home

आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

Brewer's yeast for breastfeeding: ब्रेस्टफीडिंग के लिए ब्रेवर यीस्ट लेने से क्या पहुंचता है फायदा?

Brewer's yeast for breastfeeding: ब्रेस्टफीडिंग के लिए ब्रेवर यीस्ट लेने से क्या पहुंचता है फायदा?

जिस तरह से मां के मन में जन्म लेने वाले बच्चे को लेकर बहुत उत्सुकता रहती हैं, ठीक उसी प्रकार माओं के लिए स्तनपान कराना भी जिज्ञासा से भरा होता है। जहां एक और मां के मन में यह सवाल रहता है कि बच्चा सही से स्तनपान कर पाएगा या फिर नहीं, वहीं मन में ये बात भी रहती है कि पर्याप्त मात्रा में दूध बन पाएगा या फिर नहीं। ब्रेस्टफीडिंग के लिए ब्रेवर यीस्ट (Brewer’s yeast for breastfeeding) का सेवन फायदेमंद साबित होता है।

ब्रेस्टफीडिंग बच्चों को पूर्ण पोषण प्रदान करता है। जन्म के शुरुआत के छह माह तक बच्चों को केवल मां का दूध पीने की सलाह दी जाती है। वहीं 6 माह के बाद बच्चे स्तनपान जारी रख सकते हैं लेकिन साथ ही उन्हें कुछ ठोस आहार देना भी शुरू कर दिया जाता है। वैसे तो हर मां को दूध बनता है लेकिन कुछ माओं को पर्याप्त मात्रा में दूध नहीं बन पाता है। ऐसे में डॉक्टर कुछ सप्लीमेंट लेने की सलाह देते हैं। दूध पर्याप्त मात्रा में ना बन पाने पर दवाओं के सेवन के साथ ही खानपान का ख्याल रखने की भी सलाह दी जाती है। ब्रेस्टफीडिंग के लिए ब्रेवर यीस्ट (Brewer’s yeast for breastfeeding) का सेवन फायदेमंद होता है या फिर नहीं, आपको ये जानकारी जरूर होनी चाहिए। आज इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको ब्रेस्टफीडिंग के लिए ब्रेवर यीस्ट (Brewer’s yeast for breastfeeding) के बारे में जानकारी देंगे और साथ ही उसके इस्तेमाल के बारे में भी बताएंगे।

और पढ़ें: ब्रेस्टफीडिंग के दौरान निप्पल पर ब्लिस्टर की समस्या क्यों होती है?

ब्रेस्टफीडिंग के लिए ब्रेवर यीस्ट (Brewer’s yeast for breastfeeding)

ब्रेस्टफीडिंग के लिए ब्रेवर यीस्ट

ब्रेवर यीस्ट ( Saccharomyces cerevisiae) यीस्ट की एक प्रजाति है, जिसे एनर्जी बूस्टर, प्रोटीन सप्लिमेंट और इम्यूनिटी बढ़ाने के रूप में इस्तेमाल किया जाता है। आप इसे ब्रेड, बीयर या फिर ओवर-द-काउंटर न्यूट्रीशनल सप्लिमेंट के रूप में इस्तेमाल किया जाता है। ब्रेस्टफीडिंग कराने वाली मांओं के लिए ब्रेवर यीस्ट (Brewer’s yeast) एक न्यूट्रीशियस डायटरी सप्लिमेंट (Nutritious dietary supplement) होता है।

इस डायटरी सप्लिमेंट में सेलेनियम, क्रोमियम और कुछ अन्य ट्रेस सामग्री के अलावा आयरन ( Iron), प्रोटीन (Protein) और विटामिन बी (Vitamin B), फॉलिक एसिड, बायोटिन, पोटैशियन, जिंक आदि होता है। अगर ब्रेस्टफीडिंग कराने वाली मां ब्रेवर यीस्ट (Brewer’s yeast) का सेवन करती है, तो ये दूध की आपूर्ति बढ़ाने में मदद करता है। इस बात का ध्यान रखना होगा कि ये हमेशा सभी के लिए काम नहीं करता है। वैसे तो ब्रेस्टफीडिंग कराने वाली मां और बच्चों के लिए इसे सुरक्षित माना जाता है लेकिन अगर आपको पहले से कोई हेल्थ कंडीशन या स्वास्थ्य समस्या है तो आपको इसका सेवन करने से पहले डॉक्टर से सलाह जरूर करनी चाहिए बिना साला लिए आपको इसका सेवन नहीं करना चाहिए

और पढ़ें: ब्रेस्टफीडिंग में विटामिन ए सप्लिमेंट्स लेने से पहले जान लें ये जरूरी बातें

ब्रेस्टफीडिंग के लिए ब्रेवर यीस्ट: क्या होते हैं इसके सेवन से फायदे?

ब्रेस्टफीडिंग के दौरान ब्रेवर यीस्ट का सेवन कई प्रकार से फायदे पहुंचाने का काम करता है। यह मांओं की थकान को कम करने के साथ ही त्वचा और बालों को पोषण प्रदान करता है। ब्रेवर यीस्ट का सेवन ऊर्जा के स्तर को बढ़ाता है और साथ ही ब्लड शुगर लेवल को कम करने में मदद करता है। नर्सिंग मदर्स के लिए जरूरी पोषण प्रदान करने के साथ ही यह रिलेक्स भी फील करवाता है। इसे आसानी से फूड स्टोर से खरीदा जा सकता है।

ब्रेवर यीस्ट या तो टैबलेट के रूप में लिया जा सकता है या फिर पाउडर के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है। इसका कितनी मात्रा में सेवन करना चाहिए, इसके बारे में आपको एक्सपर्ट से राय जरूर लेनी चाहिए। अगर इसे दिन में एक से दो टेबलस्पून तक लिया जाता है, तो ये सुरक्षित रहता है। वहीं मेडिसिंस का इस्तेमाल दिन में दो से तीन बार करना चाहिए। अगर आप पहले से ही कोई मेडिसिंस ले रहे हैं, तो भी इस संबंध में डॉक्टर को जरूर बताएं। कई बार कुछ दवाएं एक -दूसरे के साथ रिएक्शन कर जाती हैं और इनके परिणाम भी बुरे होते हैं। अगर आपको ब्रेस्टफीडिंग के दौरान ब्रेवर यीस्ट का सेवन करने के बाद कोई समस्या होती है, तो तुरंत अपने डॉक्टर को जरूर बताएं। जानिए ब्रेस्टफीडिंग के दौरान ब्रेवर यीस्ट से संबंधित कुछ ब्रान्ड्स के बारे में।

और पढ़ें: ब्रेस्टफीडिंग में विटामिन सी सप्लिमेंट्स के फायदे और नुकसान जानने के लिए करें बस एक क्लिक!

ब्रेस्टफीडिंग के लिए ब्रेवर यीस्ट: हेल्थएड सुपर ब्रूअर्स यीस्ट (HealthAid Super Brewers Yeast)

ब्रेस्टफीडिंग के लिए ब्रेवर यीस्ट (Brewer’s yeast for breastfeeding) के रूप में हेल्थएड सुपर ब्रूअर्स यीस्ट का इस्तेमाल किया जा सकता है। ये टैबलेट के रूप में उपलब्ध होती है। ये सप्लिमेंट वेजीटेरियन या वेगन के लिए उपलब्ध है। ग्लूटेन फ्री, वीट फ्री के साथ ही आर्टिफिशियल कलर और आर्टिफिशियल फ्लेवर से मुक्त होती है। ब्रेस्टफीडिंग कराने वाली महिलाओं को इस दवा का कितना सेवन करना चाहिए, इस बारे में डॉक्टर से जरूर पूछें। एक बॉटल की कीमत 800 रु है।

ब्रेस्टफीडिंग के लिए ब्रेवर यीस्ट: नाऊ ब्रूअर यीस्ट ( NOW Brewer’s Yeast)

नाऊ ब्रूअर यीस्ट में विभिन्न प्रकार के विटामिंस और मिनिरल्स पाए जाते हैं। इसमें बीटा एसिड्स के साथ ही बीटा ग्लूकेंस भी होता है। साथ ही किसी प्रकार के सिंथेटिक का इस्तेमाल नहीं किया जाता है। इसे खोलने के बाद सुखी और ठंडी जगह पर रखना चाहिए। एक बॉटल में 200 टैबलेट्स होती है। अगर आप इसका इस्तेमाल स्तनपान के दौरान करना चाहते हैं, तो पहले इस बारे में डॉक्टर से सलाह जरूर लें।

और पढ़ें: ब्रेस्टफीडिंग में विटामिन B12 सप्लिमेंट : क्यों जरूरी है इसका सेवन?

