आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

टाइट कपड़े पहनने से हो सकते हैं इतने नुकसान

टाइट कपड़े पहनने से हो सकते हैं इतने नुकसान

टाइट कपड़े पहनना बदलते वक्त के साथ फैशन ट्रैंड बन चुका है। लेकिन यह जरूरी नहीं है कि हर नई चीज जो आपको आकर्षित करे आपके लिए अच्छी ही हो जैसे की टाइट कपड़े। स्किन टाइट जींस और बॉडी फिट कपड़े आजकल फैशन में हैं। ऐसी ड्रेसिंग भले ही आपको अच्छी लगे पर सच यह है कि इस तरह के कपड़े आपके शरीर पर बुरा असर डालते हैं। जिससे आप बीमार भी पड़ सकते हैं। आइए टाइट कपड़े पहनने के नुकसान के बारे में विस्तार से बात करते हैं।

टाइट कपड़े (Tight clothes) से डाइजेशन प्रॉब्लम

तंग कपड़े जैसे कि स्किन टाइट जींस और बेल्ट जो पेट पर प्रेशर डालते हैं और उसे अंदर धकेलते हैं सेहत के लिए अच्छे नहीं हैं। खाने के समय टाइट कपड़े पहनना बिलकुल भी ठीक नहीं है। इससे भोजन के पाचन में परेशानी होती है और पाचन संबंधी समस्याएं शुरू हो सकती हैं। 2000 ब्रिटि​श पुरुषों पर किए गए सर्वे में ये बात सामने आई है कि टाइट फिटिंग जींस से यूरिनरी ट्रेक्ट इंफेक्शन, टेस्टिकल का मुड़ना, ब्लैडर में कमजोरी जैसे परेशानियां हो सकती हैं।

और पढ़ें : Jaundice : क्या होता है पीलिया ? जाने इसके कारण लक्षण और उपाय

टाइट कपड़े और बॉडी शेपर पहनने के साइड इफेक्ट

बहुत सारे लोग पेट और थाई को शेप में और स्मूथ दिखाने के लिए बॉडी शेपर या कम्प्रेशन अंडरगारमेंट्स का इस्तेमाल करते हैं। जिससे लोअर एब्डॉमन और थाई में इरीटेशन के साथ जलन, दर्द, झुनझुनी होने लगती है। जिसे मेराल्जिआ परेस्थेटिका कहते हैं। आज कल महिलाओं में यह बहुत कॉमन है।

और पढ़ें : किसी के साथ प्यार में पड़ने से लगता है डर, तो हो सकता है फिलोफोबिया

नेक टाई से ब्लड सर्कुलेशन में बाधा

महिलाओं के साथ-साथ पुरुषों को भी ज्यादा टाइट कपड़े पहनने से दिक्क्त होती है। नेक टाई से ब्लड सर्कुलेशन की समस्या हो जाती है। स्ट्रोक रिसर्च एंड ट्रीटमेंट जर्नल में प्रकाशित एक अध्ययन के अनुसार शोधकर्ताओं ने 40 स्वस्थ पुरुषों पर एक तंग टाई के प्रभावों का परीक्षण किया, जिसमें सेरेब्रोवास्कुलर प्रतिक्रिया में मामूली बदलाव पाया, जो मस्तिष्क में धमनियों की पतला करने की क्षमता से संबंधित है और स्ट्रोक के जोखिमों को बढ़ा सकता है।

और पढ़ें : Leprosy: कुष्ठ रोग क्या है? जानें इसके लक्षण, कारण और उपाय

टाइट कपड़ों के फैब्रिक से एलर्जी

कुछ फैब्रिक ऐसे होते हैं जो स्किन को सूट नहीं करते जिनसे इरीटेशन और एलर्जी होने लगती है। अगर आप पॉलिस्टर या नायलॉन जैसे फैब्रिक से बने बहुत टाइट कपड़े पहनते हैं तो स्किन में रेडनेस और इचिंग होने लगती है।

फैशन के साथ चलने में कोई बुराई नहीं है पर इस तरह के कपड़ों को पहनने से पहले एक बार उनसे होने वाले नुकसान के बारे में सोच लें। अगर आपको ये कपड़े बहुत पसंद हैं तो कभी -कभी आप इन्हें पहन सकते हैं पर हमेशा न पहनें।

और पढ़ें : Hyperacidity : हाइपर एसिडिटी या पेट में जलन​

टाइट कपड़े और पुरुषों की फर्टिलिटी

क्या आपको कभी अंडकोष में चोट लगी है? निश्चित तौर पर जीवनकाल में कभी न कभी लगी होगी। और जब चोट लगी होगी तब उसके दर्द से आप समझ ही गए होंगे कि अंडकोष कितने नाजुक होते हैं? ऐसे में इस सेंसिटिव अंग को क्या टाइट कपड़े या जींस से नुकसान पहुंच सकता है? इसका जवाब है हां। ह्यूमन रीप्रोडक्शन में छपी रिपोर्ट के मुताबिक टाइट कपड़े पहनने वाले पुरुषों में स्पर्म काउंट घटता है।

और पढ़ें : क्या आप जानते हैं? दुनिया की सबसे महंगी ब्रा के बारे में?

टाइट कपड़े स्पर्म काउंट इस तरह घटाते हैं

रिसर्च के मुताबिक हमारे अंडकोष एक तय तापमान पर स्पर्म का उत्पादन करते हैं। अगर जरा सा भी तापमान बढ़ जाए तो स्पर्म प्रोडक्शन काफ हद तक प्रभावित होता है। ऐसा इसलिए क्योंकि अंडकोष शरीर से कुछ इंच नीचे लड़के होते हैं इसी वजह से उनका तापमान शरीर के तापमान से कम होता है। लेकिन अगर अंडकोष शरीर के करीब आ जाएं तो उनका तापमान बढ़ जाता है और स्पर्म घटने लगता है। टाइट कपड़े या अंडरवियर पहनने से यही होता है।

टाइट अंडरवियर भी जिम्मेदार

अगर आप सोच रहे हैं कि टाइट कपड़े में सिर्फ जींस ही जिम्मेदार है, तो ऐसा नहीं है। टाइट जींस की तरह आपकी टाइट अंडर वियर भी स्पर्म काउंट घटाने में जिम्मेदार है। टाइट अंडरवियर पहनने से अंडकोष स्किन से चिपक जाते हैं, जिससे उनका भी तापमान शरीर के बराबर हो जाता है और स्पर्म काउंट घटने लगता है। डॉक्टर्स की मानें तो अंडकोष का तापमान शरीर के तापमान से 3-4 डिग्री कम होना चाहिए। यही वजह है की अंडकोष थैली में शरीर के बाहर की ओर होते हैं।

टाइट कपड़े पहनने पड़े तो क्या करें

टाइट कपड़े पहनने के नुकसान तो आप जान ही गए होंगे। लेकिन कई बार फैशन या अन्य वजहों से लोग टाइट कपड़े पहनते हैं। अगर आपके पास कोई उपया न बचा हो, तो कम से कम वक्त के लिए टाइट कपड़े पहनें। इससे आप शरीर को होने वाले कई नुकसानों से बच जाएंगे। दिनभर अगर टाइट कपड़े पहने हों, तो रात को शरीर को खुला छोड़ दें और बेहद हल्के कपड़े पहनने की कोशिश करें। बात अगर स्पर्म काउंट की है, तो आप रात को बिना अंडरवियर या ढीली अंडरवियर पहनकर भी सो सकते हैं। इससे आपके शरीर को आराम भी मिलेगा।

हैलो हेल्थ ग्रुप किसी भी प्रकार की चिकित्सा, उपचार और निदान प्रदान नहीं करता है।

health-tool-icon

बीएमआई कैलक्युलेटर

अपने बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) की जांच करने के लिए इस कैलक्युलेटर का उपयोग करें और पता करें कि क्या आपका वजन हेल्दी है। आप इस उपकरण का उपयोग अपने बच्चे के बीएमआई की जांच के लिए भी कर सकते हैं।

पुरुष

महिला

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर
Priyanka Srivastava द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 17/03/2021 को
Dr. Pooja Bhardwaj के द्वारा एक्स्पर्टली रिव्यूड