backup og meta

सोलोमन सील के फायदे एवं नुकसान – Health Benefits of Solomon’s Seal

के द्वारा मेडिकली रिव्यूड डॉ. स्नेहल सिंह · होम्योपैथी · Wellness Online Clinic Healing Arts


Mona narang द्वारा लिखित · अपडेटेड 24/05/2021

सोलोमन सील के फायदे एवं नुकसान – Health Benefits of Solomon’s Seal

परिचय

सोलोमन सील (Solomon’s seal) क्या है?

सोलोमन सील एक वुडलैंड पौधा है जो उत्तरी अमेरिका में पाया जाता है। इस पर लगे सफेद फूल और काले बीज वाली फली इसे आकर्षक बनाते हैं। इसका वानस्पातिक नाम Polygonatum है। ये Asparagaceae परिवार से ताल्लुख रखता है। औषधीय गुणों से भरपूर होने के कारण इसका प्रयोग दवाओं में किया जाता है। ये लंग्स डिसऑर्डर (Lungs Disorder) से लेकर सूजन को कम करने के लिए उपयोगी है।

और पढ़ें : क्या आपके बच्चे को आवश्यक पोषण प्राप्त हो रहा है?

उपयोग

सोलोमन सील (Solomon’s seal) का उपयोग किस लिए किया जाता है?

जोड़ों के लिए लाभदायक (Beneficial for Joints):

सोलोमन सील कार्टिलेज टेंडॉन्स और लिगामेंट्स को रिपेयर करने में मदद करता है। इस तरह से ये जोड़ों की समस्याओं से परेशान लोगों को राहत पहुंचाता है। ये ढीले जोड़ों को कसता है और जॉइंट फ्लूइड के उत्पादन को प्रोत्साहित करता है।

गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल ट्रैक्ट के लिए फायदेमंद (Beneficial for the gastrointestinal tract):

सोलोमन सील की जड़ गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल ट्रैक्ट में होने वाली इरिटेशन को कम करता है। इसके अलावा ये डायरिया में भी राहत प्रदान करता है।

ब्लड प्रेशर को कम करता है (Lowers Blood Pressure):

सोलोमन सील ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करने और कम करने में लाभदायक है। इसमें convallarin होता है जो दिल को हेल्दी रखने में मदद करता है। इससे हार्ट फेल होने का खतरा कम होता है।

एंटी-इन्फलामेटरी (Anti-Inflammatory):

सोलोमन सील में एंटी-इन्फलामेटरी गुण होते हैं जो शरीर के किसी भी हिस्से में होने वाली इरिटेशन, लाली, सूजन और दर्द को दूर करने में मदद करते हैं। सोलोमन सील में एलेंटोइन(Alantoin) होता है जिसका इस्तेमाल कई एंटी-इन्फलामेटरी लोशन में किया जाता है।

डयुरेटिक और डिटॉक्सीफायर (Diuretic and detoxifier):

सोलोमन सील को पीन से यूरीन ज्यादा आता है। ये शरीर में मौजूद बुरे टॉक्सिन्स को बाहर निकालने का काम करता है।

कफ की समस्या को करे दूर (Relieves cough):

इसमें कफ निस्सारक तत्व होते हैं जो ड्राय कफ, रेस्पिरेटरी इंफेक्शन और लंग्स कंजेशन में लाभदायक माना जाता है। ये कफ से गले में होने वाली खराश में भी आराम पहुंचाता है। इसकी चाय का उपयोग टीबी और लंग्स ब्लीडिंग के लिए किया जाता है।

स्किन संबंधित परेशानियों में मददगार (Helpful in skin related problems):

कुछ लोग सोलोमन सील को स्किन संबंधित परेशानियां जैसे जख्म, अल्सर, उंगलियों पर फोड़े, बवासीर और त्वचा लालिमा के लिए सीधे स्किन पर लगाते हैं।

कैसे काम करता है सोलोमन सील?

इस बारे में कोई वैज्ञानिक जानकारी नहीं है कि सूजन को कम करने की दवा कैसे काम करता है। इसके बारे में अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर या हर्बलिस्ट से कंसल्ट करें। हालांकि कुछ शोध बताते हैं कि इसमें कुछ ऐसे केमिकल्स होते हैं जो ब्लड शुगर लेवल को कम करते हैं। इसके अलावा इसमें एंटी-इन्फलामेटरी, सिडेटिव, एंटीरूमेटिक, कफ निस्सारक, डयुरेटिक और डिटॉक्सीफायर प्रॉपर्टीज होती हैं।

और पढ़ें : Oregon Grape: ओरेगन ग्रेप क्या है?

[mc4wp_form id=’183492″]

सावधानियां और चेतावनी

कितना सुरक्षित है सोलोमन सील (Solomon’s seal) का उपयोग क्या है?

वयस्कों के लिए कुछ समय तक सोलोमन सील का उपयोग सुरक्षित है। निम्नलिखित परिस्थितियों में इसका इस्तेमाल करने से पहले डॉक्टर या हर्बलिस्ट से सलाह लें:

  • यदि आप प्रेग्नेंट या ब्रेस्टफीडिंग करा रही हैं। दोनों ही स्थितियों में सिर्फ डॉक्टर की सलाह पर ही दवा खानी चाहिए।
  • यदि आप अन्य दवाइयां ले रही हैं। इसमें डॉक्टर की लिखी हुई और गैर लिखी हुई दवाइयां शामिल हैं, जो मार्केट में बिना डॉक्टर के प्रिस्क्रिप्शन के खरीद के लिए उपलब्ध हैं।
  • यदि आपको सोलोमन सील या किसी पदार्थ या अन्य दवा या औषधि से एलर्जी है।
  • यदि आपको कोई बीमारी, डिसऑर्डर या कोई अन्य मेडिकल कंडिशन है।
  • यदि आपको फूड, डाई, प्रिजर्वेटिव्स या जानवरों से अन्य प्रकार की एलर्जी है।
  • अगर आपको लिवर संबंधित कोई परेशानी है तो इसका इस्तेमाल बिल्कुल न करें। आपकी परेशानी पहले से ज्यादा हो सकती है।

अन्य दवाइयों के मुकाबले औषधियों के संबंध में रेग्युलेटरी नियम अधिक सख्त नही हैं। इनकी सुरक्षा का आंकलन करने के लिए अतिरिक्त अध्ययनों की आवश्यकता है। सोलोमन सील का इस्तेमाल करने से पहले इसके खतरों की तुलना इसके फायदों से जरूर की जानी चाहिए। इसकी अधिक जानकारी के लिए अपने हर्बलिस्ट या डॉक्टर से सलाह लें।

और पढ़ें : सिलेरी (Celery) के फायदे

ये लोग बरतें खास सावधानी:

डायबिटीज (Diabetes): सोलोमन सील आपके ब्लड शुगर लेवल को अत्यधिक कम कर सकती है। अगर आप ब्लड शुगर को कम करने के लिए    दवा ले रहे हैं तो इसका उपयोग न करें। ऐसे में आपकी ब्लड शुगर अत्यधिक कम हो सकती है। इसके अलावा अगर आपका शुगर लेवल कम रहता है तो भी इसे एवॉइड करें।

सर्जरी (Surgery): सोलोमन सील ब्लड शुगर लेवल को कम करता है। ऐसे में ये सर्जरी के वक्त परेशानी पैदा कर सकता है। इसलिए सर्जरी से दो हफ्ते पहले और दो हफ्ते बाद तक इसका सेवन एवॉइड करें।

और पढ़ें : Gamma Oryzanol: गामा ओराइजनाॅल क्या है?

साइड इफेक्ट्स

सोलोमन सील (Solomon’s seal) से मुझे क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?

आमतौर पर सोलोमन सील का सेवन सभी के लिए सुरक्षित है। कुछ लोगों में इसे लंबे समय तक लेने या ज्यादा डोज लेने पर डायरिया, पेट संबंधित परेशानियां और उल्टी की शिकायत हो सकती है।

हालांकि हर किसी को ये साइड इफेक्ट हो ऐसा जरुरी नहीं है, कुछ ऐसे भी साइड इफेक्ट हो सकते हैं, जो ऊपर बताए नहीं गए हैं। अगर आपको इनमें से कोई भी साइड इफेक्ट महसूस हो या आप इनके बारे में और जानना चाहते हैं तो नजदीकी डॉक्टर से संपर्क करें।

और पढ़ें : Goa Powder: गोवा पाउडर क्या है?

डोसेज

सोलोमन सील (Solomon’s seal) को लेने की सही खुराक क्या है?

सोलोमन सील की खुराक हर मरीज के लिए अलग हो सकती है। आपके द्वारा ली जाने वाली खुराक आपकी उम्र, स्वास्थ्य और अन्य कई चीजों पर निर्भर करती है। हर्बल सप्लीमेंट हमेशा सुरक्षित नहीं होते हैं। इसलिए सही खुराक की जानकारी के लिए हर्बलिस्ट या डॉक्टर से चर्चा करें। कभी भी अपनी खुराक खुद से निर्धारित करने की गलती न करें। आपके द्वारा की गई छोटी सी लापरवाही स्वास्थ्य के लिए हानिकारक साबित हो सकती है।

और पढ़ें : Chicory: चिकोरी या कासनी क्या है?

उपलब्ध

किन रूपों में उपलब्ध है सोलोमन सील (Solomon’s seal)?

सोलोमन सील निम्नलिखित रूपों में उपलब्ध है:

  • रॉ सोलोमन सील (Raw Solomon’s seal)
  • सोलोमन सील लिक्विड एक्सट्रैक्ट (Solomon’s seal Liquid Extract)
  • सोलोमन सील रूट कैप्सूल्स (Solomon’s seal Root Extract)

डिस्क्लेमर

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

के द्वारा मेडिकली रिव्यूड

डॉ. स्नेहल सिंह

होम्योपैथी · Wellness Online Clinic Healing Arts


Mona narang द्वारा लिखित · अपडेटेड 24/05/2021

ad iconadvertisement

Was this article helpful?

ad iconadvertisement
ad iconadvertisement