home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

Milia : मिलीया क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और उपाय

परिचय|लक्षण|कारण|जोखिम|उपचार|घरेलू उपाय
Milia : मिलीया क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और उपाय

परिचय

मिलीया क्या है?

मिलीया नवजात शिशु के नाक पर निकलने वाले दानों को कहते हैं। मिलीया बच्चे के नाक के साथ उसके गाल और ठोड़ी पर भी हो सकता है। अमूमन ये समस्या नवजात बच्चों में देखी जाती है लेकिन, मिलीया किसी भी उम्र में और किसी को भी हो सकता है।

मिलीया कई प्रकार के होते हैं। मिलीया में निकलने वाले सिस्ट के आधार पर इसे कई भागों में बांटा गया है :

नियोनैटल मिलीया (Neonatal Milia)

इस प्रकार का मिलीया नवजात या कुछ हफ्ते की उम्र के शिशु में दिखाई देता है। सिस्ट बच्चे के चेहरे, सिर आदि हिस्सों पर दिखाई देता है। स्टेनफोर्ड स्कूल ऑफ मेडिसिन के अनुसार 40 प्रतिशत नवजात शिशुओं में मिलीया की समस्या होती है।

जुवेनाइल मिलीया (Juvenile Milia)

इस प्रकार का मिलीया जेनेटिक डिसॉर्डर के कारण होता है :

  • नेवॉइड बेसल सेल सार्किनोमा सिंड्रोम (Nevoid basal cell carcinoma syndrome)
  • पैकियॉनिकिया कॉन्जेनिटा (Pachyonychia congenita)
  • गार्डनर सिंड्रोम (Gardner syndrome)
  • बेजेक्स-डप्रे-क्रिस्टॉल सिंड्रोम (Bazex-dupré-Christol syndrome)

बच्चों और बड़ों को प्रारंभिक मिलीया (Primary Milia in Children and Adults)

ये स्थिति त्वचा में केरेटिन के कारण होती है। सिस्ट आंखों की पलकों, माथे और शरीर के कई अंगों पर पाए जाते हैं। लेकिन, ये कुछ हफ्तों या महीनों के बाद खुद ही गायब हो जाते हैं।

और पढ़ें- Warts : मस्सा क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और उपाय

मिलीया एन प्लाक (Milia en Plaque)

ये एक प्रकार का आनुवंशिक त्वचा संबंधित विकार है। जैसे- डिस्कॉयड ल्यूपस या लाइकेन प्लानस। मिलीया एन प्लाक पलकों, कानों, गालों या जबड़ों को प्रभावित कर सकता है। सिस्ट कई सेंटिमीटर बड़े होते हैं। ये बच्चे और बड़ों दोनों को हो सकता है।

मल्टीपल इरप्टिव मिलीया (Multiple Eruptive Milia)

इस प्रकार के मिलीया में सिस्ट वाले स्ठान पर खुजली होती है। ये जीवन के किसी भी अवस्था में सामने आ सकता है।

ट्रामाटिक मिलीया (Traumatic Milia)

इसमें सिस्ट किसी भी प्रकार के घाव के कारण त्वचा पर निकल आता है। जैसे कि जले या रैशेज के निशान। इस तरह के सिस्ट आपको तंग कर सकते हैं। साथ ही आधार पर लाल और ऊपर की तरफ सफेद भी हो सकते हैं।

दवाओं के कारण मिलीया (Milia Associated with Drugs)

स्टेरॉइड क्रीम लगाने के कारण त्वचा पर मिलीया होना। ये समस्या शायद ही कभी देखने को मिले, क्योंकि ये काफी दुर्बल किस्म की मिलीया है। इसमें दवाओं के रिएक्शन या एलर्जी से सिस्ट निकल जाते हैं।

कितना सामान्य है मिलीया होना?

मिलीया होना बेहद सामान्य बात है। ये ज्यादातर नवजात शिशुओं में होता है और वयस्कों को भी यह परेशानी हो सकती है। अगर शिशु के चेहरे पर ये दाने नजर आयें तो ज्यादा जानकारी के लिए डॉक्टर से संपर्क करें। खुद से इलाज न करें क्योंकि शिशु की त्वचा बेहद कोमल होती है

लक्षण

मिलीया के क्या लक्षण है?

मिलीया अक्सर बच्चे के नाक, ठोढ़ी या गालों पर निकलता है। इसके अलावा कभी-कभी सिस्ट हाथ-पांव के अलावा अन्य अंगों पर भी निकल जाता है। कभी-कभी बच्चे के मसूड़ों या मुंह के तालू में भी दाने दिखाई देते हैं। इसे एप्सिटन पर्ल्स कहते हैं। कुछ बच्चों को एक्ने यानी कि फुंसियां भी निकल जाती हैं। ये फुंसियां ज्यादातर गालों पर निकलती हैं। लेकिन ये मिलीया है या नहीं इसका अंतर डॉक्टर से पूछ लें।

मुझे डॉक्टर को कब दिखाना चाहिए?

ऊपर बताए गए लक्षणों के होने पर आपको अपने डॉक्टर से मिलना चाहिए। डॉक्टर से मिल कर परामर्श ले लें। क्योंकि सबका शरीर अलग-अलग प्रतिक्रिया करता है।

और पढ़ें- Pityriasis rosea: पिटिरियेसिस रोजिया क्या है?

कारण

मिलीया होने के कारण क्या है?

यह त्वचा पर होने वाले दाने हैं। जो छोटे-छोटे पॉकेट के रूप में त्वचा पर निकलते हैं। नवजात बच्चों को मिलीया क्यों होता है, अभी तक इसका कारण अज्ञात है। स्टेनफोर्ड स्कूल और मेडिसिन के अनुसार जिन नवजात बच्चों को जन्म से ही मिलीया होती है, उन्हें बेबी एक्ने जन्म के कुछ हफ्ते बाद तक नहीं होते हैं।

और पढ़ें- G6PD Deficiency : जी6पीडी डिफिसिएंसी या ग्लूकोस-6-फॉस्फेट डीहाड्रोजिनेस क्या है?

जोखिम

मिलीया के साथ मुझे क्या समस्याएं हो सकती हैं?

मिलिया बहुत कम रिस्क होता है। जब मिलिया किसी अन्य स्थिति या चोट से जुड़ी होती है, तो उस स्थिति का अलग से इलाज किया जाना चाहिए।

मिलीया के साथ कई तरह के रिस्क फैक्टर हैं :

  • त्वचा के समस्याओं के कारण छाले पड़ना संभव हो सकता है
  • जलन महसूस होना
  • पॉइजन आईवी के कारण रैशेज या घाव होना
  • त्वचा को फिर से ठीक करने की प्रक्रिया, जैसे कि डर्माब्रेशन या लेजर रिसर्फेसिंग के कारण
  • लंबे समय से स्टेरॉइड क्रीम का इस्तेमाल करने से
  • लंबे समय से त्वचा का सन डैमेज होना

और पढ़ें- Marfan syndrome : मार्फन सिंड्रोम क्या है?

उपचार

यहां प्रदान की गई जानकारी को किसी भी मेडिकल सलाह के रूप ना समझें। अधिक जानकारी के लिए हमेशा अपने डॉक्टर से परामर्श करें।

मिलीया का निदान कैसे किया जाता है?

इसकी जांच डॉक्टर आपके त्वचा के प्रकार और अन्य समस्याओं के आधार पर करते हैं। साथ ही डॉक्टर सिस्ट किस प्रकार का है इसकी भी जांच करते हैं।

मिलीया का इलाज कैसे होता है?

नवजात शिशु को मिलीया के लिए इलाज की जरूरत नहीं है। वह कुछ हफ्तों में खुद ही ठीक हो जाता है। वहीं, बच्चों और बड़ों में भी कुछ महीनों में सिस्ट खत्म हो जाते हैं। इसके अलावा अगर सिस्ट के कारण परेशानी हो रही है तो कुछ ट्रीटमेंट दिए जाते हैं :

  • सिस्ट के अंदर के फ्लूइड को निडिल के मदद से निकाला जाता है
  • रेटिनॉइड यानि कि विटामिन-ए कम्पाउंड्स से बने मलहम को मिलीया पर लगाने के लिए दिया जाता है
  • सिस्ट को खत्म करने के लिए लेजर एब्लेशन करना
  • डायाथर्मी विधि द्वारा ताप की मदद से सिस्ट को खत्म करना
  • सर्जिकल विधि से सिस्ट को खुरच के त्वचा से अलग करना
  • क्रायोथेरिपी से भी सिस्ट को नष्ट किया जाता है।

और पढ़ें- Tachycardia : टायकिकार्डिया क्या है?

घरेलू उपाय

जीवनशैली में होने वाले बदलाव क्या हैं, जो मुझे मिलीया को ठीक करने में मदद कर सकते हैं?

इस संबंध में आप अपने डॉक्टर से संपर्क करें। क्योंकि आपके स्वास्थ्य की स्थिति देख कर ही डॉक्टर आपको उपचार बता सकते हैं।

मिलिया से बचाव के लिए कुछ सावधानियों का ध्यान रखें:

  • सूर्य के अत्यधिक संपर्क से बचें
  • ऑयली उत्पादों के उपयोग से बचें
  • सप्ताह में 2 से 3 बार एक्सफोलीएटिंग करें
  • नियमित रूप से दो से तीन लीटर पानी पीएं

हैलो स्वास्थ्य किसी भी तरह की मेडिकल सलाह नहीं दे रहा है। अगर आपको किसी भी तरह की समस्या हो तो आप अपने डॉक्टर से जरूर पूछ लें।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Milium Cysts in Adults and Babies/https://www.healthline.com/health/milia/Accessed on 04/01.2020

Milium/https://dermnetnz.org/topics/milium/Accessed on 04/01/2020

Milia/https://www.healthdirect.gov.au/milia/Accessed on 04/01/2020

How can I get rid of milia?/https://www.medicalnewstoday.com/articles/320953.php/Accessed on 04/01/2020

Does Your Skin Have Tiny White Bumps? Leave Them Alone/https://health.clevelandclinic.org/does-babys-skin-have-tiny-white-bumps-leave-them-alone/Accessed on 04/01/2020

लेखक की तस्वीर badge
Shayali Rekha द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 25/06/2020 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x