छाती में गैस पेन : जो आपको दिखा सकता है दिन में तारे! सही इलाज से इस तकलीफ में मिल सकती है मदद

    छाती में गैस पेन : जो आपको दिखा सकता है दिन में तारे! सही इलाज से इस तकलीफ में मिल सकती है मदद

    हर व्यक्ति को कभी ना कभी पेट में होने वाली गैस की समस्या से गुजरना पड़ता है। यह एक बहुत आम सी परेशानी है, जो कि भले ही सामान्य मानी जाती है, लेकिन व्यक्ति को परेशान करने में कोई कसर नहीं छोड़ती। इसकी वजह से होने वाली अन्य समस्याएं भी आपको लंबे समय तक परेशान कर सकती है, खास तौर पर जब यह समस्या पेट से निकलकर छाती तक पहुंच जाए, तो व्यक्ति का हाल और भी बुरा हो सकता है। ऐसी स्थिति में छाती में गैस पेन (Gas Pain in Chest) की समस्या हो सकती है। छाती में गैस पेन (Gas pain) वैसे सुनने में अजीब सा लगता है, लेकिन इसके कारण कई बार बेहद आम हो सकते हैं। आइए जानते हैं छाती में गैस पेन की वजह क्या है और इसका इलाज किस तरह किया जा सकता है।

    और पढ़ें: Gas pains: गैस का दर्द क्या है?

    क्या है छाती में गैस पेन की समस्या? (Gas Pain in Chest)

    जैसा कि आप सब जानते हैं गैस के समस्या हमेशा पेट में ही होती है, लेकिन यह गैस (Gas) कभी कभी आपकी चेस्ट तक पहुंच कर आपको परेशान कर सकती है। गैस की समस्या से व्यक्ति असहज महसूस करता है, क्योंकि छाती में गैस की समस्या आम गैस की समस्या की तरह नहीं होती। इसलिए इस पर ध्यान देना बेहद जरूरी है। आइए सबसे पहले जानते हैं छाती में गैस की समस्या के लक्षण क्या हो सकते हैं।

    छाती में गैस पेन : लक्षण पहचानना है जरूरी (Symptoms of Gas Pain in Chest)

    छाती में गैस पेन की वजह से आपको कई बार रुक-रुक कर दर्द या छाती में कड़े पन की तकलीफ हो सकती है। इसके अलावा छाती में गैस पेन (Gas Pain in Chest) के यह लक्षण भी हो सकते हैं –

    • बार बार डकार आना
    • खट्टी डकार आना
    • गैस की समस्या होना
    • भूख में कमी
    • पेट में सूजन
    • शरीर के विभिन्न हिस्सों में दर्द

    और पढ़ें: इन 5 वजहों से शिशु के पेट में बन सकती गैस, ऐसे करें दूर

    छाती में गैस पेन के अलावा आपको एसिड रिफ्लक्स (Acid reflux) की समस्या का सामना भी करना पड़ सकता है। यहां तक की यदि यह समस्या बढ़ गई, तो इसकी वजह से हार्ट अटैक की समस्या भी हो सकती है। यदि आपको यह लक्षण दिखाई देते हैं, तो आपको तुरंत इमरजेंसी मेडिकल अटेंशन की जरूरत पड़ सकती है। चेस्ट में गैस पेन के ये लक्षण हार्टअटैक (Heart attack) से जुड़े हुए हैं –

    • सांस लेने में कठिनाई
    • सीने में दबाव या तेज दर्द
    • हाथ, पीठ, गर्दन, पेट में असहज लगना
    • पसीना आकर ठंड लगना
    • जी मिचलाना
    • चक्कर आना

    यदि आपको छाती में गैस पेन (Gas Pain in Chest) के साथ यह लक्षण दिखाई देते हैं, तो आपको तुरंत डॉक्टर की मदद लेनी चाहिए। ऐसी स्थिति में आपको तुरंत हॉस्पिटल में दाखिल होने और मेडिकल हेल्प लेने की जरूरत पड़ सकती है। अब जो सवाल आपके मन में आ सकता है, वो है- छाती में गैस पेन के क्या कारण हो सकते हैं? आइए जानते हैं इन कारणों के बारे में।

    चेस्ट में गैस पेन : ये हो सकती हैं वजहें (Causes of Gas Pain in Chest)

    छाती में गैस पेन अक्सर छाती के निचले हिस्से में महसूस होता है, जो कुछ खास तरह के खाद्य पदार्थों और चीजों को खाने की वजह से हो सकता है। कार्बोनेट युक्त पेय (Carbonate drinks) और शुगर से भरपूर एल्कोहॉल की वजह से व्यक्ति में गैस की समस्या बढ़ सकती है। इसके अलावा यदि आपको किसी खास खाद्य पदार्थों की वजह से एलर्जी होती है, तो आपको गैस पेन की समस्या हो सकती हैं। इसलिए छाती में गैस पेन की इन वजहों के बारे में जानना बेहद जरूरी है।

    और पढ़ें: पेट में दर्द का आयुर्वेदिक इलाज क्या है?

    छाती में गैस पेन – फूड सेंसिटिविटी भी हो सकता है एक कारण (Gas Pain in Chest and Food sensitivity)

    कुछ प्रकार के खाद्य पदार्थ आपके शरीर में गैस की समस्या पैदा कर सकते हैं और यही गैस आगे बढ़कर आपके चेस्ट एरिया तक पहुंच सकती है। यदि आप लेक्टोज इनटोलरेंट (Lactose intolerant) है और आप डेयरी प्रोडक्ट का सेवन करते हैं, तो ऐसी स्थिति में आपको गैस की समस्या हो सकती है, जो समय के साथ बढ़कर छाती में गैस की समस्या में परिवर्तित हो सकती हैं।

    इसके अलावा सिलिएक डिजीज (Celiac disease) और ग्लूटेन एलर्जी (Gluten allergy) की वजह से भी आपको गैस की समस्या का सामना करना पड़ सकता है। ऐसी स्थिति में आपको छाती में गैस पेन की समस्या हो सकती है।

    छाती में गैस पेन – फूड पॉइजनिंग से बच कर रहना है जरूरी (Food poisoning)

    फूड पॉइजनिंग भी गैस की वजह बन सकता है। दूषित खाना खाने से आपके शरीर में बैक्टीरियल और वायरल इंफेक्शन हो सकते हैं, जिसकी वजह से आपको गैस की दिक्कत का सामना करना पड़ सकता है। छाती में गैस पेन (Gas Pain in Chest) के अलावा आपको ये लक्षण भी दिखाई दे सकते हैं –

    • जी मिचलाना
    • उल्टी
    • बुखार
    • पेट में दर्द
    • खूनी दस्त

    ऐसी स्थिति में आपको जल्द से जल्द डॉक्टर की सलाह और मेडिकल जांच की जरूरत पड़ती है।

    और पढ़ें: फूड प्वाइजनिंग के लक्षण, कारण और बचाव

    छाती में गैस पेन – इंफ्लेमेटरी कंडिशन का रखें ध्यान (Inflammatory condition)

    इंफ्लेमेटरी कंडिशन जैसे कि आईबीएस यानी इरिटेबल बॉवेल सिंड्रोम के चलते आपकी आंतों में इन्फ्लेमेशन की समस्या हो सकती है। जिसका सीधा असर आपके पाचन तंत्र पर पड़ता है। ऐसी स्थिति में आपको छाती में गैस पेन हो सकता है। इन्फ्लेमेटरी कंडीशन के अन्य लक्षण हैं –

    • पेट में दर्द
    • दस्त
    • मलाशय से रक्त स्त्राव
    • कब्ज
    • वजन घटना
    • थकान
    • रात में पसीना आना

    यदि आप ऐसे लक्षण महसूस करते हैं, तो आपको तुरंत डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए।

    छाती में गैस पेन – इरिटेबल बॉवेल सिंड्रोम हो सकती है एक वजह (IBS and Gas Pain in Chest)

    इरिटेबल बॉवेल सिंड्रोम एक आम समस्या है, जिसे नॉन इन्फ्लेमेटरी कंडिशन (Non Inflammatory condition) भी माना जाता है। यह गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल सिम्टम्स शरीर में पैदा करता है, जो तनाव की वजह से होता है। जो खाने के बाद आपके पाचन तंत्र पर हमला करता है। आईबीएस गैस पेन का कारण बन सकता है और जब गैस की यही स्थिति बिगड़ जाती है, तो यह छाती में गैस पेन का कारण बनती है। इसके अन्य लक्षणों में शामिल है –

    • पेट दर्द
    • कॉन्स्टिपेशन (Constipation)
    • डायरिया
    • मरोड़

    इन सभी समस्याओं के चलते छाती में गैस पेन (Gas Pain in Chest) की तकलीफ हो सकती है।यदि इस तकलीफ का सही समय पर इलाज न कराया जाए, तो व्यक्ति को गंभीर स्थितियों का सामना करना पड़ सकता है। आइए अब जानते हैं कि किस प्रकार इन समस्याओं का निदान किया जा सकता है।

    और पढ़ें: ग्‍लूटेन फ्री डाइट (Gluten Free Diet) क्‍या है? जानिए इसके फायदे और नुकसान

    चेस्ट में गैस पेन का सही निदान है जरूरी (Diagnosis of Gas Pain in Chest)

    छाती में गैस पेन (Gas Pain in Chest)

    छाती में गैस पेन को पहचानना मुश्किल माना जाता है, इसलिए सिर्फ शारीरिक रूप से चेक करके इसका पता नहीं लगाया जा सकता। इसके लिए आपको कुछ टेस्ट करवाने पड़ सकते हैं। कई मामलों में आपको ईकेजी (EKG) की जरूरत भी पड़ती है, जिससे यह पता लगाया जा सके की आपके ह्रदय में असहजता है या नहीं। इसके अलावा छाती में गैस पेन के लिए इन टेस्ट्स की जरूरत पड़ सकती है –

    • ब्लड टेस्ट (Blood test)
    • एंडोस्कोपी (Endoscopy)
    • स्टूल टेस्ट (Stool test)
    • लेक्टोज इनटोलरेंस टेस्ट (Lactose intolerance test)
    • एब्डॉमिनल अल्ट्रासाऊंड (Abdominal ultrasound)

    इन सभी टेस्ट के जरिए छाती में गैस पेन (Gas Pain in Chest) की समस्या का पता लगाया जा सकता है। लेकिन चेस्ट में गैस पेन की तकलीफ में आप कुछ होम रेमेडीज का इस्तेमाल भी कर सकते हैं। आइए जानते हैं इसके बारे में।

    छाती में गैस पेन का घरेलू इलाज है भी संभव! (Home remedies Gas Pain in Chest)

    चेस्ट में गैस पेन की तकलीफ में आपको कुछ बातों का ध्यान रखने की जरूरत पड़ सकती है, जिसमें आपको ज्यादा से ज्यादा पेय पदार्थ पीने चाहिए। खास तौर पर ऐसे पेय पदार्थ, जो नॉन कार्बोनेटेड हो। इससे आप का पाचन तंत्र बेहतर काम करेगा और कॉन्स्टिपेशन (Constipation) की समस्या नहीं होगी। इसके अलावा आप जिंजर और पिपरमिंट टी (Peppermint tea) भी ले सकते हैं।

    छाती में गैस पेन की स्थिति से उबरने के लिए आपको अदरक की चाय (Ginger tea) पीनी चाहिए। अदरक हर तरीके से पाचन तंत्र से संबंधित समस्या में उपयोगी साबित हो सकता है। ये आपके पाचन तंत्र को ठीक कर के उल्टी और मितली (Vomiting and nausea) जैसी समस्याओं को दूर करता है। इसके लिए आप ताजा अदरक, अदरक पाउडर या अदरक की चाय का इस्तेमाल भी कर सकते हैं।

    इसके अलावा आपको आपके पाचन तंत्र को मजबूत करने के लिए रोजाना एक्सरसाइज (Exercise) करने की जरूरत पड़ती है। धीरे-धीरे ही सही, रोजाना एक्सरसाइज करके आप पाचन तंत्र को बेहतर बना सकते हैं। जिससे गैस की समस्या में आराम मिलता है। आइए अब बात करते हैं कि छाती में गैस पेन (Gas Pain in Chest) की समस्या से कैसे बचा जा सकता है।

    और पढ़ें: अपच की समस्या हो तो अपनाएं ये 6 घरेलू टिप्स

    कैसे बचें छाती में गैस पेन की समस्या से (Gas Pain in Chest Prevention)

    छाती में गैस पेन की समस्या से बचने के लिए आपको कुछ बातों का ध्यान रखने की जरूरत है। इसमें से सबसे पहला नंबर आता है आपके खानपान का। ऐसे खाद्य पदार्थ, जो आपके शरीर में गैस बनाते हैं, उन से आपको दूरी बनाने की जरूरत पड़ती है। इन खाद्य पदार्थों में हाय फाइबर फूड, कैफीन युक्त फूड, कार्बोनेटेड पेय (High fiber food, caffeine rich food, carbonated drinks) आदि का सेवन नहीं करना चाहिए।

    इसके अलावा आपको अपने फूड हाइजीन का भी ध्यान रखना चाहिए। गंदी जगहों से खाना खाना आपके लिए फूड पॉइजनिंग की वजह बन सकता है, जिसकी वजह से आपको सीवियर गैस पेन (Gas Pain) की समस्या हो सकती है।

    और पढ़ें: Indigestion: बदहजमी या अपच क्या है? जानें लक्षण, कारण और उपाय

    कॉन्स्टिपेशन से जुड़े इस क्विज़ को खेल कर तो देखें!

    छाती में गैस पेन की समस्या को जल्द से जल्द ठीक किया जा सकता है, बस आपको जरूरत है नैचुरल रेमेडीज (Natural remedies) अपनाने की और अपना पूरी तरह से ध्यान रखने की। ध्यान रखें कि इमरजेंसी की स्थिति में आपको घबराना नहीं चाहिए, यदि आपको छाती में गैस पेन (Gas Pain in Chest) बढ़ता हुआ दिखाई दे, तो जल्द से जल्द डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए। ऐसी स्थिति में आप हार्ट अटैक की स्थिति से बच सकते हैं।

    यदि आपको बार-बार छाती में गैस पेन की समस्या हो रही है, तो आपको जल्द से जल्द डॉक्टर को दिखा कर जरूरी टेस्ट करवाने चाहिए। टेस्ट के रिजल्ट के अनुसार आप का इलाज डॉक्टर प्रिसक्राइब करेंगे, जिसके अनुसार सही मेडिकेशन और खानपान का ध्यान रखकर आप छाती में गैस पेन (Gas Pain in Chest) की समस्या से छुटकारा पा सकते हैं।

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    लेखक की तस्वीर badge
    Toshini Rathod द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 21/02/2022 को
    डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड