home

What are your concerns?

close
Inaccurate
Hard to understand
Other

लिंक कॉपी करें

बेबी प्रोडक्ट्स में केमिकल्स आपके लाडले को कर सकते हैं बीमार, कैसे पहचानें? यहां जानें

बेबी प्रोडक्ट्स में केमिकल्स आपके लाडले को कर सकते हैं बीमार, कैसे पहचानें? यहां जानें

बेबी प्रोडक्ट्स की मार्केटिंग इस तरह से की जाती है कि आपको उनकी जरूरत लगे, लेकिन सच यह है कि इनमें कई जहरीले तत्व मौजूद होते हैं, जो बच्चे को नुकसान पहुंचा सकते हैं। बेबी प्रोडक्ट्स में केमिकल्स (Chemicals in baby products) होते हैं, जो आपके बच्चे की त्वचा को काफी हद तक नुकसान पहुंचा सकते हैं। बेबी प्रोडक्ट्स कई मिलियन डॉलर का उद्योग है, जो आपके बच्चे के पैदा होने पर उनकी त्वचा को सही रखने का वादा करते है। सबसे खास बात ये है कि इसमें से कई प्रोडक्ट्स आपके बच्चे के लिए जरूरी नहीं है। आपके बच्चे की त्वचा इन टॉक्सिक प्रोडक्ट्स के इस्तेमाल के बिना ही बेहतर है। जितना कम साबुन, शैंपू और लोशन आप अपने बच्चे की त्वचा पर लगाते हैं उतने ज्यादा वह स्वस्थ रहते हैं।

और पढ़ें : ‘बेबी वियरिंग’ से गहरा होता है मां और बच्चे का रिश्ता

आपको यह जानकर शायद बुरा लगे कि कुछ सबसे मशहूर ब्रांड अपने उत्पादों में कुछ केमिकल्स का उपयोग करते हैं, जिनसे कैंसर का खतरा बढ़ता है और ये प्रोडक्ट्स कई देशों में प्रतिबंधित भी किए गए हैं। शिशु की त्वचा नाजुक होती है, जिसके कारण ये टॉक्सिक प्रोडक्ट उनकी स्कीन के नीचे तक आसानी से अपना रास्ता बना सकते हैं। ऐसे कई मामले हैं जब शिशुओं ने गलती से बेबी ऑयल मुंह में डाल लिया या उनके मुंह में चला गया जिसमें केमिकल था जिसकी वजह से उन्हें दिमाग की बीमारियों से जूझना पड़ा।

हम आपको बेबी प्रोडक्ट्स में केमिकल्स (Chemicals in baby products) के बारे में बताएंगे, जिन्हें आपको अवॉयड करने की जरूरत है:

और पढ़ें : बच्चों को विटामिन डी की कमी से बचाने के लिए इन 9 लक्षणों को ना करें इग्नोर

बेबी प्रोडक्ट्स में केमिकल्स (Chemicals in baby products) के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी

1,4 डाइऑक्सेन

बेबी प्रोडक्ट्स में केमिकल्स के होने का पता लगाना थोड़ा मुश्किल हो सकता है। एथोक्सिलेशन (Ethoxylation) का उपयोग हार्श इंग्रीडियेंट को माइल्ड बनाने के लिए किया जाता है और इसके लिए कैंसर पैदा करने वाले पेट्रोकेमिकल एथिलीन ऑक्साइड के उपयोग की जरूरत होती है, जो 1,4 डाइऑक्सेन पैदा करता है। यह एक किडनी टॉक्सिकेंट, न्यूरोटॉक्सिकेंट और रेस्पिरेटरी टॉक्सिकेंट है। कई बार आपको प्रोडक्ट के इंग्रीडिएंट लेबल पर 1,4 डाइऑक्सेन दिखाई नहीं देगा क्योंकि यह एक कंटामिनेंट माना जाता है और यह कार्सीनोजन होता है।

ऑर्गेनिक कंज्यूमर्स एसोसिएशन (OCA) के अध्ययन से पता चलता है कि टॉक्सिन सिंथेटिक एथॉक्साइलेटेड वाले उत्पादों में मौजूद होता है। इनमें मायरेथ (Myreth,), ओलेथ (Oleth), लॉरेथ (Laureth), सेटरेथ (Ceteareth), किसी भी अन्य “एथ” या पीईजी, पॉलीथीन, पॉलीइथीन ग्लाइकॉल, पॉली ओक्सिइथाइलीन या ऑक्सिनॉल शामिल हैं। इस इंग्रीडियेंट के साथ बेबी प्रोडक्ट में फार्मलाडेहाइड (Formaldehyde), नाइट्रोसैमाइन (Nitrosamines), थालैट्स (Phthalates) और दूसरे टॉक्सिक मिनरल भी हो सकते हैं।

बेबी प्रोडक्ट्स में केमिकल्स पैराबिन

बेबी प्रोडक्ट्स में कैमिकल्स में पैराबिन्स साबुन, बेबी शैंपू और लोशन में पाया जा सकता है। पैराबेंस (Parabens) स्तन कैंसर ट्यूमर, रिप्रोडक्टिव टॉक्सिसीटी, हॉर्मोन इंबैलेंस और त्वचा में जलन पैदा कर सकता है। जिस भी इंग्रीडिएंट में पैराबिन होता है, ऐसी सामग्री से दूर रहें। आपके बच्चे के वाइप्स में भी पैराबिन हो सकता है।

बेबी प्रोडक्ट्स में केमिकल्स पीईजी (PEG)

पॉलीथीन ग्लाइकोल (Polyethylene glycol) की फैमिली के अलग-अलग केमिकल लोशन, क्रीम और शैंपू में पाए जाते हैं। यह कार्सिनोजेनिक पेट्रोलियम इंग्रीडियेंट त्वचा की प्राकृतिक नमी को कम करता है, एजिंग की प्रोसेस को बढ़ाता है और बच्चों को बैक्टीरिया के लिए सेंसिटिव बनाता है। बेबी उत्पाद लेबल पर PEG देखें और इसे लेना बंद करें।

सोडियम लॉरेथ सल्फेट (SLES)

पर्सनल केयर प्रोडक्ट में सबसे हानिकारक इंग्रीडिएंट में से एक के रूप में पहचाने जाने वाले इस हानिकारक इंग्रीडियेंट का उपयोग साबुन, शैंपू और टूथपेस्ट में झाग बढ़ाने के लिए किया जाता है। यह बहुत खतरनाक है। यह बच्चे की नाजुक त्वचा पर बेहद कठोर हो सकता है और उनकी आंखों को विकसित होने में परेशानी खड़ा कर सकता है। यह इम्यूम सिस्टम को नुकसान पहुंचा सकता है। यह त्वचा की परतों को अलग करने और त्वचा की सूजन का कारण भी बन सकता है। आपको यह जानकर हैरानी होगी कि यह कार वॉश सोप और डिटर्जेंट में भी पाया जाता है।

मिनरल ऑयल

मिनरल ऑयल पेट्रोलियम प्रोसेसिंग का एक सस्ता बाइ-प्रोडक्ट है और इसका मतलब है त्वचा पर प्लास्टिक की चादर। कभी-कभी बेबी ऑयल खुशबू के साथ मिनरल ऑयल को मिक्स करते हैं, जो बच्चे के लिए खतरनाक हो सकता है।

और पढ़ें : नॉर्मल डिलिवरी से बेबी चाहती हैं तो ऐसे करें बर्थ प्लान, 10 टिप्स

बेबी प्रोडक्ट्स में केमिकल्स में खुशबू

अलग-अलग खुशबूओं का मिश्रण। कई बेबी प्रोडक्ट जैसे बॉडी पाउडर, बेबी वॉश, शैम्पू, लोशन, डायपर में खुशबू होती है। खुशबू के संपर्क में आने से अस्थमा होता है, इससे न्यूरोलॉजिकल, स्कीन, सांस और आंखों को भी नुकसान पहुंचता है। बच्चों के लिए किसी भी ऐसे उत्पाद से बचें जो सुगंध, इत्र लेबल में बताते हो।

बेबी प्रोडक्ट्स में केमिकल्स में टैल्क

टैल्कम पाउडर टैल्क से बनाया जाता है। टैल्क एस्बेस्टस फाइबर से दूषित हो सकता है, जिससे रेस्पिरेटरी टॉक्सिसीटी और कैंसर हो सकता है। यूएसजीसी के अध्ययन ने यह साबित कर दिया है कि एस्बेस्टोस मुक्त टैल्क भी टॉक्सिक और कार्सिनोजेनिक होते है। यह पाउडर मिनरल अक्सर बेबी पाउडर में मिलाया जाता है, जिससे लंग में परेशानी हो सकती है।

और पढ़ें : Thrive Failure: थ्राइव फेलियर क्या है? बच्चों की सेहत से जुड़ी इस परेशानी को इग्नोर ना करें!

बेबी प्रोडक्ट्स में केमिकल्स/बेबी प्रोडक्ट्स में प्रिर्जवेटिव

बेंजोइक एसिड जैसे कुछ प्रेर्जवेटिव (Preservative) बेंजीन पैदा कर सकते हैं। बेंजीन एक कार्सिनोजेन है, जो ल्यूकेमिया और दूसरे ब्लड कैंसर से जुड़ा है। यह प्रेजर्वेटिव बेबी शैम्पू और बेबी लोशन में मिलाया जाता है।

इस तरह के और भी बहुत सारे टॉक्सिन्स हैं। इसलिए अगर आप ऐसा कुछ पढ़ते हैं, जिसे आप समझ नहीं पाते हैं या उसे बोल नहीं पाते हैं तो बेहतर होगा कि उस प्रोडक्ट को वापस रख दें और इसके बारे में और पढ़कर ही उसे खरीदें।

यह सोचने और समझने में बुरा लगता है कि हम टॉक्सिक और हानिकारक केमिकल से भरी एक खतरनाक दुनिया में जी रहे हैं। वे हमारे जीवन में वॉशरूम से लेकर बेडरूम तक, हमारे कपड़ों से लेकर परफ्यूम तक, जो हम इस्तेमाल करते हैं और हमारे ब्रेकफास्ट प्लेट से लेकर चॉकलेट तक में मिलाए जाते हैं। केवल एक चीज जो हमें बचा सकती है वह है अवेयरनेस।

अपने नन्हे-मुन्ने की स्कीन का ध्यान रखने के लिए बेबी प्रोडक्ट्स में केमिकल्स (Chemicals in baby products) की जांच करें। बेबी प्रोडक्ट्स में केमिकल्स बच्चे को बीमार कर सकता है, जिसकी भरपाई करना मुश्किल होता है।

बच्चों के लिए मां का दूध सर्वोत्तम माना जाता है। नीचे दिए वीडियो लिंक पर क्लिक करें और हेल्थ एक्सपर्ट से जानिए ब्रेस्टमिल्क एवं फॉर्मूला मिल्क (Breast milk and formula milk) से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर badge
Lucky Singh द्वारा लिखित आखिरी अपडेट कुछ हफ्ते पहले को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड