backup og meta
खोज
स्वास्थ्य उपकरण
बचाना

बेबी टॉयज खरीदने से पहले रखें इन बातों का ध्यान


Nikhil Kumar द्वारा लिखित · अपडेटेड 30/09/2021

बेबी टॉयज खरीदने से पहले रखें इन बातों का ध्यान

खिलौने सभी बच्चों को पसंद होते हैं। बच्चे खिलौनों के माध्यम से ही अनेक बातें सीखते हैं। खेलखेल में ही बच्चों का शारीरिक और बौद्धिक विकास होता है। लेकिन कुछ खिलौने ऐसे भी होते हैं जिनका बच्चों के स्वास्थ्य पर बुरा प्रभाव पड़ता है। भारत में अधिकतर बेबी टॉयज शॉप में चाइनीज उत्पाद मिलते हैं। ये सस्ते और टिकाऊ खिलौनें खरीदते समय हमें आकर्षित जरुर करते हैं, लेकिन इसका बच्चे और उसके स्वास्थ्य पर कई नकारात्मक प्रभाव पड़ता है।

शिशु रोग विशेषज्ञ डॉ श्रीनिवास ने हैलो स्वास्थ्य को बताया कि आंख बंद कर इन खिलौनों पर विश्वास करना, हमारे बच्चों के स्वास्थ्य व विकास के लिए अच्छा नहीं होता है। बेबी टॉयज खरीदने से पहले पेरेंट्स को ध्यान रखना चाहिए।

बेबी टॉय खरीदते समय रखें ध्यान

बच्चों की उम्र के लिए उपयुक्त है बेबी टॉयज

जब भी आप छोटे बच्चों के लिए खिलौना खरीदने जाएं, तो ध्यान रखने वाली सबसे महत्वपूर्ण बात है कि खिलौनों का बच्चे की उम्र के साथ कितनी उपयोगिता है? अगर आप सही खिलौना नहीं लेंगे, फिर आपके बच्चे की रूचि इन खिलौनों के साथ नहीं होगा। इसी बात को दूसरों के बच्चों के लिए भी उपहार खरीदते समय ध्यान देना आवश्यक है। छोटे बच्चों के लिए खिलौनें खरीदते समय उनकी उम्र का ध्यान रखें।

यह भी पढ़ें: बच्चे के सुसाइड थॉट को अनदेखा न करें, इन बातों का रखें ध्यान

बेबी टॉयज बच्चे के लिए सुरक्षित हैं या नहीं

क्या कभी आपने घर के शेल्फ में बच्चों के लिए खरीदे गए पुराने खिलौनों पर गौर किया है ? क्या ये बच्चों के लिए सुरक्षित हैं ? अगर आप हां में जवाब सोच रहे हैं, तो यह सच नहीं है। कई खिलौने शिशु के लिए असुरक्षित होते हैं। खिलौनों के आकार, उनमे इस्तेमाल किये गए सामग्री आदि के बारे में उन्हें खरीदने से पहले जान लें। अगर खिलौनों में छोटे-छोटे पेंच बने हुए हैं, तो इसका खयाल रखें कि कहीं ये ढीले पड़ सकते हैं क्या? खिलौनें लेते समय शिशु की सुरक्षा के लिए इन बातों का जरुर ध्यान दें।

खिलौनें क्रिएटिव थिंकिंग को प्रोत्साहित करते हैं या नहीं

खिलौने बच्चों के साथी हैं। डॉ श्रीनिवास कहते हैं, कि बच्चे अकेले होने पर अधिकतर या तो सो रहे होते हैं, या फिर खिलौनों करे साथ खेल रहे होते हैं। एक साल की उम्र के बच्चे अपनी कल्पना का उपयोग अधिक करते हैं। इसलिए सुनिश्चित करें, कि आप उन्हें जो बेबी टॉयज दे रहे हैं, वे इसे प्रोत्साहित करते हैं ! मसलन, अगर कुछ बिल्डिंग ब्लॉक खरीदेंगे, तो बच्चा जो उसे इधर-उधर बिखेर कर कोई आकृति बनाने की कोशिश करेगा। इससे उनकी रचनात्मकता को बढ़ने का मौका देता है।

यह भी पढ़ें: बच्चे के लिए किस तरह के बेबी ऑयल का इस्तेमाल करना चाहिए?

बच्चे की उम्र के अनुसार हो खिलौने

खिलौने इस प्रकार खरीदें कि, उनके मूल में यह बात छिपी हो कि खिलौने बच्चों की उम्र के साथ ढलते चले जाएंगे। जितनी छोटी उम्र हो, उतने हल्के खिलौनें देना उनके लिए ज्यादा मनोरंजक होता है। ज्यादा वजनी खिलौनो से बच्चे के लिए खेलना मुश्किल होता है। एक ही बार में खिलौनो पर अपना सारा पैसा लगाने के बजाए इनपर सोचने का समय लें। क्योंकि, एक बार में बहुत से खिलौनो से आपको तसल्ली मिल सकती है, लेकिन बच्चों को संतुष्टि नहीं होगी। यह कुछ महीनों के लिए आपके बच्चे को खुश कर देगा। थोड़ी पेशेंस से काम लें और जैसे-जैसे बच्चे की उम्र बढ़ती है, वैसे-वैसे उनके लिए खिलौनो की चुनाव करें।

यह भी पढ़ें: छोटे बच्चे के कपड़े खरीदते समय रखें इन बातों का ध्यान

बेबी टॉयज बच्चों को सीखने में प्रोत्साहित करता हो

बाजार में कई खिलौने ऐसे हैं, जिनसे आवाज आती हैं। जो आवाज करते हैं वे बच्चों के लिए मजेदार हो सकते हैं। ऐसे खिलौने बच्चों को उत्तेजित करते हैं। कोशिश करें कि खिलौने आपके बच्चे के दिमाग को उत्तेजित करें। इस तरह के खिलौनों से वे चीजों को सीख सकते हैं। खिलौनों के अंदरसे आने वाली आवाजें बच्चों में जिज्ञासा जगाते हैं। इसलिए इस समय का लाभ उठाते हुए कई  बातें सीखा सकते हैं ! ऐसे खिलौनें बच्चों के तनाव को खत्म करने में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

डिस्क्लेमर

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।


Nikhil Kumar द्वारा लिखित · अपडेटेड 30/09/2021

ad iconadvertisement

Was this article helpful?

ad iconadvertisement
ad iconadvertisement