home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

इरेक्टाइल डिस्फंक्शन की समस्या से छुटकारा पाने के लिए अपनाएं ये घरेलू इलाज

इरेक्टाइल डिस्फंक्शन की समस्या से छुटकारा पाने के लिए अपनाएं ये घरेलू इलाज

इरेक्टाइल डिस्फंक्शन (Erectile Dysfunction) जिसे स्तंभन दोष कहते हैं। आसान भाषा में कहे तो नपुंसकता (Impotence) इसका असली अर्थ है। पुरुष इरेक्टाइल डिस्फंक्शन की समस्या को लेकर सबसे ज्यादा गंभीर रहते हैं। इरेक्टाइल डिस्फंक्शन पार्टनर को चरम सुख तक पहुंचाने में आडे़ आता है। इस पर बॉलीवुड में एक फिल्म ‘शुभ मंगल सावधान’ भी बनी थी। इस फिल्म में आयुष्मान खुराना ने एक नपुंसक पति का किरदार निभाया था। लेकिन समाज में इस समस्या पर लोग खुलकर बोलने से कतरात हैं और बेइज्जती महसूस करते हैं। लेकिन याद रहे इस गंभीर समस्या पर बात न करना भी कोई समाधान नहीं है।

क्या पब्लिक टॉयलेट में लगे मर्दाना ताकत बढ़ाने वाले विज्ञापन देखकर खुद की कमजोर साबित होने की बात सामने आने लगती है? क्या आप अपने पार्टनर को खुश नहीं कर पा रहे हैं? क्या सेक्स करने से पहले ही आपका लिंग दम तोड़ देता है? क्या लिंग के उत्तेजित न होने से आप मायूस हैं? क्या आप इस समस्या के साथ डॉक्टर के पास जाने से कतराते हैं? अगर इन सभी सवालों का जवाब हां है, तो चिंता छोड़ दीजिए, क्योंकि आपको अपनी इस समस्या का इलाज घर पर ही मिल सकता है। इस समस्या से छुटकारा पाने के लिए कुछ घरेलू उपायों को अपनाकर अपनी खोई मर्दाना ताकत वापस ला सकते हैं और इरेक्टाइल डिस्फंक्शन से छुटकारा पा सकते हैं। जानें इरेक्टाइल डिस्फंक्शन का नैचुरल इलाज-

और पढ़ें: इरेक्टाइल डिस्फंक्शन का यूनानी इलाज कैसे किया जाता है?

इरेक्टाइल डिसफंक्शन (Erectile Dysfunction) के कारण

इरेक्टाइल डिस्फंक्शन के पीछे अन्य कारणों में खट्टे, नमकीन, अनुचित, भारी और अनुपयुक्त खाद्य पदार्थों को खाना माना जाता हैप्रेसोस में उत्तेजित न हो पाना एक आम समस्या है। उत्तेजित न होने के शारीरिक ही नहीं बल्कि कई मानसिक कारण भी होते हैं। इरेक्टाइल डिस्फंक्शन से बचने के लिए लाइफस्टाइल में बदलाव लाना बहुत जरूरी है।

मानसिक उत्तेजना, संबंधों में कलह, अत्यधिक तनाव और कोई शारीरिक हानि भी इरेक्टाइल डिस्फंक्शन का कारण बनती हैं। अत्यधिक दवाईंया लेना भी शरीर पर बुरा असर छोड़ती हैं, शारीरिक स्फू्र्ति को कम करने का कारण बनती है। इसी कारण पुरुषों में इरेक्टाइल डिस्फंक्शन की समस्या खड़ी हो जाती है। न्यूरोलॉजिकल बीमारियां, वैस्क्यूलर,डायबिटीज़ या प्रोस्टेट संबंधी सर्जरी भी इरेक्टाइल डिसफंक्शन की समस्या पैदा करते हैं। दवाईयों के साइड इफेक्ट्स से भी पुरुषों को इरेक्टाइल डिस्फंक्शन जैसी विराट समस्या का सामना करना पड़ता है।

और पढ़ें : इरेक्टाइल डिसफंक्शन का इलाज नहीं करवाने पर 28% महिलाएं चाहतीं है पार्टनर से अलग होना

इरेक्टाइल डिस्फंक्शन का नैचुरल ट्रीटमेंट (Natural Treatment for Erectile Dysfunction)

इरेक्टाइटल डिस्फंक्शन का इलाज समय पर करवा लेना बेहतर होता है। नहीं तो फिर ‘पुरुष बांझपन’ की समस्या से जूझना पड़ सकता है। इस समस्या का सबसे बड़ा संबंध मानसिक स्थिति और लाइफस्टाइल से होता है। इसलिए घर पर भी इसका इलाज प्राकृतिक रूप से आसानी से किया जा सकता है।

