। इससे त्वचा पर नेचुरल ग्लो भी आता है।

एलोवेरा:- एलोवेरा में विटामिन-सी और विटामिन-ई मौजूद होते है। सालों से त्वचा के लिए एलोवेरा का इस्तेमाल त्वचा को निखारने के लिए की जाती हैं। यह त्वचा को अच्छी तरह से मॉइस्चराइज करता है और त्वचा को ड्राई होने से भी बचाता है। एलोवेरा में मौजूद एंटी-बैक्टीरियल तत्व त्वचा को ठंडक पहुंचाते हैं और कील मुंहासों को भी धीरे-धीरे खत्म करने में मददगार होते हैं।

यह भी पढ़ें: ब्यूटी टिप्स : घर पर इस तरह बनाएं ब्लैकहेड मास्क

क्यों गुणकारी है हल्दी और एलोवेरा?

हल्दी और एलोवेरा दोनों ही औषधियों की श्रेणी में आता है। आयुर्वेदिक औषधि हल्दी में एंटीइंफ्लेमेटरी और एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं।हल्दी को फाइबर, पोटैशियम, विटामिन बी6, विटामिन-सी का मुख्य स्रोत माना गया है। वहीं एलोवेरा में विटामिन-बी 12, फोलिक एसिड, कोलीन और एंटीऑक्सिडेंट की प्रचुर मात्रा स्किन के लिए लाभकारी मानी जाती है।

यह भी पढ़ें: तेजी से नाखून कैसे बढ़ाएं? जानें नाखून बढ़ाने के टिप्स

जैल के रूप में क्या लें?

आप हल्दी के साथ एलोवेरा जैल का यूज कर सकते हैं। अब आप सोच रहे होंगे कि ऐलोवेरा जैल ही क्यों ? वो इसलिए क्योंकि हल्दी की तरह ही एलोवेरा जैल भी आपके लिए गुणकारी है। एलोवेरा में एंटी-एक्ने गुण मौजूद होते हैं। इसलिए यह जैल कील-मुंहासों के लिए गुणकारी हो सकता है। साथ ही एलोवेरा जेल सनबर्न की समस्या से भी राहत दिला सकता है। एलोवेरा को कई सनबर्न कॉस्मेटिक में भी यूज किया जाता है। इसमे स्किन सूदिंग और हाइड्रेटिंग गुण होते हैं।एलोवेरा में हीलिंग गुण होते हैं। यह त्वचा को भीतर से नमी प्रदान करता है। ये यूवी किरणों से स्किन को डैमेज होने से बचाता है।

इस तरह बनाएं हल्दी-जैल का पैक

1.एलोवेरा जैल- 3 बड़े चम्मच

2.ऑर्गेनिक हल्दी पाउडर– 1 चम्मच

3.टी ट्री ऑयल

फेस पैक तैयार करने का तरीका-

  • एक बाउल में एलोवेरा और ऑर्गेनिक हल्दी पाउडर एक साथ डाल लें।
  • अब इसे अच्छी तरह से मिलाएं और टी ट्री ऑयल की कुछ बूंदें भी इसमें मिलाएं।
  • आप चाहे तो अपनी त्‍वचा के टाइप के अनुसार आवश्‍यक तेल का इस्‍तेमाल कर सकती है।
  • इसे अच्‍छी तरह मिक्‍स होने तक मिक्स करें।
  • इसे किसी जार में रख लें और इसे अपने चेहरे, बॉडी और आई क्रीम के रूप में इस्‍तेमाल करें।

इस फेस पैक से त्वचा खिल उठेगी

यह भी पढ़ें: स्किन और मेकअप से जुड़े अहम सवाल के जवाब जानने के लिए खेलें क्विज

हल्दी और एलोवेरा के फायदे क्या हैं?

हल्दी और एलोवेरा के फायदे 1: त्वचा के लिए हल्दी और एलोवेरा का मिश्रण अत्यंत गुणकारी है। एक ओर जहां एलोवेरा चेहरे को क्लीन कर स्किन में एक नई चमक लता है तो वहीं हल्दी भी चेहरे को गोरा-गोरा बनाने में अहम भूमिका होती है। इन दोनों को मिलाकर तैयार किया गया मिश्रण आपके चेहरे को आकर्षक बना देगा।

हल्दी और एलोवेरा के फायदे 2: हल्दी और एलोवेरा स्किन को बेदाग बना देता है। एलोवेरा और हल्दी चेहरे पर कसाव लाने में मददगार होता है। इससे चेहरे की झुर्रियां भी धीरे-धीरे दूर होती हैं।

हल्दी और एलोवेरा के फायदे 3: स्किन पर एलोवेरा और हल्दी के मिश्रण को कुछ वक्त कर लगा लें और फिर कुछ मिनटों के बाद धोने के बाद क्रीम इस्तेमाल करने से स्किन अच्छी होती है।

ये तीन फायदे आपकी स्किन को नई ताजगी देता है।

यह भी पढ़ें: चेहरे और बालों से होली का रंग हटाने के आसान टिप्स

हल्दी और एलोवेरा को चेहरे पर लगाने के साथ-साथ इसका अलग-अलग तरह से सेवन भी किया जाता है। हल्दी और दूध सेहत के लिए लाभकारी होता है इसलिए हमने हैलो स्वास्थ्य की हेल्थ एक्सपर्ट डॉ. प्रणाली से हमने हल्दी के बारे में समझना चाहा तो उनका कहना है कि “हल्दी मिले दूध को टरमरिक लैटे या गोल्डन मिल्क भी कहते है। ये ड्रिंक भारत में बहुत प्रसिद्ध है और प्राचीन काल से औषधि के रूप में हल्दी वाला दूध का उपयोग होता रहा है। अब तो इसका प्रचलन पश्चिमी देशों में भी हो गया है। हल्दी को गाय के दूध में मिला कर पीने से स्वास्थ्य संबंधी कई तरह के फायदे होतेे हैं। हल्दी दूध का स्वाद बढ़ाने के लिए लोग इसमें दालचीनी और अदरक भी मिलाते हैं। हल्दी का दूध से इम्यूनिटी बढ़ती है।” जिस तरह हल्दी दूध सेहत के लिए फायदेमंद होता है ठीक उसी तरह एलोवेरा का इस्तेमाल चेहरे की खूबसूरती बढ़ाने के लिए तो किया जाता है वहीं एलोवेरा का सेवन सेहत के लिए लाभकारी होता है। रिसर्च के अनुसार एक कप एलोवेरा जूस में 9.1 ग्राम विटामिन-सी मौजूद होता है। इसके साथ ही यह एंटीऑक्सिडेंट और इंफ्लामेशन से लड़ने में मदद करता है। इसमें मौजूद विटामिन-सी के एक नहीं बल्कि कई लाभ हैं, जो दिल से जुड़ी परेशानी को कम करने से लेकर शरीर के इम्यून सिस्टम को स्ट्रॉन्ग करने का काम करता है। इसमें में मौजूद पर्याप्त मात्रा में विटामिन-सी लेने से शरीर में प्लांट बेस्ड फूड से आयरन को अवशोषित करने की क्षमता भी बढ़ती है।

साल 2014 में किये गए एक रिसर्च के अनुसार, एलोवेरा जूस से पेट के अल्सर को कम करने और डायजेशन को बेहतर रखने में मददगार है। एलोवेरा जूस में कई एंटी-इंफ्लेमेटरी कंपाउंड, जैसे कि विटामिन सी पाया जाता है जो इस तरह के डाइजेस्टिव इफेक्ट में योगदान कर सकता है।

हल्दी और एलोवेरा के चेहरे पर इस्तेमाल करने या इनके सेवन से अगर कोई परेशानी महसूस होती है या कोई एलर्जी होती है तो इसका सेवन या इस्तेमाल न करें।

अगर आप हल्दी और एलोवेरा से जुड़े किसी तरह के कोई सवाल का जवाब जानना चाहते हैं तो विशेषज्ञों से समझना बेहतर होगा। हैलो हेल्थ ग्रुप किसी भी तरह की मेडिकल एडवाइस, इलाज और जांच की सलाह नहीं देता है।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

The amazing benefits of the miracle plant, aloe vera/https://www.artofliving.org/in-en/ayurveda/ayurvedic-tips/aloe-vera-benefits/Accessed on 16/05/2020

Aloe vera: Potential candidate in health management via modulation of biological activities/https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4557234/Accessed on 16/05/2020

FORMULATION AND EVALUATION OF HERBAL CREAM/https://www.pharmatutor.org/articles/formulation-evaluation-herbal-cream?page=3%2C0/Accessed on 16/05/2020

लेखक की तस्वीर badge
Bhawana Awasthi द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 31/12/2020 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड