home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

सेक्स पर ड्रग्स का असर का क्या होता है असर?

सेक्स पर ड्रग्स का असर का क्या होता है असर?

सेक्स और नशे को लेकर अक्सर लोगों की जिज्ञासा चरम पर रहती है। ऐसे में इनसे जूड़ी रिसर्च और प्रयोग भी किए जाते रहते हैं। अमेरिका स्थित जॉन्स हॉपकिंस यूनिवर्सिटी में मनोचिकित्सा और व्यवहार विज्ञान के प्रोफेसर मैथ्यू जॉनसन ने हाल ही में वाइस (VICE) को बताया कि बहुत सारे लोग सेक्स के दौरान अलग-अलग ड्रग्स (नशे के साधनों) का उपयोग करते हैं। इसके अलावा दोस्तों के बीच इन पर बात करते हुए जब कभी-कभार आप किसी दवा का नाम लेते हैं और लोग पूछ लेते हैं कि आपको इसका सेवन करके सेक्स करना पसंद है क्या? ऐसे बहुत से ड्रग्स, फूड और ड्रिंक्स हैं, जिसे लेकर लोग सेक्स करना पसंद करते हैं। इसके अलावा सेक्स एक निजी अनुभव है और लोगों का अपना स्पेस और कंडीशंस होती हैं।

आज हम आपको ऐसे ही कुछ ड्रग्स(ड्रिंक्स और दवाओं) के बाद इसके सेक्स पर क्या असर पड़ता है, इसके बारे में बताएंगे।

और पढ़ें: हर दिन सेक्स करना कैसे फायदेमंद है, जानिए इसके 9 वजह

एल्कोहॉल

बदलते लाइफस्टाइल के साथ सेक्स के दौरान इस्तेमाल होने वाले नशों में शराब सबसे ज्यादा प्रचलित है। कुछ अध्ययन बताते हैं कि कैजुअल ड्रिंक करने वाले इसके बाद यौन रुचि(Sexual Interest), उत्तेजना(Arousal) या संभोग सुख(Orgasm) में बढ़त मिलती है। इसके ऊलट, कुछ लोग ऐसे भी हैं, जिन्हें शराब पीने के बाद यह सब महसूस करने में परेशानी होती है। डॉ. जॉनसन कहते हैं कि ऐसा नहीं लगता है कि लोग वास्तव में नशे में सेक्स करना अधिक आनंद लेते हैं। यह शायद केवल नशे का असर है, जिसकी वजह से उनकी सामाजिक चिंता, उन्हें कम महसूस होती है और वह खुद को अपने साथी के करीब महसूस करते हैं।

शराब के नशे में व्यक्ति खुल कर अपनी भावनाओं और विचारों के बारे में बात कर सकता है। शराब व्यक्ति को अपनी चिंताओं और परेशानियों को भुलाकर एक अलग खुशी को एहसास करने का मौका दे सकती है। ज्यादा मात्रा में शराब का सेवन एक तरफ व्यक्ति के सोचने की क्षमता को कम कर देता हैं। वहीं यह व्यक्ति में निर्णय लेने की क्षमता को भी कम कर देता है। शराब पीने की हालत में असुरक्षित सेक्स का खतरा भी बढ़ जाता है।

इसका असर शरीर के साथ दिमाग और नर्वस सिस्टम पर भी पड़ता है। पुरुषों में इसके सेवन के बाद इरेक्टाइल डिसफंक्शन (erectile dysfunction) और महिलाओं के साथ पुरुषों में डिफिकल्ट ऑर्गेज्म(difficult orgasms) होने की आशंका भी बढ़ जाती है।

और पढ़ें: आखिर क्यों साथी से साथ सेक्स के बाद अटैचमेंट बढ़ने लगता है?

वीड (गांजा)

दुनिया भर में सेक्स को लेकर एक्सपेरिमेंट करने वाले कपल शराब के बाद गांजे का इसके दौरान सबसे ज्यादा उपयोग करते हैं। कुछ लोग वीड को एक एफ्रोडाइजिएक(aphrodisiac) के रूप में जानते हैं। एफ्रोडाइजिएक को लव ड्रग माना जाना जाता है, जो सेक्स ड्राइव को बढ़ाता है। इसकी वजह से लोग सख्त(Hard), वैट(wet) और अधिक संवेदनशील(Sensitive) महसूस करते हैं। इसका सेवन करने के बाद इसे पसंद करने वाले लोगों की सेक्स करने की इच्छा बढ़ जाती है। वहीं कुछ लोगों को इसके इस्तेमाल के बाद सेक्स करने की इच्छा नहीं होती। अलग-अलग अध्ययनों से पता चलता है कि ज्यादातर लोग, जो इसका उपयोग करते हैं, उन्हें इसका पॉजिटिव रेस्पॉन्स मिलता है यानि की इसका इस्तेमाल करने के बाद उनको सेक्स करने की इच्छा होती है।

हैल्यूसिनोजन्स (Hallucinogens)

साइकेडेलिक्स(Psychedelics) और डिसोसिएटिव(dissociatives) ब्लैक मार्केट में मौजूद एक ऐसे ड्रग्स हैं, जिस पर भरोसा नहीं किया जा सकता। ज्यूरिक यूनिवर्सिटी में साइकेडेलिक्स और एनर्जी का अध्ययन करने वाले एक न्यूरोपैसाइकोलॉजिस्ट, जॉनसन और माइकल कोमीटर के अनुसार, इन दवाओं का व्यापक प्रभाव मानव दिमाग पर पड़ता है। यह हर एक अलग-अलग रिसेप्टर्स को हिट करता है। एलएसडी(LSD) वाइड एरिया को हिट करता है, जिसकी वजह से इसका असर पता लगाना मुमकिन नहीं है। डीएमटी (DMT) का असर स्ट्रॉन्ग होता है इसलिए इसका ज्यादा उपयोग करने से आप खुद को खोया हुआ महसूस करते हैं और सेक्स के बारे में सोचते भी नहीं है। पीसीपी(PCP) और केटामाइन(Ketamine) हमारे दिमाग पर गहरा असर डालते हैं, जिसकी वजह से उन्हें ज्यादा विनाशकारी और जोखिम भरा माना जाता है। इसका असर इस कदर खतरनाक हो सकता है कि इसकी वजह से आपकी सांस रुक सकती है। कुछ बदलावों को छोड़ दिया जाए, तो ये सारे ड्रग्स एक जैसा ही काम करते हैं और सभी हमारे विचारों और भावनाओं पर सीधा असर डालते हैं। ये हमें अलग तरह से सोचने पर भी मजबूर कर देते हैं।

और पढ़ें: क्या वाकई में सेक्स टॉयज का इस्तेमाल रियल सेक्स जैसा प्लेजर देते हैं?

नाइट्राईट्स (Nitrites)

नाइट्राईट्स आमतौर पर पॉपर्स के रूप में जाना जाता है। अगर सेक्स के साथ जोड़ कर देखें, तो इस समय नाइट्राईट्स सबसे ज्यादा पसंदीदा ड्रग है। अलग-अलग नियमों के बावजूद पॉपर्स खरीदना सबसे ज्यादा आसान है। केमिस्ट की दुकान में इसे यूफेमिस्टिक(Euphemistic) के नाम से बेचा जाता हैं। इसके आसानी से बाजार में उपलब्धता के कारण पॉपर्स दुनिया भर के युवाओं में ज्यादा लोकप्रिय हो रहा है।

पॉपर्स आपके शरीर को आराम दे सकते हैं और कहा जाता है कि अक्सर पॉपर्स लेने की वजह से आपके अंदर सेक्स रश होता है, जिसकी वजह से आप बहुत हॉर्नी महसूस करते हैं। हालांकि, एल्कोहॉल और वीड के मुकाबले इसके बारे में लोग कम जानते हैं। लेकिन, पॉपर्स लेना आसान है। यह ज्यादातर एमाइल नाइट्राइट्स(Amyl Nitrates), लेकिन कभी-कभी आइसोब्यूटिल साइक्लोहेक्सिल(Isobutyl cyclohexyl), आइसोपेंटाइल(Isopentyl) या आइसोइमाइल नाइट्राइट्स (Isoamyl Nitrates)के साथ मिलते हैं। पॉपर्स वैसोडाइलेटर्स होते हैं, जो आपके ब्लड वैसेल को आराम देते हैं। नाइट्रेट्स ना केवल सेक्स के लिए सबसे जरुरी, ब्लड वैसेल को आराम देते हैं, बल्कि शरीर में मौजूद बाकी दूसरी नसों को भी आराम देते हैं। अगर पॉपर्स को ठीक से स्टोर नहीं करते हैं, तो पॉपर्स तो ये नुकसानदायक भी साबित हो सकते हैं।

और पढ़ें: क्या वाकई में घर से ज्यादा होटल में सेक्स एंजॉय करते हैं कपल?

ओपियेट्स (Opiates)

ओपिएट्स, एक ऐसा वर्ग है जिसमें हेरोइन और कई पेनकीलर और सेडेटिव्स शामिल हैं। शायद इस लिस्ट में मौजूद ड्रग्स का इस्तेमाल सबसे कम सेक्स के दौरान किया जाता है। इसका अंदाजा इस बात से लगाया जाता है कि ओपिएड्स को लेने वालों की संख्या पिछले कुछ सालों में बढ़ गई है और इसके ओवरडोज से मौतों की संख्या भी काफी तेजी से बढ़ी है।

जब सेक्स की बात आती है, तो ओपियेट्स के साथ मिलाकर इस पर कम अध्ययन किया गया है। डॉ जॉनसन के अनुसार, ओपिएट्स का उपयोग सेक्स के लिए सबसे कम किया गया है। जिन लोगों ने सेक्स के लिए ओपिएट्स का इस्तेमाल किया उन लोगों ने अपने पार्टनर के साथ कम सेक्स ड्राइव महसूस की है।

 

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

How Different Drugs Affect Sex Accessed on 22/10/2019

The effect of drugs on male sexual function and fertility. Accessed on 22/10/2019

WHAT SEX IS LIKE ON EVERY POPULAR DRUG Accessed on 22/10/2019

Advice about drugs and sex Accessed on 22/10/2019

Drinking and drugs Accessed on 5/12/2019

The Effects of Mixing Alcohol & Drugs Accessed on 5/12/2019

 

 

लेखक की तस्वीर badge
Lucky Singh द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 07/07/2020 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x