ब्रेस्टफीडिंग के लिए ब्रेवर यीस्ट: सोलगर ब्रेवर यीस्ट (Solgar Brewer’s Yeast)

सोलगर ब्रेवर यीस्ट डेयरी डायटरी सप्लिमेंट का इस्तेमाल प्रेग्नेंसी के दौरान, नर्सिंग आदि के दौरान इस सप्लिमेंट का इस्तेमाल किया जा सकता है। अगर आपको यीस्ट के एलर्जी है, तो बेहतर होगा कि इस सप्लिमेंट का इस्तेमाल न करें। इस सप्लिमेंट में डेयरी, सोया (Soy), शुगर, आर्टिफिशियल फ्लेवर, प्रिजर्वेटिव्स या किसी कलर का इस्तेमाल नहीं किया जाता है। आपको इसे बच्चों की पहुंच से दूर रखना चाहिए और साथ ही डॉक्टर की सलाह के बाद ही इसका इस्तेमाल करना चाहिए।

ब्रेस्टफीडिंग के लिए ब्रेवर यीस्ट: हॉलैंड और बैरेट हाई स्ट्रेंथ ब्रेवर यीस्ट (Holland & Barrett High Strength Brewer’s Yeast)

हॉलैंड और बैरेट हाई स्ट्रेंथ ब्रेवर यीस्ट का इस्तेमाल स्तनपान कराने वाली महिलाएं कर सकती हैं। ये न केवल हेयर, स्किन, आय या फिर माउथ की अच्छी हेल्थ के लिए जरूरी होता है बल्कि बी- कॉम्प्लेक्स विटामिन से भरपूर होता है। एनर्जी लेवल को बूस्ट करने के साथ ही ये फीडिंग कराने वाली मांओं के लिए भी ये बहुत फायदेमंद होती है। एक बॉटल में 250 टैबलेट्स होती हैं। एक बॉटल की कीमत 899 रु है।

और पढ़ें: बड़े ब्रेस्ट के साथ स्तनपान कराना नहीं लगेगा मुश्किल, अगर फॉलो करेंगी ये टिप्स

वैसे तो ब्रेस्टफीडिंग के दौरान ब्रेवर यीस्ट का सेवन सुरक्षित माना जाता है लेकिन अगर आपको किसी प्रकार की बीमारी है, तो आपको डॉक्टर से पूछ कर इसका सेवन करना चाहिए। कुछ बीमारियां जैसे कि फूड एलर्जी होना या फिर मधुमेह की समस्या होने पर, उन पेशेंट्स को जो डिप्रेशन की दवाएं ले रहे हैं या इन्फ्लामेटरी बाउल सिंड्रोम की समस्या से पीड़ित व्यक्तियों को ब्रेवर यीस्ट लेने की सलाह नहीं दी जाती है। अगर आपको भी बताई गई समस्याओं में किसी भी प्रकार की समस्या है, तो बेहतर होगा कि आप इसका सेवन ना करें। अधिक जानकारी के लिए डॉक्टर से संपर्क करें।

इस आर्टिकल में हमने आपको ब्रेस्टफीडिंग के लिए ब्रेवर यीस्ट (Brewer’s yeast for breastfeeding) के बारे में जानकारी दी है। उम्मीद है आपको हैलो हेल्थ की दी हुई जानकारियां पसंद आई होंगी। अगर आपको इस संबंध में अधिक जानकारी चाहिए, तो हमसे जरूर पूछें। हम आपके सवालों के जवाब मेडिकल एक्स्पर्ट्स द्वारा दिलाने की कोशिश करेंगे।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर badge
Bhawana Awasthi द्वारा लिखित आखिरी अपडेट कुछ हफ्ते पहले को
Sayali Chaudhari के द्वारा मेडिकली रिव्यूड