home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

Dolokind Plus: डोलोकाइंड प्लस क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

फंक्शन|डोसेज|इस्तेमाल|साइड इफेक्ट्स|सावधानियां और चेतावनी|ये जरूरी बातें जानें
Dolokind Plus: डोलोकाइंड प्लस क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

फंक्शन

डोलोकाइंड प्लस (Dolokind Plus) कैसे काम करती है?

डोलोकाइंड प्लस में एसिक्लोफेनेक और पैरासिटामोल तत्व पाए जाते हैं। आमतौर पर इस दवा का इस्तेमाल शरीर में दर्द और सूजन को दूर करने के लिए किया जाता है। ऑस्टियोअर्थराइटिस, रयूमेटाइड अर्थराइटिस और एंक्युलोसिंग स्पोंडिलोसिस (Ankylosing Spondylitis) में ये रिकमेंड की जाती है। ये दवा शरीर में दर्द और सूजन पैदा करने वाले रसायनों को ब्लॉक करती है। बुजुर्गों को जोड़ों में दर्द के लिए भी ये दवा रिकमेंड की जाती है।

मैं डोलोकाइंड प्लस (Dolokind Plus) को कैसे स्टोर करूं?

डोलोकाइंड प्लस के लेबल पर उसे स्टोर करने से जुड़े कुछ नियम लिखे होंगे। एक बार इन्हें अच्छे से पढ़ें। इसके अलावा इसे कमरे के तापमान में सीधी धूप और नमी से दूर स्टोर करना सबसे बेहतर होगा। सुरक्षा की दृष्टि से सभी दवाइयों को अपने बच्चों और पेट्स से दूर रखें। दवा को कभी भी टॉयलेट में फ्लश न करें। दवा की जरूरत ना होने या एक्सपायरी की स्थिति में दवा का समुचित तरीके से निस्तारण जरूरी है। सुरक्षित तरीके से इसका निस्तारण करने के लिए अपने फार्मासिस्ट से सलाह लें।

और पढ़ें: Paracetamol : पैरासिटामोल क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

डोसेज

यहां पर दी गई जानकारी को डॉक्टर की सलाह का विकल्प न मानें। किसी भी दवा या सप्लिमेंट का इस्तेमाल करने से पहले हमेशा डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

डोलोकाइंड प्लस (Dolokind Plus) की व्यस्कों के लिए क्या डोज है?

  • 100 mg की टैबलेट दिन में दो बार
  • पहला डोज सुबह और दूसरा डोज शाम को
  • दिन में अधिकतम दो टेबलेट ली जा सकती हैं

हालांकि इसकी खुराक हर मरीज के लिए अलग हो सकती है। आपके द्वारा ली जाने वाली खुराक आपकी उम्र, स्वास्थ्य और अन्य कई चीजों पर निर्भर करती है। इसलिए सही खुराक की जानकारी के लिए डॉक्टर से चर्चा करें।

डोलोकाइंड प्लस (Dolokind Plus) किन रूपों में उपलब्ध है?

  • डोलोकाइंड टैबलेट 100 मिलीग्राम
और पढ़ें : Flurbiprofen: फ्लरबीप्रोफेन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

इस्तेमाल

मैं डोलोकाइंड प्लस (Dolokind Plus) को कैसे इस्तेमाल करूं?

  • डोलोकाइंड प्लस का इस्तेमाल भोजन के बाद किया जाता है। खाली पेट इसे लेने से पेट में जलन की शिकायत हो सकती है। इसलिए इसे हमेशा खाना खाने के बाद लेने की सलाह दी जाती है।
  • दवा का इस्तेमाल बिल्कुल वैसे करना चाहिए जैसे आपके चिकित्सक ने इसे आपके लिए रिकमेंड किया है।
  • दवा को हमेशा समान अंतराल में लें। दिन में इसकी दो डोज दी गई है तो दोनों डोज के बीच समान अंतराल होना चाहिए। दवा को रोजाना एक ही समय पर लें।
  • टैबलेट को कभी भी पीसकर या चबाकर नहीं लेना चाहिए। टैबलेट को हमेशा एक ग्लास पानी के साथ निगल कर लेना चाहिए।
और पढ़ें : सीफोटेक्सीम क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

इमरजेंसी या ओवरडोज होने की स्थिति में क्या करना चाहिए?

इमरजेंसी या ओवरडोज होने की स्थिती में अपने स्थानीय आपातकालीन सेवाओं को कॉल करें या अपने नजदीकी इमरजेंसी वॉर्ड में जाएं।

अगर एक खुराक लेना भूल जाएं तो क्या करना चाहिए?

अगर डोलोकाइंड प्लस की खुराक लेना भूल जाते हैं तो याद आने पर जल्द से जल्द अपनी खुराक लें। हालांकि, अगर इसके कुछ ही समय बाद आपको अपनी अगली खुराक लेनी हो तो इसे न लें और अपनी नियमित खुराक के अनुसार ही इसका सेवन करते रहें।

और पढ़ें : Sucralfate : सुक्रालफेट क्या है? जानिए उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

साइड इफेक्ट्स

डोलोकाइंड प्लस (Dolokind Plus) से मुझे क्या साइड इफेक्ट्स होते हैं?

डोलोकाइंड प्लस का सेवन करने से कुछ लोगों में निम्नलिखित साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं:

ऊपर बताए गए साइड इफेक्ट्स के अलावा भी डोलोकाइंड के कुछ साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं। इसमें से कुछ साइड इफेक्ट्स ऐसे भी हैं जो दुर्लभ मामलों में ही सामने आते हैं, लेकिन गंभीर होते हैं। यदि आप इसके साइड इफेक्ट्स को लेकर चिंतित हैं तो अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से सलाह लें।

सावधानियां और चेतावनी

डोलोकाइंड प्लस (Dolokind Plus) का इस्तेमाल करने से पहले मुझे क्या पता होना चाहिए?

  • अगर आपको एंटी इंफ्लेमेटरी पेनकिलर दवा से एलर्जी है तो इस दवा का इस्तेमाल न करें।
  • यदि आपको लिवर या किडनी रोग है तो डोलोकाइंड प्लस का सेवन बिल्कुल न करें क्योकि ये दोनों दवा ही किडनी और लिवर पर असर डालती हैं।
  • आपके गुर्दे से संबंधित कोई परेशानी है तो भी इसे एवॉइड करना बेहतर होगा।
  • जिन लोगों को ब्लीडिंग की परेशानी होती है वो भी इसका इस्तेमाल न करें। इससे गंभीर सूजन और पेट, एनस, कोलन में ब्लीडिंग हो सकती है।
  • हाई ब्लड प्रेशर पेशेंट्स को भी इस दवा को नहीं लेना चाहिए।
  • दवा को लेने के बाद अगर आपको लिवर की बिमारी के लक्षण विकसित होते हैं तो तुरंत इसका इस्तेमाल बंद कर दें।
  • इस दवा को लंबे समय तक लेने से कार्डियोवस्क्युसर डिसीज होने का खतरा बढ़ता है।
  • हाइपरटेंशन और कंजेस्टिव हार्ट फेलियर की हिस्ट्री वाले मरीजों में इस दवा का सेवन करते वक्त उनकी हेल्थ को जरूर मॉनीटर करना चाहिए।

क्या प्रेग्नेंसी या स्तनपान से दौरान डोलोकाइंड प्लस (Dolokind Plus) लेना सुरक्षित है?

प्रेग्नेंसी: महिलाओं में इस दवा का असर फर्टिलिटी पर पड़ता है। इसलिए अगर आप गर्भधारण का प्लान कर रही हैं तो इस दवा को न लें। गर्भावस्था के दौरान इस दवा का सेवन सुरक्षित नहीं है।

ब्रेस्टफीडिंग: स्तनपान के दौरान डोलोकाइंड का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। यदि जरूरत पड़े तो डॉक्टर की सलाह पर सावधानीपूर्वक इसका इस्तेमाल करें।

और पढ़ें: Omee: ओमी क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

ये जरूरी बातें जानें

डोलोकाइंड प्लस (Dolokind Plus) के साथ किन दवाओं का सेवन न करें?

लिथियम- डोलोकाइंड प्लस के साथ लिथियम का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। इससे शरीर में लिथियम की मात्रा अधिक हो सकती है जो नुकसानदायक हो सकती है।

कोर्टिकोस्टेरॉयड- कोर्टिकोस्टेरॉयड के साथ डोलोकाइंड प्लस लेने से जठरांत्र की ब्लीडिंग का खतरा बढ़ सकता है।

डिगोक्सिन- डिगोक्सिन हार्ट पेशेंट्स को दी जाती है। डिगोक्सिन और डोलोकाइंड प्लस को साथ में लेने की सलाह नहीं दी जाती है। इससे साइड इफेक्ट्स होने का खतरा रहता है।

एंटीहाइपरटेंसिव दवाइयां: डोलोकाइंड के साथ हाई ब्लड प्रेशर में इस्तेमाल की जाने वाली दवाइयों का सेवन नहीं करना चाहिए। इससे बुजुर्गों में गुर्दे खराब होने का खतरा रहता है।

क्या भोजन या एल्कोहॉल के साथ डोलोकाइंड प्लस (Dolokind Plus) का इस्तेमाल किया जा सकता है?

एल्कोहॉल के साथ ये दवा इंटरैक्ट कर सकती है। इससे पेट की ब्लीडिंग का खतरा बढ़ जाता है। इसके अलावा किसी खास डायट के साथ इसका इस्तेमाल करें या नहीं इसके बारे में जानने के लिए अपने डॉक्टर से कंसल्ट करें।

डोलोकाइंड प्लस (Dolokind Plus) खाने से स्वास्थ्य पर किस तरह का प्रभाव पड़ सकता है?

अपनी मेडिकल कंडिशन के बारे में अपने डॉक्टर संग हर एक चीज शेयर करें। यदि आपको निम्नलिखित में से कोई परेशानी है तो डोलोकाइंड प्लस का सेवन न करें:

  • गुर्दे और लिवर से जुड़ी किसी परेशानी से पीढ़ित हैं तो लोगों को इसका सेवन नहीं करना चाहिए।
  • हृदय रोग से पीढ़ित लोगों को इसका सेवन नहीं करना चाहिए।
  • अस्थमा के मरीजों को इसका सेवन नहीं करना चाहिए।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर
Dr. Pranali Patil के द्वारा मेडिकल समीक्षा
Mona narang द्वारा लिखित
अपडेटेड 30/12/2019
x