home

आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

रेड जिनसेंग: सेक्शुअल हेल्थ को इम्प्रूव करने में मदद करने वाली हर्ब, महिला और पुरुष दोनों कर सकते हैं यूज

रेड जिनसेंग: सेक्शुअल हेल्थ को इम्प्रूव करने में मदद करने वाली हर्ब, महिला और पुरुष दोनों कर सकते हैं यूज

कई पुरुष इरेक्टाइल डिसफंक्शन (Erectile dysfunction) के लक्षणों का अनुभव करते हैं। जिसे नपुंसकता के नाम से भी जाना जाता है। इरेक्टाइल डिसफंक्शन का सामना कर रहे पुरुषों को इरेक्शन (Erection) से जुड़ी परेशानियों को सामना करना पड़ता है। ऐसे पुरुषों में या तो इरेक्शन होता नहीं है या वे उसे मेंटेन नहीं रख पाते। यह प्रॉब्लम बार-बार होने पर ट्रीटमेंट की जरूरत पड़ सकती है। लाइफस्टाइल चेंजेंस, मेडिकेशन के साथ ही कुछ हर्ब भी इस समस्या का इलाज करने में प्रभावी बताई जाती हैं। जो सेक्शुअल फंक्शन (Sexual Function) को सुधारने में मदद कर सकती हैं जिनमें से एक है रेड जिनसेंग (Red ginseng)।

इरेक्टाइल डिसफंक्शन के कारण साइकोलॉजिकल भी हो सकते हैं। कई मामलों में ये डायबिटीज (Diabetes), नर्व डैमेज (Nerve damage) और हार्ट डिजीज (Heart disease) से भी संबंधित बताया जाता है। वजन कम करना, एक्सरसाइज करना और स्मोकिंग (Smoking) और एल्कोहॉल (Alcohol) के सेवन से दूर रहना इरेक्टाइल डिसफंक्शन के इलाज में मदद करता है, लेकिन जब ये तरीके भी प्रभावी ना हो तो दवाओं का सहारा लिया जा सकता है। जिसमें हर्बल मेडिसिन (रेड जिनसेंग) भी शामिल है, लेकिन किसी भी दवा का उपयोग डॉक्टर की सलाह के बिना ना करें। चलिए अब जान लेते हैं कि रेड जिनसेंग (Red ginseng) है क्या?

जिनसेंग (Ginseng)

जिनसेंग एक हर्ब है जिसका उपयोग कई दशकों से ट्रेडिशनल चाइनीज मेडिसिन में किया जा रहा है। यह धीमी गति से बढ़ने वाले, छोटे पौधे को तीन वर्गों में क्लासिफाइड किया जाता है (यह इस बात पर निर्भर करता है कि इसे कितनी देर तक उगाया जाता है): फ्रेश, वाइट और रेड। फ्रेश जिनसेंग की कटाई 4 साल से पहले की जाती है जबकि वाइट जिनसेंग की 4-6 साल के बीच की जाती है और रेड जिनसेंग (Red ginseng) की कटाई 6 साल या इससे अधिक समय के बाद की जाती है।

इस हर्ब के कई प्रकार हैं, लेकिन सबसे पॉपुलर है अमेरिकन जिनसेंग और एशियन जिनसेंग। कोरियन रेड जिनसेंग (Korean red ginseng) को एशियन जिनसेंग (Asian ginseng), चाइनीज जिनसेंग (Chinese ginseng) और पैनाक्स जिनसेंग (Panax ginseng) के नाम से भी जाना जाता है। जबकि साइबेरियन जिनसेंग और अमेरिकन जिनसेंग अलग प्रकार के पौधे हैं।

और पढ़ें: इरेक्टाइल डिस्फंक्शन की समस्या से छुटकारा पाने के लिए अपनाएं ये घरेलू इलाज

सेक्शुअल हेल्थ के लिए रेड जिनसेंग कैसे फायदेमंद है? (Red Ginseng for sexual health)

रेड जिनसेंग एलर्टनेस को बढ़ाकर इरेक्टाइल डिसफंक्शन में सुधार करने में मदद करती है। जिनसेंग की जड़ का उपयोग ट्रीटमेंट में किया जाता है। इसका उपयोग हर्बल सप्लिमेंट्स में भी किया जाता है। जब जिनसेंग की जड़ को सुखाया जाता है, लेकिन प्रोसेस्ड नहीं किया जाता है तो इसे वाइट जिनसेंग कहा जाता है, लेकिन जब इसेउबालकर सुखा दिया जाता है तो उसे रेड जिनसेंग (Red ginseng) कहते हैं। रेड जिनसेंग सिर्फ पुरुषों की सेक्शुअल हेल्थ के लिए ही नहीं बल्कि महिलाओं के सेक्शुअल फंक्शन के लिए भी उपयोगी है। इसका समर्थन कई स्टडीज करती हैं।

क्या कहती हैं स्टडीज?

2018 के एक मेटा एनालिसिस ने हर्ब्स पर हुए 28 अध्ययनों को देखा। जिसमें पाया गया कि पैनाक्स जिनसेंग इरेक्टाइल डिसफंक्शन के लिए उपचार के लिए विशेष रूप से प्रभावी है। ऐसी ही एक स्टडी महिलाओं पर भी की गई जिसमें कोरियन रेड जिनसेंग (Red ginseng) का मेनोपॉजल महिलाओं पर प्रभाव का अध्ययन किया गया था।

एनसीबीआई में छपी एक स्टडी के अनुसार मेनोपॉज के दौरान अक्सर महिलाओं का सेक्शुअल फंक्शन प्रभावित होता है। इस स्टडी में 32 महिलाओं को जिनसेंग या प्लासेबो के एक दिन में तीन कैप्सूल दिए गए। जिनको जिनसेंग सप्लिमेंट दिया गया उनके सेक्शुअल फंक्शन में सुधार देखा गया वह भी बिना किसी साइड इफेक्ट्स के। शोधकर्ताओं ने निष्कर्ष निकाला कि रेड जिनसेंग महिलाओं में सेक्शुअल फंक्शन में सुधार कर सकता है।

रेड जिनसेंग (Red ginseng)

और पढ़ें: क्या आपने पढ़ी है सेक्शुअल हेल्थ की एबीसीडी?

रेड जिनसेंग के अन्य फायदे क्या हैं? ( Other Benefits of Red ginseng)

कोरियड रेड जिनसेंग (Red ginseng) का उपयोग ट्रेडिशनल चाइनीज मेडिसिन में कई सालों से हो रहा है। यह इरेक्टाइल डिसफंक्शन के साथ ही निम्न तकलीफों में उपयोगी है।

एनसीबीआई में छपी एक अन्य स्टडी के अनुसार जिनसेंग कोलोरेक्टल या कोलोन कैंसर (Colorectal or colon cancer) को रोकने में मदद कर सकता है। जो लोग कीमोथेरिपी (Chemotherapy) ले रहे हैं उनमें जिनसेंग का उपयोग बेहतर महसूस कराने में मदद करता है। इसके साथ ही यह ट्यूमर्स की ग्रोथ को कम करने के साथ ही कैंसर कोशिकाओं को फैलने से रोकने में मदद कर सकता है।

जिनसेंग में पाया जाने वाला कंपोनेंट सेपोनिन (Saponin) कैंसर ट्यूमर ग्रोथ को रोकने में मदद कर सकता है। यह डिमेंशिया और हार्ट हेल्थ के लिए उपयोगी बताया गया है। अभी इसके उपयोग को लेकर अन्य स्टडीज की आवश्यकता है।

जिनसेंग किस रूप में उपलब्ध है? (Forms of Ginseng)

जिनसेंग वाइट और रेड दोनों रूपों में उपलब्ध है। इसलिए जब भी जिनसेंग सप्लिमेंट्स को खरीदें तो लेबल को पढ़ें और यह देखें कि इसमें कौन सा जिनसेंग मौजूद है। ज्यादातर रिसर्च रेड जिनसेंग (Red ginseng) के ऊपर हुई हैं। इसे लिक्विड, पाउडर और कैप्सूल के रूप में उपयोग किया जा सकता है। इसके अलावा इसकी जड़ को पानी में उबालकर या चाय में डालकर भी उपयोग कर सकते हैं, लेकिन रेड जिनसेंग का उपयोग डॉक्टर की सलाह पर ही करें। वे ही इसके सही डोज के बारे में जानकारी देंगे। रिकमंडेड डोज से ज्यादा इस हर्ब का उपयोग ना करें।

और पढ़ें: सेक्स थेरेपी और काउंसलिंग से दूर करें अपनी सेक्शुअल लाइफ की मुश्किलें!

रेड जिनसेंग के साइड इफेक्ट्स (Red ginseng Side effects)

बता दें कि इरेक्टाइल डिसफंक्शन के इलाज के लिए रेड जिनसेंग (Red ginseng) के उपयोग को फूड एंड एडमिनिस्ट्रेशन Food and Drug Administration (FDA) का अप्रूवल नहीं मिला है। यह हर्ब दूसरी दवाओं के साथ इंटरैक्शन कर सकती है और कैफीन के प्रभाव को बढ़ा सकती है। हालांकि, कम समय के लिए इसका उपयोग सुरक्षित माना जाता है। समय के साथ यह पौधा बॉडी के प्रभावित करता है।

सभी में जिनसेंगे के उपयोग के बाद साइड इफेक्ट्स नजर नहीं आते हैं। इसका सबसे समान्य साइड इफेक्ट है सोने में परेशानी होना। असामान्य साइड इफेक्ट्स में निम्न शामिल हैं।

और पढ़ें: डेंटल डैम: ओरल सेक्स के दौरान बन सकता है आपका सच्चा साथी!

रेड जिनसेंग को उपयोग करते वक्त रखें ये सावधानियां (Keep these precautions while using Red Ginseng)

जैसा कि हम ऊपर बता चुके हैं कि रेड जिनसेंग (Red ginseng) का उपयोग दूसरी दवाओं के साथ इंटरफेयर कर सकता है। अगर आप निम्न कंडिशन के लिए दवाओं का उपयोग करते हैं तो जिनसेंग का उपयोग करने से पहले डॉक्टर से सलाह जरूर लें।

इरेक्टाइल डिसफंक्शन की समस्या का इलाज रेड जिनसेंग के साथ ही लाइफस्टाइल में बदलाव से किया जा सकता है। इसलिए हर्ब के उपयोग के साथ हेल्दी लाइफस्टाइल को अपनाएं। तथा किसी भी दवा का उपयोग डॉक्टर की सलाह पर ही करें।

उम्मीद करते हैं कि सेक्शुअल हेल्थ के लिए रेड जिनसेंग (Red ginseng) के उपयोग से संबंधित जरूरी जानकारियां मिल गई होंगी। अधिक जानकारी के लिए एक्सपर्ट से सलाह जरूर लें। अगर आपके मन में अन्य कोई सवाल हैं तो आप हमारे फेसबुक पेज पर पूछ सकते हैं। हम आपके सभी सवालों के जवाब आपको कमेंट बॉक्स में देने की पूरी कोशिश करेंगे। अपने करीबियों को इस जानकारी से अवगत कराने के लिए आप ये आर्टिकल जरूर शेयर करें।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Preventive and therapeutic roles of ginseng – focus on colon cancer/https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/24568461/ Accessed on 20th September 2021

Effects of Korean red ginseng on sexual arousal in menopausal women: placebo-controlled, double-blind crossover clinical study/
https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/20141583/Accessed on 20th September 2021

Herbal Dietary Supplements for Erectile Dysfunction: A Systematic Review and Meta-Analysis/https://link.springer.com/article/10.1007/s40265-018-0897-3/Accessed on 20th September 2021

Ginseng and male reproductive function/https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3861174/Accessed on 20th September 2021

Ginseng, Panax ginseng tablets or capsules/https://my.clevelandclinic.org/health/drugs/19105-ginseng-panax-ginseng-tablets-or-capsules/Accessed on 20th September 2021

लेखक की तस्वीर badge
Manjari Khare द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 20/09/2021 को
और Hello Swasthya Medical Panel द्वारा फैक्ट चेक्ड