हेल्दी डायट (Healthy Diet) लें

हैल्दी डायट हर तरह के रोगों से दूर रखती है। हेल्दी डाइट शरीर में सभी विटामिन्स और प्रोटीन की कमी को दूर करती है। जब बात आती है इरेक्टाइटल डिस्फंक्शन की तो स्वस्थ आहार का सेवन कर इस समस्या से आसानी से छुटकारा पाया जा सकता है। इसके लिए अपनी खाने की थाली में हरी पत्तेदार सब्जी, फल, मछली और साबुत अनाज को शामिल करें।

इसके अलावा विटामिन-E लेने से ‘पुरुष बांझपन’ से मुक्ति मिल सकती है। आपको बता दें कि साबुत अनाज और हरे पत्तेदार सब्जियां खाने से लिंग का ब्लड सर्कुलेशन अच्छा होता है। इनका सेवन करने से शरीर में टेस्टोस्टेरोन नामक हार्मोन के स्तर में संतुलन बना रहता है। इस समस्या से छुटकारा पाने के लिए चिया, पपीते और सूरजमुखी के बीज के साथ पालक का सेवन भी बहुत कारगार साबित होता है।

और पढ़ें : शीघ्रपतन का घरेलू इलाज: खाएं ये चीजें और शीघ्रपतन की समस्या से पाएं तुरंत राहत

रेगुलर एक्सरसाइज (Regular Exercise)

सेक्स जैसी हार्ड प्रक्रिया को करने के लिए हल्का-फुल्का व्यायाम भी बहुत जरूरी होता है। भले ही थोड़ा व्यायाम करें, लेकिन रोजाना करें। इससे शरीर में स्फूर्ति बनी रहेगी और मसल्स भी मजबूत होंगी।इसी के साथ ही हार्मोन में भी गर्मजोशी पैदा होगी जिसके परिणाम संतुष्ट करने वाले होंगे। मेल इनफर्टिलिटी ट्रीटमेंट के लिए फिजिकल एक्सरसाइज और योग को सबसे अच्छा नेचुरल इलाज माना जाता है।

लिंग में खून के प्रवाह को तेज करने के लिए एरोबिक और कीगल व्यायाम (Aerobic and Kegal Exercise) को भी बेस्ट माना गया है। मर्दाना ताकत में और जान फूंकने के लिए अर्धमतसयासन, गरुड़ासन और श्वासन जैसे योग बहुत काम के हो सकते हैं।

टेंशन (Tension) न लें

चिंता चिता समान होती है, यह एक प्राचीन काल की कहावत है। चिंता आपको तनाव की ओर ले जाता है। शायद ही आप इस बात पर यकीन कर पाएं कि तनाव शरीर के एक-एक अंग पर अपना बुरा असर छोड़ता है। अत्यधिक तनाव के कारण आपको पेट से संबंधित कई बीमारिया लग सकती हैं, जो आपकी सेक्स लाइफ पर भी बुरा असर छोड़ती है। क्योंकि तनाव लेने से पुरुष की प्रजनन प्रणाली (Male Reproductive System) और सेक्स पॉवर को बढ़ाने वाले हार्मोन का पतन होने लगता है।

अगर आप अपनी सेक्स पॉवर को लेकर तनावग्रस्त हैं और इससे छुटकारा पाना चाहते तो आपके लिए सबसे बेस्ट ऑप्शन मेडिटेशन (Meditation) है। हमेशा खुद को खुश रखने की कोशिश करें। इसके लिए आप तरह-तरह के खेलों में दिलचस्पी रखें। हफ्ते या महीने में किसी खूबसूरत जगह पर घूमने जाएं। म्यूजिक से प्यार करें और हो सके तो थोड़ा डांस करने की भी कोशिश करें। यह सब चीजें बस आपको तनाव से दूर करेंगी। इतना सब करने के साथ-साथ ध्यान रहे कि आपके नींद के घंटों में कमी न आए।

और पढ़ें : जानिए शारीरिक इंटिमेसी रिलेशनशिप के लिए कैसे है फायदेमंद

सप्लिमेंट्स का ले सहारा (Supplement Benefits)

हेल्दी डाइट के बाद भी शरीर में पोषण की कमी पूरी नहीं हो तो आप सप्लीमेंट का सहारा ले सकते हैं। आपको बता दें कि इरेक्टाइल डिस्फंक्शन की शिकायत शरीर में विटामिन B12 और विटामिन D की कमी से आती है। इसके लिए जरूरी है कि आप मल्टीविटामिन्स के लिए सप्लीमेंट ले सकते हैं। लेकिन, याद रहे इस तरह की समस्या के लिए सप्लीमेंट लेने से पहले एक बार डॉक्टर की सलाह जरूर ले लें।

हेल्दी लाइफस्टाइल (Healthy Lifestyle)

अगर आपकी लाइफ दिनभर की भागदौड़ से थकी हुई है तो इसका जिम्मेदार है आपका अनहेल्दी लाइफस्टाल है, जो शरीर में सैंकड़ों बीमारियों को जन्म देता है। साथ ही यह आपको एक्टिव से अनएक्टिव बनाता है। अगर शरीर में स्फू्र्ति नहीं है तो शरीर में ब्लड सर्कुलेशन धीमा रहेगा और ब्लड सर्कुलेशन के धीमा होने से शरीर ताकत खो देगा।

शरीर के हर अंग में रक्त का तेजी से प्रवाह होना बहुत जरूरी है। इसका परिणाम यह होता है कि प्रजनन हार्मोन खत्न होने लगते हैं और इरेक्टाइल डिस्फंक्शन जैसी विराट समस्या बिस्तर पर आपका स्वागत करती है।

अब हेल्दी लाइफस्टाइल के लिए क्या करना है जरा यह भी समझ लीजिए। सबसे पहले फिजिकल लुक (शारीरिक बनावट) सॉलिड होना चाहिए। अत्यधिक वजन वाले लोग फिजिकली फिट नहीं होते हैं। शारीरिक वजन पर कंट्रोल करें और अपनी लंबाई के अनुसार ही वजन रखें।

और पढ़ें : सेक्स थेरिपी सेशन पर जाने से पहले पता होनी चाहिए आपको ये बातें

नो स्मोकिंग बेस्ट ऑप्शन (Quit Smoking)

यह जानने के बाद भी कि धूम्रपान करना सेहत के लिए हानिकारक है, बावजूद इसके लोग नो स्मोकिंग के विकल्प को नहीं चुनते हैं। लेकिन याद रहे अगर आप इरेक्टाइल डिस्फंक्शन जैसी गंभीर समस्या के आगे हारे पड़े हैं तो आपको अपनी खोई हुई मर्दाना ताकत को वापस लाने के लिए धूप्रमान को छोड़ना ही पड़ेगा। अगर इरेक्टाइल डिस्फंक्शन वैस्कुलर डिसीज (Vascular Disease) की वजह से हुआ है तो स्मोकिंग नो कहना ही होगा। क्योंकि एक स्टडी के मुताबिक, स्मोकिंग को इरेक्टाइल डिस्फंक्शन के लिए एक रिस्क फैक्टर बताया गया है।

वैस्कुलर डिसीज शरीर में रक्त के प्रवाह पर बुरा असर छोड़ती है। आपको जानकर थोड़ा अजीब लगे लेकिन बता दें कि धमनियों पर पड़ने वाले नेगेटिव असर से लिंग में दर्द की शिकायत आने लगती है। यही काम तंबाकू भी करता है। इसलिए कोशिश करें कि जल्द से जल्द धूप्रमान को बाय-बाय कहें।

और पढ़ें : हर मर्ज की दवा है आयुर्वेद और आयुर्वेदिक रेमेडीज, जानिए इनके बारे में विस्तार से

शराब पीना छोड़े (Quit alcohol)

शराब एक अवसाद का कार्य करती है। शराब का सेवन शारीरिक और मानसिक दोनों रूप से हानिकारक बताया जाता रहा है। शराब का ज्यादा सेवन आपमें अस्थायी और लंबे समय तक के लिए इरेक्टाइल डिस्फंक्शन की समस्या को पैदा कर सकता है। नाइट्रिक ऑक्साइड केमिकल लिंग के इरेक्शन में मदद करता है।

एक्यूपंक्चर (Acupuncture)

साल 2003 में हुई एक स्टडी में यह साबित हुआ था कि इरेक्टाइल दोष से जूझ रहे 21 फीसदी मरीजों ने एक्यूपंक्चर ट्रीटमेंट के जरिए खुद में सुधार होने की बात कबूली थी। लेकिन इस बात पर ध्यान दें कि इस तकनीक का इस्तेमाल करने वाले इस काम में परफेक्ट होने चाहिए और इस्तेमाल में लाई जाने वाली सुई साफ और किटाणुरित होनी चाहिए।

ऑयल मसाज (Oil massage)

इरेक्टाइल डिसफंक्शन से छुटकारा पाने के लिए आप लिंग की एसेंशियल ऑयल से भी मसाज कर सकते हैं इससे लिंग में रक्त का प्रवाह तेजी से होने लगेगा। इससे पुरुषों में सेक्स करने की इच्छा जगती है और वह उत्तेजित होने लगता है। मसाज ऑयल के लिए गुलाब और चंदन जैसे आदि तेल से नियमित रूप से मालिश बेस्ट रिजल्ट दे सकती है। याद रहे इस दौरान मास्टरबेशन जैसी प्रक्रिया को न ही धोएराएं तो फायदेमंद हो सकता है। क्योंकि हर बार मालिश करने से लिंग उत्तेजित होगा और मन में मास्टरबेशन का ख्याल आएगा।

इस तरह के घरेलू उपचार अपपनाकर आप इरेक्टाइल डिसफंक्शन से छुटकारा पा सकते हैं। इसके आलावा अधिक जानकारी के लिए आप डॉक्टर से संपर्क करें।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर badge
Niharika Jaiswal द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 25/05/2021 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x