अपने 31 महीने के बच्चे की देखभाल के लिए आपको किन जानकारियों की आवश्यकता है?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित | द्वारा

अपडेट डेट September 7, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
अब शेयर करें

विकास और व्यवहार

31 महीने के बच्चे की देखभाल:  मेरे बच्चे को अभी क्या-क्या गतिविधियां करनी चाहिए?

इस उम्र में आपका बच्चा जो भी शब्द चुनता है उसमें से लगता है ‘नहीं’ उसका पसंदीदा शब्द है। इसकी वजह क्या है? दरअसल, प्री-स्कूलर्स (स्कूल जाने से पहले की उम्र) ‘नहीं’ बहुत ज्यादा बोलते हैं क्योंकि वह अपनी मर्जी और विचार को ढूंढ़ने का प्रयास करते हैं (कई बार वह ‘नहीं’ बोलते हैं जबकि उनका असल में मकसद ‘हां’ बोलना होता है)। कई बार बच्चे गुस्से और चिड़चिड़ेपन में ‘न’ बोलते हैं। साथ ही बच्चा कई बार जोर-जोर से चिल्लाता है क्योंकि उसे पता है कि ऐसा करने से माता-पिता उसकी तरफ ध्यान देंगे और शायद उसके साथ चलने को भी राजी हो जाएं। 31 महीने के बच्चे की देखभाल करते समय आपको कुछ बातों को जानने की जरूरत है, जानिए इस आर्टिकल के माध्यम से।

31 महीने के बच्चे की देखभाल:  बच्चे को अब किन चीजों के लिए तैयार करना चाहिए ?

बच्चे को विकल्प दें और उन्हें कुछ विकल्पों के बारे में सिखाएं। जैसे ‘न’ का विपरीत शब्द होता है ‘हां’ या इन दोनों के बीच का शब्द हो सकता है ‘शायद’। साथ ही बच्चे को धीमी आवाज में जवाब देना सिखाएं। उसे परिपक्व बनाने की दिशा में यह पहला कदम होगा। बच्चे 31 महीने के होने पर अपनी भावनाओं को व्यक्त करना शुरू कर देते हैं। वो बताते हैं कि उन्हें क्या नहीं पसंद आ रहा है। साथ ही वो उन आवाजों को भी पहचानने और याद करने लगते हैं, जो उन्हें रोजाना सुनाई देती है। बच्चा इस उम्र में अपना नाम, जेंडर भी पहचानने लगता है। अगर आप उसे इस बारे में बताएंगे तो आसानी से बता देगा कि लड़का कौन है और लड़की कौन है ? साथ ही आपको 31 महीने के बच्चे को उस शहर के बारे में भी जानकारी देनी चाहिए जहां आप रह रहे हो।

31 महीने के बच्चे की देखभाल: मोबाइल उपकरण से दूर रखें

बच्चे 31 महीने में आपने आप-पास की चीजों को अच्छे से जानने और समझने लगते हैं। बच्चों को टीवी या फिर मोबाइल को देखकर बहुत उत्सुकता होती है। आप बच्चों को मोबाइल से दूर रखें तो बेहतर होगा। मोबाइल देखकर बच्चा बहुत खुश हो जाता है और फिर उसे लेने के लिए जिद भी कर सकता है। बेहतर होगा कि आप पहले से ही इन बातों का ध्यान रखें। अगर आप ध्यान नहीं देंगे तो एक समय ऐसा भी आयेगा कि जब बच्चा बिना मोबाइल देखे खाना भी नहीं खाएगा। 31 महीने के बच्चे की देखभाल के दौरान आपको इस बात का ध्यान रखना चाहिए बच्चे का विकास और व्यवहार आसपास के वातावरण पर निर्भर करता है।

और पढ़ें : ‘बेबी वियरिंग’ से गहरा होता है मां और बच्चे का रिश्ता

31 महीने के बच्चे की देखभाल: फिजिकल डेवलपमेंट

31 महीने का बच्चा बिना गिरे आसानी से अचानक दौड़ सकता है। इस उम्र तक बच्चे सीख जाते हैं कि उन्हें किसी भी चीज से टकराना नहीं है तो किसी भी वस्तु के आसपास रखे होने पर वे उसके चारों को आसानी से घूम भी सकते हैं। यानी ये कहना गलत नहीं होगा कि 31 महीने तक बच्चा खुद के शरीर को अच्छी तरह से बैलेंस करना सीख लेता है। बच्चे इस उम्र में फन एक्टीविटी में भी बढ़ चढ़ कर हिस्सा लेते हैं। यानी आप इस एज में बच्चों के साथ मजेदार गतिविधियां कर सकती हैं और बच्चा भी इसे पूरी तरह से एंजॉय करेगा। दो साल के बाद बच्चे आसानी से किसी कविता या अक्षर के साउंड को बोलने लगते हैं। बच्चा इस उम्र में खुद से खाने की कोशिश भी करता है। अगर पेरेंट्स हेल्प करें तो बच्चा खुद ही खाने लगता है। साथ ही उसे कपड़ों को खुद ही पहनना अच्छा लगता है। भले ही बच्चा कपड़े अपने आप न पहन पाए, लेकिन वो कोशिश जरूर कर सकता है।

और पढ़ें : बच्चे के लिए किस तरह के बेबी ऑयल का इस्तेमाल करना चाहिए?

डॉक्टर के पास कब जाएं?

31 महीने के बच्चे की देखभाल:   बच्चे से जुड़े किन विषयों पर डॉक्टर से बात करनी चाहिए?

निम्न लक्षण दिखने पर डॉक्टर को बच्चे की जांच के लिए कहें-

  • कम्युनिकेशन की कमी। आपका बच्चा शब्द तो दोहराता है लेकिन, किसी तरह की बातचीत या उसका नाम लेने पर प्रतिक्रिया नहीं करता।
  • बच्चा चेहरे के हाव-भाव और अन्य अशाब्दिक संचार को पढ़ नहीं पाता।
  • आई कॉनेक्ट नहीं बना पाते।
  • सामाजिक संपर्क बनाने से बचते हैं।
  • बहुत संकीर्ण केंद्रित रुचियां।
  • खिलौने का सही इस्तेमाल न करना (जैसे खाना बनाने या खाने का नाटक करने की बजाय उसे कतार में लगाना)
    आवाज या स्पर्श जैसी संवेदनात्मक गतिविधियों के प्रति बहुत कम या बहुत ज्यादा संवेदनशील होना।
  • पहली सिखी हुई भाषा या सोशल स्किल भूल जाना।

31 महीने के बच्चे की देखभाल: डॉक्टर को क्या बताएं?

आप डॉक्टर से बच्चे की निम्न चीजों की जांच की उम्मीद कर सकते हैं-

  • बच्चा स्वस्थ है यह सुनिश्चित करने के लिए वजन की जांच
  • दिल की धड़कन और सांस (ब्रिदिंग)
  • कान और आंख।

और पढ़ें :  बच्चे को कैसे और कब करें दूध से सॉलिड फूड पर शिफ्ट

क्या उम्मीद करें?

31 महीने के बच्चे की देखभाल:   बच्चे के स्वास्थ्य से संबंधित और किन चीजों का ध्यान रखना चाहिए ?

यदि आप इस बात को लेकर चिंतित है कि बच्चे की डाइट कम है, क्योंकि वह कोई भी हरी सब्जी नहीं खाता या सिर्फ कोई खास चीज ही खाता है तो अपने दिल को तसल्ली देने के लिए शायद आप उसे सप्लीमेंट देना चाहती हैं।

दो साल की उम्र तक आपका बच्चा शायद खुश रहता है। उसकी याददाश्त अच्छी है तो आप उसे किंडरगार्डन भेजने की तैयारी में है लेकिन, क्या आप जानती हैं कि छोटे बच्चे बहुत जल्दी तनावग्रस्त हो जाते हैं। स्ट्रेस का मुख्य कारण होता है बच्चे के लिए प्लान की गई ढेर सारी एक्टिविटीज जो उसे जिद्दी भी बना देती हैं।

और पढ़ें :बच्चे की लंबाई और वजन उसकी उम्र के अनुसार कितना होना चाहिए?

हालांकि, आपके बच्चे का विकास बहुत महत्वपूर्ण है लेकिन, उसे वह सब करने के लिए समय देना चाहिए जो वह करना चाहता है। इस तरह की एक्टिविटी बच्चे की जिज्ञासा और रचनात्मकता को प्रोत्साहित करती है जिससे उसका मानसिक विकास होता है।

हैलो स्वास्थ्य का न्यूजलेटर प्राप्त करें

मधुमेह, हृदय रोग, हाई ब्लड प्रेशर, मोटापा, कैंसर और भी बहुत कुछ...
सब्सक्राइब' पर क्लिक करके मैं सभी नियमों व शर्तों तथा गोपनीयता नीति को स्वीकार करता/करती हूं। मैं हैलो स्वास्थ्य से भविष्य में मिलने वाले ईमेल को भी स्वीकार करता/करती हूं और जानता/जानती हूं कि मैं हैलो स्वास्थ्य के सब्सक्रिप्शन को किसी भी समय बंद कर सकता/सकती हूं।

उपरोक्त जानकारी चिकित्सा सलाह का विकल्प नहीं है। अगर आपको बच्चे के विकास से संबंधित कोई प्रश्न पूछना हो तो डॉक्टर से जरूर संपर्क करें।

आशा है कि आपको इस आर्टिकल की जानकारी पसंद आई होगी और आपको 31 महीने के बच्चे की देखभाल से जुड़ी सभी जरूरी जानकारियां मिल गई होंगी। अगर आपको तीन महीने के बच्चे की देखभाल से संबिधित कोई प्रश्न पूछना हो तो आप हमारे फेसबुक पेज पर पूछ सकते हैं। हम आपके सभी सवालों के जवाब आपको कमेंट बॉक्स में देने की पूरी कोशिश करेंगे। अपने करीबियों को इस जानकारी से अवगत कराने के लिए आप ये आर्टिकल जरूर शेयर करें।

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

Was this article helpful for you ?
happy unhappy

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

स्कूल के बच्चों के लिए हेल्दी हेबिट्स क्यों है जरूरी? जानें किन-किन आदतों को बच्चों को बताना है बेहतर

स्कूल के बच्चों के लिए हेल्दी हेबिट्स (Healthy habits For Kid) की सीख देना है बेहद ही जरूरी। खानपान, जीवनशैली, बातचीत सहित अन्य चीजें जानने के लिए पढ़ें।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Satish singh

बाल अनुकूल अवकाश गंतव्य की प्लानिंग कर रहे हैं जो इन जगहों का बनाए प्लान

बाल अनुकूल अवकाश गंतव्य की प्लानिंग कर रहे हैं तो जानें कौन कौन सी जगहों पर जा सकते हैं। बच्चों की पसंद और ना पसंद के हिसाब से करें डेस्टिनेशन प्लान।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Satish singh

क्या मानसिक मंदता आनुवंशिक होती है? जानें इस बारे में सबकुछ

मानसिक मंदता क्या है, मानसिक मंदता होने के कारण क्या है, क्या मानसिक अल्पता आनुवंशिक होती है, Mental retardation intellectual disability.

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shayali Rekha

बच्चों के नैतिक मूल्यों के विकास के लिए बचपन से ही दें अच्छी सीख

बच्चों के नैतिक मूल्यों के विकास क्यों है जरूरी, जानें क्या-क्या सीख देने से वो बनेंगे नेक इंसान, खुद व परिवार की जिम्मेदारी संभाल समाज की करेंगे सेवा।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Satish singh

Recommended for you

बच्चों का स्वास्थ्य (1-3 साल)

जानिए टॉडलर्स और प्रीस्कूलर्स बच्चों के स्वास्थ्य और देखभाल के बारे में

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया AnuSharma
प्रकाशित हुआ February 20, 2021 . 7 मिनट में पढ़ें
एब्डॉमिनल माइग्रेन (Abdominal Migraine)

एब्डॉमिनल माइग्रेन! जानिए बच्चों में होने वाली इस बीमारी के बारे में

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Nidhi Sinha
प्रकाशित हुआ February 18, 2021 . 4 मिनट में पढ़ें
जुड़वा बच्चे कंसीव करने की संभावना कैसे बढ़ती है

जुड़वां बच्चे कंसीव करने की संभावना को बढ़ा सकते हैं ये फैक्टर्स, जान लें इनके बारे में

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Satish singh
प्रकाशित हुआ February 18, 2021 . 5 मिनट में पढ़ें
microcephaly - माइक्रोसेफली

माइक्रोसेफली- जब बच्चों के मस्तिष्क का नहीं होता सही विकास

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Toshini Rathod
प्रकाशित हुआ February 17, 2021 . 6 मिनट में पढ़ें