अपने 5 सप्ताह के शिशु की देखभाल के लिए आपको किन जानकारियों की आवश्यकता है?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित | द्वारा

अपडेट डेट May 20, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
अब शेयर करें

5 सप्ताह के शिशु का विकास और व्यवहार

मेरे 5 सप्ताह के शिशु का विकास कैसा होना चाहिए?

चार हफ्ते का यह समय कैसे निकल गया होगा आपको पता भी नहीं चला होगा। इतने कम समय में आप एक अच्छे पेरेंट बन गए होंगे। हां इन चार हफ्तों में आपने कई परेशानी भी देखी होंगी लेकिन इनके बारे में सोचने की जरूरत नहीं है। आपका ध्यान अब इस बात पर होना चाहिए कि 5 हफ्ते के अपने बच्चे को कैसे रखना है। अभी भी आपके बच्चे का नर्वस सिस्टम वॉम्ब से बाहर एडजस्ट करने की कोशिश कर रहा है। बच्चे को इसमें एडजस्ट करने में 16 हफ्तों का समय लगता है।

आपका शिशु पांच महीने का हो गया है और अब उसने थोड़ी बहुत बॉडी मूवमेंट भी शुरू कर दी होगी, शायद वे पेट के बल लेटने भी लगा हो। इस चरण में शिशु अपने आसपास की चीजें और नए चेहरों को पहचानने की कोशिश करता है, खासतौर पर मां का चेहरा। ये भी हो सकता है कि  शिशु अपनी भावनाओं को व्यक्त करने के लिए आवाजें निकालने की भी कोशिश करे। कुछ बच्चे तो हंसना भी शुरू कर देते हैं।

मुझे 5 सप्ताह के शिशु के विकास के लिए क्या करना चाहिए?

आप अपने शिशु के साथ खेलें, उससे बात करें, उसकी बातों का जवाब दें  और नए शब्द सीखाने की कोशिश करें, यकीन मानें इसमें उन्हें आनंद आएगा।

यह भी पढ़ें : अपने 23 सप्ताह के शिशु की देखभाल के लिए आपको किन जानकारियों की आवश्यकता है? 

और पढ़ें

5 सप्ताह के शिशु का स्वास्थ्य और सुरक्षा

मुझे डॉक्टर से क्या बात करनी चाहिए?

आपके बच्चे के स्वास्थ्य के आधार पर, डॉक्टर परीक्षण का समय तय करेगा।  आप  इस सप्ताह डॉक्टर के साथ निम्नलिखित मुद्दों पर  सलाह लें:

  • शिशु का खाना, सोना और सामान्य गतिविधियों के बारे में सलाह लें। 
  • जन्म के बाद बच्चे का​ वजन, लंबाई और विकास के बारे में सलाह लें।
  • बच्चे की सुनने और देखने की क्षमता के बारे में। 

मुझ किन बातों की जानकारी होनी चाहिए?

यहाँ कुछ जानकारियां हैं, जिनके बारे में आपको पता होना चाहिए:

उल्टी  (Vomitting)

पहले महीने के दौरान कुछ बच्चे कभी—कभी दूध पीने के बाद उल्टी कर देते हैं। इसका एक कारण शिशु को भूख से अधिक दूध पीलाना भी हो सकता है। वैसे इसके और भी कारण हो सकते हैं। इस बारे में आप अपने डॉक्टर से सलाह कर सकते हैं क्योंकि शिशु का ज्यादा उल्टी करना,भूख न लगना या अधिक खांसी आदि बाद में बड़ी समस्या बन सकती है।

 दूध से एलर्जी (Allergy to milk)

कई शिशुओं में दूध से एलर्जी सबसे आम एलर्जी है। ऐसे शिशु दूध पीते ही उल्टी कर देते हैं।  कई बार उसे दस्त भी हो सकते हैं। जिन शिशुओं को दूध से एलेर्जी होती है, उन्हें दूध पीते ही एक्जिमा, पित्ती, और नाक से पानी आने जैसी समस्याएं भी हो सकती हैं। बच्चे को दूध से एलेर्जी है या नहीं, ये पता लगाने के लिए कोई टेस्ट नहीं है। इसलिए इस पर कोई  इलाज या नुस्खा इस्तेमाल करने से पहले अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। 

मल से बदबू आना (Smell comes from stool)

मां का दूध पीने वाले शिशुओं का पतली पॉटी करना सामान्य बात है लेकिन, अगर मल से बदबू या बलगम आए तो उसे अनदेखा न करें। ऐसा शिशु को अंदरूनी बु​खार के कारण भी हो सकता है। एक शोध में पाया गया है कि ऐसी समस्या होने पर बोतल से दूध पीने वाले शिशुओं की तुलना में स्तनपान करने वाले शिशु जल्दी ठीक हो जाते हैं। यदि  शिशु पेट दर्द से भी ग्रस्त है, तो यह कब्ज की समस्या भी हो सकती है।  ऐसे में तुरंत अपने डॉक्टर से संपर्क करें और बच्चे को ज्यादा से ज्यादा पानी पिलाएं।

यह भी पढ़ें : Urine Test : यूरिन टेस्ट क्या है?

5 सप्ताह के शिशु का पोषण

5 सप्ताह के शिशु को दूध की बोटल देनी चाहिए या नहीं

यदि आप वर्किंग हैं जिनकी छह हफ्ते की मैटरनिटी लीव है जिसके बाद उन्हें वापस से दफ्तर जाना होगा, तो इन मांओं के लिए ये बेस्ट समय हैं जब वह बच्चे को दूध की बोटल पकड़ाना शुरू करें। कुछ बच्चों में यह बहुत बड़ा चैलेंज होता है लेकिन ये टिप्स आपकी मदद करेंगे:

बच्चे को दूध की बोटल किसी और से दिलवाएं
इसके लिए आप परिवार के किसी दूसरे मेंबर का इस्तेमाल करें। क्योंकि यदि आप खुद से बच्चे को बोटल से दूध पिलाएंगी तो इससे बच्चा कंफ्यूज या इरिटेट हो सकता है। इस काम के लिए अपने किसी करीबी को चुनें जो आपकी तरह महकता हो लेकिन उसकी ब्रेस्ट न हो।

हो सकता है बच्चा शुरुआत में कुछ समय तक बोटल को ठीक से न पकड़े। लेकिन आप हार न मानें। आपको इसके लिए कई बार प्रयास करने की जरूरत होगी।

महत्वपूर्ण बातें:

स्वास्थ्य और सुरक्षा संबंधित जानकारी

फिलहाल आपका बच्चा छह से आठ बार दूध पीता होगा। आप जब दूध पिलाती होंगी तो यह पता नहीं लगा सकती कि क्या आपका बच्चा सही मात्रा में दूध पी रहा है। जब वो अच्छे से बढ़ेगी और मोटी नजर आएगी तभी आप इस बात का पता लगा सकते हैं। इसके अलावा आप उसके डायपर से भी पता लगा सकते हैं कि वह सही मात्रा में दूध पी रहा है या नहीं। यदि आपका बच्चा दिन में छह डायपर गीले करता है तो इसका मतलब है वह पर्याप्त दूध ले रही है।

मुझे किन बातों का ख्याल रखना चाहिए ?

पहले महीने के पहले सप्ताह में, बहुत सारी ऐसी चीजें होंगी, जिन्हें आपको ध्यान देना चाहिए। सबसे पहले, यह निर्धारित करें कि आपके बच्चे को पर्याप्त दूध और ​जरूरी पोषक तत्व मिल रहे हैं या नहीं। इस आप कुछ इस तरह पता कर सकती हैं, जैसे​ कि:

  • स्तनपान के बाद शिशु टॉयलेट कर देता है।
  • यूरीन का रंग सही है या नहीं।
  • वे फीडिंग के बाद ज्यादातर खुश और संतुष्ट है या नहीं।

आपके शिशु को अच्छी नींद मिल सके, इसके लिए जरूरी है कि आप निम्नलिखित सुझावों का पालन कर सकती हैं:

  • अपने शिशु की अच्छी नींद के लिए शांत वातावरण का चुनाव करें।
  • शिशु के लिए कमरे का तापमान उसके अनुरूप निर्धारित करें।
  • ध्यान रखें कि शिशु को पर्याप्त नींद जरूर ले रहा हो।
  • शिशु के बेडरूम में सूरज की रौशनी आती हो।

हम आशा करते हैं आपको हमारा यह लेख पसंद आया होगा। हैलो हेल्थ के इस आर्टिकल में 5 सप्ताह के शिशु की देखभाल की जानकारी दी गई है। यदि आप इससे जुड़ी अन्य कोई जानकारी पाना चाहते हैं तो आप अपना सवाल हमसे कमेंट कर पूछ सकते हैं।

और पढ़ें :-

अपने 13 सप्ताह के शिशु की देखभाल के लिए आपको किन जानकारियों की आवश्यकता है?

बच्चे की मिट्टी खाने की आदत छुड़ाने के उपाय

Thyroid Nodules : थायरॉइड नोड्यूल क्या है?

क्या है टीबी का स्किन टेस्ट (TB Skin Test)?

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

Was this article helpful for you ?
happy unhappy
सूत्र

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

बच्चों के लिए ओट्स, जानें यह बच्चों की सेहत के लिए कितना है फायदेमंद

बच्चों के लिए ओट्स काफी लाभकारी है, इसका सेवन करने से बच्चों को विभिन्न प्रकार की परेशानियों का सामना नहीं करना पड़ता है, जानने के लिए पढ़ें। (oats-for-kids)

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Satish singh

बाल अनुकूल अवकाश गंतव्य की प्लानिंग कर रहे हैं जो इन जगहों का बनाए प्लान

बाल अनुकूल अवकाश गंतव्य की प्लानिंग कर रहे हैं तो जानें कौन कौन सी जगहों पर जा सकते हैं। बच्चों की पसंद और ना पसंद के हिसाब से करें डेस्टिनेशन प्लान।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Satish singh

क्या मानसिक मंदता आनुवंशिक होती है? जानें इस बारे में सबकुछ

मानसिक मंदता क्या है, मानसिक मंदता होने के कारण क्या है, क्या मानसिक अल्पता आनुवंशिक होती है, Mental retardation intellectual disability.

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shayali Rekha

नवजात के लिए जरूरी टीके – जानें पूरी जानकारी

जैसे ही शिशु जन्म लेता है, वैसे ही उसे बीमारियां और इंफेक्शन होने का खतरा हो जाता है। एक्सपर्ट से जानते हैं कि, इन समस्याओं से बचाव के लिए शिशु को कौन-से टीके लगवाना जरूरी है। Vaccines for Newborns: Everything You Need To Know

के द्वारा लिखा गया Sanket Pevekar

Recommended for you

बेबी

बेबी की देखभाल करना है आसान, अगर आपको इस बारे में हो पूरी जानकारी

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया AnuSharma
प्रकाशित हुआ February 18, 2021 . 8 मिनट में पढ़ें
एब्डॉमिनल माइग्रेन (Abdominal Migraine)

एब्डॉमिनल माइग्रेन! जानिए बच्चों में होने वाली इस बीमारी के बारे में

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Nidhi Sinha
प्रकाशित हुआ February 18, 2021 . 4 मिनट में पढ़ें
जुड़वा बच्चे कंसीव करने की संभावना कैसे बढ़ती है

जुड़वां बच्चे कंसीव करने की संभावना को बढ़ा सकते हैं ये फैक्टर्स, जान लें इनके बारे में

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Satish singh
प्रकाशित हुआ February 18, 2021 . 5 मिनट में पढ़ें
microcephaly - माइक्रोसेफली

माइक्रोसेफली- जब बच्चों के मस्तिष्क का नहीं होता सही विकास

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Toshini Rathod
प्रकाशित हुआ February 17, 2021 . 6 मिनट में पढ़ें