home

आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

इन हेल्दी फूड्स की मदद से प्रेग्नेंसी के बाद बालों का झड़ना कम करें

इन हेल्दी फूड्स की मदद से प्रेग्नेंसी के बाद बालों का झड़ना कम करें

हम सभी ये बात जानते हैं कि हेल्दी फूड्स न खाने की वजह से शरीर में कई समस्याएं दिखाई देने लगती हैं। पौष्टिक आहार न खाने से शरीर में विटामिन या आयरन की कमी कई समस्याओं को जन्म दे सकती है। डिलिवरी के बाद बालों को गिरने से बचाना है तो कुछ बातों का ध्यान रखना होगा। आपको ये जानना भी बहुत जरूरी है कि बाल किस वजह से अचानक से गिरने लगते हैं। सही जानकारी मिल जाने के बाद हेल्दी फूड्स अपनाकर हेयर फॉल की समस्या को दूर किया जा सकता है। जानिए प्रेग्नेंसी के बाद हेयर ग्रोथ के लिए हेल्दी फूड्स में क्या लिया जा सकता है, और कैसे बालों को मजबूत बनाया जा सकता है।

हेयर ग्रोथ के लिए हेल्दी फूड्स: पहले जानिए क्यों गिरते हैं बाल?

हेयर साइकिल तीन फेज में बंटी हुई है, इन्हीं फेज के अनुसार बालों का गिरना और बालों की ग्रोथ डिपेंड होती है।

एनाजेन– इस फेज में बालों की ग्रोथ होती है।
कैटाजेन– ये ट्रांजीशनल फेज होता है जो करीब दस दिनों तक रहता है।
टेलोजेन – इसे रेस्टिंग फेज भी कहते हैं जिसमे हेयर रिलीज होते हैं और गिर जाते हैं।

और पढ़ें : डिलिवरी के दौरान कब और कैसे करें पुश?

डिलिवरी के बाद हेयर लॉस

ये नॉर्मल है। डिलिवरी के बाद ज्यादातर महिलाओं को हेयर फॉल की समस्या शुरू हो जाती है जो कुछ महीनों बाद अपने आप ठीक भी हो जाती है। ये प्रोजेस्ट्रॉन और एस्ट्रोजेन (Progesteron and Estrogen) हार्मोन के कारण होता है। थायरॉइड हार्मोन के बिगड़ जाने के कारण भी हेयर फॉल की समस्या हो सकती है।

लो आयरन लेवल के कारण हेयर फॉल

अध्ययन में ऐसा पाया गया है कि डिलिवरी के बाद शरीर में आयरन का लेवल कम हो जाता है जिसके कारण बाल गिरने की समस्या शुरू हो जाती है। ऐसे में महिलाओं को हेल्दी फूड्स को अपनी डायट में शामिल करना चाहिए। खासकर ऐसे हेल्दी फूड्स जिनमें आयरन उचित मात्रा में हो।

और पढ़ें :प्रेग्नेंसी में रेस्टलेस लेग सिंड्रोम से कैसे बचाव करें?

स्ट्रेस भी है कारण

बेबी के होने के दौरान और बाद में मां चिंता से घिरी रहती हैं। ये चिंता बच्चे और खुद के स्वास्थ्य से जुड़ी हो सकती है। नींद पूरी न हो पाना, कमजोरी महसूस होना, बच्चे को प्रॉपर फीड कराना आदि स्ट्रेस का कारण बन जाता है। स्ट्रेस से भी हेयर फॉल की समस्या होने लगती है। शायद आप नहीं जानते हो लेकिन हेल्दी फूड्स स्ट्रेस को भी कम करने का कम करते हैं।

और पढ़ें : क्या वजायनल डिलिवरी में पेरिनियम टीयर होना सामान्य है?

दवाइयों का साइडइफेक्ट

मेडिसिन के साइडइफेक्ट के कारण भी हेयर लॉस हो सकता है। अगर आपने प्रेग्नेंसी के समय कोई ऐसी दवा खाई है जो आपको सूट नहीं कर रही है, तो आपको तुरंत डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए।

प्रेग्नेंसी में हेयर ग्रोथ के लिए हेल्दी फूड्स

प्रेग्नेंसी के बाद हेयर ग्रोथ के लिए हेल्दी फूड्स: ऑयल प्रोड्यूस होगा इस फूड से

स्वीट पेटैटो बीटा कैरोटिन का सोर्स है। इसमें एंटीऑक्सीडेंट्स के गुण पाए जाते हैं। शरीर इसे विटामिन ए में बदल देता है। ये सेल के फंक्शन में मदद करती हैं और साथ ही ऑयल प्रोड्यूस करती है जो हेल्दी स्केल्प के लिए जरूरी होता है। आप हेयर हेल्दी फूड्स में कैरेट, पंपकिन, एप्रीकोट्स और मेंगो को भी शामिल कर सकती हैं। हेयर ग्रोथ फूड्स लेने बाल झड़ना बंद होने लगते हैं।

प्रेग्नेंसी के बाद हेयर ग्रोथ के लिए हेल्दी फूड्स: विटामिन सी के लिए ये हैं जरूरी

ब्लूबेरीज में विटामिन सी उचित मात्रा में पाया जाता है। ये स्कैल्प में सर्क्युलेशन को तेज करने का काम करता है। विटामिन सी फोलिकल्स को फीड कराने का काम भी करता है। अगर हेल्दी फोलिकल्स होंगे तो हेल्दी बाल भी होंगे। आप साथ में कुछ और हेयर हेल्दी फूड्स भी शामिल कर सकते हैं जैसे-

  • टमाटर
  • कीवी
  • स्ट्रॉबेरी
  • रेड पेपर्स
  • ट्रॉपिकल फूड्स ( मैंगो, पपाया, पाइनएप्पल)
  • बेरीज (स्ट्रॉबेरी, रास्पबेरीज, ब्लूबेरीज, क्रेनबेरीज)
  • वाटरमेलन
  • ऑरेंज और ग्रेप्स

और पढ़ें : डिलिवरी के बाद क्यों होती है कब्ज की समस्या? जानिए इसका इलाज

प्रेग्नेंसी के बाद हेयर ग्रोथ के लिए हेल्दी फूड्स: हेयर ग्रोथ के लिए बायोटिन है जरूरी

बायोटिन विटामिन बी की फैमिली से रिलेटेड है। रिसर्च के अनुसार, बायोटिन की कमी से हेयर लॉस की समस्या बढ़ जाती है। आप हेयर की ग्रोथ के लिए प्रोटीन युक्त फूड भी ले सकती हैं। प्रोटीन शरीर की मुख्य इकाई है। हेयर ग्रोथ फूड्स आप रोजाना अपनी डायट में शामिल करें।

और पढ़ें : कब और कैसे करें पेरिनियल मसाज? जानिए इसके फायदे

प्रेग्नेंसी के बाद हेयर ग्रोथ के लिए हेल्दी फूड्स: विटामिन ए के लिए अपनाएं ये फूड्स

विटामिन ए हेल्दी विजन, दांत, स्केलेटन टिशू और स्किन के लिए जरूरी है। ये स्किन के लिए ऑयल सब्सटेंस भी बनाता है। ये स्कैल्प को हेल्दी हेयर के लिए प्रमोट भी करता है। विटामिन ए प्राप्त करने के लिए कई स्त्रोत हैं जैसे

  • गाजर
  • स्वीट पटैटो
  • पंपकिन
  • पालक
  • केले
  • मिल्क और योगर्ट
  • अंडा
  • कॉड लिवर ऑयल

प्रेग्नेंसी के बाद हेयर ग्रोथ के लिए हेल्दी फूड्स: खाने में वालनट्स को करें शामिल

वालनट्स में ओमेगा-3 फैटी एसिड्स पाए जाते हैं। साथ ही ये बायोटिन और विटामिन ई का भी अच्छा स्त्रोत है जो सेल्स के डीएनए को डैमेज होने से रोकता है। वालनट्स में मिनिरल, कॉपर होता है जिससे बालों का रंग डार्क रहता है। इसे अपने खाने में जरूर शामिल करें।

प्रेग्नेंसी के बाद हेयर ग्रोथ के लिए हेल्दी फूड्स: हेयर ग्रोथ के लिए विटामिन ई है जरूरी

विटामिन ई एंटीऑक्सीडेंट्स का काम करता है। ये शरीर में हेयर ग्रोथ को बढ़ाने का काम करता है। स्टडी में ये बात सामने आई है कि विटामिन ई लेने से 34 प्रतिशत बालों की ग्रोथ बढ़ जाती है। आप चाहे तो विटामिन ई सप्लिमेंट भी ले सकती हैं। कुछ ऑयल और वेजीटेबल में विटामिन ई मुख्य रूप से पाया जाता है। जैसे-

  • वेजीटेबल ऑयल
  • नट्स और सीड्स
  • ग्रीन लीफी वेजीटेबल जैसे पालक और ब्रोकली
[mc4wp_form id=”183492″]

हेयरफॉल को रोकने के घरेलू उपचार:

1. अंडे की सफेदी

बालों के लिए अंडे का सफेद भाग बहुत चमत्कारी होता क्योंकि यह अमीनो एसिड और प्रोटीन से भरा होता है। जो आपके बालों को पोषण देने में मदद करता है। अंडे का सफेद भाग जैतून के तेल के साथ मिलाकर हेयर मास्क तैयार करें। इसे अपने स्कैल्प पर लगाएं और आधे घंटे के बाद गुनगुने पानी से धो लें।

2. दही

दही बालों के लिए सबसे अच्छे कंडीशनर में से एक है। यह बालों को स्वस्थ तथा स्मूथ और डैंड्रफ-फ्री बाल रहने में मदद करता है। इसके लिए अपने सिर पर कुछ दही लगाएं और इसे 10 मिनट बाद शैंपू से धो लें। इसके अलावा दही को अपने आहार में शामिल भी करना चाहिए क्योंकि यह आपकी इम्यूनिटी को बढ़ाने और बालों की गुणवत्ता को बढ़ाने में सहायक होता है।

3. नीम के पत्ते

यह हेयरफॉल को रोकने के सबसे प्रभावी हर्बल उपचारों में से एक है। इसमें एंटीबैक्टीरियल गुण मौजूद होते हैं। जो माइक्रोब्स के विकास को रोकते हैं और इस प्रकार ये इंफेक्शन को रोकते हैं, जिससे बाल गिरते हैं। नीम की पत्तियों का पेस्ट तैयार करें और इसे स्कैल्प पर लगा कर आधे घंटे बाद धो लें।

अगर आपको प्रेग्नेंसी के बाद हेयर ग्रोथ के लिए हेल्दी फूड चाहिए तो आप पहले अपने डॉक्टर से संपर्क करें। ज्यादा बाल झड़ने पर डॉक्टर आपके खून की जांच करेगा। जांच के बाद जो रिपोर्ट आएगी उसके अनुसार ही ट्रीटमेंट दिया जाएगा। किसी भी अन्य प्रकार की समस्या होने पर अपने डॉक्टर से तुरंत सलाह लें।

ओव्यूलेशन कैलक्युलेटर

ओव्यूलेशन कैलक्युलेटर

अपने पीरियड सायकल को ट्रैक करना, अपने सबसे फर्टाइल डे के बारे में पता लगाना और कंसीव करने के चांस को बढ़ाना या बर्थ कंट्रोल के लिए अप्लाय करना।

ओव्यूलेशन कैलक्युलेटर

अपने पीरियड सायकल को ट्रैक करना, अपने सबसे फर्टाइल डे के बारे में पता लगाना और कंसीव करने के चांस को बढ़ाना या बर्थ कंट्रोल के लिए अप्लाय करना।

ओव्यूलेशन कैलक्युलेटर

सायकल की लेंथ

(दिन)

28

ऑब्जेक्टिव्स

(दिन)

7

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Hair Loss in New Moms | aad.org/public/skin-hair-nails/hair-care/hair-loss-in-new-moms  | Accessed on  27/12/2020

Human Chorionic Gonadotropin (HCG) | americanpregnancy.org/while-pregnant/hcg-levels/  | Accessed on  27/12/2020

Mayo Clinic Staff. Heart conditions and pregnancy: Know the risks | mayoclinic.org/healthy-lifestyle/pregnancy-week-by-week/in-depth/pregnancy/art-20045977  | Accessed on  27/12/2020

Your body after baby | marchofdimes.org/pregnancy/your-body-after-baby-the-first-6-weeks.aspx#  | Accessed on  27/12/2020

Skin and hair changes during pregnancy | https://medlineplus.gov/ency/patientinstructions/000611.htm | Accessed on  27/12/2020

10 Causes of Hair Loss and Baldness | https://www.everydayhealth.com/skin-and-beauty-pictures/ten-causes-of-hair-loss.aspx | Accessed on  27/12/2020

11 Natural Remedies to Stop Thinning Hair | https://wellnessmama.com/429411/thinning-hair/ | Accessed on  27/12/2020

Postpartum hair loss explained | https://www.netdoctor.co.uk/parenting/pregnancy-birth/a36470355/postpartum-hair-loss/ | Accessed on  27/12/2020

Lack of Patient Preparation for the Postpartum Period and Patients’ Satisfaction With Their Obstetric Clinicians | https://journals.lww.com/greenjournal/Abstract/2010/02000/Lack_of_Patient_Preparation_for_the_Postpartum.12.aspx | Accessed on  27/12/2020

लेखक की तस्वीर badge
Bhawana Awasthi द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 15/12/2021 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड