home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

C Reactive Protein Test : सी रिएक्टिव प्रोटीन टेस्ट क्या है?

C Reactive Protein Test : सी रिएक्टिव प्रोटीन टेस्ट क्या है?
बेसिक्स को जानें|जानने योग्य बातें|रिजल्ट को समझें

बेसिक्स को जानें

सी रिएक्टिव प्रोटीन टेस्ट क्या है?

सी रिएक्टिव प्रोटीन (CRP) टेस्ट एक ब्लड टेस्ट है, जो शरीर में सी रिएक्टिव प्रोटीन प्रोटीन की मात्रा को मापने के लिए किया जाता है। सीआरपी एक प्रोटीन है जिसे लिवर बनाता है। सीआरपी के जरिए शरीर में सूजन का भी पता लगाया जाता है। आमतौर पर हमारे रक्त में सी रिएक्टिव प्रोटीन की मात्रा कम होती है।

सीआरपी का हाई लेवल कई गंभीर बीमारियों की तरफ इशारा करता है, लेकिन इससे शरीर में कहां और किस कारण सूजन है, इसका पता नहीं लगाया जा सकता है। शरीर में सूजन के कारणों का पता लगाने के लिए डॉक्टर अन्य परीक्षण यानि टेस्ट की सलाह दे सकते हैं।

सी-रिएक्टिव प्रोटीन टेस्ट क्यों किया जाता है?

सी-रिएक्टिव प्रोटीन टेस्ट शरीर में सूजन का पता लगाने के लिए किया जाता है। इस टेस्ट से शरीर में सूजन है या नहीं, इसका पता लगाया जाता है। हालांकि, यह टेस्ट शरीर में सूजन के कारणों की जानकारी नहीं देता है। अगर इस टेस्ट से शरीर में सूजन होने के बारे में पता चलता है, तो डॉक्टर आपको नीचे बताए गए टेस्ट कराने की सलाह दे सकते हैं :

  1. अर्थराइटिस (Arthritis)
  2. ल्यूपस (Lupus)
  3. वाहिकाशोध

यदि आपको बैक्टीरियल इंफेक्शन के निम्नलिखित लक्षण नजर आते हैं तब भी यह टेस्ट रिकमेंड किया जाता है:

यदि आपका डॉक्टर पहले ही इंफेक्शन को डायगनोस कर चुका है तब यह टेस्ट आपकी बीमारी को मोनिटर करने के लिए किया जा सकता है। सीआरपी लेवर का बढ़ना और कम होना आपके शरीर की सूजन पर निर्भर करता है। यदि आपके शरीर में सीआरपी लेवल कम होता है तो यह दर्शाता है कि सूजन का जो आपका ट्रीटमेंट चल रहा है वह काम कर रहा है।

सी-रिएक्टिव प्रोटीन टेस्ट कराने से पहले मुझे क्या जानना चाहिए?

सी-रिएक्टिव टेस्ट का स्तर कम होने का मतलब यह नहीं है कि शरीर में सूजन नहीं है। रुमेटाइड अर्थराइटिस (rheumatoid arthritis) और ल्यूपस (lupus) जैसी गंभीर बीमारियों में सीरआपी का स्तर कम हो सकता है, लेकिन इसके कारण की जानकारी फिलहाल नहीं है।

ज्यादा सेंसेटिव सीआरपी टेस्ट को हाई सेंसिटिविटी सी-रिएक्टिव प्रोटीन टेस्ट कहा जाता है। इसमें व्यक्ति की हार्ट डिजीज का पता लगाया जाता है। हालांकि, यह पता नहीं है कि हाई सीआरपी क्या सिर्फ हृदय रोगों की तरफ ही इशारा करते हैं या फिर इससे अन्य बीमारियां भी हो सकती हैं।

और पढ़ें: Alpha-amylase : अल्फा-एमाइलेज टेस्ट क्या है?

जानने योग्य बातें

यूं तो सीआरपी टेस्ट के लिए कोई खास तैयारी नहीं होती है, लेकिन, अगर आप कुछ दवाओं का सेवन कर रहे हैं, तो अपने डॉक्टर से जरूर पूछ लें। दरअसल, कई बार दवाएं सीआरपी टेस्ट के नतीजो को प्रभावित कर सकती हैं।

सीआरपी टेस्ट के दौरान क्या होता है?

सीआरपी टेस्ट के दौरान, डॉक्टर आपके ब्लड का सैंपल लेते हैं, जिसके लिए वे नीचे बताए गए काम करते हैं :

  1. ब्लड फ्लो को रोकने के लिए सबसे पहले हाथ में बैंड लगाया जाता है, जिससे नसें साफ-साफ दिखाई देने लगती हैं।
  2. इसके बाद रूई में एल्कोहॉल लगाकर डॉक्टर नसों को साफ करते हैं, जिससे सूई लगाने में आसानी होती है।
  3. इसके बाद डॉक्टर आपकी नस में सूई लगाते हैं।
  4. सूई से डॉक्टर खून निकालते हैं और फिर उसे एक स्रिंज में डाल देते हैं।
  5. फिर बैंड को हटा देते हैं।
  6. इसके बाद नसों पर रूई लगाते हैं।
  7. फिर एक बैंडेज को चिपका देते हैं।

सीआरपी टेस्ट के बाद क्या होता है?

सीआरपी टेस्ट के बाद आपको थोड़ी-सी जलन या दर्द महसूस हो सकती है, जो जल्दी ही ठीक हो जाती है। डॉक्टर खून के सैंपल की जांच कराने के लिए उसे लैब में भेज देते हैं।

इस दौरान, अगर सीआरपी टेस्ट को लेकर आपके मन में कोई सवाल हो, तो डॉक्टर से जरूर पूछें।

और पढ़ें: Thyroid Nodules : थायरॉइड नोड्यूल क्या है?

रिजल्ट को समझें

सी रिएक्टिव प्रोटीन टेस्ट के परिणामों का क्या मतलब है?

सीआरपी जांच की रिपोर्ट में रेफ्रेंस रेंज होता है, जोकि हर लैब में अलग अलग होता है। इस रेफ्रेंस रेंज के अनुसार, ही डॉक्टर आपके स्वास्थ्य का मूल्यांकन करते हैं, जिसके बाद आपको सलाह देते हैं।

  • सीआरपी की रिपोर्ट अमूमन 24 घंटे में मिल जाती है।
  • सीआरपी का स्तर नॉर्मल – 1.0 मिलीग्राम प्रति डेसीलीटर (मिलीग्राम / डीएल) से कम या 10
  • सीआरपी के स्तर को विभिन्न दवाएं प्रभावित कर सकती हैं। सीआरपी के परिणाम आने के बाद डॉक्टर आपसे आपके हैल्थ के बारे में पूरी जानकारी लेंगे, जैसे- आपको कोई पुरानी बीमारी तो नहीं है या फिर पहले कोई गंभीर बीमारी तो नहीं थी।

सीआरपी का स्तर उच्च होना इस बात का इशारा करता है कि आपके शरीर में किसी तरह की सूजव हा। सीआरफी टेस्ट यह नहीं बताता कि शरीर के किस हिस्से में सूजन है। अगर आपकी रिपोर्ट नॉर्मल नहीं आती है तो डॉक्टर सूजन का पता लगाने के लिए आपको कुछ दूसरे टेस्ट लिखेगा।

अगर सीआरपी का स्तर उच्च होता है, तो यह हार्ट डिजीज की तरफ इशारा करता है। हालांकि, इससे दिल की बीमारी की पूरी जानकारी नहीं मिल सकती है। ऐसी स्थिति में डॉक्टर आपको अन्य टेस्ट कराने की सलाह दे सकते हैं।

जरूरी नहीं सीआरपी लेवल बढ़ने पर आपको मेडिकल जांच की जरूरत पड़ेगी ही पड़ेगी। क्योंकि सीआर पी लेवल बढ़ने के पीछे कई दूसरे कारण भी हो सकते हैं, जिसमें स्मोकिंग, मोटापा, एक्सरसाइज न करना आदि शामिल हैं।

सीआरपी का स्तर का स्तर

  • नॉर्मल – 1.0 मिलीग्राम/डीएल या 1एमजी/एल से कम
  • एचएस- सीआरपी लेवल और हार्ट डीजीज रिस्क
  • 1.0 एमजी/एल से कम – लो रिस्क
  • 1.0 से 3.0 मिलीग्राम/एल- एवरेज रिस्क
  • 3.0 मिलीग्राम/एल – हाई रिस्क

हॉस्पिटल और लैब के आधार पर इस टेस्ट की सामान्य रेंज में अंतर हो सकता है। अगर इससे संबंधित आपके मन में कोई सवाल है, तो डॉक्टर से जरूर पूछ लें। हैलो हेल्थ ग्रुप किसी भी मैडिकल एडवाइज, जांच या इलाज प्रदान नहीं करता।

हम आशा करते हैं आपको हमारा यह लेख पसंद आया होगा। हैलो हेल्थ के इस आर्टिकल में सी-रिएक्टिव प्रोटीन टेस्ट
से जुड़ी ज्यादातर जानकारियां देने की कोशिश की है, जो आपके काफी काम आ सकती हैं। अगर आपको ऊपर बताए गए कोई लक्षण नजर आते हैं तो आपका डॉक्टर आपको यह जांच कराने की सलाह दे सकता है। सी-रिएक्टिव प्रोटीन टेस्ट से जुड़ी यदि आप अन्य जानकारी चाहते हैं तो आप हमसे कमेंट कर पूछ सकते हैं।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Ferri, Fred. Ferri’s Netter Patient Advisor. Philadelphia, PA: Saunders / Elsevier, 2012. Download version.

Porter, R. S., Kaplan, J. L., Homeier, B. P., & Albert, R. K. (2009). The Merck manual home health handbook. Whitehouse Station, NJ, Merck Research Laboratories. Page 1856.

https://www.webmd.com/a-to-z-guides/c-reactive-protein-test#2 Accessed December 30, 2019

https://medlineplus.gov/lab-tests/c-reactive-protein-crp-test/ Accessed December 30, 2019

https://www.mayoclinic.org/tests-procedures/c-reactive-protein-test/about/pac-20385228 Accessed December 30, 2019

लेखक की तस्वीर
Dr. Radhika apte के द्वारा मेडिकल समीक्षा
Nikita द्वारा लिखित
अपडेटेड 04/07/2019
x