home

What are your concerns?

close
Inaccurate
Hard to understand
Other

लिंक कॉपी करें

बालों का टाइप जानें, फिर करें शैंपू का चुनाव

बालों का टाइप जानें, फिर करें शैंपू का चुनाव

हर किसी के बालों का रंग, क्वॉलिटी और नेचर अलग-अलग होता है। एक ही शैंपू हर किसी के लिए सूट नहीं कर सकता। लोग अक्सर बालों के झड़ने, पतले होने और टूटने की बात करते हैं। आमतौर पर लोग अपने बालों को देखकर यह तो जान लेते हैं कि बाल डैमेज हैं, दो मुंहें हैं या ​बहुत गिर रहे हैं। लेकिन वे इनके अनुसार शैंपू का चुनाव नहीं करते, जिसकी वजह से समस्या बढ़ जाती है। इस आर्टिकल में जानें कि कैसे बालों की समस्या और उनके नेचर के हिसाब से शैंपू खरीदा जाए।

बालों के लिए कैसे करें शैंपू का चुनाव?

1) ऑयली हेयर के लिए शैंपू

अगर आपके ऑयली हेयर हैं तो बालों के इस प्रकार के​ लिए आपको ऐसे शैंपू का चुनाव करना चाहिए जो अधिक ऑयल को और धूल—मिट्टी को साफ कर सकें। चूंकि ऑयली हेयर धूल—मिट्टी के मेल में जल्दी आते हैं। वह शैंपू इस्तेमाल करें जो आपके स्कैल्प को टोन करे और हेयर फॉलिकल को बंद होने से बचाता है। एस्ट्रजेंट, पैंथिनोल से बाल घने होते हैं और व्हीट प्रोटीन वाले शैंपू को ही चुनें।

2) ड्राय हेयर के लिए शैंपू

ड्राय हेयर के लिए शैंपू ऑयली हेयर के विपरीत होता है। ड्राई हेयर के लिए ऑयल युक्त शैंपू का चुनाव कर सकते हैं। इससे आपके बाल हाइडेट्रेड रहेंगे। बालों को रूखे होने से बचाने के लिए शैम्पू का चुनाव करते समय एक बार चेक कर लें कि उसपर “सल्फेट फ्री” लिखा हो। साथ ही उसमें डायमेथिकोन (Dimethicone) कितना है यह भी चेक कर लें। इस इंग्रीडेंट से बालों की चमक बढ़ती है।

यह भी पढ़ें— इस तरह से करें अंडरआर्म्स की क्लीनिंग, नहीं पड़ेगी स्किन काली

3) पतले बालों के लिए शैंपू

यदि आपके पतले बाल हैं तो इसका सीधा मतलब है कि वह कम घने हैं। उन्हें घना दिखाने के लिए आप वोल्यूमाइजिंग शैंपू का चुनाव कर सकते हैं। वोल्यूमाइजिंग शैंपू में प्रोटीन, पोलिमर मौजूद होते हैं, यह दोनों ही बालों को मजबूती देने में मददगार होते हैं। शैंपू का चुनाव करते हुए उसमें मरीन कोलाजेन और प्लांट एक्सट्रैक्ट की मौजूदगी जरूर देख लें क्योंकि इनसे बाल घने नजर आते हैं।

4 मोटे घने बालों के लिए शैंपू

लंबे हो ना हो घने बाल हर किसी की ख्वाहिश होती है लेकिन, कई लोग अपने बालों के घनेपन से भी परेशान हो जाते हैं। बालों के घने होने के कारण इनमें ज्यादा गंदगी होती है। इसलिए मोटे बालों के लिए शैंपू में क्लींजर और कंडीशनर दोनों ही प्रॉपर्टी होनी चाहिए। इससे बालों की गंदगी तो हटेगी ही साथ ही कंडीशनर से उन्हें पोषण भी मिलेगा।

यह भी पढ़ें— हेयर ग्रोथ फूड्स अपनाकर पाएं काले घने लंबे बाल

5) कलर बालों के लिए

यदि आप बालों को कलर कराते हैं तो आपको बालों की विशेष देखभाल की जरूरत है। उन शैंपू का चुनाव करें जिनसे आपका कलर बरकरार रहे और जो बालों को नरिश भी करे। यह भी माना जाता है कि यदि आप बालों को डाई करते हैं तो वेजीटेबल डाई से बने कलर रिफ्रेशर शैंपू का चुनाव करना चाहिए। इससे कलर के साथ ही नेच्युरल शाइन भी मिलती है। आप बाल तुरंत काले करने के बाद भी शैंपू से बचें क्योंकि हल्के से हल्का शैंपू भी आपके हेयर कलर को कमजोर कर देता है।

6) सफेद बालों के लिए शैंपू

सफेद बाल काफी नाजुक और पतले होते हैं। इनके लिए खास तरह के शैंपू बनाए जाते हैं। इनसे बालों में रौनक नजर आती है। माना जाता है कि ग्रे हेयर वालों को ब्लू या वॉयलेट पिगमेंटेशन वाला शैंपू लेना चाहिए। बालों में दिखने वाला पीला टोन कम नजर आता है और हेयर कलर भी ठीक होता है।

बालों की देखभाल के लिए टिप्स

बालों में रूखापन, डैमेज, डैंड्रफ जैसी तमाम समस्याओं के लिए शैम्पू का चुनाव सही तरीके से करने के साथ ही कुछ और उपाय भी अपनाएं जिससे आपके बाल अंदर से हेल्दी रहेंगे। नीचे बताए गए ये टिप्स आजमाएं-

  • बालों को उचित पोषण देने के लिए हेयर मसाज बहुत जरूरी है। इसके लिए ऑयलिंग मसाज सप्ताह में एक से दो बार करें। इससे न केवल आपके बाल स्वस्थ होंगे। बल्कि, बालों में रूसी और स्कैल्प इंफेक्शन से भी बचने में मदद मिलेगी। बादाम, जैतून या नारियल के तेल को चुनना सही रहेगा।
  • बेजान और टूटते बालों की देखभाल के लिए प्रोटीन ट्रीटमेंट जरूर लें।
  • प्रदूषण की वजह से स्कैल्प में संक्रमण, डैंड्रफ, खुजली और हेयर फॉल की समस्या जन्म ले सकती है। बालों की जड़ों को मजबूत बनाने के लिए जितना हो सके हो बालों को प्रदूषण से बचाना चाहिए।
  • बालों के विकास के लिए निश्चित समयांतराल पर ट्रिमिंग करवाना भी जरूरी है। इससे दोमुंहे बालों की समस्या कम होती है।
  • तरह-तरह की हेयर स्टाइल बनाने के लिए लोग हीटिंग टूल्स से लेकर कई तरह के केमिकल युक्त प्रोडक्ट्स भी इस्तेमाल करते हैं। इन सबके उपयोग से बालों की कुदरती चमक खो जाती है। इसलिए, कम से कम हीटिंग और स्टाइलिंग प्रोडक्ट्स का प्रयोग करें।
  • हेयर वॉश के लिए कभी भी गर्म पानी का इस्तेमाल न करें। गर्म पानी से बालों की नमी खोने लगती है और रूखे और बेजान होने लगते है। इसलिए, गर्म पानी की जगह हल्का गुनगुना पानी या फिर ठंडा पानी ही इस्तेमाल करें।
  • बालों की सफाई के लिए कुछ बालों को रोजाना धुलते हैं, लेकिन ऐसा न करें। प्रतिदिन बाल धोने से इनकी नमी खो जाती है और स्कैल्प से नेचुरल ऑयल खत्म हो जाता है। इससे बाल कमजोर होकर टूटने लगते हैं।
  • अक्सर लोग बालों को धुलने के बाद उन्हें तौलिये से रगड़कर सुखाते हैं। ऐसा न करें। इसके अलावा, बालों को सुखाने के लिए हेयर ड्रायर का इस्तेमाल न करें। इससे बालों की जड़ें कमजोर होने लगती हैं।
  • घर से निकलते समय, बालों को कैप या फिर स्टोल से ढककर ही बाहर निकलें ताकि सूरज की हानिकारक किरणों से बालों को नुकसान न हो।
  • बालों के बेहतर स्वास्थ्य के लिए संतुलित आहार पर भी ध्यान दें।

बालों के प्रकार को जानना जितना जरूरी है उसी प्रकार सही शैंपू का चुनाव करना भी है। अपने बालों की जरूरत को समझते हुए ही शैंपू का चुनाव करें। यह बात याद रखें कि एक शैंपू जो आपकी दोस्त के लिए अच्छा है वह आपके लिए भी अच्छा हो सकता है। चूंकि हो सकता है कि आपके बालों का प्रकार आपके दोस्त से अलग हो। उम्मीद है आपको यह लेख पसंद आया होगा आपको यह लेख कैसा लगा हमें कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं साथ ही अगर आपका इस विषय से संबंधित कोई भी सवाल या सुझाव है तो वो भी हमारे साथ शेयर करें

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

What Shampoo Type Do You Need? Accessed on 24/10/2019

Tips for Choosing The Right Shampoo to Control Your Hair Fall? Accessed on 24/10/2019

10 Secrets of Healthy, Shiny Hair Accessed on 24/10/2019

TIPS FOR HEALTHY HAIR Accessed on 24/10/2019

 

लेखक की तस्वीर badge
Hema Dhoulakhandi द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 13/06/2020 को
डॉ. हेमाक्षी जत्तानी के द्वारा मेडिकली रिव्यूड