backup og meta

Hyoscine Butylbromide: ह्योसिन ब्यूटिलब्रोमाइड क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

के द्वारा मेडिकली रिव्यूड डॉ. प्रणाली पाटील · फार्मेसी · Hello Swasthya


Anu sharma द्वारा लिखित · अपडेटेड 19/10/2020

Hyoscine Butylbromide: ह्योसिन ब्यूटिलब्रोमाइड क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

उपयोग

ह्योसिन ब्यूटिलब्रोमाइड (Hyoscine Butylbromide) का इस्तेमाल किसके लिए किया जाता है?

ह्योसिन ब्यूटिलब्रोमाइड एक एंटीस्पास्मोडिक दवा है। ह्योसिन ब्यूटिलब्रोमाइड का प्रयोग पेट, मूत्राशय या आंत की ऐंठन आदि को दूर करने के लिए किया जाता है। इसका प्रयोग अकेले या अन्य दवाइयों के साथ इसे मिला कर कई लक्षणों का उपचार करने के लिए भी किया जाता है जैसे पेट दर्द, सूजन, अपच, दस्त, आदि। यह दवाई जठरांत्र (gastrointestinal) और मूत्र प्रणाली में कुछ मांसपेशियों को आराम दिलाने में भी मददगार है। ह्योसिन ब्यूटिलब्रोमाइड को ब्यूटिलब्रोमाइड सकपोलमीड के नाम से भी जाना जाता है।

इन स्थितियों में इस दवाई का प्रयोग किया जाता है

  • गैस या जेनिटो –यूरिनरी ट्रैक्ट में तीव्र ऐंठन 
  • पेट और आंतों में होने वाली ऐंठन
  • एंडोस्कोपी या रेडियोलॉजी प्रेमेडिकशन
  • इरिटेबल बॉवेल सिंड्रोम
  • और पढ़ें : Diclofenac sodium : डिक्लोफिनेक सोडियम क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

    ह्योसिन ब्यूटिलब्रोमाइड (Hyoscine Butylbromide) का इस्तेमाल कैसे करना चाहिए?

    • ह्योसिन ब्यूटिलब्रोमाइड का प्रयोग करने से पहले इसके पैकेट के ऊपर या पैकेट के अंदर के लीफलेट पर लिखी पूरी जानकारी को अच्छे से पढ़ लें। इससे आपको इसके साइड इफेक्टस या इससे होने वाले अन्य प्रभावों के बारे में पूरी जानकारी मिल जाएगी।
    • इस दवाई का इस्तेमाल वैसे ही करें जैसे आपके डॉक्टर ने आपको बताया हो।
    • अगर आप को इस दवाई या किसी भी दवाई से एलर्जी हो या कभी भी कोई एलर्जी रही हो तो इस दवाई को न लें।

    इस दवाई को लेने से पहले यह बात बहुत आवश्यक है कि आपके डॉक्टर या फार्मासिस्ट को आपकी इन समस्याओं के बारे में पता हो, जैसे :

    1. ग्लूकोमा

    2. हाई ब्लड प्रेशर

    3. मांसपेशियों में कमजोरी

    सामान्यतया इस दवाई की एक या दो टेबलेट दिन में तीन बार लेने की सलाह दी जाती है। लेकिन जरूरत पड़ने पर डॉक्टर आपकी खुराक में बदलाव भी कर सकते हैं। इस दवाई को पानी के साथ निगलें। इस दवाई को आप भोजन से पहले या बाद में भी ले सकते हैं।

    ह्योसिन ब्यूटिलब्रोमाइड को कैसे स्टोर करूं?

    ह्योसिन ब्यूटिलब्रोमाइड को हमेशा रूम टेंपरेचर पर ही स्टोर करें। इसे धूप के सीधे प्रकाश या नमी से दूर रखें। इसे डैमेज होने से बचाने के लिए कभी भी इसे फ्रीज में स्टोर करके न रखें। इसके अलग-अलग ब्रांड हो सकते हैं, जिनको स्टोर करने के दिशा-निर्देश भी अलग-अलग हो सकते हैं। । सुरक्षा के लिए, आपको सभी दवाओं को बच्चों और पालतू जानवरों से दूर रखना चाहिए।

    दवा का इस्तेमाल न करने पर या उसके एक्सपायर होने पर, डॉक्टर के निर्देश के बिना इसे न ही टॉयलेट में फ्लश करें और न ही नाली में फेकें। सुरक्षित रूप से दवा को नष्ट करने के बारे में अपने फार्मासिस्ट से परामर्श करें।

    और पढ़ें : Enalapril : इनालाप्रिल क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

    [mc4wp_form id=’183492″]

    सावधानियां और चेतावनी

    ह्योसिन ब्यूटिलब्रोमाइड (Hyoscine Butylbromide) का उपयोग करने से पहले मुझे क्या पता होना चाहिए?

    ओरल फॉर्म

    ह्योसिन ब्यूटिलब्रोमाइड को डॉक्टर की सलाह के अनुसार ही लेना चाहिए। इसकी डोज को अपनी मर्जी से अधिक और कम मात्रा में नहीं लेना चाहिए। अगर आपको कोई भी साइड इफेक्ट होता है तुरंत मेडिकल हेल्प लें। 

    इस बात को भी सुनिश्चित कर लें कि इस दवाई को सही समय पर सही तरीके से लें। डॉक्टर की सलाह के बिना इसे लेना न बंद करें। 

    इंजेक्शन

    • अगर इस दवाई को इंजेक्शन के रूप में लेना है तो किसी प्रोफेशनल डॉक्टर से लगवाएं। डॉक्टर की सलाह न भूलें। अगर आपको इस दवाई से एलर्जी है तो वो भी डॉक्टर को अवश्य बता दें। यही नहीं, अगर आप किसी अन्य दवाई का सेवन कर रहे हैं तो उसके बारे में भी डॉक्टर को बताएं।
    • डॉक्टर के बताये अनुसार ही इसकी डोज लें। अपनी इच्छा से इसकी कम या अधिक डोज न लें। अगर कोई समस्या हो तो तुरंत अपने डॉक्टर से मिले। 
    • यह दवाई किन्ही स्थितियों में बच्चों में प्रयोग की जा सकती है। लेकिन, इसका बच्चों को केवल डॉक्टर के कहे अनुसार और सलाह के बाद ही प्रयोग करना चाहिए।
    • इस दवाई को उन लोगों को नहीं दिया जाता जिनका पहले से ही एंटीकौयगुलांट (Anticoagulant) दवाओं से उपचार हो रहा हो।

    क्या प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान ह्योसिन ब्यूटिलब्रोमाइड लेना सुरक्षित है?

    ह्योसिन ब्यूटिलब्रोमाइड को प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग की स्थिति में न लेने की सलाह दी जाती है। इस दौरान इस दवाई से होने वाले जोखिम या फायदों के बारे में जान लें। प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग में इस दवाई की जगह डॉक्टर आपको कोई अन्य दवाई भी दे सकते हैं।

    और पढ़ें : कहीं आपकी लो सेक्स ड्राइव (low sex drive) का कारण ये दवाएं तो नहीं?

    जानिए इसके साइड इफेक्ट्स

    ह्योसिन ब्यूटिलब्रोमाइड (Hyoscine Butylbromide) के साइड इफेक्ट्स

    ह्योसिन ब्यूटिलब्रोमाइड के प्रयोग से निम्नलिखित साइड इफेक्ट्स देखने को मिल सकते हैं:

    • असामान्य हार्ट रेट
    • मुंह का सूखना
    • दृष्टि में समस्या
    • मूत्र त्याग में समस्या
    • चक्कर आना
    • ब्लड प्रेशर का कम होना
    • डायरिया
    • कब्ज
    • और पढ़ें : Lidocaine : लिडोकेन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

      इन जरूरी बातों को जानें

      कौन-सी दवाएं ह्योसिन ब्यूटिलब्रोमाइड के साथ इस्तेमाल नहीं की जा सकती हैं?

      यह दवाइयां जिनके साथ ह्योसिन ब्यूटिलब्रोमाइड के साथ इस्तेमाल नहीं की जाती

      • एंटीहिस्टामिनेस (Antihistamines)
      • इपराट्रोपियम (Ipratropium)
      • मेटोक्लोप्रामाइड (Metoclopramide)
      • ट्राईसाइक्लिक एंटीडिप्रेसेंटस (Tricyclic antidepressants)

      रोगों पर प्रभाव

      अंतड़ियों में रुकावट

      जिन लोगों को इंटेस्टिनल ऑब्स्ट्रक्शन या अंतड़ियों में रुकावट की समस्या है। उन्हें यह दवाई नहीं लेनी चाहिए। क्योंकि, इसके सेवन से रोगी की स्थिति और भी खराब हो सकती है। इसकी जगह डॉक्टर आपको उपयुक्त विकल्प प्रदान करेंगे।

      हृदय संबंधी रोग

      इन लोगों को हृदय संबंधी रोग होते हैं उन्हें भी यह दवाई नहीं दी जाती। अगर ऐसा हो तो इसके साइड इफेक्ट कुछ इस तरह से हो सकते है जैसे कम ब्लड प्रेशर, चक्कर आना, बेहोशी, आलस, अनियमित हृदय गति, सांस लेने में मुश्किल होना आदि।

      क्या भोजन या एल्कोहॉल के साथ ह्योसिन ब्यूटिलब्रोमाइड का इस्तेमाल किया जा सकता है?

      ह्योसिन ब्यूटिलब्रोमाइड का भोजन या एल्कोहॉल के साथ इस्तेमाल किया जा सकता है इसके बारे में पर्याप्त जानकारी नहीं है। लेकिन, सुरक्षित रहने के लिए डॉक्टर की सलाह के बाद ही इसका सेवन करें। 

      ह्योसिन ब्यूटिलब्रोमाइड किस रूप में आती है?

      ह्योसिन ब्यूटिलब्रोमाइड निम्न रूपों में उपलब्ध है :

      • टैबलेट
      • इंजेक्शन 

      और पढ़ें : कोविड-19 के इलाज में कितनी प्रभावी हैं ये 3 जेनरिक दवाएं?

      डोसेज

      गैस्ट्रोइंटेस्टिनल (जठरांत्र) ट्रैक्ट और जेनेटोरीनरी (जननांग) ट्रैक्ट में ऐंठन

      IM के लिए 20 मिलीग्राम में 1 मिलीग्राम इंजेक्शन की शीशी (ampoule), SC या धीमा IV injection:

      – 6 साल से छोटे बच्चे: रोजाना 5 मिलीग्राम तक दिन में तीन बार (अगर आवश्यक हो)

      -6 से 12 साल के बच्चे-रोजाना 0.5 मिलीग्राम तक दिन में तीन से चार बार (अगर आवश्यक हो)

      -वयस्क -20 से 40 मिलीग्राम, अगर अवश्य हो तो दोहरा सकते हैं (रोजाना अधिकतम 100 मिलीग्राम)

      ह्योसिन ब्यूटिलब्रोमाइड की ओवरडोज या आपातकालीन स्थिति में क्या करना चाहिए?

      ह्योसिन ब्यूटिलब्रोमाइड ओवरडोज या आपातकालीन स्थिति के लिए अपने स्थानीय डॉक्टर या हॉस्पिटल से संपर्क करें।

      यदि मुझसे ह्योसिन ब्यूटिलब्रोमाइड (Hyoscine Butylbromide) की डोज मिस हो जाए तो मुझे क्या करना चाहिए?

      अगर आपसे ह्योसिन ब्यूटिलब्रोमाइड की डोज मिस हो जाए, तो जितना जल्दी हो सके इसे ले लें। हालांकि, अगर दूसरी खुराक का समय हो गया है, तो डबल डोज लेने की बजाय एक डोज मिस कर दें।

      डिस्क्लेमर

      हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

      के द्वारा मेडिकली रिव्यूड

      डॉ. प्रणाली पाटील

      फार्मेसी · Hello Swasthya


      Anu sharma द्वारा लिखित · अपडेटेड 19/10/2020

      ad iconadvertisement

      Was this article helpful?

      ad iconadvertisement
      ad iconadvertisement