सेक्स के प्रेमी हैं तो जरूर जाने इससे जुड़े सेक्स फैक्ट्स

चिकित्सक द्वारा समीक्षित | द्वारा

अपडेट डेट अगस्त 31, 2020 . 6 मिनट में पढ़ें
अब शेयर करें

सेक्स एक ऐसा शब्द है जिसके बारे में बात करना सभी को मजेदार लगता है। हमें साधारण रूप से इसके बारे में जितनी जानकारी प्राप्त होती है। उससे ज्यादा बातों से हम अंजान होते हैं। जी हां सेक्स के बारे में तथ्य की एक लंबी लिस्ट है, जिसके बारे में बात करते समय आप जरा भी बोरियत महसूस नहीं करेंगे। कोई माने या न माने लेकिन सेक्स हमारे जीवन में कई तरह से बहुत फायदेमंद होता है। यह आपको खुश रखने में तनाव को दूर करने में कई तरह से बहुत मददगार होता है। आज हम इस आर्टिकल में ऐसे ही सेक्स फैक्ट्स के बारे में बात करने वाले हैं। यह सेक्स फैक्ट्स फनी और गंभीर दोनों ही हो सकते हैं। तो आइए जानते हैं क्या हैं सेक्स फैक्ट्स।

एवरेज सेक्स टाइम

एवरेज पुरूष सेक्स के दौरान छह सेकेंड तक एक्टिव रहते है, तो वहीं एवरेज महिला सेक्स के दौरान बीस सेकेंड तक एक्टिव रहती है।

रोग प्रतिरोधक क्षमता

जो लोग सप्ताह में दो से तीन बार सेक्स करते हैं, उनकी रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ जाती है।

और पढ़ें :सर्विक्स पेनिट्रेशन: डीप सेक्स करने से पहले जरूर जान लें ये बातें

पेनिस की तुलना

ज्यादातर पुरूष पॉर्न साइट पर दूसरे पुरूषों के पेनिस साइज को देखकर अपने पेनिस से तुलना करते हैं।

महिलाओं में ऑर्गेज्म

50 से 75 प्रतिशत महिलाएं जिनको ऑर्गेज्म उनके क्लाइटोरिस के छूने से होता है, वो महिलाएं केवल संभोग करने से ऑर्गेज्म प्राप्त नहीं कर पाती हैं। 

हैलो स्वास्थ्य का न्यूजलेटर प्राप्त करें

मधुमेह, हृदय रोग, हाई ब्लड प्रेशर, मोटापा, कैंसर और भी बहुत कुछ...
सब्सक्राइब' पर क्लिक करके मैं सभी नियमों व शर्तों तथा गोपनीयता नीति को स्वीकार करता/करती हूं। मैं हैलो स्वास्थ्य से भविष्य में मिलने वाले ईमेल को भी स्वीकार करता/करती हूं और जानता/जानती हूं कि मैं हैलो स्वास्थ्य के सब्सक्रिप्शन को किसी भी समय बंद कर सकता/सकती हूं।

ऊंची एड़ी के जूते 

ऊंची एड़ी के जूते पहनकर सेक्स करने से यह महिला के संभोग को नकारात्मक रूप से प्रभावित कर सकता है।

महिलाएं सेक्स करने के पांच से आठ दिन बाद गर्भवती हो सकती हैं

अध्ययनों से पता चला है कि कुछ शुक्राणु गर्भाशय ग्रीवा के तहखाने में रह सकते हैं इससे पहले कि अंडे  सेक्स के बाद पांच से आठ दिनों के लिए निषेचित हो।

और पढ़ें :सेहत ही नहीं, त्वचा के लिए भी फायदेमंद है ऑर्गेज्म, जानिए कैसे

ऑर्गेज्म महिलाओं को अधिक क्रिएटिव बना सकता है

अध्ययनों से पता चला है कि ऑर्गेज्म महिलाओं को अधिक आत्मविश्वास, कंडक्टिव और क्रिएटिव बना सकता है। 

सेक्स करने से दर्द से राहत मिलती है

सेक्स फैक्ट्स में आपको एक से अधिक तरीके मिल जाएंगे जो आपको अच्छा महसूस करा सकते हैं। जिसमें दर्द से राहत मिलता शामिल है। कामोत्तेजना और संभोग के दौरान, मस्तिष्क में हाइपोथैलेमस फील-गुड हार्मोन ऑक्सीटोसिन को मुक्त करता है। न्यूजर्सी के रटगर्स विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं ने पाया कि ऑक्सीटोसिन का यह उछाल वास्तव में महिलाओं को कम दर्द महसूस करने में मदद कर सकता है, खासकर मासिक धर्म के दौरान। बुलेटिन ऑफ एक्सपेरिमेंटल बायोलॉजी एंड मेडिसिन में प्रकाशित एक अध्ययन में पाया गया कि पुरुषों में ऑक्सीटोसिन दर्द की धारणा को आधे से कम कर देता है।

महिलाओं में तीन एरोजेनस जोन होते हैं

क्लाईटोरिस, जी स्पॉट, और गर्भाशय ग्रीवा में प्रवेश इसके अलावा कुछ तर्क में निपल्स भी उस सूची में हैं।

महिलाओं से जुड़े सेक्स फैक्ट्स

जो महिलाएं कई सेक्स रिलेशन में आ चुके होती हैं,उन महिलाओं को अपनी क्षमता का अंदाजा हो जाता है। इसलिए कई बार उनके ऑर्गेज्म के लिए उन्हें बहुत देर तक टिकने वाले साथी की आवश्यकता होती है। इसलिए वो महिलाएं शादी के पश्चात अपने साथी से संपन्न नहीं होती है।

और पढ़ें :क्या होता है निप्पल ऑर्गेज्म? पार्टनर को स्पेशल फील कराने के लिए अपनाएं ये टिप्स

जन्म नियंत्रण की गोलियां कामेच्छा को कम करती हैं

किसी भी हार्मोनल गर्भनिरोधक का मनोवैज्ञानिक दुष्प्रभाव होता है। कभी-कभी महिलाओं को एक बार गर्भधारण करने में भी परेशानी होती है क्योंकि वे गोली लेने के बाद अपने साथी के प्रति कम आकर्षित हो सकती हैं।

शादी के बाद सेक्स

जो महिलाएं शादी के बाद पहली बार सेक्स करती है,वो महिलाएं ज्यादातर अपने साथी से संतुष्ट होती है। क्योंकि उन्होंने पहले उससे ज्यादा समय तक सेक्स का अनुभव नहीं किया होता है। इसलिए वह महिलाएं ज्यादातर अपने साथी से संतुष्ट रहती है।

पुरूष पेनिस की लंबाई

लोगों का ऐसा मानना है कि पुरूष के पेनिस की लंबाई उसके शरीर के लंबाई पर निर्भर करता है, लेकिन असल में ऐसा नही है।

और पढ़ें सेहत ही नहीं, त्वचा के लिए भी फायदेमंद है ऑर्गेज्म, जानिए कैसे

अच्छी तरह से हाइड्रेटेड रहने से बेहतर ऑर्गेज्म होता है

हमारा शरीर ज्यादातर तरल से भरा होता है, हाइड्रेटेड रहने से लोगों की ऑर्गेज्म सुख प्राप्त करने की क्षमता में वृद्धि होती है।

कई बार आर्गेज्म

अध्ययन से पता चलता है कि महिला और पुरूष एक दिन में कई बार ऑर्गेज्म का अनुभव कर सकते हैं।

कैंसर से बचाता है सेक्स

कुछ शोधों के अनुसार, 50 वर्ष से अधिक आयु के पुरुष और जिनके बार-बार सेक्स करने की संभावना कम होती है, उन्हें प्रोस्टेट कैंसर होने का खतरा उन पुरुषों की तुलना में कम होता है जो अक्सर सेक्स नहीं करते हैं। एक अध्ययन में पाया गया कि संभोग और हस्तमैथुन से बूढ़े पुरुषों में प्रोस्टेट कैंसर का खतरा कम हो सकता है। अमेरिकन मेडिकल एसोसिएशनट्रस्टेड सोर्स के जर्नल में प्रकाशित एक अन्य अध्ययन में पाया गया कि किसी व्यक्ति के 20 दशक में लगातार स्खलन से प्रोस्टेट कैंसर के जोखिम को कम करने में मदद मिल सकती है।

और पढ़ें : आखिर जी स्पॉट है क्या? इससे कैसे मिल सकता है ऑर्गेज्म का प्लेजर

सेक्स उत्तेजना न होने का एक कारण

कई बार सेक्स उत्तेजना उत्पन्न न होने का कारण जन्म नियंत्रण कंट्रोल करने वाली गोलियां होती है। इसलिए एक बार जन्म नियंत्रण करने वाली गोलियां बदलकर देखें। शायद आपको अपनी उत्तेजना में परिवर्तन दिखाई दे। दरअसल पिल्स के कारण आपके शरीर में कई प्रकार के परिवर्तन होते हैं। इसलिए ऐसे में पिल्स बदलने की सलाह दी जाती है।

एनल सेक्स

एक शोध में यह पता चलता है कि पुरूषों को सबसे अधिक एनल सेक्स करने में सुख की प्राप्ति होती है। लेकिन वहीं महिलाओं को एनल सेक्स में उस उत्तेजना और सुख की प्राप्ति नहीं होती है। जो उनको बाकी पुजिशन में मिलती है।

और पढ़ें : कहीं आपकी लो सेक्स ड्राइव (low sex drive) का कारण ये दवाएं तो नहीं?

ब्लो जॉब फैक्ट्स

शोध से पता चलता है, ज्यादातर महिलाओं को ब्लो जॉब देना पसंद नहीं होता है। अपने पार्टनर की इच्छा पर वह ये करती हैं।

अनिद्रा के लिए मददगार

जिन लोगों को नींद न आने की समस्या होती है, उन लोगों के लिए सेक्स करना फायदेमंद हो सकता है। कुछ लोग अनिद्रा की समस्या के लिए दवा लेते हैं। लेकिन सेक्स करने से इस समस्या पर ज्यादा बेहतर तरीके से असर होता है।

पुरूष सेक्स फैक्ट्स

अधिकतर पुरूषों को सेक्स के पश्चात् सीमेन महिलाओं के ऊपर निकालने की इच्छा होती है। लेकिन महिलाओं को यह पसंद नहीं आता है। लेकिन अपने साथी की इच्छा के लिए की बार वह इसके लिए मना नहीं करती हैं।

इरेक्शन का अनुभव

ऐसा माना गया है कि जब पुरूष रात्रि के समय सोते हैं, तो वह चार से पांच पर इरेक्शन का अनुभव करते हैं।

कोरोना वायरस व सेक्स लाइफ में कनेक्शन जानें, खेलें क्विज : क्या कोरोना वायरस और सेक्स लाइफ के बीच कनेक्शन है? अगर जानते हैं इस बारे में तो खेलें क्विज

पुरूषों में जल्दी ऑर्गेज्म

महिलाओं की तुलना में पुरूषों को जल्दी ऑर्गेज्म प्राप्त होता है। कुछ पुरूष सेक्स के शुरूआत में ही ऑर्गेज्म प्राप्त कर लेते हैं। जिससे महिलाएं संतुष्ट नहीं हो पाती है। ऐसे में कुछ पुरूष उन्हें दोबारा संतुष्ट करने के लिए एक्टिव होने का प्रयास करते हैं। लेकिन कुछ महिलाओं की उत्तेजना तब-तक समाप्त हो जाती है।

उपन्यास पढ़ने वाली महिलाएं

जिन महिलाओं को ज्यादातर रोमांटिक उपन्यास पढ़ने की आदत होती है,वो महिलाएं साधारण महिलाओं की तुलना में अधिक रोमांटिक और संभोग में अधिक बेहतर साबित होती है।

ब्रेस्ट होता है आकर्षण का केंद्र

कई लोगों पर किए गए शोध में पाया गाया है कि बड़े उभरे ब्रेस्ट वाली महिलाएं पुरूषों को ज्यादा आकर्षित करती है। वैसे तो पुरूष सभी महिलाओं के साथ सेक्स करने में सहज महसूस करते हैं। लेकिन सेक्स फैक्ट्स में यह पता चलता है की पुरूषों को बड़े ब्रेस्ट ज्यादा आकर्षित करते हैं।

लेटेक्स कंडोम

लेटेक्स कंडोम को लगभग दो साल तक उपयोग किया जा सकता है। इसकी उम्र लगभग दो साल तक की होती है इसके बाद इसका उपयोग नहीं करना चाहिए।

और पढ़ें : बायसेक्सुअल के बारे में जाने हर जरूरी बात, यह कैसे हैं गे और लेस्बियन से अलग

कम सेक्स-अधिक काम

शोधकर्ताओं का मानना है कि कम-से-कम यौन जीवन वाले लोग बेडरूम में अपनी कमी को पूरा करने के लिए अधिक काम पर जाते हैं। अध्ययन ने 32,000 लोगों को अपने सेक्स और काम करने की आदतों का वर्णन करने के लिए कहा। शोधकर्ताओं ने पाया कि 36 प्रतिशत पुरुष और 35 प्रतिशत महिलाएं जो सप्ताह में केवल एक बार सेक्स करती हैं, अपने काम में खुद को डुबो देती हैं। आपके पास जितना अधिक काम होगा, आपके पास उतना ही तनाव होगा और जितना अधिक तनाव होगा, उतना कम सेक्स करना होगा। यह वास्तव में एक दुष्चक्र है।

साइक्लिंग  करने वालों के लिए खतरा

वैसे तो बहुत ही रेयर मामले में यह देखा गया है, लेकिन कहा जाता है की गलत तरीके से साइकिल चलाने से नपुंसकता का खतरा हो सकता है। यह हर व्यक्ति के लिए लागू नहीं होता है।

महिलाएं करे पहल

एक अध्ययन से यह पता चलता है कि अधिकतर पुरूष चाहते हैं की सेक्स की शुरूआत पहले महिलाएं करें। 

और पढ़ें : आप वास्तव में सेक्स के बारे में कितना जानते हैं?

संभोग सुख शुक्राणु की गुणवत्ता में सुधार करता है

बार-बार सेक्स करने से पुरुष के शुक्राणु की गुणवत्ता में सुधार हो सकता है, शुक्राणु को डीएनए की क्षति कम हो सकती है और प्रजनन क्षमता बढ़ सकती है। यूरोपियन सोसाइटी ऑफ ह्यूमन रिप्रोडक्शन एंड एम्ब्रियोलॉजी के अनुसार, जो सेक्स नहीं करते थे उनकी तुलना में जो पुरुष रोजाना सेक्स करते हैं, या रोजाना स्खलन करते हैं, उन पुरुषों में सात दिनों के बाद अधिक उच्च गुणवत्ता वाला वीर्य होता है। अध्ययन से पता चलता है कि इस दृष्टिकोण से जोड़ों को हल्की प्रजनन समस्याओं में मदद मिल सकती है।

फोरप्ले

पुरूषों की तुलना में महिलाओं को अधिक फोरप्ले पसंद आता है। लेकिन पुरूषों को फोरप्ले में केवल ओरल सेक्स (ब्लो जॉब) पसंद आता है।

14 गैलन सीमेन

यह सेक्स शायद आपको चौंकाने के लिए काफी है, जिसमें एक पुरूष अपनी पूरे जीवनकाल में लगभग 14 गैलन सीमेन का उत्पादन करता है।

और पढ़ें : क्या आप ब्रेकअप के बाद इन्वॉल्व हैं रिवेंज सेक्स में? जानें इसके कारण क्या हैं

महिलाओं में ओरल सेक्स से आर्गेज्म

जो पुरूष पार्टनर अपनी महिला को सेक्स द्वारा संतुष्ट नहीं कर पाते हैं, वह ज्यादातर ओरल सेक्स की सहायता लेते हैं। जी हां दरअसल महिलाएं ओरल सेक्स के दौरान जल्दी ही आर्गेज्म प्राप्त कर लेती हैं। महिलाओं का क्लाइटोरिस बहुत ही संवेदनशील हिस्सा होता है। जब पुरूष अपनी हाथ या जीभ से उन हिस्सों को स्पर्श करते हैं। तो महिलाएं आसानी से  ऑर्गेज्म प्राप्त कर लेती हैं।

जननांग में दाद

14 से 49 वर्ष की आयु के प्रत्येक छह अमेरिकियों में से एक में एक के जननांग में दाद एचएसवी -2 संक्रमण होता है। 

ब्रेस्टफीड

कुछ महिलाएं ब्रेस्टफीड करने से अधिक उत्तेजित होती है, इसलिए बहुत से पुरूष फोरप्ले के दौरान महिलाओं को ब्रेस्डफीड करके उत्तेजित करते हैं।

प्राचीन सेक्स फैक्ट्स

सेक्स फैक्ट्स में यह देखा गया है कि कई सालों पुरानी परंपरा में हमारे पूर्वज आपस में मिलते समय स्वागतार्थ रूप से आपस में सेक्स करते थे। लेकिन यह एक प्राचीन परंपरा के रूप में बताया गया है।

और पढ़ें : जानें,सेक्स एजुकेशन क्या है ,और क्यों है समाज में जरूरी

कंडोम के बिना सेक्स

सेक्स फैक्ट्स में यह देखा गया है कि,पुरूषों और महिलाओं को बिना कंडोम के सेक्स करने में अधिक सुख प्राप्त होता है। लेकिन बिना कंडोम के सेक्स करने के लिए चिकित्सक सलाह नहीं दी जाती है। 

सेक्स से जुड़े किसी भी मुद्दे पर अगर आपका कोई सवाल है, तो कृपया इस बारे में अपने डॉक्टर से परामर्श करें।

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

संबंधित लेख:

क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
happy unhappy"
सूत्र

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

हर्पीस के साथ सेक्स संभव है या नहीं, जानने के लिए पढ़ें यह आर्टिकल

हर्पीस के साथ सेक्स करना चाहिए या नहीं इसको लेकर जानें क्या करें व क्या नहीं। क्या बरतें सावधानी। संक्रमण का खतरा कैसे होता है कम, जानने के लिए पढ़ें।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Satish singh

पुरुषों के लिए सेक्स टिप्स: जानें हेल्दी सेक्स लाइफ के लिए क्या करना चाहिए और क्या नहीं?

पुरुषों के लिए सेक्स टिप्स, सेक्स के दौरान क्या करें और क्या नहीं, इस दौरान होने वाली स्वास्थ्य समस्याओं के बारे में जानकारी,Healthy sex tips for men

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr Ruby Ezekiel
के द्वारा लिखा गया Anu sharma

फर्स्ट टाइम सेक्स के बाद ब्लीडिंग होना सामान्य है या असामान्य, इसके पीछे का कारण जानें

फर्स्ट टाइम सेक्स ब्लीडिंग होना सामान्य है या असामान्य, किसे होता है और किसको नहीं होता। इससे बचाव के लिए क्या करें और क्या नहीं, कब लें डॉक्टरी सलाह जानें।

के द्वारा लिखा गया Satish singh

Quiz : खेलकर पता लगाएं कॉन्डोम के बारे में कितना जानते हैं आप?

कॉन्डोम विषय पर क्विज खेलकर पता लगाएं कि, इसके बारे में कितनी जानकारी है आपको। इससे पहले और बाद में क्या करना चाहिए और क्या नहीं... तो टेस्ट करते हैं आपका ज्ञान...

के द्वारा लिखा गया Satish singh
क्विज अगस्त 24, 2020 . 1 मिनट में पढ़ें

Recommended for you

सेक्स के दौरान पूप

सेक्स के दौरान पूप: जानिए क्यों होता है ऐसा और इससे कैसे बचें

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Manjari Khare
प्रकाशित हुआ सितम्बर 15, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
हिस्टेरेक्टॉमी के बाद सेक्स

क्या हिस्टेरेक्टॉमी (Hysterectomy) सर्जरी के बाद भी सेक्स लाइफ रहेगी हिट?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shikha Patel
प्रकाशित हुआ सितम्बर 10, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
महिलाओं में कम सेक्स ड्राइव/ low sex drive

जानें क्यों महिलाओं में होती है कम सेक्स ड्राइव की समस्या?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Mousumi dutta
प्रकाशित हुआ सितम्बर 3, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें
पीठ दर्द के साथ बेहतर सेक्स - better sex with back pain

पीठ दर्द के साथ बेहतर सेक्स के लिए ध्यान रखें ये जरूरी बातें

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shikha Patel
प्रकाशित हुआ सितम्बर 1, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें