आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

null

प्रेग्नेंसी में ड्राई स्किन की समस्या हैं परेशान तो ये 7 घरेलू उपाय आ सकते हैं काम

    प्रेग्नेंसी में ड्राई स्किन की समस्या हैं परेशान तो ये 7 घरेलू उपाय आ सकते हैं काम

    गर्भावस्था की शुरुआत के साथ शुरू हो जाती हैं कई सारी शारीरिक परेशानियां। ऐसा प्रेग्नेंसी में हॉर्मोन लेवल में हो रहे बदलाव की वजह से होता है। प्रेग्नेंसी में ड्राई स्किन की समस्या भी सामान्य है लेकिन, ड्राइनेस बढ़ने पर गर्भवती महिला की परेशानियां बढ़ सकती हैं।

    प्रेग्नेंसी में ड्राई स्किन होने के कारण क्या हैं?

    गर्भावस्था की शुरुआत से ही हॉर्मोन में हो रहे बदलाव की वजह से ऐसा होता है। इन हॉर्मोन में शामिल हैं:

    फॉलिकल स्टिमुलेटिंग हॉर्मोन (FSH)-

    FSH रिप्रोडक्टिव सिस्टम को एक्टिव रखने में अहम भूमिका निभाता है। प्रेग्नेंसी की शुरुआत के लिए फॉलिकल स्टिमुलेटिंग हॉर्मोन (FSH) काफी महत्वपूर्ण है।

    ल्यूटिनाइजिंग हॉर्मोन (LH)-

    ल्यूटिनाइजिंग हॉर्मोन, फॉलिकल स्टिमुलेटिंग हॉर्मोन पीरियड्स (मासिक धर्म) में अहम भूमिका निभाता है लेकिन, गर्भ ठहरने के बाद FSH और LH इनएक्टिव हो जाते हैं।

    ह्यूमन कॉरयोनिक गोनाडोट्रोपिन (hCG)-

    यह एस्ट्रोजेन और प्रोजेस्ट्रोन के निर्माण में सहायक होता है। यह इम्यून सिस्टम को स्ट्रांग करने में मदद करता है जिससे शिशु का विकास ठीक तरह से होता है।

    एस्ट्रोजन-

    यह यूट्रस को बढ़ाने में सहायक होता है। एस्ट्रोजन अन्य प्रेग्नेंसी हॉर्मोन के लिए आवश्यक होते हैं। वहीं ये गर्भ में पल रहे शिशु के अंगों के विकास में जरूरी होता है।

    प्रोजेस्ट्रोन-

    hCG के कारण प्रोजेस्ट्रोन की शुरुआत होती है और बाद में प्लासेंटा के कारण। यह ब्रेस्ट टिशू की ग्रोथ में मददगार होते हैं और लेबर पेन सहने में मदद करते हैं।

    रिलैक्सिन-

    यह हॉर्मोन मसल्स, बोन, लिगामेंट और जॉइंट्स को रिलैक्स करने में मदद करते हैं।

    ह्यूमन प्लासेंटल लैक्टोजिन (HPL) –

    ब्रेस्ट में मिल्क फॉर्मेशन के लिए HPL अनिवार्य होता है।

    ऑक्सिटोसिन –

    ऑक्सिटोसिन गर्भावस्था के शुरुआत से अंत तक रहता है। यह लेबर कॉन्ट्रैक्शन के लिए जाना जाता है।

    प्रोलेक्टिन –

    यह स्तन के साइज को बड़ा करने में अहम भूमिका निभाता है।

    ये सभी प्रेग्नेंसी हॉर्मोन हैं और इन्हीं हॉर्मोन में होने वाले उतार-चढ़ाव के कारण प्रेग्नेंसी में स्किन प्रॉब्लम होती है। ऐसे में गर्भवस्था के दौरान कैसे त्वचा संबंधी परेशानी से बचा जाए ये जानना बेहद जरूरी है।

    ज्यादातर गर्भवती महिलाओं को पेट और इसके आसपास ड्राइनेस या खुजली जैसी परेशानी महसूस होती है, लेकिन कुछ गर्भवती महिलाएं थाई (जांघ), ब्रेस्ट (स्तन) और आर्म्स (हाथों) पर ज्यादा परेशानी महसूस कर सकती हैं। प्रेग्नेंसी में ड्राई स्किन से बचने के लिए कुछ उपाय अपनाए जा सकते हैं। जानते हैं उनके बारे में।

    और पढ़ें: जानें प्रेग्नेंसी के दौरान महिलाएं क्यों हो जाती हैं मूडी?

    [mc4wp_form id=”183492″]

    प्रेग्नेंसी में ड्राई स्किन या त्वचा संबंधी अन्य परेशानी से बचने के लिए करें?

    प्रेग्नेंसी में ड्राई स्किन जैसी समस्या से बचने के लिए सिर्फ 3 टिप्स अपनाएं। इन टिप्स में शामिल हैं:

    1. प्रेग्नेंसी में ड्राई स्किन से बचने के लिए गर्म या ठंडे पानी के बजाय गुनगुने पानी का इस्तेमाल करें।अत्यधिक गर्म पानी त्वचा को रुखा बनाने के लिए काफी है। इसलिए अत्यधिक ठंडे या बहुत ज्यादा गर्म पानी से दूरी बनाएं और गुनगुने पानी का इस्तेमाल करें।
    2. प्रेग्नेंसी में ड्राई स्किन से बचने के लिए आरामदायक और सूती (cotton) कपड़ों को पहनने की आदत डालें। ऐसे कपड़े न पहनें जिनसे स्किन को परेशानी या एलर्जी हो। इसलिए कोशिश करें कि कॉटन (सूती) कपड़े पहनें। टाइट कपड़े भी न पहनें।
    3. प्रेग्नेंसी में डाई स्किन से बचने के लिए सुबह और रात को सोने से पहले मॉश्चराइजर लगाएं। सुबह और रात को सोने से पहले मॉश्चराइजर लगाएं। मॉश्चराइजर का इस्तेमाल नहाने के बाद जब त्वचा में थोड़ी नमी रहती है तब किया जाए तो यह ड्राईनेस को दूर करता है। प्रेग्नेंसी में ड्राई स्किन से बचने के लिए भी आप इस टिप्स को अपना सकती हैं। नियमित रूप से बॉडी और फेस की त्वचा को मॉश्चराइज करें।

    प्रेग्नेंसी में ड्राई स्किन या रूखी त्वचा से बचने के टिप्स

    त्वचा संबंधी परेशानी से बचने के लिए निम्नलिखित आसान घरेलू उपाय

    • ज्यादा से ज्यादा पानी पिएं (तरल पदार्थों का सेवन ज्यादा करें)।
    • विटामिन-सी युक्त फ्रूट्स का सेवन करें।
    • एवोकैडो, नट्स और अखरोट जैसे अन्य हेल्दी फूड्स का सेवन करें।
    • योगा, एक्सरसाइज और वॉक करें
    • गुनगुने पानी से नहाना या मिल्क बाथ भी लिया जा सकता है।
    • धूप में निकलने से पहले सनस्क्रीन लगाएं।

    1. प्रेग्नेंसी में ड्राई स्किन से बचाएगा ऑलिव ऑयल

    ऑलिव ऑयल स्किन के लिए बहुत अच्छा माना जाता है अगर इसका इस्तेमाल क्लींजर की तरह किया जाए तो ड्राई स्किन के लिए अच्छा है। इसके लिए चेहरे पर अच्छे से ऑलिव ऑयल लगा ले और एक गुनगुने पानी में भिगोए हुए कपड़े को चेहरे पर रखकर ठंडा होने दें। बाद में इसी कपड़े से चेहरे को साफ कर लें। ऐसा करने से ऑलिव ऑयल क्लींजर और मॉश्चराइजर दोनों का काम करता है।

    2.प्रेग्नेंसी में ड्राई स्किन से बचाएगा एवोकाडो मास्क

    एवोकाडो का इस्तेमाल भी ड्राई स्किन प्रॉब्लम को दूर करता है इसके लिए आधे एवोकाडो के पल्प में 1/2 चम्मच ऑलिव ऑयल मिलाकर एक गाढ़ा पेस्ट बना लें अब इसे चेहरे पर लगा लें। 15 से 20 मिनट बाद जब ये सूख जाए तो इसे धो लें।

    3. प्रेग्नेंसी में ड्राई स्किन से बचाएगा ओटमील और हनी

    ओटमील एक एक्सफोलिएटर की तरह काम करता है इसके लिए 2 चम्मच ओटमील में 1 चम्मच हनी डालें और इसे अच्छे से मिलाकर इससे चेहरे की मसाज करें। आप चाहें तो तुरंत इसे धो लें और चाहें तो 15 से 20 तक चेहरे पर लगा रहने दें।

    4. प्रेग्नेंसी में ड्राई स्किन से बचाएगा नारियल का तेल

    नारियल का तेल स्किन में मॉश्चर लॉक करने का एक बहुत अच्छा विकल्प है। इसलिए सोने से पहले 1/2 चम्मच नारियल का तेल लें और इससे अच्छी तरह से चेहरे की मसाज करें और फिर इसे ऐसे ही रहने दें। सुबह सोकर उठने पर आपको स्किन काफी सॉफ्ट लगेगी।

    5. प्रेग्नेंसी में ड्राई स्किन से बचाएगा नहाने के पानी में ऑयल का इस्तेमाल

    बार-बार हाथ धोने या मुंह धोने से स्किन काफी ड्राई लगने लगती है स्किन के लिए नैचुरल ऑयल बहुत फायदेमंद होते हैं जैसे कि ऑलिव ऑयल, जोजोबा ऑयल, एवोकाडो ऑयल। इनमें से कोई सा भी आप अपने नहाने के पानी के डाल सकती हैं। इसकी कुछ बूंदे (6 -7 ) ही काफी होंगी।

    और पढ़ें: गर्भवती महिलाएं प्रेग्नेंसी में हेयरफॉल के कारणों और घरेलू उपाय को जान लें

    6. प्रेग्नेंसी में ड्राई स्किन से बचाएगा एलोवेरा जेल

    स्किन में ड्राईनेस की वजह से कभी-कभी रेडनेस आ जाती है इसके लिए एलोवेरा जेल का इस्तेमाल करना अच्छा होता है पर इसे चेहरे पर लगाने से पहले एक पैच टेस्ट जरूर कर ले। पहले कोहनी या कान के पीछे के हिस्से में थोड़ा सा लगाएं। अगर इससे जलन या खुजली हो तो इसका इस्तेमाल ना करें कुछ लोगों को एलोवेरा सूट नहीं करता।

    और पढ़ें: योगासन जो महिलाओं की फर्टिलिटी को बढ़ा सकते हैं

    7. प्रेग्नेंसी में ड्राई स्किन से बचाएगा बादाम का तेल

    ड्राई स्किन के लिए बादाम का तेल और शहद दोनों बराबर मात्रा में मिलाए और इससे चेहरे की मसाज करें और 20 मिनट बाद किसी नरम गीले कपड़े से पोंछ लें।

    इन टिप्स को फॉलो कर प्रेग्नेंसी में ड्राई स्किन की समस्या से बचा जा सकता है लेकिन, अगर प्रेग्नेंसी में ड्राई स्किन से जुड़े किसी तरह के कोई सवाल जानना चाहती हैं तो विशेषज्ञों से समझना बेहतर होगा।

     

    health-tool-icon

    ड्यू डेट कैलक्युलेटर

    अपनी नियत तारीख का पता लगाने के लिए इस कैलक्युलेटर का उपयोग करें। यह सिर्फ एक अनुमान है - इसकी गैरेंटी नहीं है! अधिकांश महिलाएं, लेकिन सभी नहीं, इस तिथि सीमा से पहले या बाद में एक सप्ताह के भीतर अपने शिशुओं को डिलीवर करेंगी।

    सायकल लेंथ

    28 दिन

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    सूत्र

    Pregnancy and Skin/https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4311336/Accessed on 4th August 2020

    6 skin problems that can develop during pregnancy/https://utswmed.org/medblog/pregnancy-rash-skin-conditions/

    Accessed on 4th August 2020

    Skin Conditions During Pregnancy/https://www.acog.org/Patients/FAQs/Skin-Conditions-During-Pregnancy?IsMobileSet=false/Accessed on 4th August 2020

    Skin and hair changes during pregnancy/https://medlineplus.gov/ency/patientinstructions/000611.htm/ Accessed on 4th August 2020

     

    लेखक की तस्वीर
    Nidhi Sinha द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 04/08/2020 को
    Dr Sharayu Maknikar के द्वारा एक्स्पर्टली रिव्यूड