home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

स्टीम बाथ के फायदे : त्वचा से लेकर दिल के लिए भी है ये फायदेमंद

स्टीम बाथ के फायदे : त्वचा से लेकर दिल के लिए भी है ये फायदेमंद

पार्लर में जा कर कभी न कभी तो फेशियल कराया ही होगा। फेशियल के दौरान एक प्रक्रिया की जाती है जिसे आम भाषा में स्टीमिंग कहते हैं। इसमें एक मशीन के द्वारा पानी के भाप को चेहरे पर दिया जाता है। जिससे चेहरे के रोम छिद्र खुल जाते हैं और त्वचा पर निखार आ जाता है। लेकिन क्या कभी स्टीम बाथ के बारे में सुना है? जी हां! स्टीम बाथ के फायदे चेहरे के साथ-साथ त्वचा के लिए भी हैं, ऐसी भाप पूरे शरीर को दी जाती है। एस आर्टिकल में हम चेहरे के निखार से लेकर वजन घटाने तक स्टीम बाथ के फायदे के बारे में जानेंगे। साथ ही इसकी प्रक्रिया क्या है इस बारे में आपको जानकारी मिलेगी।

स्टीम बाथ क्या है?

स्टीम बाथ एक प्रकार का स्नान है। जिसमें एक कमरे में पानी को उबाल कर भाप पैदा की जाती है। एक कंप्रेस की मदद से फिर इसे एक कमरे में छोड़ा जाता है और व्यक्ति को उस कमरे में जा कर बैठना होता है। भाप के कारण व्यक्ति के पूरे शरीर पर पानी के भाप की बूंदें दिखाई देने लगती हैं, इसे ही स्टीम बाथ कहते हैं। स्टीम बाथ को लेने के लिए एक कमरा होता है, जिसे स्टीम रूम भी कहते हैं। अगर आप चाहें तो बाथरूम में भी स्टीम बाथ ले सकते हैं।

और पढ़ें : क्यों लिक्विड सोप से बेहतर है फोम सोप? जानें एक्सपर्ट की राय

स्टीम रूम या सौना रूम में से क्या बेहतर है?

benefits of steam bath

स्टीम रूम और सौना दोनों एक जैसे ही हैं। स्टीम रूम और सौना रूम में एक छोटे, गर्म कमरे में बैठते हैं। स्टीम रूम और सौना के स्वास्थ्य लाभ एक जैसे ही हैं। स्टीम रूम और सौना में सिर्फ इतना अंतर है कि स्टीम रूम में पानी को उबाल कर गर्म किया जाता है और सौना में ड्राय हीट दी जाती है। सौना में गर्म पत्थर या बंद स्टोव से कमरे को गर्म किया जाता है।

स्टीम बाथ के फायदे क्या हैं?

स्टीम बाथ के फायदे बहुत सारे हैं और आप इसे स्टीम रूम या सौना दोनों में से किसी में भी ले सकते हैं।

स्टीम बाथ के फायदे : त्वचा के लिए

स्टीम रूम और सौना दोनों के कमरे गर्म होते हैं। कमरे की गर्माहट के कारण आपको पसीना आने लगता है। पसीना ज्यादा होने से आपके रोम छिद्र या त्वचा पर मौजूद पोर खुल जाते हैं। पोर खुलने से बाहरी त्वचा साफ हो जाती है। साथ ही पसीना आपके त्वचा की गंदगी और डेड स्किन को बाहर निकालता है, जिस कारण से एक्ने या पिंपल्स ठीक हो जाते हैं। लेकिन स्टीम रूम में स्टीम बाथ लेने से त्वचा के अंदर से टॉक्सिन निकल जाते हैं, जबकि सौना में ऐसा नहीं हो पाता है।

और पढ़ें : सूखी खांसी को टिकने नहीं देंगे ये घरेलू उपाय

स्टीम बाथ के फायदे : दिल रहता है तंदरुस्त

शरीर के बारे में रोचक तथ्य

स्टीम बाथ लेने से कार्डियोवैस्कुलर सिस्टम दुरुस्त रहता है। एक अध्ययन के मुताबिक नमी के कारण पैदा होने वाली गर्मी जो हम स्टीम रूम में लेते हैं। उससे हमारी खून की नसों में ब्लड फ्लो बढ़ता है। स्टीम बाथ लेने के दौरान हमारे ब्लड में मौजूद ऑक्सीजन हमारी कोशिकाओं तक अच्छी तरह से पहुंचता है। ब्लड फ्लो अच्छा होने के कारण हमारे शरीर या त्वचा में हुई टूट-फूट की मरम्मत तेजी से होती है। स्टीम बाथ ब्लड प्रेशर को नियंत्रित रखने के साथ ही दिल को भी हेलदी रखता है।

और पढ़ें :

स्टीम बाथ के फायदे : जोड़ों की जकड़न को दूर करता है

स्टीम बाथ लेने से जोड़ों में होने वाली जकड़न ढीली होती है। अक्सर लोग स्टीम बाथ प्री वर्कआउट या वार्म अप के रूप में लेते हैं। जिससे जोड़ों में लचीलापन आता है और वर्कआउट करने में समस्या भी नहीं होती है।

स्टीम बाथ के फायदे : वर्कआउट के बाद दे राहत

अक्सर वर्कआउट करने के बाद कई जगहों पर हल्का दर्द सा महसूस होता है। इस दर्द को डिलेड ऑनसेट मसल्स सोरनेस कहते हैं। एक स्टडी के मुताबिक अगर वर्कआउट के बाद स्टीम बाथ लिया जाता है तो मांसपेशियों में होने वाले दर्द से राहत मिलती है।

और पढ़ें : रिसर्च : टार्ट चेरी जूस (tart cherry juice) से एक्सरसाइज परफॉर्मेंस में होता है इंप्रूवमेंट

स्टीम बाथ के फायदे : तनाव को कम करने में करे मदद

स्टीम बाथ

स्टीम बाथ लेने से शरीर में एंड्रोफिंस नामक हॉर्मोन स्रावित होता है। जिसे फील गुड हॉर्मोन भी कहते हैं। एंड्रोफिंस हॉर्मोन शरीर को तनाव मुक्त महसूस कराने में मदद करता है। इसके साथ ही कॉर्टिसोल हॉर्मोन भी शरीर मे स्रावित होता है। जिससे स्ट्रेस लेवल कम होता है और आप रिलैक्स महसूस करते हैं।

और पढ़ें : पिंपल ने अब पीठ का भी कर दिया है बुरा हाल? तो करना होगा ये उपाय

स्टीम बाथ के फायदे : साइनस को खोलता है

स्टीम बाथ लेने से शरीर में मौजूद म्यूकस मेम्ब्रेन खुल जाती हैं। जिसका सीधा संबंध साइनस से होता है । साइनस खुलने से हम आराम से गहरी सांस ले सकते हैं। इसके अलावा अगर आपको बंद नाक की समस्या होती है तो आपको बंद नाक से राहत मिलेगी।

स्टीम बाथ के फायदे: स्टीम बाथ से वजन कैसे घटाएं?

weight gain

‘स्टीम बाथ से वजन घटाना’ यह वाक्य खुद में एक खुशखबरी जैसा है। लेकिन, स्टीम बाथ से वजन घटाने के लिए आपको कुछ शर्तें माननी पड़ेंगी। स्टीम बाथ से वजन घटाने के लिए आपको स्टीम रूम का तापमान 110 डिग्री फारेंहाइट रखना होगा। इसके बाद स्टीम रूम में बैठें और शरीर से पसीना बाहर निकलने दें। पसीना आने से आपके वजन में कमी आती है। लेकिन ये वही वजन घटता है जो आपके शरीर में पानी का वजन होता है। अगर आप 30 से 45 मिनट तक स्टीम बाथ ले रहे हैं, तो आपके वजन में 5 पाउंड तक की कमी आती है। लेकिन, अगर आप ऐसा करते हैं तो आपको डिहाइड्रेशन भी हो सकता है। ऐसे में आप स्टीम बाथ के बाद पानी जरूर पिएं। वहीं, अगर आप अपना वजन प्रभावी रूप से घटाना चाहते हैं, तो वर्कआउट के पहले और वर्कआउट के बाद आप स्टीम बाथ लें।

स्टीम बाथ के फायदे: स्टीम बाथ लेने से पहले रखें किन बातों का ध्यान?

स्टीम बाथ यानी भाप लेना शरीर के लिए फायदेमंद होता है। भाप लेने के लिए लोग स्टीम रूम में चले तो जाते हैं, लेकिन कुछ गलतियां हम स्टीम रूम में कर देते हैं। इसलिए यह जानना जरूरी है कि आपको स्टीम बाथ लेने से पहले निम्न बातों का ध्यान रखना है:

  • स्टीम रूम में भाप लेना है तो तौलिया लपेट कर जाएं। स्टीम रूम में आपको बिना कपड़ों के नहीं जाना है। इसलिए तौलिया पहन कर जाना एक बेहतर विकल्प है।
  • अगर आप वर्कआउट के बाद भाप लेना चाहते हैं या फिर स्टीम बाथ लेने जा रहे हैं तो बिना शावर लिए न जाएं। इससे आपके शरीर के ऊपरी सतह की अशुद्धता साफ हो जाती है। जिसके बाद स्टीम बाथ लेने से आपके त्वचा के भीतर से टॉक्सिन निकल जाता है।
  • जब भी स्टीम रूम में जाएं तो दरवाजा जरूर बंद कर लें। इससे रूम में भांप बनने में आसानी रहेगी।

उपरोक्त दी गई जानकारी एक्सपर्ट की राय नहीं है। अगर आप जानना चाहते हैं कि भाप कैसे ली जाती है या फिर स्टीम बाथ कैसे लिया जाए तो बेहतर होगा कि आप एक्सपर्ट से इस बारे में बात करें।स्टीम बाथ के फायदे जानने के लिए आप अपने डॉक्टर और फिटनेस एक्सपर्ट से संपर्क कर सकते हैं।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Steam room ncbi.nlm.nih.gov/pubmed/11146901/ Accessed on 28/2/2020

Steam Room Benefits for Your Health  Accessed on 28/2/2020

What are the benefits of a steam room https://www.medicalnewstoday.com/articles/320314#how-is-it-different-from-a-sauna Accessed on 28/2/2020

Steam Bath doi.org/10.4103/1947-2714.132935  Accessed on 28/2/2020

Saunas Vs. Steam Rooms: Which Is Better? med.wisc.edu/news-events/sauna-induced-sweating-offers-many-health-benefits/30199 Accessed on 28/2/2020

Steam bath  ncbi.nlm.nih.gov/pubmed/2286438     Accessed on 28/2/2020

लेखक की तस्वीर
02/03/2020 पर Shayali Rekha के द्वारा लिखा
Dr. Pranali Patil के द्वारा मेडिकल समीक्षा
x