home

What are your concerns?

close
Inaccurate
Hard to understand
Other

लिंक कॉपी करें

Ciplox 500: सिप्लोक्स 500 क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

फंक्शन|डोसेज|उपयोग|साइड इफेक्ट्स|सावधानियां और चेतावनी|रिएक्शन|स्टोरेज
Ciplox 500: सिप्लोक्स 500 क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

फंक्शन

सिप्लोक्स 500 (Ciplox 500) कैसे काम करता है?

सिप्लोक्स 500 (Ciplox 500) एक एंटीबायोटिक है। इसमें 500 मिलीग्राम सिप्रोफ्लोक्सासिन (हाइडरोक्लॉराइड के रूप में) समायोजित होता है। इसके अलावा सेल्यूलोज, माइक्रोक्रिस्टलाइन, मेज स्टार्च, सिलिका कोलाइडल का भी समायोजन होता है। जिसका उपयोग बैक्टीरिया के संक्रमण के उपचार में किया जाता है। यह फ्लोरोक्विनोलोन एंटीबायोटिक है जो शरीर में बैक्टीरिया से लड़ने का कार्य करता है। इसका उपयोग विभिन्न प्रकार के जीवाणु संक्रमणों का इलाज करने के लिए किया जाता है, जिसमें स्किन इंफेक्शन, हड्डियों में ज्वाइंट इंफेक्शन, साइनस संक्रमण,निमोनिया, मूत्र पथ के संक्रमण, और कुछ प्रकार के दस्त शामिल हैं। इसका उपयोग गोनोरिया के इलाज के लिए भी किया जाता है। यह सूक्ष्मजीवों के विकास को रोककर आपके इंफेक्शन को ठीक करता है। सिप्लोक्स 500 का उपयोग उन लोगों के इलाज के लिए भी किया जाता है। जो एंथ्रेक्स या कुछ प्रकार के प्लेग के संपर्क में आए हैं।

सिप्लोक्स 500 का उपयोग इन कारणों से किया जाता है।

  • एंथ्रेक्स संक्रमण
  • प्लेग
  • मूत्रमार्ग संक्रमण
  • ज्वाइंट इंफेक्शन
  • लोअर रेस्पिरेटरी ट्रैक्ट इन्फेक्शन
  • साइनस
  • क्रोनिक बैक्टीरियल प्रोस्टेटाइटिस
  • डायरिया
  • पेट में संक्रमण
  • ग्रीवा संक्रमण
  • स्किन इनफेक्शन
  • निमोनिया

और पढ़ें:Sertaconazole : सेरटाकोंजोल क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

डोसेज

सिप्लोक्स 500 का उपयोग आपके बीमारी की स्थिति और आपकी उम्र पर निर्भर करता है। डॉक्टर आपकी स्थिति के आधार पर आपका डोज निर्धारित करता है।

सिप्लोक्स 500 (Ciplox 500) का सामान्य डोज क्या है?

वयस्कों के लिए इसका डोज अलग-अलग संक्रमण के लिए अलग तरह से निर्धारित किया गया है। जैसे, जटिल मूत्र संक्रमण के इलाज के लिए दिन में एक बार 1000 मिलीग्राम डोज बताया जाता है। प्लेग के इलाज के लिए, 500 से 750 मिलीग्राम दिन में 2 बार 14 दिनों के लिए हर 12 घंटे में लिया जाता है। वहीं अन्य संक्रमण के लिए 250 से 750 मिलीग्राम दिन में 2 बार, हर 12 घंटे में लिया जाता है। ध्यान रखें ये मात्र जानकारी है। आप इस दवा का प्रयोग बिना डॉक्टर की सलाह के न लें।

सिप्लोक्स 500 (Ciplox 500) का बच्चे के लिए सामान्य डोज क्या है?

बच्चों को यह दवा डॉक्टर के परामर्श पर ही देना चाहिए।

ओवरडोज या आपात स्थिति में मुझे क्या करना चाहिए?

आपात या ओवरडोज की स्थिति में तुरंत अपने नजदीकी डॉक्टर या आपातकालीन सेवा से संपर्क करें।

सिप्लोक्स 500 (Ciplox 500) का डोज मिस हो जाए तो क्या करूं?

यदि आप एक खुराक लेना भूल जाते हैं, तो जैसे ही आपको याद आए, इसे समय पर ले लें। यदि अगली खुराक का समय पास है, तो छूटी हुई खुराक को छोड़ दें। नियमित समय पर अपनी अगली खुराक लें। इसके साथ ही आपको यह बात ध्यान में रखना है कि आपको दो डोज एक साथ नहीं लेना है। इससे आपकी स्थिति खराब हो सकती है।

और पढ़ें:Tamsulosin + Dutasteride : टेम्सुलोसिन + डुटास्टेराइड क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

उपयोग

मुझे सिप्लोक्स 500 (Ciplox 500) का इस्तेमाल कैसे करना चाहिए?

  • सबसे पहले सिप्लोक्स का उपयोग करने के लिए, दवा पर लिखी गाइडलाइन पढ़ें। इसके साथ ही डॉक्टर द्वारा दिए गए निर्देश का पालन करें। आमतौर पर इसे दिन में दो बार 12 घंटे के अंतर पर लिया जाता है।
  • सिप्लोक्स 500 का इस्तेमाल आपके डॉक्टर द्वारा बताई गई खुराक और अवधि में किया जाना चाहिए। यह भोजन के साथ या बिना, निश्चित समय पर लिया जा सकता है। किसी भी खुराक को लेने में किसी प्रकार से लापरवाही करने से बचें। इसके साथ ही यह ध्यान में रखें बेहतर महसूस होने पर भी उपचार का कोर्स आपको पूरा करना है। कभी भी डोज को ओवरडोज न लें।
  • दवा का डोज और अवधि डॉक्टर द्वारा तय की जाती है। इस दवा को लेते समय बहुत अधिक मात्रा में पानी पिएं।
  • इस दवा के उपयोग से 2 घंटे पहले या 6 घंटे बाद ही किसी ऐसे तत्व का उपयोग करें, जो इस दवा के प्रभाव को कम कर सकता है। इस बारे में विस्तार से अपने डॉक्टर से बात करें।

[mc4wp_form id=”183492″]

  • यह एक टेबलेट, कैप्सूल और सिरप के रूप में आता है। यह हेल्थकेयर प्रदाता द्वारा नस में इंजेक्शन के रूप में भी दिया जा सकता है। यह प्रभावित आंखों पर प्रयोग करने के लिए आई ड्रॉप के रूप में भी उपलब्ध है।
  • अगर आपको इसके किसी भी तत्व से एलर्जी है तो आपको यह दवा नहीं लेनी चाहिए। शायद कुछ लोगों को गंभीर एलर्जी प्रतिक्रिया हो सकती है जिस पर तत्काल ध्यान देने की आवश्यकता होती है। इसके संकेतों में दाने, जीभ, चेहरा, होंठों की सूजन, सांस लेने में तकलीफ शामिल है। इस दवा को लेते समय किडनी की समस्या वाले लोगों को अधिक ध्यान रखना चाहिए।
  • डेयरी उत्पादों जैसे दूध, दही या कैल्शियम युक्त खाद्य पदार्थ भी इस दवा के प्रभाव को कम कर सकते हैं। कैल्शियम युक्त खाद्य पदार्थ खाने के कम से कम 2 घंटे पहले या 6 घंटे बाद इस दवा को लें।
  • अच्छे प्रभाव के लिए, इस एंटीबायोटिक के डोज के बीच एक समान दूरी रखें। आपको याद रखने में मदद करने के लिए, इस दवा को हर दिन एक ही समय पर लें।
  • अपने चिकित्सक को बताएं यदि आपकी स्थिति वैसे ही बनी रहती है या बदतर हो जाती है।

और पढ़ें:Tryptomer : ट्रिप्टोमर क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

साइड इफेक्ट्स

सिप्लोक्स 500 (Ciplox 500) के क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?

