Enterogermina : एंटरोजर्मिना क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

Medically reviewed by | By

Update Date जून 22, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
Share now

जानिए मूल बातें

एंटरोजर्मिना (Enterogermina) का इस्तेमाल किसके लिए किया जाता है?

एंटरोजर्मिना एक प्रोबायोटिक है जिसका उपयोग आमतौर पर आंतों में अच्छे बैक्टीरिया को संतुलित करने के लिए किया जाता है। एंटीबायोटिक दवाओं या कीमोथैरेप्यूटिक उत्पादों के उपयोग के दौरान आंतों में बैक्टीरिया के संतुलन को एंटरोजर्मिना के प्रयोग से फिर से ठीक किया जा सकता है। एंटरोजर्मिना ओरल सस्पेंशन का उपयोग स्तनपान करने वाले शिशुओं में गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल विकारों को ठीक करने के लिए भी किया जा सकता है। ये गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल विकार का कारण विटामिन का असमान उत्पादन, बैक्टीरियल डिसऑर्डर और विटामिन के डिसऑर्गनाइजेशन (पाचन के बाद शरीर में पोषक तत्वों को अवशोषित करने की प्रक्रिया) होता है।

और पढ़ें : Pulmoclear: पलमोक्लिअर क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

संरचना (composition):

प्रत्येक बोतल में सक्रिय घटक: 2 हजार मिलियन बीजाणु मल्टीबायोटिक-प्रतिरोधी बैसिलस क्लॉसी (Bacillus clausii)।

प्रत्येक कैप्सूल में सक्रिय घटक: 2 हजार मिलियन बीजाणु मल्टीबायोटिक-प्रतिरोधी बेसिलस क्लॉसी।

मुझे एंटरोजर्मिना (Enterogermina) का इस्तेमाल कैसे करना चाहिए?

यह दवा दो रूपों में मार्केट में उपलब्ध है- 1. सिरप और 2. कैप्सूल

सिरप

  • सिरप का इस्तेमाल करने से पहले दवा की बोतल को अच्छी तरह से हिलाएं और उसके साथ दिए गए मापने वाले चम्मच से ही दवा की खुराक लें। घर में इस्तेमाल होने वाले चम्मच का उपयोग न करें।
  • दवा को सीधे ऐसे ही लें या फिर इसमें पानी या अन्य पेय (जैसे दूध, चाय, संतरा) पदार्थ मिलाकर भी ले सकते हैं।
  • बोतल को एक बार खोलने के बाद दवा का उपयोग थोड़े समय के लिए ही करने की सलाह दी जाती है।

कैप्सूल

  • पानी या किसी अन्य पेय पदार्थ के साथ कैप्सूल को निगलें।
  • छोटे बच्चों के लिए सिरप का ही उपयोग करें क्योंकि उन्हें कैप्सूल निगलने में परेशानी हो सकती है।

नोट – अगर दवा की खुराक लेना आप भूल जाते हैं तो जैसे ही याद आए दवा की डोज लें। लेकिन, इसे ज्यादा मात्रा में न लें और न ही खुराक को दोहराएं।

और पढ़ें : Menthol : मेंथॉल क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

मैं एंटरोजर्मिना (Enterogermina) को कैसे स्टोर करूं?

मार्केट में एंटरोजर्मिना (Enterogermina) के अलग-अलग ब्रांड हैं, जिन्हें स्टोर करने के लिए दिशा-निर्देश भी अलग-अलग हो सकते हैं। एंटरोजर्मिना को हमेशा रूम टेम्प्रेचर पर ही स्टोर करें। इसे धूप के सीधे प्रभाव या नमी में न रखें। इस दवा का इस्तेमाल करने से पहले उसके पैकेज पर लिखे जरूरी निर्देशों को अच्छे से पढ़ना चाहिए। अगर फिर भी कोई समस्या आती है तो अपने डॉक्टर से इसके बारे में पूछें। अगर यह एक्सपायर हो चुकी है, तो इसका इस्तेमाल न करें। एंटरोजर्मिना को बाथरूम या ठंडी जगह में नहीं रखना चाहिए। सुरक्षा के लिहाज से आपको इसे बच्चों और पालतू जानवरों की पहुंच से दूर रखना चाहिए।

दवा का इस्तेमाल न करने पर या उसके एक्सपायर होने पर, डॉक्टर के निर्देश के बिना इसे ना ही टॉयलेट में फ्लश करें और ना ही नाली में फेकें। सुरक्षित रूप से दवा को नष्ट करने के बारे में अपने फार्मासिस्ट से परामर्श करें।

और पढ़ें : Mometasone : मोमेटासोन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

सावधानियां और चेतावनी

एंटरोजर्मिना का उपयोग करने से पहले मुझे क्या पता होना चाहिए?

यदि आप दवा के किसी भी सक्रिय घटक या तत्व के प्रति संवेदनशील हैं, तो आपको इसका उपयोग नहीं करना चाहिए। एंटीबायोटिक दवाओं के साथ इस दवा का उपयोग न करने की सलाह दी जाती है।

क्या गर्भावस्था या स्तनपान के दौरान एंटरोजर्मिना (Enterogermina) का इस्तेमाल सुरक्षित है?

अभी तक पर्याप्त अध्ययन प्राप्त नहीं हैं कि गर्भावस्था के दौरान या स्तनपान के दौरान एंटरोजर्मिना का उपयोग करना कितना सुरक्षित है। एंटरोजर्मिना लेने से पहले उससे होने वाले लाभों और साइड इफेक्ट्स के बारे में हमेशा अपने डॉक्टर से परामर्श करें। एंटरोजर्मिना अमेरिकी खाद्य और औषधि प्रशासन (एफडीए) के अनुसार यह दवा जोखिम श्रेणी ‘ए’ के अंतर्गत आती है। एफडीए के द्वारा निर्धारित गर्भावस्था जोखिम श्रेणी-

A= कोई जोखिम नहीं

B= कुछ अध्ययनों में कोई जोखिम नहीं

C= कुछ जोखिम हो सकता है

D= जोखिम के सकारात्मक सबूत

X= विरोधाभाषी

N= अज्ञात।

और पढ़ें :  Glycomet : ग्लाइकोमेट क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

एंटरोजर्मिना (Enterogermina) के दुष्प्रभाव क्या हैं?

अभी तक कोई भी अवांछित प्रभाव नहीं बताए गए हैं। किसी भी तरह का असामान्य प्रभाव दिखने पर आपको तुरंत अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट को बताना चाहिए। नीचे बताए गए ये कुछ दुष्प्रभाव दिख सकते हैं। यदि आपको निम्नलिखित में से किसी भी दुष्प्रभाव का पता चलता है, तो अपने चिकित्सक से परामर्श लें।

यदि आपको किसी ऐसे साइड इफेक्ट का पता चलता है जो ऊपर नहीं बताया गया है तो चिकित्सीय सलाह के लिए अपने डॉक्टर से संपर्क करें।
इस दवा का इस्तेमाल सेहत के कुछ मामलों में खतरनाक हो सकता है। इसका सेवन करने से पहले अपने डॉक्टर और फार्मासिस्ट से अपनी मौजूदा स्वास्थ्य स्थितियों के बारे में बात करें। इस दवा के उपयोग और साइड इफेक्ट्स एक से दूसरे व्यक्ति में अलग-अलग हो सकते हैं। इसलिए, दवा का उपयोग करने से पहले डॉक्टर से परामर्श जरूर लेना चाहिए।

और पढ़ें : Isosorbide dinitrate : आइसोसोरबाइड डिनिट्रेट क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

इन जरूरी बातों को जानें

कौन-सी दवाएं एंटरोजर्मिना (Enterogermina) के साथ इस्तेमाल नहीं की जा सकती हैं?

यदि आप कोई औषधीय उत्पाद या अन्य दवाओं का उपयोग कर रहे हैं, तो एंटरोजर्मिना का इस्तेमाल करने से पहले अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से जरूर परामर्श करें। यदि आप एक ही समय में अन्य दवाओं या नॉन प्रिस्क्रिप्शन प्रोडक्ट्स का सेवन करते हैं तो दवा का प्रभाव कम हो सकता है। यह दुष्प्रभावों के प्रति आपके जोखिम को बढ़ा सकता है। इसलिए, उन सभी दवाओं, विटामिनों और हर्बल सप्लीमेंट के बारे में अपने डॉक्टर को बताएं जिनका आप प्रयोग कर रहे हैं।

और पढ़ें : Chlorpheniramine Maleate: क्लोरफेनीरामाइन मेलिएट क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

क्या भोजन या एल्कोहॉल के साथ एंटरोजर्मिना (Enterogermina) का इस्तेमाल किया जा सकता है?

किसी भी तरह के भोजन या दवा के साथ एंटरोजर्मिना के प्रभाव में कोई बदलाव नहीं देखा गया है। यदि आप कोई औषधीय उत्पाद ले रहे हैं, तो अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से परामर्श करें।

एंटरोजर्मिना (Enterogermina) खाने से स्वास्थ्य पर किस तरह का प्रभाव पड़ सकता है?

एंटरोजर्मिना का इस्तेमाल आपके सेहत के लिए कुछ मामलों में खतरनाक हो सकता है। इसका सेवन करने से पहले अपने डॉक्टर और फार्मासिस्ट से मौजूदा स्वास्थ्य स्थितियों के बारे में बात करें। हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सीय सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है।

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

संबंधित लेख:

क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
happy unhappy"
सूत्र

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

ब्रेस्टफीडिंग के कारण क्रैक निप्पल की समस्या दूर करने के आसान उपाय

ब्रेस्टफीडिंग के कारण क्रैक निप्पल की समस्या क्या सामान्य है? ब्रेस्टफीडिंग के कारण क्रैक निप्पल को आसानी से ठीक किया जा सकता है?

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Kanchan Singh
स्तनपान, पेरेंटिंग मई 18, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

क्यों होती है प्रेग्नेंसी में सूजन की समस्या?

जानिए प्रेग्नेंसी में सूजन की समस्या क्यों होती है? गर्भावस्था में सूजन की समस्या से कैसे बचें? Swelling के कारण क्या हैं?

Medically reviewed by Dr. Pooja Daphal
Written by Nidhi Sinha
प्रेग्नेंसी स्टेजेस, प्रेग्नेंसी अप्रैल 4, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

मैन्युअल थेरिपी (Manual therapy) क्या है? जानें दर्द दूर करने में कैसे करती है मदद

जानिए मैन्युअल थेरिपी क्या है in hindi. मैन्युअल थेरिपी कैसे दी जाती है? Manual therapy के साथ-साथ कौन से अन्य थेरिपी हैं, जिससे शारीरिक परेशानी होगी दूर?

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Nidhi Sinha
हेल्थ टिप्स, स्वस्थ जीवन मार्च 26, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

Datura wrightii: धतूरा क्या है?

जानिए धतूरा की जानकारी in hindi, फायदे, लाभ, धतूरा उपयोग, इस्तेमाल कैसे करें, कब लें, कैसे लें, कितना लें, खुराक, datura wrightii डोज, ओवरडोज, साइड इफेक्ट्स, नुकसान, दुष्प्रभाव और सावधानियां।

Medically reviewed by Dr. Hemakshi J
Written by Sunil Kumar
जड़ी-बूटी A-Z, ड्रग्स और हर्बल मार्च 20, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

Recommended for you

कोनकोर टैबलेट

Concor Tablet: कोनकोर टैबलेट क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Satish Singh
Published on जून 30, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें
बेटनोवेट जीएम

Betnovate GM: बेटनोवेट जीएम क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Satish Singh
Published on जून 18, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें
दही के लाभ

उम्र की लंबी पारी खेलने के लिए, करें योगर्ट का सेवन जरूर

Medically reviewed by Dr. Pooja Daphal
Written by Shikha Patel
Published on जून 16, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
ब्रा फीटिंग गाइड

ब्रा फीटिंग गाइड : जो हर लड़की हो जानना है जरूरी

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Shayali Rekha
Published on मई 19, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें