त्वचा संबंधी परेशानियों के लिए उपयोगी है नीम का तेल

चिकित्सक द्वारा समीक्षित | द्वारा

अपडेट डेट जून 22, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
अब शेयर करें

नीम और उसकी खूबियां तो दुनिया भर में मशहूर हैं, लेकिन ज्यादातर लोग इसके सौंदर्य फायदों के बारे में नहीं जानते। नीम की पत्तियों का पेस्ट इस्तेमाल करना त्वचा के निखार के लिए बेहतरीन है लेकिन उसकी तुलना में नीम के तेल का उपयोग ज्यादा सरल और आसान है, और यह त्वचा के अंदर तक पहुंच जाता है। नीम का तेल आम मेडिकल स्टोर या आयुर्वेदिक दवाओं की दुकान में आसानी से मिल जाता है। नीम तेल में दो प्रमुख यौगिक शामिल हैं, जिसके कारण नीम के तेल में एंटीसेप्टिक, एंटीफंगल, एंटीपीयरेटिक और एंटीहिस्टामाइन गुण पाए जाते हैं।

यह भी पढ़ें : Bipolar Disorder :बाईपोलर डिसऑर्डर क्या है?जाने इसके कारण लक्षण और उपाय

त्वचा के परेशानियों के लिए नीम तेल कैसे है फायदेमंद: 

1.झुर्रियां कम करने में मदद करे:

नीम में एंटीऑक्सिडेंट्स और इम्यून बढ़ाने के तत्व होते हैं जिसके कारण यह त्वचा निचली परत में मौजूद पैथोजन्स का मुकाबला करते हैं। इससे त्वचा मुएलायम रहती है और झुर्रियां नहीं पड़तीं। हफ्ते में दो बार, त्वचा पर नीम का तेल या नीम फेस पैक लगाने से बुढ़ापे के दिखाई देने वाले लक्षणों का असर कम किया जा सकता है और त्वचा में निखार और नयापन नजर आ सकता है।

2.त्वचा का लचीलापन बरकार रखता है:

नीम के तेल में विटामिन ‘ई‘ और फैटी एसिड्स का खजाना होता है जो त्वचा के लचीलेपन को बरकार रखने में मदद करते हैं। नहाने के बाद, नीम का तेल नारियल के तेल मिला कर शरीर पर लगाया जाए तो यह मॉइस्चराइज़र का काम करेगा जिससे त्वचा नरम, मुलायम और हाइड्रेटेड रहेगी।

3.मुंहासों का सफाया करे:

नीम की एंटी-इंफ्लेमेटरी और एनाल्जेसिक खूबियां मुँहासे कम करने में मदद करती हैं। नीम का एंटी-बैक्टीरियल गुण त्वचा पर मुँहासे पैदा करने वाले बैक्टीरिया को खत्म कर देता है।नीम के तेल से मुंहासों के दाग-धब्बों और सूजन को कम करने के लिए भी इस्तेमाल किया जा सकता है।

यह भी पढ़ें : Alprazolam : अल्प्राजोलम क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

4.सेहतमंद पलकें और भौं:

रिसर्च के अनुसार जो लोग अपने चेहरे पर नीम का तेल लगाते हैं, उनकी पलकें और भौं साफ़ और सेहतमंद नजर आती हैं। नीम त्वचा को गहराई से साफ़ करती है जबकि नीम का तेल त्वचा की सफाई के साथ-साथ पलकों और भौओं की बढ़ोतरी में भी अहम किरदार निभाता है। 

5.त्वचा के फंगल इंफेक्शन से राहत:

नीम के एंटी-फंगल गुण त्वचा के फंगल इंफेक्शन जैसे रिंगवॉर्म, एथलीट्स फुट और नाख़ून के फंगस को खत्म कर देते हैं। नीम के तेल में मौजूद 2 कंपाउंड्स जेडुनिन और निम्बीडॉल, फंगस को खत्म कर देते हैं, जिसके कारण त्वचा के इंफेक्शन से राहत मिल जाती है। यह रिसर्च द्वारा साबित हुआ है कि नीम का तेल फंगस के 14 प्रकार में फायदेमंद है।  

6.खुजली से राहत दिलाए:

त्वचा की खुजली ज्यादातर त्वचा में नमी की कमी के कारण होती है। नीम के तेल में फैटी एसिड्स और विटामिन ‘ई’ की अच्छी मात्रा होती है जिसके कारण यह आसानी से त्वचा की अंदरूनी सतह तक पहुंच जाता है और नमी पैदा करता है। खुजली वाली त्वचा पर नीम का तेल लगाया जाए तो खुजली से राहत मिलेगी। साथ ही, ड्राई और डैमेज हुयी त्वचा दोबारा ठीक करने में आसानी होगी

7. डार्क सर्कल से करे बचाव

आपको जानकर हैरानी होगी कि नीम का सेवन डार्क सर्कल से छुटकारा पाने के लिए भी किया जा सकता है। तो अगर आपके आंखों के नीचे डार्क सर्कल हैं, तो आप नीम का सेवन कर सकते हैं। आंखों के नीचे डार्क सर्किल होने पर आप नीम के पत्तों को पीसकर इसका पेस्ट बना लें। फिर उस पेस्ट को डार्क सर्कल पर लगा दें और कुछ मिनट तक इस पेस्ट को लगे रहने दें। कुछ देर के बाद आप इस लेप को पानी की सहायता से अच्छी तरह साफ कर दें। आप इस प्रक्रिया को सप्ताह में तीन बार दोहरा सकते हैं।

नीम का तेल सुरक्षित है लेकिन बेहद गुणकारी है। यह गजकर्ण जैसे त्वचा विकार वाले किसी व्यक्ति में प्रतिकूल प्रतिक्रिया का कारण बन सकता है। अगर यह नीम के तेल का उपयोग कर रहा है, तो अपने चेहरे से दूर, आपकी त्वचा के एक छोटे से क्षेत्र पर एक छोटी, पतला मात्रा में कोशिश करके शुरू करें। यदि लालिमा या खुजली विकसित होती है, तो आप तेल को और पतला कर सकते हैं या इसका पूरी तरह से उपयोग करने से बच सकते हैं।

जानिए नीम के अन्य फायदे क्या हैं

अभी तक आपने नीम के तेल के फायदे जानें, आइए अब हम नीचे जानते हैं कि नीम किस तरह से हमारे लिए फायदेमंद साबित हो सकता है। जानिए नीम और किस किस तरह से फायदेमंद साबित हो सकता है :

फायदेमंद है नीम की दातुन

नीम के फायदे में एक फायदा उसका प्राकृतिक टूथब्रश होना भी है। दांतों और मसूड़ों की स्वच्छता और देखभाल के लिए नीम की टहनी चबाना एक पुरानी परंपरा है। आज के आधुनिक युग में भी भारतीय घरों में लोग नीम की टहनी का प्रयोग ब्रश की तरह करते हैं। आजकल नीम आधारित अनेक टूथपेस्ट बाजार में उपलब्ध हैं। एंटी फंगल और एंटी बैक्टीरियल होने  के कारण यह सभी प्रकार की दांत की बीमारियों और इंफेक्शन को दूर रखता है।

कैंसर से बचाए नीम

नीम में पाए जाने वाले कई तत्त्व कैंसर से बचाव करने में सक्षम हैं। कुछ अध्ययनों में पाया गया है की नीम की पत्तियों का अर्क कैंसरग्रस्त कोशिकाएं को खत्म  करता है और कैंसर से लड़ने में मदद कर सकता है। इस तरह से कैंसर में नीम के फायदे का नाम बहुत है।

ब्लड प्यूरीफाई करता है नीम

आपको शायद न पता हो कि नीम में ब्लड प्यूरिफाई करने के गुण भी होते हैं। इसलिए अगर इसकी पत्तियों को खाया जाए, तो शरीर का खून साफ हो जाता है और शरीर के गंदे जीवाणु भी खत्म हो जाते हैं। आप चाहें तो नीम के पत्तों को उबालकर इसका पानी पी सकते हैं। अगर कड़वेपन के कारण आप इसे पी नहीं सकते हैं, तो आप इस पानी में थोड़ा सा शहद मिला लें। आपको काफी फायदा पहुंच सकता है।

उम्मीद करते हैं आपको हमारा ये आर्टिकल पसंद आया होगा और नीम से जुड़ी ये जानकारियां पाकर आप इसका सेवन करना भी शुरू करेंगे। अगर आपको इस आर्टिकल में दी गई जानकारियां पसंद आई हैं, तो इसे ज्यादा से ज्यादा लोगों के साथ शेयर करें।

और पढ़ें :-

चमकदार त्वचा चाहते हैं तो जरूर करें ये योग

त्वचा के लिए जरूरी है स्क्रबिंग

शिशु की त्वचा से बालों को निकालना कितना सही, जानें क्या कहते हैं डॉक्टर?

त्वचा के इस गंभीर रोग से निपटने के लिए मिल गयी है वैक्सीन

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
happy unhappy
सूत्र

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

होंठों पर पिंपल्स का इलाज ढूंढ रहे हैं? तो ये आर्टिकल कर सकता है आपकी मदद

होंठों पर पिंपल्स का इलाज कैसे करें? होंठों पर पिंपल्स का इलाज के लिए कैस्टर ऑयल, lip pimples home remedies in hindi, होंठों पर दाने से छुटकारा...

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Hemakshi J
के द्वारा लिखा गया Smrit Singh
ओरल हेल्थ, स्वस्थ जीवन मई 7, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

Mouth Infection: जानिए मुंह में संक्रमण के घरेलू उपचार

मुंह में संक्रमण के लक्षण, कारण, मुंह में संक्रमण का उपचार, माउथ इंफेक्शन के घरेलू उपाय, mouth infection prevention tips in hindi, oral infection in hindi

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Hemakshi J
के द्वारा लिखा गया Smrit Singh
ओरल हेल्थ, स्वस्थ जीवन अप्रैल 16, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

अनाज में कीड़े की दवा पहुंचा सकती है कई नुकसान, इन नैचुरल तरीकों से दूर भगाएं कीड़े

अनाज में कीड़े की दवा रखने से पहले किन बातों का ध्यान रखना चाहिए, अनाज में कीड़े की दवा कैसे रखें, कीड़े की दवा का सेहत पर क्या असर होता है, Pest control in stored grain in Hindi.

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shayali Rekha
हेल्थ टिप्स, स्वस्थ जीवन मार्च 25, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

Quiz: क्विज में छिपे हैं पिंपल्स से जुड़े कुछ सवालों के जवाब, क्या आप जानते हैं?

पिंपल्स (एक्ने) क्यों होते हैं? पिंपल्स से निजात पाने के लिए किन बातों का ध्यान रखना चाहिए? पिंपल्स के लिए घरेलू नुस्खें, पिंपल्स ट्रीटमेंट

के द्वारा लिखा गया Mona narang
क्विज फ़रवरी 13, 2020 . 1 मिनट में पढ़ें

Recommended for you

कील मुंहासे के घरेलू उपाय

चेहरे से कील मुंहासों को हटाने के घरेलू उपाय

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Satish singh
प्रकाशित हुआ जुलाई 21, 2020 . 8 मिनट में पढ़ें
kitchen beauty secrets - किचन ब्यूटी सीक्रेट

10 किचन ब्यूटी सीक्रेट जिसमें छुपा है खूबसूरती का राज

के द्वारा लिखा गया Kanchan Singh
प्रकाशित हुआ जून 16, 2020 . 6 मिनट में पढ़ें
आयुर्वेदिक च्वयनप्राश घर पर कैसे बनाये ayurvedic chyawanprash kaise banaye

आयुर्वेदिक च्वयनप्राश घर पर कैसे बनायें, जानें इसके अनजाने फायदे

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pooja Daphal
के द्वारा लिखा गया Mousumi dutta
प्रकाशित हुआ मई 22, 2020 . 6 मिनट में पढ़ें
शहद नींबू और गर्म पानी का सेवन के फायदे Intake of Honey lemon and water benefits

गर्म पानी के साथ शहद और नींबू लेने से बढ़ती है इम्युनिटी, जानें इसके फायदे

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Mousumi dutta
प्रकाशित हुआ मई 21, 2020 . 7 मिनट में पढ़ें