home

What are your concerns?

close
Inaccurate
Hard to understand
Other

लिंक कॉपी करें

बेबी हेयर ग्रोथ के लिए 11 आसान टिप्स, बचपन से ही बाल होंगे मजबूत और शाइनी

बेबी हेयर ग्रोथ के लिए 11 आसान टिप्स, बचपन से ही बाल होंगे मजबूत और शाइनी

हर बच्चा अपने आप में यूनिक होता है। किसी के बाल कर्ली होते हैं, किसी के स्ट्रेट तो किसी के वेवी। कुछ बच्चे कम बालों के साथ तो कुछ एकदम घने बालों के साथ पैदा होते हैं। जन्म के बाद बच्चे के बाल कम होना चिंता की बात नहीं है। जन्म के 6 महीने के बाद तक बेबी के बालों का कम होना नॉर्मल है। कुछ बच्चों के बाल जन्म के बाद अचानक झड़ जाते हैं और फिर उगते हैं। बच्चों के बालों का कलर और उनका घनापन जेनेटिक्स (Genetics) पर निर्भर करता है। बता दें कि प्रेग्नेंसी के 30वें हफ्ते में गर्भ में बच्चे के बाल उगने लगते हैं। इसके लिए मां के हॉर्मोन्स भी जिम्मेदार होते हैं। गर्भ के अंदर हॉर्मोन लेवल हाय होता है जो कि हेयर ग्रोथ को बढ़ाने का काम करता है। डिलिवरी के बाद अचानक ग्रोथ कम हो सकती है। बेबी हेयर ग्रोथ को बढ़ाने के लिए कुछ उपाय (Tips for Baby Hair Growth) अपनाए जा सकते हैं।

बेबी हेयर ग्रोथ टिप्स (Baby Hair Growth Tips)

यहां हम आपको बेबी हेयर ग्रोथ के लिए कुछ बेहद आसान टिप्स बता रहे हैं, जिन्हें पेरेंट्स आसानी से फॉलो कर सकते हैं।

1.बालों को ब्रश जरूर करें (Brush your baby’s scalp)

बच्चों की हेयर ग्रोथ के लिए जरूरी है कि बालों को रोज अच्छी तरह ब्रश किया जाए। इससे स्कैल्प (Scalp) में ब्लड सर्क्युलेशन (Blood Circulation) अच्छी तरह होता है जो हेयर ग्रोथ को बढ़ावा देता है। बच्चों को कंघी करते वक्त इस बात का ध्यान रखें कि बेबी के बालों में धीरे-धीरे कंघी करें। साथ ही इस बात का भी ध्यान रखें कि बेबी के सिर में मसाज अच्छी तरह की गई हो।

और पढ़ें: बेबी प्रोडक्ट्स में केमिकल्स आपके लाडले को करते हैं बीमार, कैसे पहचानें यहां जानें?

2.नारियल के तेल (Coconut Oil) से सिर की मालिश करें

नारियल के तेल में विटामिन ई (Vitamin E) नैचुरल रूप में पाया जाता है। यह पोषक तत्वों और एंटीऑक्सिडेंट (Antioxidants) प्रॉपर्टीज से भरपूर है। यह सिर्फ स्किन को ही फायदा नहीं पहुंचाता बल्कि ब्लड सर्क्युलेशन में सुधार कर हेयर ग्रोथ को प्रमोट करता है। यह बालों को चमकदार बनाने के साथ ही हेयर लॉस (Hair Loss) को कम करता है। एनसीबीआई (NCBI) में छपी एक स्टडी के अनुसार रिसर्चर ने पाया है कि नारियल का तेल हेयर प्रोडक्ट्स के लिए उपयोगी है। जब इसे सनफ्लॉवर और मिनरल ऑयल के साथ मिलाया जाता है तो यह हेयर प्रोटीन लॉस (Protein Loss) को कम करने में मदद करता है।

बेबी हेयर ग्रोथ के लिए नारियल के तेल को बेबी स्कैल्प पर कुछ मिनटों के लिए लगाएं। यह बालों को मॉश्चराइज करने के साथ ही क्रैडल कैप (Cradle Cap) से छुटकारा दिलाने में भी मदद करता है। आप इसके लिए एक्सट्रा वर्जिन कोकोनट ऑयल या ऑर्गेनिक कोकोनट ऑयल का उपयोग भी कर सकते हैं।

3.बादाम खिलाएं (Almond For Baby Hair Growth)

बादाम प्रोटीन और एसेंशियल अमीनो एसिड‌्स (Amino Acids) का अच्छा सोर्स होते हैं। बेबी को दिन में दो बादाम खिलाएं। इन्हें पानी में भिगोकर रखें और फिर छिलका निकालकर बच्चे को दें। आप इन्हें घिसकर दूध में मिलाकर भी दे सकते हैं। इसके अलावा बालों की बादाम के तेल से मसाज भी कर सकते हैं। जब बच्चा थोड़ा बड़ा हो जाए और कुछ खाने लगे तो उसकी डायट में आयरन (Iron), विटामिन ए (Vitamin A), बी और डी के सोर्स वाले फूड शामिल करें। जिसमें गाजर, आम, कद्दू, आलू, बींस और एग को शामिल करें।

और पढ़ें: शिशु की देखभाल के लिए बेस्ट बेबी केयर प्रोडक्ट्स

4.बालों को बांधें नहीं (Avoid Hair Ties)

अगर पेरेंट्स छोटे बच्चों के बालों को बांधकर पोनीटेल बना देते हैं। इससे बच्चे भले ही दिखने में क्यूट लगे, लेकिन उनके बाल इससे कमजोर हो जाते हैं। इससे हेयर फॉलिकल्स कमजोर होने के साथ ही हेयर लॉस भी होता है। इसलिए बच्चों के बालों को बांधें नहीं।

5.बेबी हेयर ग्रोथ के लिए एलोवेरा (Aloe Vera For Baby Hair Growth)

बच्चे के बालों की ग्रोथ को बढ़ाने के लिए पेरेंट्स ऐलोवेरा का उपयोग भी कर सकते हैं। इसके लिए बाजार में उपलब्ध एलोवेरा जेल (Aloe Vera Jail) को यूज किया जा सकता है या प्लांट से डायरेक्ट निकाले गए जेल का। जेल को बेबी के स्कैल्प पर लगाएं और अच्छी तरह मसाज करें। 15-20 मिनट के लिए बालों में लगा रहने के बाद बालों को अच्छी तरह धोएं।

6.बालों को रोज धोने से पहले इस बात कर रखें ध्यान

बच्चों को क्रैडल कैप से बचाना चाहते हैं तो बालों को रोज धोना जरूरी है, लेकिन ऐसा तभी करें जब बच्चा थोड़ा बड़ा हो जाए। शुरुआत के कुछ दिनों तक बेबी को हफ्ते में एक बार इसके बाद वीक में दो से तीन बार सिर धोया जाता है। छोटे बच्चों के बाल धोते वक्त पेरेंट्स नर्वस फील कर सकते हैं, लेकिन इससे स्कैल्प क्लीन होने के साथ ही क्रेडल केप से छुटकारा मिलता है। स्कैल्प में धूल जमा होने के कारण ड्रायनेस होती है जिससे हेयर ग्रोथ स्लो हो जाती है। शैम्पू का चुनाव डॉक्टर की सलाह पर करें।

7.बेबी हेयर ग्रोथ के लिए जिलेटिन (Gelatin)

जिलेटिन एक अमीनो एसिड है जो हेयर ग्रोथ को प्रमोट करता है जब इसे स्कैल्प पर लगाया जाता है। एक टेबलस्पून जिलेटिन पाउडर (Gelatin Powder) को पानी में मिक्स करें। इसमें शहद (Honey), एप्पल साइडर विनेगर (Apple Cider Vinegar) को भी मिला सकते हैं। इस मिक्चर को बेबी के स्कैल्प पर दस मिनट के लिए लगाएं फिर बालों को शैम्पू से धो दें। शहद में एंटीऑक्सीडेंट पाए जाते हैं जो कि बालों में पोषक तत्वों को रिस्टोर करते हैं। वहीं एप्पल साइडर विनेगर हेयर ग्रोथ को प्रमोट करता है, लेकिन इस पैक का उपयोग करने से पहले डॉक्टर से जरूर कंसल्ट करें।

8.सॉफ्ट टॉवेल का करें यूज (Use Soft Towel)

बच्चे के बालों को सुखाने के लिए सॉफ्ट टॉवेल का यूज करें। हार्ड टॉवेल का यूज बच्चे के बालों को ड्राई करने के साथ ही हेयर फॉलिकल्स (Hair Follicles) को कमजोर करने का काम करते हैं। जिससे बाल जल्दी टूटने लगते हैं। इसके साथ ही एक बात का ध्यान रखें कि जिन बच्चों के बाल कर्ली होते हैं वे आसानी से उलझ जाते हैं और उनमें नोट बंध जाती हैं। जिसकी वजह से बाल टूटने लगते हैं। इसलिए कर्ली हेयर वाले बेबीज का विशेष ध्यान रखें और हर दिन इन नोट्स को ठीक करते रहें।

और पढ़ें: क्या आप जानते हैं, किसे कहते हैं बेबी क्राउनिंग?

9.हेयर कट (Hair Cut) भी है जरूरी

कुछ पेरेंटस बच्चों के बाल कटवाने में झिझकते हैं, लेकिन यह बालों की अच्छी ग्रोथ में मददगार साबित हो सकता है। भारत में बच्चे के एक साल का होने के बाद ‘मुंडन’ कराया जाता है। इसे ‘मुंडन संस्कार’ भी कहते हैं। जिसमें बच्चे के बालों को पूरी तरह काट दिया जाता है। ऐसा माना जाता है कि इससे गर्भावस्था के समय की अशुद्धियां, कीटाणु जो बालों में रहते उनको हटा दिया जाता है। साथ ही इससे बच्चे के बालों को ग्रोथ में अच्छी मदद मिलती है। अगर आप बच्चे के बालों को काटना चाहते हैं तो ट्रिमर की मदद से उन्हें हल्का सा ट्रिम कर सकते हैं। इसके लिए रेजर का यूज ना करें।

10.अच्छे प्रोडक्ट्स का उपयोग करें (Use Best Hair Care Products)

बेबी हेयर ग्रोथ के लिए जरूरी है कि प्रोडक्ट्स जो आप अपने बेबी के बालों पर यूज कर रहे हैं वो बच्चे के लिए पूरी तरह सेफ हो। कैमिकल्स प्रोडक्ट्स का यूज ना करें। शैम्पू या कंडीशनर बच्चों के लिए डिजायन किए गए प्रोडक्ट्स का ही इस्तेमाल करें। लेबल की जांच करें और इंग्रीडिएंट्स के बारे में पढ़ें ताकि आपको पता चल सके कि ये बेबी के लिए हार्मफुल तो नहीं है। इस बारे में डॉक्टर से सलाह देना भी सही होगा।

11.वेदर प्रोटेक्शन (Weather Protections) भी है जरूरी

बच्चों के लिए बड़ों की तरह ही वेदर प्रोटेक्शन जरूरी है। सूरज की तेज रोशनी और पाल्यूशन बच्चों के बालों को भी नुकसान पहुंचा सकता है। इसलिए उन्हें भी इनसे बचाना जरूरी है। बच्चों को बाहर ले जाते हुए उनके सिर को कैप या कपड़े से ढंकना सही होगा।

बेबी हेयर ग्रोथ (Baby Hair Growth) से जुड़े कुछ सवाल और उनके जवाब

1.मेरा बच्चा पीछे की तरफ से बाल्ड (Bald) क्यों है?

जब बेबी 6 महीने से कम का होता है तो आप कुछ बाल्ड पैचेस (Bald Patches) नोटिस करते हैं। ये खासतौर पर सिर के पीछे वाले हिस्से में होते हैं। इसका कारण बच्चा ज्यादातर समय पर पीठे बल लेटा रहता है। इसलिए इस हिस्से पर फ्रिक्शन (Friction) के चलते बाल कम हो जाते हैं। इसमें घबराने की कोई बात नहीं है। जब बच्चा चलना और क्राउल (Crowl) करना शुरू करता है तो यह पैचेज चले जाते हैं।

और पढ़ें: टॉप 10 बेबी सीरियल्स की लिस्ट में कौन-कौन है शामिल?

2.बेबी के बालों का कलर चेंज होना नॉर्मल है?

बेबी के बाल एक बार जाने के बाद जब वे दोबारा उगते हें तो उनके कलर और टेक्चर में बदलाव हो सकता है। यह बिलकुल नॉर्मल है। दो साल में बच्चे के बाल लगभग सेट हो जाते हैं जिन्हें परमानेंट हेयर कह सकते हैं। इनमें फिर बदलाव नहीं होता।

3. मेरे बच्चे के बाल क्यों झड़ते हैं?

बता दें कि बेबी के बाल गर्भ में ही आना शुरू हो जाते हैं जो प्रेग्नेंसी के 32वें से 36वें में झड़ना भी शुरू हो जाते हैं, लेकिन कई बार ये डिलिवरी के 4 से 6 महीने के बाद झड़ते हैं। यह पूरी तरह नॉर्मल है। इसको लेकर किसी प्रकार की चिंता करने की जरूरत नहीं है। झड़ने के बाद बाल फिर से आ भी जाते हैं।

उम्मीद करते हैं कि आपको यह आर्टिकल पसंद आया होगा और बेबी हेयर ग्रोथ से संबंधित जरूरी जानकारियां मिल गई होंगी। अधिक जानकारी के लिए एक्सपर्ट से सलाह जरूर लें। अगर आपके मन में अन्य कोई सवाल हैं तो आप हमारे फेसबुक पेज पर पूछ सकते हैं। हम आपके सभी सवालों के जवाब आपको कमेंट बॉक्स में देने की पूरी कोशिश करेंगे। अपने करीबियों को इस जानकारी से अवगत कराने के लिए आप ये आर्टिकल जरूर शेयर करें।

 

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Effect of mineral oil, sunflower oil, and coconut oil on prevention of hair damage/
https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/12715094/ Accessed on 20th April 2021

DEVELOPMENTAL MILESTONES FOR BABY/https://www.marchofdimes.org/baby/developmental-milestones-for-baby.aspx/Accessed on 20th April 2021

Cradle Cap/https://www.ncbi.nlm.nih.gov/books/NBK531463/Accessed on 20th April 2021

Hair Loss/ https://www.seattlechildrens.org/conditions/a-z/hair-loss/Accessed on 20th April 2021

Alopecia Areata in Infants and Newborns/https://onlinelibrary.wiley.com/doi/abs/10.1046/j.1525-1470.2002.00034.x/Accessed on 20th April 2021

 

 

लेखक की तस्वीर badge
Manjari Khare द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 20/04/2021 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड