home

आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

लिपस्टिक का रंग कहीं सेहत को न कर दे बेरंग!

लिपस्टिक का रंग कहीं सेहत को न कर दे बेरंग!

आज के दौर में जाने-अनजाने हर कोई मेकअप प्रोड्क्टस का इस्तेमाल कर रहा है। मेकअप का इस्तेमाल चेहरे पर, आंखो पर, होंठो पर या शरीर के किसी भी हिस्से पर किया जाता है। मेकअप प्रोड्क्टस में बहुत सारे केमिकल होते हैं। लेकिन, एक चीज जो आपके स्वास्थ्य और शरीर पर भारी पड़ सकती है, वह है लिपस्टिक में मौजूद लैड(Lead)।

हम मेकअप करना पसंद करते हैं और लगभग हर किसी को ही अच्छा दिखना पसंद होता है। लेकिन क्या आपने कभी अपने मेकअप में मौजूद इंग्रीडियेंट्स के बारे में सोचा है? हमारे मेकअप किट में पहले से बहुत सारे प्रोडक्ट होते हैं और जब भी हम शॉपिंग के लिए बाहर निकलते हैं, तो और भी नए प्रोडक्ट खरीदते हैं, लेकिन हम वास्तव में इसके बारे में ज्यादा नहीं सोचते हैं। ट्रेंडी होने के लिए हम अलग-अलग ब्रांड्स(brands) की जानकारी रखते हैं। लेकिन, हमें मेकअप प्रोडक्ट्स में मौजूद इंग्रीडियेंट्स(Ingredients) के बारे में कोई जानकारी नहीं होती।

कैसे खतरनाक है लिपस्टिक (Lipstick)

हम लिपस्टिक के रंगों और इमके ब्रांड्स को पसंद करते हैं और हमारे लिए यही मायने रखता है। एक चीज जो वास्तव में मायने रखने वाली है, जिसे हम सब नजरअंदाज कर देते हैं और अक्सर हम अपने मेकअप और सौंदर्य उत्पादों के इंग्रीडियेंट्स पर ध्यान नहीं देते। इनमें से कुछ उत्पादों में लैड(Lead) होता, जिसे सीसा के रूप में जाना जाता है। लिपस्टिक के अलावा सुंदर दिखने के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले काजल और आईलाइनर में भी लैड हो सकता हैं। हमारे मेकअप में और भी केमिकल होते हैं, जिनमें से लैड सबसे खतरनाक साबित हो सकता है।

हमारे मेकअप प्रोडक्ट्स में लैड की मात्रा भी कम नहीं होती। इनमें पर्याप्त लैड होता है, जिसे अनदेखा नहीं किया जा सकता है। अब सवाल यह है कि लैड में ऐसा क्या है, जो इसे इतना हानिकारक बनाता है?

इन केमिकल्स (Chemicals) की मिलावट से है खतरा

लैड और पेट्रोकेमिकल्स(Petrochemicals) लिपस्टिक बनाने के लिए उपयेग की जाने वाली सामग्रियों में से एक हैं। यह सेहत के लिए भी हानिकारक होते हैं। ये ऐसे कैमिकल्स हैं, जो कच्चे तेल(Raw Oil) और नेचुरल गैस(Natural Gas) से बनाए जाते हैं। इनके आपके शरीर में जाने से एंडोक्राइन डिसरप्शन (Endocrine Disruptions) हो सकता है। फॉर्मलडिहाइड(Formaldehyde) और मिनरल ऑयल फॉर्मलडिहाइड(Mineral Oil Foraldehyde) एक प्रिजर्वेटिव(Preservative) है, जिसे ह्यूमन कार्सिनोजन(Human Carcinogen) के रूप में भी जाना जाता है। फॉमर्लडिहाइड(Formaldehyde) की वजह से घरघराहट, खांसी, आंखों में जलन और त्वचा में जलन की समस्या भी पैदा हो सकती है। जबकि मिनरल ऑयल एक ऐसा इंग्रीडिएंट है, जो छिद्रों को बंद करने के लिए लिपस्टिक में इस्तेमाल किया जाता है।

पैराबिन्स(Parabin) और बिस्मथऑक्सी क्लोरॉइड(bismathoxy chloride) ये दो अन्य तत्व हैं, जो लिपस्टिक बनाने में उपयोग किए जाते हैं। लिपस्टिक का हानिकारक प्रभाव इन दो अवयवों की कार्सिनोजिक(Carcinogen) प्रॉपर्टी के कारण है। पैराबिन एक प्रिजर्वेटिव है, जो फॉर्मलडिहाइड की तरह काम करता है। हालांकि, इसका उपयोग लिपस्टिक को प्रिजर्व करने में किया जाता है। फिर भी शरीर के लिए ये बहुत हानिकारक है। इसलिए लिपस्टिक खरीदते समय कभी भी उसकी गुणवत्ता से समझौता ना करें।

और पढ़ें- क्यों जरूरी है सोने से पहले मेकअप उतारना?

त्वचा को कैसे नुकसान पहुंचाती है लिपस्टिक

हमारी त्वचा हमारे कुछ मेकअप को सोख लेती है जिसमें लैड होता है। यह समय के साथ विषेला हो सकता है। हम सब काफी समय से मेकअप प्रोडक्ट का उपयोग कर रहे हैं, लेकिन इस तथ्य से अनजान हैं कि इसमें हानिकारक केमिकल है। यह इंग्रीडियेंट सालों से आपके शरीर के अंदर जमा हो रहे हैं और आप नहीं जानते कि कब इसकी मात्रा अधिक हो जाए है और आपका शरीर लैड से जहरीला हो जाए। लैड आपके शरीर के लिए कितनी मात्रा में सुरक्षित है, इसके बारे में ज्यादा जानकारी नहीं है। लेकिन, आपके मेकअप प्रोड्क्ट्स द्वारा आपके शरीर में जाने वाला कम मात्रा में भी लैड आपके शरीर को प्रभावित करता है।

लिपस्टिक से होने वाले नुकसान

लैड केवल आपके शरीर में जहर बढ़ाने का काम नहीं करता बल्कि इसके और भी साइड इफेक्ट है। इसे व्यवहार संबंधी समस्याओं और सीखने की अक्षमता जैसे अन्य स्वास्थ्य जोखिमों से जोड़ा गया है। यह आपके हार्मोन और फर्टिलिटी के साथ भी खिलवाड़ कर सकता है। लैड आपको बांझ (Infertile) कर सकता है और प्यूबर्टि (Puberty) को भी प्रभावित कर सकता है। यह आपके शरीर में बहने वाले खून के संपर्क में आता है और इससे हाई ब्लड प्रेशर और दिल से जुड़ी अन्य समस्याएं हो सकती हैं। यह आपके दिमाग को नुकसान पहुंचा सकता है और आपके नर्वस सिस्टम और किडनी को भी प्रभावित कर सकता है। आपका मेकअप आपके लिए एक बड़ा स्वास्थ्य जोखिम हो सकता है।

बाजार में अलग-अलग कंपनी का लैड इंस्पेक्टर, लैड किट आती हैं, जिससे आप किसी भी सैंपल में लैड की मात्रा का पता लगा सकते है। इस किट से आप घर में ही बिना किसी लागत के लैड का टेस्ट कर सकते हैं।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर badge
Lucky Singh द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 12/03/2021 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड