home

आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

एटीएम के उपयोग के दौरान टचस्क्रीन का यूज करते समय क्या सावधानी रखनी चाहिए, जानिए

एटीएम के उपयोग के दौरान टचस्क्रीन का यूज करते समय क्या सावधानी रखनी चाहिए, जानिए

कोरोना महामारी के दौरान घर के बाहर जैसे ही कदम रखते हैं, वैसे ही सैकड़ों सवाल मन में आने लगते हैं। मन में ये बात सबसे पहले आती है कि क्या छुएं और क्या न छुएं। कोरोना का संक्रमण जिस तरह से तेजी से बढ़ रहा है, ऐसे में मन में शंका आना भी लाजमी है। कोरोना महामारी सिर्फ व्यक्तियों से ही नहीं फैलती है, बल्कि एक इंफेक्टेड सतह से भी फैल सकती है। कुछ दिनों पहले ‘एटीएम से कोरोना का खतरा’ वाली खबर सुन सब लोग खौफ में आ गए थे। ये सच भी है कि एमटीएम का यूज करने के बाद कुछ लोग कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं। एटीएम से कोरोना का खतरा आसानी से फैल सकता है।

यह भी पढ़ें :रेड लाइट एरिया को बंद करने से इतने प्रतिशत तक कम हो सकते हैं कोरोना के मामले, स्टडी में बात आई सामने

एटीएम से कोरोना का खतरा

एटीएम के इस्तेमाल से कोरोना का खतरा इसलिए अधिक हो जाता है कि क्योंकि एटीएम का उपयोग कई लोग करते हैं। टचस्क्रीन का उपयोग करते समय सावधानी रखनी चाहिए। अगर आपने ग्लव्स पहने हैं तो अच्छी बात है। अगर कोई व्यक्ति टचस्क्रीन का यूज करने के बाद हाथ मुंह में लगा लेता है तो कोरोना का खतरा अधिक बढ़ जाता है। SARS और MERS जैसे कोरोनावायरस हवा में तीन से ज्यादा घंटे तक सुरक्षित रह सकते हैं। वहीं मेटल यानी धातु, कांच और प्लास्टिक में दो से तीन दिन तक जीवित रह सकते हैं।

यह भी पढ़ें : पेपर टॉवेल (टिश्यू पेपर) या हैंड ड्रायर्स: कोरोना महामारी के समय हाथों को साफ करने का सबसे अच्छा तरीका क्या है?

एटीएम से कोरोना का खतरा: टचस्क्रीन से ऐसे फैलता है कोरोना

आप इस बात को ऐसे समझिए कि कोई कोरोना संक्रमित व्यक्ति अगर एटीएम का यूज करेगा तो उससे कोरोना वायरस एटीएम की टचस्क्रीन में जाने की संभावना है। अब उसी टचस्क्रीन जब दो से तीन दिनों तक अन्य स्वस्थ्य व्यक्ति यूज करेंगे तो उन्हें भी कोविड-19 के संक्रमण की संभावना बढ़ जाएगी। टचस्क्रीन चाहे कहीं की भी हो, उसे साफ जरूर करना चाहिए। इस बारे में साउथेम्प्टन यूनीवर्सिटी के प्रोफेसर विलियम कीविल कहते हैं कि हाथों को साफ किए बिना अपना मोबाइल भी यूज नहीं करना चाहिए। अगर आपने मोबाइल की टचस्क्रीन को साफ कर लिया है तो इस बात का खतरा कम ही है कि फोन से संक्रमण की संभावना हो क्योंकि मोबाइल ज्यादातर एक ही व्यक्ति द्वारा प्रयोग किया जाता है। एक बात तो साफ है कि एटीएम से कोरोना का खतरा न हो, इसके लिए सावधानी अपनान बहुत जरूरी हो चुका है।

[mc4wp_form id=”183492″]

यह भी पढ़ें :लॉकडाउन 4.0 : बंदी के चौथे चरण में दी गई है कुछ छूट,पाबंदियां नहीं हटा सकते हैं राज्य

तो क्या कोरोना महामारी के दौरान टचस्क्रीन यूज करना चाहिए ?

कोरोना महामारी के कारण कम ही समय में बहुत अधिक बदलाव देखने को मिला है। साउथ हैम्पटन यूनिवर्सिटी में ग्लोबल हेल्थ रिसर्च और हेल्थ फैलो माइकल हेड ने एक मीडिया हाउस को जानकारी देते हुए बताया कि कोरोना महामारी के दौरान टचस्क्रीन को बाय बाय बोलना मुश्किल काम है, क्योंकि हमे ऐसे कई काम करने पड़ते हैं जब टचस्क्रीन का यूज किया जाता है। हां, लेकिन सावधानी हम सब की प्राथमिकता होनी चाहिए। स्टडी में इस बात की जानकारी मिली है कि ये संभव है कि वायरल लोड स्क्रीन पर पाए जा सकते हैं और ये अन्य व्यक्तियों को संक्रमित भी आसानी से कर सकते हैं। जब भी टचस्क्रीन का प्रयोग करें, उसके बाद हाथों को सैनिटाइज जरूर करें। इस तरह से संक्रमण के खतरे को कम किया जा सकता है।

यह भी पढ़ें : कोरोना महामारी में मुंबई का हो रहा है बुरा हाल, जानिए आखिर क्यों न्यूयार्क से ज्यादा गंभीर हो रहे हैं हालात

महामारी में एटीएम का यूज हो सके तो करें इग्नोर

वैसे तो ई पेमेंट की वजह से एटीएम कार्ड का यूज थोड़ा कम हो गया है। लोग ज्यादातर पेमेंट मोबाइल की हेल्प से ही कर देते हैं। अगर आप भी ऐसा ही कर रहे हैं तो आपको एटीएम जाने की जरूरत कम ही पड़ेगी। महामारी के दौरान एटीएम का यूज कम ही करें। अगर आपको फिर भी एटीएम में जाना जरूरी है तो कुछ बातों का ध्यान जरूर रखें। एटीएम में अगर लाइन लगी हो तो सोशल डिस्टेंसिंग का ख्याल जरूर रखें। अगर हाथों में आपने ग्लव्स पहनें हैं तो अच्छी बात है। अगर ग्लव्स नहीं पहने हैं तो टचस्क्रीन का यूज करने के बाद हाथों को सैनिटाइज जरूर करें। ई पेमेंट का माध्यम बेहतर रहेगा। साथ ही इन बातों का ध्यान जरूर रखें।

  • एटीएम जाते समय मास्क और ग्लव्स का प्रयोग करें।
  • अगर भीड़ दिखें तो भीड़ के नजदीक न जाएं। थोड़ा इंतजार कर लें।
  • एटीएम कार्ड का यूज करने के बाद उसे भी सैनिटाइज करें।
  • टचस्क्रीन के यूज के बाद भूलकर भी हाथों को चेहरे पर मत लगाएं।
  • घर आने के बाद हाथों की सफाई करना न भूलें।
  • अगर आपके पास फेस शील्ड है तो उसका उपयोग करें।

तेजी से बढ़ रहा है कोरोना का संक्रमण

भारत में कोरोना का संक्रमण तेजी से फैल रहा है। वहीं महाराष्ट्र का हाल अधिक डरावना होता जा रहा है। महाराष्ट्र में अब तक 1809 पुलिसकर्मी कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं। वहीं महाराष्ट्र में अब तक 50 हजार से ज्यादा लोग कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं। पिछले 24 घंटे में कोरोना मरीजों की संख्या तीन हजार से ज्यादा दर्ज की गई। भारत में अब तक कोविड-19 के एक लाख 38 हजार से ज्यादा मामले आ चुके हैं। वहीं देश में 24 घंटे में लगभग सात हजार मामले सामने आए हैं। कोरोना के संक्रमण की वजह से अब तक चार हजार से ज्यादा लोग अपनी जान गवां चुके हैं। उन लोगों के लिए आज का दिन खास है, जो अपने घर फ्लाइट के माध्यम से जाना चाहते हैं, क्योंकि दो महीने बाद आज (25 मई) घरेलू उड़ानों को शुरू कर दिया गया है। पहले दिन कई फ्लाइट्स के कैंसिल भी हो गई हैं।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र


Coronavirus (COVID-19):  https://www.nhs.uk/conditions/coronavirus-covid-19/ Accessed on 25/5/2020

Coronavirus disease (COVID-19) advice for the public:  https://www.who.int/emergencies/diseases/novel-coronavirus-2019/advice-for-public Accessed on 25/5/2020

CORONAVIRUS: HOW TO USE TOUCHSCREENS AND SELF-CHECKOUTS SAFELY: https://www.independent.co.uk/life-style/health-and-families/coronavirus-uk-touch-screen-supermarket-self-checkout-a9397486.html Accessed on 25/5/2020

Are ATMs making the coronavirus crisis worse?  :https://www.cujournal.com/news/are-atms-making-the-coronavirus-crisis-worse Accessed on 25/5/2020

 

लेखक की तस्वीर badge
Bhawana Awasthi द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 26/05/2020 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड