बच्चे के लिए किस तरह के बेबी ऑयल का इस्तेमाल करना चाहिए?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित | द्वारा

अपडेट डेट मार्च 21, 2020 . 2 मिनट में पढ़ें
अब शेयर करें

बच्चे के अच्छे शारीरिक विकास के लिए मसाज यानी मालिश बहुत जरूरी है। अच्छे बेबी ऑयल के इस्तेमाल से बच्चों की सेहत पर बहुत अच्छा असर देखने को मिलता है। नवजात शिशु की कोमल त्वचा को स्वस्थ और मुलायम बनाये रखने में  बेबी ऑयल एक बहुत ही विश्वसनीय उत्पादों में से एक है। इस बारे में डॉ. शरयु बताती हैं  कि बेबी ऑयल से बच्चों के शरीर को नमी प्राप्त होती है। त्वचा चमकदार और मुलायम बनी रहती है।’ बच्चे की एक अच्छे बेबी ऑयल से मालिश करना जरूरी है क्योंकि, इससे बच्चे की त्वचा को पोषण मिलता है। बेबी ऑयल मसाज से शिशु को अच्छी नींद भी आती है।

बेबी के बेस्ट बेबी ऑयल

नारियल का तेल

नारियल के तेल को कोकोनट ऑयल भी कहा जाता है। यह त्वचा के लिए बहुत प्रभावकारी है। इससे बच्चे के शरीर पर इंफेक्शन का डर नहीं होता है। नारियल का तेल शिशु की नाजुक त्वचा के लिए बहुत लाभकारी होता है। गर्मी में नारियल के तेल को बच्चे की मालिश के लिए सबसे अच्छा तेल माना जाता है। यक फंगल इंफेक्शन (Fungal Infection) के इलाज के लिए सर्वश्रेष्ठ माना जाता है। नारियल तेल बैक्टीरिया से भी शिशु की सुरक्षा करता है।

यह भी पढ़ें: जानें परिवार के साथ नाश्ता करना बच्चे के लिए क्याें है जरूरी ?

बादाम का तेल

बादाम के तेल (Almond Oil) में विटामिन-ई की भरपूर मात्रा पायी जाती है। बच्चे की मालिश के लिए यह फायदेमंद है। बादाम का तेल केवल बच्चे के लिए ही न बल्कि हर उम्र के लोगों के लिए लाभकारी है। यह विटामिन (ए, डी, ई, बी-1, बी-2 और बी-6) से भरपूर होता है। इसमें फैटी एसिड और जिंक, कैल्शियम और पोटैशियम जैसे खनिज होते हैं।शिशु का शरीर बादाम के तेल को प्रभावी रूप से सोख लेता है, जिसके कोई साइड इफेक्ट्स नहीं होते हैं।

तिल का तेल

यह तेल बच्चे की मालिश के लिए अच्छा माना जाता है।  ठंड के मौसम में इस तेल को लगाने से शिशु को गर्माहट मिलती है। तिल का तेल शिशु के आयुर्वेदिक मालिश के लिए बहुत लोकप्रिय हैं, क्योंकि यह तमाम दोषों में संतुलन बनाए रखते हैं। बच्चे के लिए तिल का तेल भी चुनने से पहले यह जान लें कि यह शुद्ध हो। आप इसमें सुगंधित फूलों जैसे गुलाब या चंदन भी मिला सकते हैं।

यह भी पढ़ें: बच्चे के विकास के लिए जरूरी है अर्ली चाइल्डहुड एज्युकेशन

सरसों का तेल

सरसों का तेल हर वर्ग के लोगों के लिए खरीदना है, क्योंकि यह ज्यादा मंहगा नहीं होता है। सरसों का तेल बच्चों के लिए वरदान माना जाता है। इससे मालिश करने से शरीर में ब्लड सर्क्युलेशन अच्छी तरह से होता है। सरसों के तेल से बच्चे की मालिश से त्वचा को पोषण और शरीर को मजबूती मिलती है। सरसों का तेल सूखे एवं फटे होठों के लिए बहुत अच्छा इलाज है। अपने बच्चों के होठों पर इसे लगाएं। सर्दियों में बच्चों के होंठ नहीं फटेंगे।

जैतून का तेल

अगर बच्चा बहुत ज्यादा कमजोर है, तो जैतून का तेल मालिश के लिए इस्तेमाल करें। बच्चों के शरीर में ताकत आती है और त्वचा को भरपूर पोषण मिलता है। यदि बच्चे की त्वचा बहुत नाजुक है या त्वचा संबंधित किसी प्रकार की समस्या है तो इस तेल का इस्तेमाल न करें।

यह भी पढ़ें: जानें बच्चे के लिए होम स्कूलिंग के फायदे

कैमोमाइल ऑयल

यह बच्चों की मालिश के लिए एक बढ़िया बेबी ऑइय है। इसमें नवजात शिशु की स्किन के लिए आवश्यक तत्व मौजूद होते हैं। केमोमाइल ऑयल लगाने से बच्चे की त्वचा में रैशेज यानी लाल धब्बे नहीं पड़ते हैं और शिशु को किसी प्रकार का संक्रमण नहीं होता है।

बच्चे के अच्छे शारीरिक विकास के लिए आप इस तरह के ऑयल का इस्तेमाल कर सकते हैं। जिसके लिए जरूरी है कि आप

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

संबंधित लेख:

    क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
    happy unhappy"
    सूत्र

    शायद आपको यह भी अच्छा लगे

    Lansoprazole: लैंसोप्राजोल क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

    लैंसोप्राजोल के उपयोग in hindi. लैंसोप्राजोल के साइड इफेक्ट्स, सावधानियां, कब लें, डोज, ओवरडोज की स्थिति में क्या करें?

    चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
    के द्वारा लिखा गया Manjari Khare
    दवाइयां A-Z, ड्रग्स और हर्बल सितम्बर 24, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

    कोविड-19 रिकवरी और हार्ट डिजीज का क्या है संबंध, जानिए एक्सपर्ट की राय

    हार्ट पर कोविड-19 का प्रभाव भी होता है। कोरोना संक्रमण से रिकवर हो चुके कुछ पेशेंट में हार्ट डिजीज के लक्षण देखने को मिले। आप भी जानिए कोरोना और हार्ट डिजीज के संबंध के बारे में। Heart issues after recovery from coronavirus

    के द्वारा लिखा गया Bhawana Awasthi
    कोरोना वायरस, कोविड-19 सितम्बर 24, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

    एंजाइम क्या है: एंजाइम का पाचन के साथ क्या संबंध है?

    एंजाइम क्या है? यह पाचन के लिए कितना महत्वपूर्ण होता है? इसका पाचन के साथ क्या संबंध है? एंजाइम का सप्लीमेंट कब दिया जाता है? Enzyme in Hindi.

    चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
    के द्वारा लिखा गया Mousumi dutta
    हेल्थ सेंटर्स, पेट और गैस की समस्या सितम्बर 24, 2020 . 6 मिनट में पढ़ें

    वर्कआउट के बाद मांसपेशियों के दर्द से राहत दिला सकते हैं ये फूड, डायट में कर लें शामिल

    वर्कआउट के बाद डायट ऐसी होनी चाहिए जो मसल्स पेन और स्ट्रेन से राहत दिलाए। इसके लिए आपको कुछ चीजों को अपनी डेली डायट में शामिल करना होगा। जानिए कौन से हैं वे फूड

    चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
    के द्वारा लिखा गया Manjari Khare
    फिटनेस, स्वस्थ जीवन सितम्बर 23, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

    Recommended for you

    कैट क्यू वायरस, cat que virus

    कैट क्यू वायरस : भारत में बढ़ा नए वायरस का खतरा, आईसीएमआर ने दी चेतावनी

    चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
    के द्वारा लिखा गया Bhawana Awasthi
    प्रकाशित हुआ अक्टूबर 1, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
    हृदय रोगों से जुड़े मिथक

    जानें हृदय स्वास्थ्य से जुड़े मिथक को लेकर क्या कहते हैं एक्सपर्ट

    के द्वारा लिखा गया Shayali Rekha
    प्रकाशित हुआ सितम्बर 28, 2020 . 7 मिनट में पढ़ें
    वर्ल्ड लंग डे

    अगर भविष्य में बचना है लंग डिजीज से, तो बचाव के लिए जरूरी है एक्स्पर्ट की इन बातों का ध्यान रखना

    के द्वारा लिखा गया Shivam Rohatgi
    प्रकाशित हुआ सितम्बर 25, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
    पीसीओएस के साथ एग फ्रीजिंग

    क्या पीसीओएस के साथ एग फ्रीजिंग कराना सही हैं? जानें क्या है प्रक्रिया

    चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
    के द्वारा लिखा गया Shayali Rekha
    प्रकाशित हुआ सितम्बर 24, 2020 . 10 मिनट में पढ़ें