home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

मेडी-फेशियल: क्या आपने सुना है इस फेशियल के बारे में, चेहरे पर ला सकता है नई चमक

मेडी-फेशियल: क्या आपने सुना है इस फेशियल के बारे में, चेहरे पर ला सकता है नई चमक

“मैं हर महीने फेशियल करवाती हूं जिससे मेरी स्किन अच्छी रहती है। हालांकि पहले जहां पार्लर में बहुत अलग-अलग तरह की फेशियल के विकल्प नहीं मिल पाते थे वहीं आज फ्रूट फेशियल, गोल्ड फेशियल, डायमंड फेशियल और भी कई तरह के फेशियल के विकल्प मौजूद हैं। मैं वक्त निकालकर समय-समय पर फेशियल करवाती रहती हूं।” ये कहना है मुंबई की रहने वाली 37 वर्षीय तान्या बनर्जी का, लेकिन त्वचा को हेल्दी और जवां बनाए रखने का यह फॉर्मूला थोड़ा पुराना हो चुका है। वैसे फ्रूट फेशियल, गोल्ड फेशियल और डायमंड फेशियल की खासियत से तो आप परिचित हैं ही तो आज थोड़ा इस बदलते वक्त में दस्तक दे चुके मेडी-फेशियल (Medi-facials) से संबंधित जानकारी हासिल करते हैं।

क्या है मेडी-फेशियल?

मेडी-फेशियल में कुछ केमिकल पिल्स और लेजर मशीन की मदद ली जाती है। मेडी-फेशियल की मदद से त्वचा हाइड्रेट-सॉफ्ट होती है। अगर सामान्य भाषा में इसे समझें तो मेडी-फेशियल करवाने से त्वचा में नमी और कोमलता बनी रहती है। फेशियल के दौरान इस्तेमाल किए जाने वाले सीरम से चेहरे में चमक आती है। वहीं एंटी-एजिंग मेडी-फेशियलएंटी-एजिंग मेडी-फेशियल त्वचा को झुर्रियों से बचाने में मदद करता है। मेडी-फेशियल के एक नहीं बल्कि कई फायदे होते हैं।

मेडी-फेशियल का चयन क्यों करना चाहिए?

इस फेशियल का चयन निम्नलिखित कारणों से करना चाहिए। जैसे-

रीलैक्सेशन: अगर सही प्रेशर के साथ फेशियल किया गया तो यह काफी आरामदायक होता है।

स्ट्रेस बस्टर: फेशियल का मतलब ही आराम के साथ त्वचा को निखारना है, लेकिन अगर फेशियल के कई विकल्पों से हटकर मेडी-फेशियल का चयन किया गया तो फेशियल एक्सपर्ट्स के अनुसार यह आपके तनाव को कम करने में मददगार होता है। त्वचा में नई रौनक आ जाती है।

अच्छे बैक्टेरिया बने रहते हैं: मेडी-फेशियल से हेल्दी सेल्स को ग्रो करने में मदद मिलती है, जिससे गुड बैक्टेरिया भी बने रहते हैं।

एंटी-एजिंग : मेडी-फेशियल में इस्तेमाल किए जाने वाला सीरम एंटी-एजिंग की तरह काम करता है और त्वचा को जवां लुक देता है।

यह भी पढ़ें : हेयर कलर आईडिया : ट्रेंड में हैं ये 7 कलर्स, ऐसे पाएं एकदम नया लुक

मेडी-फेशियल कितने तरह का होता है?

अन्य अलग-अलग फेशियल की तरह मेडी-फेशियल के भी अलग-अलग टाइप होते हैं। इनमें शामिल हैं-

  1. एंटी-एक्ने फेशियल- त्वचा पर मुंहासे तब होते हैं जब नॉर्मल से ज्यादा स्किन ऑयली हो जाती है या स्किन पर इंफेक्शन होने लगता हैं। ऐसे में त्वचा पर सूजन और लाल निशान या पैच हो जाते हैं। ऐसी परेशानी ज्यादातर किशोरावस्था में होती है, लेकिन यह ध्यान रखें कि त्वचा संबंधी यह परेशानी किसी भी उम्र के लोगों को हो सकती हैं। ऐसी स्थिति में मेडी-फेशियल का एंटी-एक्ने फेशियल बेहतर विकल्प माना जाता है।
  2. एंटी-एजिंग फेशियल- बढ़ती उम्र के बावजूद जवां दिखने की चाह तो हम सभी की होती है और इसलिए फेशियल के दौरान या अन्य स्किन ट्रीटमेंट के लिए के दौरान एंटी-एजिंग प्रोडक्ट्स का सहारा लिया जाता है। ब्यूटी एक्सपर्ट की सलाह अनुसार आप मेडी-फेशियल का एंटी-एजिंग फेशियल करवा सकती हैं। इससे चेहरे की नैचुरल ब्यूटी बनी रहेगी।
  3. स्किन व्हाइटनिंग फेशियल- चेहरे के दाग-धब्बों को दूर कर गोरा बनाए रखने के लिए स्किन व्हाइटनिंग फेशियल बेहद असरदार माना जाता है।
  4. कोलेजन फेशियल- कोलेजन फेशियल बेहद ही प्रभावकारी ब्यूटी ट्रीटमेंट में से एक है। ब्यूटी एक्सपर्ट के अनुसार मेडी-फेशियल के कोलेजन फेशियल से त्वचा पर निखार आता है
  5. हाइड्रेटेड फेशियल- जिस तरह से शरीर को हाइड्रेट रखना जरूरी होता है, ठीक उसी प्रकार चेहरे को हाइड्रेट रखना आवश्यक है। चेहरे की नमी कम होने से स्किन से जुड़ी परेशानी शुरू हो सकती है। इसलिए ज्यादा से ज्यादा पानी पीने की आदत डालें और स्किन की नमी को बरकरार रखने के लिए मेडी-फेशियल के हाइड्रेटेड फेशियल का चयन करें।
  6. पार्टी फेशियल- आम दिनों में खास दिखने के साथ-साथ पार्टी फंक्शन में भी खास दिखना जरूरी होता है। ऐसे में पार्टी फेशियल का चयन करें और चेहरे पर नया ग्लो लाएं।
  7. इंस्टेंट ग्लो फेशियल- अगर आप फेशियल से अपनी त्वचा को चमकदार बनाना चाहती हैं, तो मेडी-फेशियल का इंस्टेंट ग्लो फेशियल आपके लिए सबसे बेहतर और कई विकल्पों में से एक है। इंस्टेंट ग्लो फेशियल त्वचा को निखारने के साथ-साथ त्वचा पर ग्लो भी लाता है।
  8. टैन फेशियल- वैसे तो बाजार में कई फेशियल मौजूद हैं, जो टैन रिमूविंग का वादा करते हैं लेकिन, उस वादे को निभा नहीं पाते हैं। हालांकि मेडी-फेशियल से जुड़े एक्सपर्ट्स के अनुसार बढ़ते प्रदूषण की वजह से और सूर्य की रोशनी से होने वाले टैन को कम करने में मिडी-फेशियल का टैन फेशियल काफी लाभकारी होता है। तो आप इस फेशियल को अपनाकर टैनिंग को दूर कर सकते हैं।
  9. ऑक्सी या जेट फेशियल- यह एक तरह की तकनीक है जिसकी मदद से चेहरे का फेशियल किया जाता है। दरअसल जेट की मदद से चेहरे पर छोटे-छोटे ड्रॉप्लेट्स दिए जाते हैं, जिससे स्किन को मॉइश्चर, विटामिन और न्यूट्रिशन दिए जाते हैं। इस तकनीक में किसी भी प्रकार की नीडिल (सुई) का प्रयोग नहीं किया जाता है। इसलिए ऑक्सी या जेट फेशियल करवाने के दौरान किसी प्रकार का दर्द नहीं होता है।

यह भी पढ़ें: Fish Oil : फिश ऑयल क्या है?

मेडी-फेशियल ट्रीटमेंट के फायदे क्या हैं?

इस ट्रीटमेंट के निम्नलिखित फायदे हो सकते हैं। जैसे-

  • चेहरे पर कोई लाल या अन्य तरह के निशान नहीं पड़ते हैं।
  • कम वक्त में स्किन पर जल्दी निखार आता है।
  • इस ट्रीटमेंट के दौरान दर्द महसूस नहीं होता है।
  • नीडल फ्री डीप स्किन ट्रीटमेंट है मेडी-फेशियल।
  • स्ट्रेच मार्क के साथ-साथ अन्य निशानों को भी दूर करने में सहायक है।
  • चेहरे पर नया ग्लो आता है।
  • झुर्रियां और हाइपरपिग्मेंटेशन को कम करने में सहायक है।

यह भी पढ़ें: नारियल तेल में छुपा है खूबसूरती के खजाने

मेडी-फेशियल रेगुलर फेशियल से अलग कैसे है?

मेडी-फेशियल बदलते वक्त में एक नई तरह का स्किन ट्रीटमेंट है या आप इसे टेक्नोलॉजी भी कह सकते हैं। इससे स्किन कम वक्त में ज्यादा हेल्दी होती है। त्वचा के आवश्यकता अनुसार इस ट्रीटमेंट का इस्तेमाल किया जाता है, जिससे चेहरे की खूबसूरती बढ़ती या ढ़लती उम्र में बनी रहती है। वहीं रेगुलर फेशियल की बात करें तो रेगुलर फेशियल के दौरान स्टीम, ब्लीच और कुछ अन्य कॉस्मेटिक प्रोडक्ट का इस्तेमाल किया जाता है। रेगुलर फेशियल की तुलना में मेडी-फेशियल काफी असरदार माना जाता है।

अगर आपकी त्वचा संबंधी परेशानी दूर नहीं हो रही है, तो मेडी-फेशियल को अपनाना चाहिए। यही नहीं अगर आप किसी खास दिन को ध्यान में रखकर त्वचा की देखभाल कर रहीं हैं, तब तो मेडी-फेशियल का विकल्प जरूर चुनना चाहिए।

हम उम्मीद करते हैं कि इस नए प्रकार के फेशियल पर आधारित यह आर्टिकल आपको पसंद आया होगा। अगर आप मेडी-फेशियल या किसी अन्य फेशियल से जुड़े किसी तरह के कोई सवाल का जवाब जानना चाहते हैं तो इससे जुड़े एक्सपर्ट से समझना बेहतर होगा।

हैलो हेल्थ ग्रुप किसी भी तरह की मेडिकल एडवाइस, इलाज और जांच की सलाह नहीं देता है।

और पढ़ें:

Coconut Water: नारियल पानी क्या है?

एसी भी हो सकता है आपके बालों के टूटने-झड़ने का कारण

स्किन एलर्जी से जुड़े सवालों का जवाब मिलेगा क्विज से, खेलें और जानें

रखें इन 5 बातों का ध्यान तो कम हो जाएंगी स्किन प्रॉब्लम्स

 

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

What Is Mesotherapy?/https://www.healthline.com/health/mesotherapy /Accessed on 03/03/2020

Infraorbital Dark Circles: A Review of the Pathogenesis, Evaluation and Treatment/https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4924417/Accessed on 03/03/2020

Dermal fillers in aesthetics: an overview of adverse events and treatment approaches/
https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC386597/Accessed on 03/03/2020

Medi-facial – The new age way to treat your skin/https://timesofindia.indiatimes.com/blogs/the-new-you/medi-facial-the-new-age-way-to-treat-your-skin/Accessed on 03/03/2020

लेखक की तस्वीर badge
Nidhi Sinha द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 23/07/2020 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x