backup og meta

अगर आपका भी बच्चा नाखून चबाता है कैसे छुड़ाएं यह आदत?

के द्वारा एक्स्पर्टली रिव्यूड डॉ. अभिषेक कानडे · आयुर्वेदा · Hello Swasthya


Nikhil Kumar द्वारा लिखित · अपडेटेड 29/06/2021

अगर आपका भी बच्चा नाखून चबाता है कैसे छुड़ाएं यह आदत?

क्या आपका बच्चा नाखून चबाता है?  अधिकतर बच्चों में नाखून चबाने या अंगूठा चूसने की आदत होती है, जिससे पेरेंट्स परेशान रहते हैं। ऐसा तब होता है जब बच्चे इसमें स्वाद को महसूस करने लगते हैं या उनके दांत आने लगते हैं, तब बच्चे ये आदत पकड़ लेते हैं। नाखून चबाने से वैसे तो कोई बहुत अधिक नुकसान तो नहीं होता है, लेकिन पेट की समस्या और गंदगी की शिकायत हो सकती है। नाखून को चबाना सेहत के लिए हानिकारक भी साबित हो सकता है। अगर आप बच्चे की नाखून चबाने (Baby bites nails) की आदत से परेशान हैं, तो  इस लेख में जानें नाखून चबाने से होने वाले नुकसानों  को-

क्या आपका बच्चा नाखून चबाता है? (Does your child bite nails?)

आपने महसूस किया होगा कि, जब बच्चे शिशु अवस्था में होते हैं, तब उनमें यह आदत नहीं होता। लेकिन, जैसे-जैसे बड़े होते हैं, बच्चों में नाखून चबाने की आदत लगने लगती है। कुछ बच्चे तनाव के कारण नाखून चबाते हैं। कई बार इस आदत के बढ़ने में माता-पिता भी जिम्मेदार होते हैं। इंदिरा गांधी आयुर्विज्ञान संस्थान पटना में शिशु रोग विशेषज्ञ डॉ श्रीनिवास कहते हैं, कि कई बार पेरेंट्स बच्चों को नाखून या अंगूठा चबाने से मना करते हैं और अंगूठा बाहर निकाल देते हैं, जिससे बच्चा कोई दूसरा तरीका ढूंढ लेता है।

और पढ़ें : जानें बच्चे में होने वाली आयरन की कमी को कैसे पूरा करें

बच्चा नाखून चबाता है, तो इससे क्या नुकसान हो सकते हैं? (Child Nail biting)

बढ़े हुए नाखूनों में मैल और गंदगी का भरमार होता है, जिसे लगातार चबाने से बच्चों को इंफेक्शन हो सकता है। नाखून लगातार चबाने के कारण यह गंदगी सीधे बच्चे के पेट में चली जाती है। जिससे पेट की कई प्रकार की समस्याएं हो सकती हैं, जैसे – पेट खराब, उल्टी और दस्त आना नाखून चबाने से होने वाली आम समस्याएं हैं।

बच्चा नाखून चबाता है (Baby bites nails), तो इस आदत को कैसे छुड़ाएं?

बच्चा नाखून चबाता है (Baby bites nails)
बच्चा नाखून चबाता है (Baby bites nails)

नीचे कुछ आसान से टिप्स दिए गए हैं, जिनसे आप बच्चों की नाखून खाने की आदत को कम कर सकते हैं।

जानने की कोशिश करें कि यह आदत क्यों होती है

किसी भी आदत को समय रहते उस पर अम्ल किया जाए तो वह खत्म किया सकता है। बच्चों के इस आदत का अभ्यास करने के मूड को जानने की कोशिश करें और इसका कोई हल निकालें। डांटने से ऐसी आदत कतई दूर नहीं हो सकेगा। आपके बच्चे को नाखून चबाने की आदत लग गई है, तो आप उसे किसी खेल में व्यस्त कर सकते है ताकी वो नाखून चबाने के बारे में सोचे ही ना।

शुरुआत में ही रोक लगाएं

बच्चे बहुत छोटे हों या थोड़े बड़े, बुरी आदत वह धीरे-धीरे ही सीखता है। इसलिए बच्चों के नाखून चबाने और खाने की आदत को खत्म करने के लिए शुरुआत में ही उसे इस पर टोकें और प्यार से समझाएं कि यह गंदी आदत उनके लिए कैसे नुकसानदायक है। इसके लिए आप उन्हें नाखून की गंदगी और उसके संक्रमण के बारे में बता सकते हैं। इसलिए अगर आपका बच्चा नाखून चबाता है, तो शुरुआत से ऐसा करने से माना करें।

और पढ़ें : Strep-throat: स्ट्रेप थ्रोट/गले का संक्रमण क्या है?

हाथों को मुंह से हटाने की बजाए उसे बिजी रखें

अपने यह फील किया होगा कि जब बच्चे फ्री होते हैं, या किसी काम में बिजी नहीं होते तो अपना वो नाखून चबाने लगते हैं। इससे बचने के लिए बच्चों पर ध्यान दें व उनके हाथों को व्यस्त रखने में मदद करें। इसके लिए आप अपने बच्चों को कोई खिलौना ला कर दे सकते हैं, जिससे वे खिलौनों में ही बिजी रहेंगे और नाखून चबाना भूल जाएगा।

बच्चे की बुरी आदतों को लेकर अवेयर रहें (Be aware of child’s bad habits)

नाखून चबाना बुरी आदत है लेकिन, इसके अलावा भी अगर आपका बच्चा कई तरह की आदतों को अपना रहा है, तो आप बच्चे को इन आदतों से होने वाली नुकसानों के बारे में समझा सकते हैं। उसे आपका बार-बार नाखून चबाने से मना करना बुरा लग सकता है, इसलिए बच्चे को सही और प्यार से नाखून चबाने के नुकसान बताएं। धीरे-धीरे वह आपकी बातों को समझ सकेगा और नाखून चबाना बंद कर देगा।

बच्चा नाखून चबाता है, इस आदत के साथ-साथ बच्चों में कुछ अन्य आदत भी हो सकते हैं। इन बुरी आदतों में शामिल है-

  • उंगली या अंगूठा चूसने की आदत
  • किसी भी खेलने में वाली चीजों को मुंह में डालने की आदत या उसे चूसने की आदत
  • बालों को खींचने की आदत
  • नोज पिकिंग करना
  • होठों या गालों के अंदर के हिस्से को चूसना
  • पेंसिल या कपड़ा चबाने की आदत
  • दांत पीसना या दांत रगड़ना
  • (यह लेख हेलो स्वास्थ्य के सदस्य और इंदिरा गांधी आयुर्विज्ञान संस्थान, पटना में बाल रोग विभाग में चिकित्सा पदाधिकारी डॉ श्रीनिवास द्वारा साझा किए गए जानकारी पर आधारित है।)

    और पढ़ें : शिशुओं की सुरक्षा के लिए फॉलो करें ये टिप्स, इन जगहों पर रखें विशेष ध्यान

    बच्चा नाखून चबाता है (Baby bites nails), तो उससे होने वाली परेशानियां क्या हैं?

    बच्चा नाखून चबाता है, तो उससे निम्नलिखित परेशानी हो सकती है। जैसे-

    • कई बार हम यह सोच लेते हैं कि बच्चे की नाखून छोटी है और उनमें गंदगी नहीं है लेकिन, ऐसा नहीं होता है। दरअसल आप कितनी बार भी बच्चे की हाथ धोएं लेकिन, नाखून के अंदर ये जर्म्स छुप जाते हैं और बच्चों के नाखून चबाने, उंगली या अंगूठा चूसने के दौरान ये जर्म्स पेट तक आसानी से पहुंच जाते हैं। ऐसी स्थिति में बच्चा बीमार पड़ सकता है। इसलिए अगर बच्चा नाखून चबाता है या उसकी कोई अन्य आदत ऐसी है, तो उसे समझकर इस आदत से दूर रखें।
    • नाखून चबाने की वजह से परोनिचिया (Paronychia) की समस्या हो सकती है। परोनिचिया के लक्षण आसानी से समझे जा सकते हैं। परोनिचिया की समस्या होने पर नाखून के हिस्सों का लाल होना, सूजन आना या स्किन निकलने की समस्या हो सकती है। ऐसी स्थिति में भी अगर आप या आपका बच्चा नाखून चबाता है, तो संक्रमण का खतरा अत्यधिक बढ़ जाता है और आपको शारीरिक परेशानी महसूस हो सकती है।
    • कई बार महिलाएं खुद नेलपेंट का इस्तेमाल करने के दौरान बच्चों की उंगलियों पर भी नेलपेंट लगा देती हैं। ऐसी स्थिति में बच्चा अगर नाखून चबाता है, तो उसके पेट में केमिकल्स आसानी से पहुंच सकते हैं। जिस वजह से बच्चा बीमार पड़ सकता है।

    अगर आपका बच्चा नाखून चबाता है और कई बार प्रयास करने के बावजूद वह अपनी यह आदत नहीं छोड़ पा रहा है, तो इससे जुड़े किसी तरह के कोई सवाल का जवाब जानना चाहते हैं तो विशेषज्ञों से समझना बेहतर होगा।

    उम्मीद करते हैं कि आपको बच्चे के नाखून चबाने की आदत (Baby bites nails)में कैसे सुधार लाएं इससे संबंधित जरूरी जानकारियां मिल गई होंगी। अगर आपके मन में अन्य कोई सवाल हैं तो आप हमारे फेसबुक पेज पर पूछ सकते हैं। हम आपके सभी सवालों के जवाब आपको कमेंट बॉक्स में देने की पूरी कोशिश करेंगे। अपने करीबियों को इस जानकारी से अवगत कराने के लिए आप ये आर्टिकल जरूर शेयर करें।

    डिस्क्लेमर

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    के द्वारा एक्स्पर्टली रिव्यूड

    डॉ. अभिषेक कानडे

    आयुर्वेदा · Hello Swasthya


    Nikhil Kumar द्वारा लिखित · अपडेटेड 29/06/2021

    ad iconadvertisement

    Was this article helpful?

    ad iconadvertisement
    ad iconadvertisement