home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

Ampro powder: प्रोटीन और जरूरी न्यूट्रीएंट्स की कमी को पूरा करता है ये पाउडर!

Ampro powder: प्रोटीन और जरूरी न्यूट्रीएंट्स की कमी को पूरा करता है ये पाउडर!

बच्चों के शरीर का विकास तेजी से होता है। उन्हें प्रोटीन के साथ ही असेंशियल न्यूट्रीएंट्स भी चाहिए होते हैं। अगर बच्चे को खाने से पर्याप्त मात्रा में प्रोटीन या न्यूट्रिएंट्स प्राप्त नहीं हो पाते हैं, तो ऐसे में डॉक्टर बच्चों को सप्लिमेंट पाउडर लेने की सलाह दे सकते हैं। हमारे शरीर के निर्माण के लिए जहां एक ओर प्रोटीन अहम भूमिका निभाता है, वहीं विभिन्न प्रकार के विटामिंस शरीर की विकास के लिए बेहद जरूरी होते हैं। बच्चे का वजन कम हो जाना या फिर वजन न बढ़ पाना, किसी विटामिन की कमी के कारण रोग, शरीर में खून की कमी आदि से बचाने के लिए खाने के साथ ही अन्य सप्लिमेंट की भी जरूरत पड़ सकती है। आज इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपके बच्चों के लिए एम्प्रो पाउडर (Ampro powder) के फायदे के बारे में जानकारी देंगे।

और पढ़ें: बच्चों को विटामिन डी की कमी से बचाने के लिए इन 9 लक्षणों को ना करें इग्नोर

एम्प्रो पाउडर (Ampro powder) क्या है?

एम्प्रो पाउडर में असेंशियल विटामिन होते हैं, इसमें विटामिन सी, नियासिनमाइड (Niacinamide), विटामिन बी6 (Vitamin B6),पैंटोथेनिक एसिड (Pantothenic Acid), विटामिन बी2, विटामिन ए, फोलिक एसिड (Folic acid) के साथ ही विटामिन डी (Vitamin D) भी होता है। इसमें पर्याप्त मात्रा में मैग्नीशियम, आयरन और अन्य न्यूट्रिएंट्स भी होते हैं। जिन बच्चों का वजन कम होता है या फिर जिन बच्चों को अक्सर कमजोरी महसूस होती है, उन्हें डॉक्टर ये एम्प्रो पाउडर (Ampro powder) न्यूट्रिशनल सप्लिमेंट लेने की सलाह दे सकते हैं। बच्चों के शरीर के लिए माइक्रोन्यूट्रिएंट्स (Micronutrients) भी बहुत जरूरी होते हैं। कुछ बच्चों को ये रोजाना के खानपान के माध्यम से प्राप्त नहीं हो पाते हैं। हेल्थ मेंटिनेंस के साथ ही ग्रोथ में रुकावट पैदा न हो, इसलिए इस पाउडर को लेने की सलाह दी जा सकती है।

नोट: एम्प्रो पाउडर 200g पैक की कीमत 283 रु है लेकिन ये विभिन्न स्थानों में अलग हो सकती है। हैलो स्वास्थ्य इस ब्रांड का प्रचार नहीं कर रहा है। इस आर्टिकल के माध्यम से हमने आपको एम्प्रो पाउडर के बारे में अहम जानकारी दी है। डॉक्टर से परार्श के बाद ही बच्चों के लिए न्यूट्रिशनल सप्लिमेंट का इस्तेमाल करें।

और पढ़ें: बच्चों के लिए गुड़ : इस्तेमाल से पहले पढ़ लें ये जरूरी बातें!

कैसे करें एम्प्रो पाउडर (Ampro powder) का इस्तेमाल

एम्प्रो पाउडर (Ampro powder) का इस्तेमाल करना आसान होता है। आप जब बच्चे को दूध देते हैं, तो उसमें एम्प्रो पाउडर मिलाकर दे सकते हैं। आप एक ग्लास में 200 ml एक ग्लास में करीब दो टेबलस्पून एम्प्रो किड पाउडर मिलाएं। अब इसे अच्छी तरह से मिक्स करें। आप चाहे तो दूध की थोड़ी सी मात्रा ले और फिर इसे मिलाकर दे। ऐसा इसलिए ताकि पाउडर को दूध में मिलाते समय कोई लम्प्स न रह जाए। अब बच्चे को इसे पीने के लिए दें। आप चाहे तो इसे पानी में भी मिलाकर दे सकते हैं। इसे देने का सही तरीका क्या है और बच्चे को इसकी कितनी मात्रा देनी चाहिए, इस बारे में डॉक्टर से जानकारी जरूर प्राप्त करें। एम्प्रो पाउडर चॉकलेट फ्लेवर में उपलब्ध है, जो बच्चों को पसंद आता है।

और पढ़ें: बच्चों में ईटिंग डिसऑर्डर, उनके हेल्थ पर भी भारी पड़ सकती है, जानिए एक्सपर्ट टिप्स!

बच्चों के लिए प्रोटीन क्यों है जरूरी?

नेशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इन्फॉर्मेशन में पब्लिश्ड एक रिपोर्ट की मानें, तो बिना डॉक्टर से सलाह लिए बच्चों को प्रोटीन युक्त पाउडर नहीं दिया जा सकता है। अगर बच्चे को किसी प्रकार की कोई हेल्थ कंडीशन हो या फिर बच्चे का वजन बहुत कम हो, या फिर उसे पर्याप्त मात्रा में न्यूट्रीशन न मिल पाने के कारण किसी समस्या का सामना करना पड़ रहा हो, तो ऐसे में बच्चों को प्रोटीन के साथ ही न्यूट्रीशनल सप्लिमेंट पाउडर दिया जा सकता है। बिना डॉक्टर की सलाह के बच्चे को किसी भी तरह के सप्लिमेंट या फिर पाउडर देने पर नुकसान हो सकता है।

प्रोटीन अमीनो एसिड से मिलकर बने होते हैं। शरीर में अमीनो एसिड मसल्स और बोंस को बनाने के साथ ही रिपेयर करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। साथ ही प्रोटीन एंजाइम और हॉर्मोन के निर्माण में भी अहम भूमिका निभाते हैं। बच्चों का शरीर तेजी से विकास करता है। अगर ऐसे में बच्चों को पर्याप्त मात्रा में प्रोटीन न मिल पाए, तो उनके शरीर के विकास में बाधा पहुंच सकती है। अगर बच्चा हेल्दी डायट ले रहा है, तो उसे खाने से ही पर्याप्त मात्रा में प्रोटीन उपलब्ध हो जाती है। अगर खाने में प्रोटीन युक्त आहार नहीं हैं, शरीर में प्रोटीन की कमी हो सकती है, जो पूरे शरीर के डेवलपमेंट पर बुरा प्रभाव डालती है। एक बात का ध्यान रखें कि एम्प्रो पाउडर (Ampro powder) का सेवन करने से किसी बीमारी का इलाज नहीं होता है। इसकी अधिक मात्रा भी शरीर के लिए नुकसान दायक हो सकती है।

और पढ़ें: रिसर्च के अनुसार बच्चों के लिए सूजी है कॉम्पलीमेंट्री फूड

माइक्रोन्यूट्रिएंट्स (Micronutrients) क्या होते हैं?

एम्प्रो पाउडर (Ampro powder) शरीर में माइक्रोन्यूट्रिएंट्स (Micronutrients) की कमी को पूरा करने का भी काम करता है। शरीर में माइक्रोन्यूट्रिएंट्स की अहम भूमिका होती है। माइक्रोन्यूट्रिएंट्स में विटामिंस और मिनिरल्स पाए जाते हैं। एनर्जी प्रोडक्शन (Energy production) के लिए विटामिंस जरूरी होते हैं। वहीं ये इम्यून फंक्शन, ब्लड क्लॉटिंग और अन्य कार्यों में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। वहीं मिनिरल्स ग्रोथ, इम्यून फंक्शन, ब्लड क्लॉटिंग (Blood clotting) और अन्य कार्यों में अहम रोल निभाते हैं। अगर इनकी मात्रा डायट से प्राप्त नहीं होती है, तो डॉक्टर बच्चों के लिए न्यूट्रिशनल सप्लिमेंट की सलाह दे सकते हैं। आपको इसके बारे में डॉक्टर से अधिक जानकारी लेनी चाहिए। हैलो हेल्थ किसी भी प्रकार की चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार उपलब्ध नहीं कराता हैं।

और पढ़ें: क्या बेबी को चीज खिलाना होता है सुरक्षित? मन में है सवाल तो जानें यहां

बच्चों के अच्छे स्वास्थ्य के लिए जरूरी है कि उन्हें छह माह तक केवल मां का दूध ही पिलाएं। समय-समय पर बच्चे के वजन की जांच जरूर कराएं। किन्हीं कारणों से अगर बच्चा सही से खा नहीं पा रहा है, तो ऐसे में उसका वजन नहीं बढ़ेगा या फिर कम भी हो सकता है। अगर बच्चे को किसी प्रकार की बीमारी हो जाती है, तो भी शरीर कमजोर हो जाता है और उसे न्यूट्रिएंट्स की अधिक आवश्यकता होती है। आपको बच्चे के अच्छे स्वास्थ्य के लिए समय-समय पर डॉक्टर से जांच जरूर करानी चाहिए। अगर आपको एम्प्रो पाउडर (Ampro powder) के संबंध में कोई जानकारी चाहिए हो, तो डॉक्टर या फिर एक्सपर्ट से जरूर संपर्क करें।

हैलो हेल्थ किसी भी प्रकार की चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार उपलब्ध नहीं कराता हैं। इस आर्टिकल के माध्यम से हमने आपको बच्चों के लिए न्यूट्रिशनल सप्लिमेंट एम्प्रो पाउडर (Ampro powder) के बारे में जानकारी शेयर की है। उम्मीद है आपको हैलो हेल्थ की दी हुई जानकारियां पसंद आई होंगी। अगर आपको इस संबंध में अधिक जानकारी चाहिए, तो हमसे जरूर पूछें। हम आपके सवालों के जवाब मेडिकल एक्सर्ट्स द्वारा दिलाने की कोशिश करेंगे।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर badge
Bhawana Awasthi द्वारा लिखित आखिरी अपडेट कुछ दिन पहले को
Sayali Chaudhari के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x