home

What are your concerns?

close
Inaccurate
Hard to understand
Other

लिंक कॉपी करें

Tiratricol: टिरैट्रिकोल क्या है?

परिचय|उपयोग|साइड इफेक्ट्स|डोसेज|उपलब्ध
Tiratricol: टिरैट्रिकोल क्या है?

परिचय

टिरैट्रिकोल क्या है?

टिरैट्रिकोल मानव शरीर में स्वाभाविक रूप से उत्पन्न होने वाला एक रासायनिक है। यह मानव द्वारा भी बनाया जा सकता है। इसका उपयोग थायराॅइड और कैंसर जैसी कई समस्याओं की दवाई बनाने में किया जाता है। यह एक आहार पूरक होता है। इसके अलावा टिरैट्रिकोल का प्रयोग वजन घटाने, चयापचय दर में वृद्धि और सेल्युलाईट को कम करने के लिए भी किया जाता है। वहीं एफडीए अमेरिका का मानना है कि यह एक आहार पूरक नहीं है। इसे एक अपरिपक्व दवा माना है। इसमें शक्तिशाली हाॅर्मोन पाया जाता है। जिसकी वजह से शरीर में कई परेशानियां हो सकती हैं।

फ्रांस में टिरैट्रिकोल प्रिस्क्राइब की जा सकती है। जिसका इस्तेमाल ज्यादातर थायरॉइड की बीमारी के इलाज के लिए किया जाता है। साल 1950 से ही फ्रांस में इससे जुड़े और इससे होने वाले फायदे और नुकसान को समझने से लिए रिसर्च जारी है। इस बारे में अधिक जानकारी के लिए आप हर्बल एक्सपर्ट से बात कर सकते हैं।

किन-किन नामों से जाना जाता है टिरैट्रिकोल?

टिरैट्रिकोल को निम्नलिखित नामों से भी जाना जाता है। जैसे-

  • एसिड 3
  • ट्रायोडियोडोथेरोएक्टिक
  • एसिड ट्रायोडियोडोथेरोएक्टिक
  • ट्रायोडोडायरेरोएसिटिक एसिड
  • ट्रायोडियोडायरेरोएसिटिक एसिड

इन अलग-अलग नामों से भी इसे जाना जाता है।

टिरैट्रिकोल का उपयोग किसलिए किया जाता है?

इसका उपयोग निम्नलिखित शारीरिक परेशानी को दूर करने के लिए किया जा सकता है। जैसे:-

  • टिरैट्रिकोल का उपयोग मुख्य रूप से थायरॉइड और कैंसर के इलाज के लिए किया जाता है।
  • यह एक शक्तिशाली रासायनिक पदार्थ है।
  • वजन कम करने वाली दवाओं में भी ये रसायन मिलाया जाता है।
  • शरीर में सेल्युलाइट को कम करता है।

कैसे काम करता है टिरैट्रिकोल?

निम्नलिखित तरह से काम करता है टिरैट्रिकोल। जैसे:-

  • टिरैट्रिकोल से बने उत्पादों में ट्राइकाना मेटाबॉलिक हॉर्मोन एनालॉग, ट्रिया-कट्ज थायराॅइड और उत्तेजक आहार पूरक कैप्सूल शामिल है।
  • 1950 से फ्रांस में टिरैट्रिकोल का प्रयोग मुख्य रूप से थायरॉइड के लिए किया जा रहा है।
  • टिरैट्रिकोल को एक खतरनाक रासायनिक भी माना गया है।
  • मिसौरी राज्य ने अपने वितरक (सिंट्रैक्स) के उत्पादन पर प्रतिबंधित लगा दिया है।
  • वहीं यूटा स्थित निर्माता (फार्माटेक) घटक टीआरआईएसी युक्त किसी भी उत्पाद को वितरित करना बंद कर दिया है।
और पढ़ें: Ashwagandha : अश्वगंधा क्या है?

उपयोग

कितना सुरक्षित है टिरैट्रिकोल का उपयोग?

  • टिरैट्रिकोल कोई हर्बल नहीं बल्कि दवा है।
  • ऐसी दवाओं को डॉक्टर की सलाह के बिना नहीं लेना चाहिए।
  • यह कुछ ही बीमारियों के लिए उपयोग होता है इसलिए बिना जानकारी ऐसी दवाओं का उपयोग ना करें।

सावधानी और समझदारी विशेषकर डॉक्टर के सलाह अनुसार इसका सेवन करना हेल्थ के लिए लाभकारी हो सकता है। उपरोक्त जानकारी चिकित्सा सलाह का विकल्प नहीं है।

साइड इफेक्ट्स

टिरैट्रिकोल से मुझे क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?

  • थॉयराइड संबंधी बीमारी में टिरैट्रिकोल असरदार है। इसके अलावा कैंसर जैसी गंभीर बीमारी में डॉक्टर से बिना पूछे ये दवा नहीं लेनी चाहिए।
  • इससे गंभीर दस्त, थकान, कमजोरी हो सकती है।
  • एफडीए ने टिरैट्रिकोल ना उपयोग करने की चेतावनी दी है।
  • बुजुर्गों को इससे दिल की बीमारी हो सकती है।
  • छाती में दर्द उठ सकता है।
  • मधुमेह हो सकता है।
  • लिवर में समस्या हो सकती है।
  • रक्तस्त्राव से जुड़ी समस्याएं भी हो सकती हैं।

टिरैट्रिकोल थायराइड फंक्शन में सुधार के तौर पर काम कर सकता है। इसके साथ ही यह कोलेस्ट्रॉल को कम करने और हड्डियों को स्ट्रॉन्ग बनाने या हड्डियों के निर्माण में भी मददगार हो सकता है।

किन-किन लोगों को टिरैट्रिकोल का सेवन नहीं करना चाहिए?

प्रेग्नेंसी- कुछ रिसर्च के अनुसार प्रेग्नेंसी में टिरैट्रिकोल का सेवन गर्भ में पल रहे शिशु के दिल को नुकसान पहुंचा सकता है। इसलिए इसका सेवन गर्भवती महिलाओं को नहीं करना चाहिए।

ब्रस्टफीडिंग- शिशु को स्तनपान करवाने वाली महिलाओं को भी इसके सेवन से डॉक्टर से सलाह लेना चाहिए। क्योंकि इससे जुड़े रिसर्च अभी भी किए जा रहें हैं।

बुजुर्गबुजुर्गों को इसका सेवन नहीं करना चाहिए।

हार्ट प्रॉब्लम- टिरैट्रिकोल का सेवन दिल के मरीजों को नहीं करना चाहिए। इससे सीने में दर्द हो सकता है जो आपकी परेशानी को और बढ़ा सकता है।

हाई ब्लड प्रेशर- हाई बीपी के मरोजों को इसका सेवन नहीं करना चाहिए।

डायबिटीज- डायबिटीज के पेशेंट को टिरैट्रिकोल का सेवन नहीं करना चाहिए। क्योंकि इसके सेवन से ब्लड शुगर लेवल बिगड़ सकता है। इसलिए पहले डॉक्टर से सलाह लें और फिर इसका सेवन करें।

लिवर डिजीज- लिवर से जुड़ी परेशानी झेल रहे लोगों को इसका सेवन नहीं करना चाहिए।

माइक्सेडेमा- माइक्सेडेमा एक्टिव थायरॉइड ग्लैंड की वजह से होता है। ऐसे में टिरैट्रिकोल का सेवन नहीं करना चाहिए।

[mc4wp_form id=”183492″]

ब्लीडिंग- टिरैट्रिकोल के सेवन से ब्लड क्लॉट नहीं होता है और ऐसे में ब्लीडिंग ज्यादा हो सकती है।

इन ऊपर बताई गई बीमारियों से अगर आप पीड़ित हैं, तो इसका सेवन न करें। यह भी ध्यान रखें कि किसी भी दवा, चाहे वो हर्बल ही क्यों न हो उसका सेवन अपनी मर्जी से नहीं करना चाहिए।

और पढ़ें: Cauliflower: फूल गोभी क्या है?

डोसेज

टिरैट्रिकोल को लेने की सही खुराक क्या है?

टिरैट्रिकोल का सेवन मुंह से करना चाहिए। हेल्थ एक्सपर्ट थायरॉइड (हाइपोथायरायडिज्म) की परेशानी को दूर करने के लिए इसके सेवन की सलाह देते हैं। वहीं कुछ लोग इसका सेवन वजन कम करने के लिए भी करते हैं लेकिन, वजन कम करने में टिरैट्रिकोल मददगार है या नहीं इससे जुड़ी कोई रिसर्च फिलहाल नहीं है।

  • टिरैट्रिकोल एक दवा है आयुर्वेदिक नहीं, इस वजह से खुराक को डॉक्टर की सलाह के बिना ना लें।
  • इसकी खुराक उम्र और बीमारी पर भी निर्भर करती है।
  • टिरैट्रिकोल रक्त शर्करा को बढ़ा सकता है, इसलिए जानकारी के बिना ये दवा ना लें।
  • बच्चों को ये दवाई नहीं देनी चाहिए।

कुछ रिसर्च के अनुसार थायरॉइड कैंसर के इलाज के लिए लेवोथायरोक्सिन नाम की दवा के साथ टिरैट्रिकोल रोजाना दो बार 10-24 mg लेने की सलाह हेल्थ एक्सपर्ट दे सकते हैं। अगर इससे फायदा होता है तो इसकी खुराक बढ़ाई भी जा सकती है। उपरोक्त जानकारी चिकित्सा सलाह का विकल्प नहीं है।

और पढ़ें: Spinach: पालक क्या है?

उपलब्ध

किन रूपों में उपलब्ध है?

  • कैप्सूल
  • चूर्ण

यह दवा नर्वस सिस्टम को समान्य से ज्यादा एक्टिव कर सकती है। जिससे सेवन करने वाले व्यक्ति को परेशानी महसूस हो सकती है। नर्वस सिस्टम के ओवरएक्टिव होने की वजह से दिल की धड़कन भी तेज हो सकती है। ऐसी स्थिति में ब्लड प्रेशर भी बढ़ सकता है। इसलिए इसके सेवन से पहले इसके बारे में ठीक तरह से समझ लें।

अगर आप टिरैट्रिकोल से जुड़े किसी तरह के कोई सवाल का जवाब जानना चाहते हैं तो विशेषज्ञों से समझना बेहतर होगा। उपरोक्त जानकारी चिकित्सा सलाह का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हर्बल एक्सपर्ट से जानकारी जरूर लें। आशा है कि आपको ये आर्टिकल पसंद आया होगा और आपको टिरैट्रिकोल से जुड़ी जानकारी मिल गई होगी। आप जड़ी-बूटी या हर्बल से जुड़ी अधिक जानकारी के लिए हैलो स्वास्थ्य की वेबसाइट पर विजिट कर सकते हैं। साथ ही हैलो स्वास्थ्य के फेसबुक पेज पर आप स्वास्थ्य संबंधी प्रश्न पूछ सकते हैं। बिना हर्बल एक्सपर्ट की जानकारी के हर्बल का प्रयोग न करें।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र
लेखक की तस्वीर badge
Bhawana Sharma द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 27/08/2020 को
डॉ. पूजा दाफळ के द्वारा एक्स्पर्टली रिव्यूड