इन हेयर केयर ऑयल के फायदे जानकर हैरान रह जाएंगे आप

By Medically reviewed by Dr. Hemakshi J

हेयर केयर ऑयल की बात की जाए तो भारत में नारियल तेल, बादाम तेल और जैतुन का तेल ही लोगों के दिमाग में आता है। प्रदूषण या लाइफस्टाइल में बदलाव कहें या लोगों में बालों के प्रति बढ़ता प्रेम, इन पारंपरिक तेलों के अलावा अन्य तेलों की तरफ भी लोग रुख करने लगे हैं।

हेयर केयर ऑयल जिनके बारे में बहुत कम लोग जानते हैं

होहोबा ऑयल (jojoba oil)

इस हेयर केयर ऑयल के बारे में सबसे पहली बात तो यह बता दें कि यह जोजोबा नहीं होहोबा होता है। बालों के लिए होहोबा में बहुत सारे गुणकारी तत्व होते हैं। यह तेल हेयर शैफ्ट में अच्छी तरह से पहुंच जाता है। इसके कारण बालों को मॉइस्चर मिलता है और यह बालों को ठीक करने में मदद करता है। इसके इस्तेमाल से बालों की उलझन कम होती है और उनमें चमक आती है। सबसे अच्छी बात यह है कि होहोबा नए हेयर सेल बनाने में मददगार होता है। इस कारण हेयर ग्रोथ होती है। होहोबा डैंड्रफ से भी लड़ने में मदद करता है।

टी-ट्री ऑयल (tea tree oil)

भारत में इसके बारे में बहुत कम जानकारी है। टी ट्री ऑयल का इस्तेमाल हेयर से लेकर स्किन केयर तक के प्रोडक्ट में किया जाता है। इस तेल में एंटीबैक्टीरियल, एंटीमाइक्रोबियल और क्लिंसिंग प्रोपर्टीज होती हैं। इससे हेयर ग्रोथ बढ़ती है। वैसे तो यह हर किसी को सूट करता है पर यदि आपको स्ट्रोंग ए​सेंसियल ऑयल से एलर्जी है तो आप इससे दूर रहें।

यह भी पढ़ें— हेयर स्पा ट्रीटमेंट से बाल होंगे हेल्दी, स्पा लेने के बाद रखें इन बातों का ध्यान

कैस्टर ऑयल

कैस्टर ऑयल विटामिन-ई, प्रोटीन और मिनरल आदि से परिपूर्ण होता है। यह डैंड्रफ और स्कैल्प के इंफ्लेमेशन से राहत दिलाता है। ब्लड सर्कुलेशन बढ़ाने के कारण यह हेयर ग्रोथ में तेजी से इजाफा करता है। बालों को हाईड्रेटेड रखने में भी यह मदद करता है। कैस्टर ऑयल को बालों से साफ करना मुश्किल होता है। इसके लिए आपको दो या तीन बार शैंपू करना पड़ सकता है। इसके नियमित इस्तेमाल से आपके बाल घने, चमकदार और हाईड्रेटेड बनते हैं।

ग्रेपसीड ऑयल

हेयर केयर ऑयल की बात की जाए तो ग्रेपसीड आयॅल की जानकारी भारत में बहुत कम लोगों को है। हालांकि, इसके गुणों की वजह से कहें या लोगों के हेयर केयर में दिलचस्पी के कारण भारत में भी यह लोकप्रिय होने लगा है। इसमें एंटीऑक्सिडेंट, इमोलिएंट और जरूरी न्यूट्रियंट होते हैं जो स्वस्थ बालों के लिए जरूरी होते हैं। ग्रेपसीड में कोई महक नहीं होती और न ही यह चिपचिपा होता है। इसलिए इसे आसानी से इस्तेमाल किया जा सकता है। यह स्कैल्प को मॉइस्चराइज करके हेयर ग्रोथ, बालों को मजबूत बनाने और बालों को झड़ने से रोकता है। यह उनके लिए सबसे अच्छा है ​जिनके बाल और स्कैल्प बहुत चिपचिपे हो जाते हैं या जिन्हें बाल झड़ने की समस्या है।

यह भी पढ़ें— हेयर ग्रोथ फूड्स अपनाकर पाएं काले घने लंबे बाल

लैवेंडर ऑयल

भीनी-भीनी मनमोहित खुशबू वाले लैवेंडर के फूलों से यह तेल बनता है। यह एसेंश्यिल ऑयल बहुत सारे चमत्कारी गुणों से भरपूर होता है। हेयर ग्रोथ के लिए इसका नाम मशहूर है। इसमें एंटीमाइक्रोबियल और एंटीसेप्टिक गुण होते हैं। कैरियर ऑयल के साथ मिलाकर इसकी मालिश से ब्लड सर्कुलेशन बढ़ता है जिससे बाल नहीं झड़ते। लैवेंडर ऑयल स्ट्रेस को दूर कर सकता है।

बालों को स्ट्रेट्नर या कर्लर से स्टाइल करने, हेयर कलर करने आदि की वजह से बालों का टूटना, झड़ना आदि समस्या बढ़ती जा रही हैं। ऐसे में हेयर केयर ऑयल ही हैं जो बालों को अधिक नुकसान से बचा सकते हैं।

और पढ़ें— हेयर कलर करवाने से पहले याद रखें ये 5 बाते

कई तरह से लाभदायक है चेहरे की मालिश, जानिए इसके फायदे

अभी शेयर करें

रिव्यू की तारीख नवम्बर 8, 2019 | आखिरी बार संशोधित किया गया नवम्बर 8, 2019

सूत्र