यदि डॉक्टर ने आपको यह दवा लिखी है, इसका यह अर्थ है कि इसके लाभ साइड इफेक्ट्स के जोखिम से अधिक हैं। इस दवा के उपयोग से गंभीर एलर्जी प्रतिक्रिया होना दुर्लभ है, लेकिन इसके मामूली दुष्प्रभाव हैं जिसमें मतली, दस्त, चक्कर आना, सिरदर्द सोने में परेशानी हो सकती है। यदि इनमें से कोई भी प्रभाव लगातार बना रहता है, तो अपने चिकित्सक या फार्मासिस्ट को तुरंत बताएं। यदि आपको किसी प्रकार के गंभीर दुष्प्रभाव दिखाई देते हैं, तो अपने चिकित्सक को तुरंत बताएं। जो निम्म प्रकार हैं।

  • रक्तस्राव
  • लगातार बुखार,
  • लगातार गले में खराश
  • किडनी की समस्याओं के संकेत
  • यूरिन में ब्लड आना
  • लिवर की समस्याओं के संकेत
  • बेहोशी
  • असामान्य थकान
  • पेट में दर्द
  • लगातार उल्टी
  • छाती में अचानक दर्द
  • आंखों, त्वचा का पीला होना
  • गंभीर चक्कर आना
  • अनियमित धड़कन
  • पेट में गंभीर दर्द
  • सांस की तकलीफ
  • पीठ दर्द
  • खांसी

इन लक्षणों में से कोई भी लक्षण होने पर आप डायरिया-रोधी या ओपिओइड दवाओं का उपयोग न करें क्योंकि ये उत्पाद उन्हें बदतर बना सकते हैं। लंबे समय तक या बार-बार पीरियड्स के लिए इस दवा का उपयोग करने से मौखिक थ्रश और खमीर संक्रमण हो सकता है। यदि आप अपने मुंह में सफेद धब्बे, योनि स्राव में बदलाव या अन्य नए लक्षणों को देखते हैं, तो अपने डॉक्टर से संपर्क करें।

और पढ़ें:Dextromethorphan : डेक्सट्रोमेथोर्फेन क्या है? जानिए इसका उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

सावधानियां और चेतावनी

सिप्लोक्स 500 (Ciplox 500) का इस्तेमाल करने से पहले मुझे क्या जानना चाहिए?

  • यह दवा लेने से पहले, अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट को बताएं कि क्या आपको एलर्जी की समस्या है। डॉक्टर को यह भी बताएं अगर आपको इन दवाओं से एलर्जी होती है जैसे, नॉरफ्लोक्सासिन, जेमिफ्लोक्सासिन, लेवोफ्लॉक्सासिन, मोक्सीफ्लोक्सासिन या ओक्सोलसिन; या यदि आपको कोई अन्य एलर्जी है।
  • सिप्लोक्स 500 का उपयोग करने से पहले, अपने चिकित्सक या फार्मासिस्ट को उन सभी दवाओं के बारे में बताएं जो आप लेते हैं। बच्चे इस दवा के दुष्प्रभावों के प्रति अधिक संवेदनशील हो सकते हैं।
  • इस दवा का उपयोग करने से पहले, अपने चिकित्सक को अपनी मेडिकल हिस्ट्री और मेडिकल कंडिशन के बारे में बताएं। यदि आपको मधुमेह, हृदय की समस्याएं, किडनी की बीमारी, लिवर रोग, अवसाद, मायस्थेनिया ग्रेविस, तंत्रिका समस्याएं, दौरे, सिर पर चोट, मस्तिष्क ट्यूमर, उच्च रक्तचाप इन बीमारियों के बारे में खुलकर डॉक्टर को बताएं।
  • यह दवा लेते समय अधिक कैफीन का उपयोग लेने से बचना चाहिए। यह दवा के प्रभाव पर असर डाल सकता है।
  • इस दवा का उपयोग करने के बाद आप ड्राइविंग करने से बचें। यह आपकी सतर्कता कम कर सकता है, आपकी दृष्टि को प्रभावित कर सकता है या आपको नींद और चक्कर महसूस करा सकता है। इस कारण से ऐसी अवस्था में गाड़ी न चलाएं।
  • यह दवा आपको सूरज के प्रति अधिक संवेदनशील बना सकती है। हो सके तो इसका प्रयोग करते समय आप धूप में सीमित समय तक ही रहे। बाहर जाने पर सनस्क्रीन का प्रयोग जरूर करें और शरीर को पूरी तरह से ढ़कने वाले कपड़े पहनें। अपने चिकित्सक को तुरंत बताएं यदि आप धूप में झुलस गए हैं या त्वचा पर लालिमा नजर आने लगती है।

और पढ़ें:Paracetamol : पैरासिटामोल क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

यह दवा ब्लड शुगर लेवल में गंभीर परिवर्तन का कारण बन सकती है। खासकर अगर आपको मधुमेह है। इसलिए इसका उपयोग करते समय नियमित रूप से बल्ड शुगर की जांच करें और अपने डॉक्टर के साथ परिणाम साझा करें। यदि आपका बल्ड शुगर हाई है तो आप इसके लक्षण स्वंय ही महसूस कर सकते हैं। इसके लक्षणों में आपको बार-बार प्यास लगती है, पेशाब में वृद्धि होती है। वहीं लो ब्लड शुगर के लक्षणों में अचानक पसीना आना, कंपकंपी, तेज धड़कन, भूख, धुंधली दृष्टि, चक्कर आना या हाथ-पैर मरोड़ना शामिल हैं। लो बल्ड शुगर के इलाज के लिए ग्लूकोज की गोलियां मददगार होती हैं। इसको रोकने में मदद करने के लिए, नियमित समय पर भोजन करना भी आवश्यक है। यदि कोई प्रतिक्रिया होती है, तो डॉक्टर किसी अन्य एंटीबायोटिक को बदलने या मधुमेह दवाओं को समायोजित कर सकता है।

क्या प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान सिप्लोक्स 500 (Ciplox 500) को लेना सुरक्षित है?

स्तनपान के दौरान सिप्लोक्स 500 का इस्तेमाल तभी करें जब बहुत जरूरी हो। सीमित डेटा से पता चलता है कि दवा बच्चे को किसी प्रकार के महत्वपूर्ण जोखिम नहीं पहुंचाती है। स्तनपान कराने से पहले अपने चिकित्सक से परामर्श करें। गर्भावस्था के दौरान, इस दवा का उपयोग केवल तब किया जाना चाहिए जब स्पष्ट रूप से आवश्यक हो। अपने डॉक्टर से जोखिम और फायदों पर चर्चा करें।

क्या सिप्लोक्स 500 (Ciplox 500) एल्कोहॉल के साथ रिएक्शन करती है?

किसी विशेष डायट या शराब के सेवन के साथ डॉक्टर दवा की खुराक लेने के बारे में सलाह नहीं देते हैं।

रिएक्शन

कौन-सी दवाइयां सिप्लोक्स 500 (Ciplox 500) के साथ रिएक्शन कर सकती हैं?

कुछ दवाएं एक ही समय में ली जाने पर सिप्रोफ्लोक्सासिन को बहुत कम प्रभावी बना सकती हैं। जो इस प्रकार से हैं। अपने चिकित्सक को अपनी सभी अन्य दवाओं के बारे में बताएं। यदि आप इनका सेवन करते हैं। अल्सर की दवा सुक्रालफेट, या एंटासिड जिसमें कैल्शियम, मैग्नीशियम, या एल्युमीनियम होता है जैसे मालॉक्स, मिल्क ऑफ मैग्नेशिया, मायलांटा, कैफीन, रोलायड्स, टम्स।विटामिन या खनिज की खुराक जिसमें कैल्शियम, लोहा, मैग्नीशियम या जस्ता होता है। साइक्लोस्पोरिन, मेथोट्रेक्सेट, मेटोक्लोप्रामाइड, फिनाइटोइन, प्रोबेनेसिड, रोपिनीरोले, सिल्डेनाफिल या थियोफिलाइन, इंसुलिन, स्टेरॉयड दवा। इन दवाओं का प्रयोग करने पहले अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

और पढ़ें:Chymotrypsin: कायमोट्रिप्सिन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

स्टोरेज

मैं सिप्लोक्स 500 (Ciplox 500) को कैसे स्टोर करूं?

इसको बच्चो की पहुंच से दूर रखें। प्रकाश, गर्मी, नमी से दूर रखें। साधारण कमरे के तापमान पर एक बंद कंटेनर में दवा स्टोर करें। दवा को अधिक ठंड से बचाए रखें। रेफ्रिजरेटर में नहीं रखें। 15-25 डिग्री सेल्सियस के कमरे के तापमान पर स्टोर करें।

सिप्लोक्स 500 (Ciplox 500) किस रूप में उपलब्ध है?

  • लिक्वीड
  • टेबलेट
  • कैप्सूल
  • आई ड्रॉप

अधिक जानकारी के लिए डॉक्टर से संपर्क करें।

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान और उपचार प्रदान नहीं करता।

संबंधित लेख:

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र
लेखक की तस्वीर badge
shalu द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 29/06/2020 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड