आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

नारियल पानी और डायरिया के इस कनेक्शन के बारे में शायद नहीं जानते होंगे आप

    नारियल पानी और डायरिया के इस कनेक्शन के बारे में शायद नहीं जानते होंगे आप

    नारियल पानी एक पॉपुलर ड्रिंक है। यह मिनरल्स का नैचुरल सोर्स हे जो रिहायड्रेट करने में मदद करता है। स्किन के लिए भी यह बेहद फायदेमंद माना जाता है। वहीं डायरिया के कारण होने वाले डीहायड्रेशन को दूर करने में भी नारियल पानी बेहद मददगार माना जाता है, लेकिन कुछ मामलों में नारियल पानी डायरिया का कारण बन सकता है। इस आर्टिकल में नारियल पानी और डायरिया (Coconut water and diarrhea) के इस लिंक के बारे में जानकारी दी जा रही है। सबसे पहले नारियल पानी में मौजूद पोषक तत्वों के बारे में जान लेते हैं।

    नारियल पानी (Coconut water)

    नारियल के अंदर रहने वाले रस को ही नारियल पानी कहा जाता है। यह कोकोनट मिल्क से अलग होता है। यह पानी की तरह ही होता है, लेकिन इसमें पाए जाने वाले मिनरल्स इसको खास बनाते हैं। इसकी एक अच्छी बात ये भी है कि इसमें कैलोरी की मात्रा कम होती है। इसलिए यह वजन कम करने की चाह रखने वाले लोगों के लिए भी बेहतर विकल्प है। इसमें प्रोटीन, फायबर, कैल्शियम, पोटेशियम अधिक मात्रा में पाए जाते हैं। वहीं फैट और कार्ब्स कम मात्रा में।

    नारियल पानी बहुत हाइड्रेटिंग माना जाता है और इसे स्पोर्ट्स ड्रिंक का प्राकृतिक विकल्प माना जाता है। इसका पोटेशियम, सोडियम, मैग्नीशियम और कैल्शियम शरीर में उचित द्रव संतुलन बनाए रखने में मदद करने के लिए इलेक्ट्रोलाइट्स के रूप में कार्य करते हैं। इसलिए नारियल पानी को इतना पसंद किया जाता है।

    चलिए अब नारियल पानी और डायरिया (Coconut water and diarrhea) के बीच क्या कनेक्शन है जान लेते हैं।

    और पढ़ें: बड़ी-बड़ी बीमारियों को करे छूमंतर, जानिए नारियल पानी के फायदे

    नारियल पानी और डायरिया (Coconut water and diarrhea)

    बता दें कि एक दिन में तीन बार या इससे अधिक लूज और वॉटरी स्टूल पास होने को डायरिया कहा जाता है। यह स्टमक फ्लू, गैस्ट्रोइंटेस्टिनल डिजीज, फूड पॉइजनिंग, दवाओं का उपयोग या अन्य किसी कारण के हो सकता है। डायरिया होने पर बॉडी के इलेक्ट्रोलाइट्स और फ्लूइड का लॉस होता है जिसकी वजह से डीहायड्रेशन होता है। इस स्थिति में ऐसे ड्रिंक को पीने की सलाह दी जाती है जो इलेक्ट्रोलाइट्स से युक्त हो।

    ऐसे में नारियल पानी एक अच्छा ऑप्शन साबित हो सकता है। यह माइल्ड डायरिया के कारण होने वाले इलेक्ट्रोलाइट्स और फ्लूइड लॉस को रिफिल करने का काम करता है। यानी नारियल पानी और डायरिया (Coconut water and diarrhea) का कनेक्शन है। डायरिया होने पर यह ड्रिंक का एक अच्छा ऑप्शन साबित हो सकता है। यह आसानी से उपलब्ध होने वाला विकल्प है।

    नारियल पानी और डायरिया (Coconut water and diarrhea) का यह कनेक्शन भी जान लें

    नारियल पानी और डायरिया यह कनेक्शन तो आपने समझ लिया कि यह डायरिया होने पर बॉडी को हायड्रेट करने में मदद करता है, लेकिन ये भी जान लीजिए कि यह डायरिया का कारण भी बन सकता है। जो कि इसके लैक्सेटिव गुणों के कारण होता है। बहुत अधिक नारियल पानी पीने से पोटेशियम की अधिक खपत हो सकती है, जिससे कुछ लोगों को डायरिया हो सकता है।

    एनसीबीआई की एक रिपोर्ट में हाइपरकेलेमिया, या पोटेशियम के उच्च रक्त स्तर का दस्तावेजीकरण किया गया था, जो एक मरीज में एक दिन में नारियल पानी की कई सर्विंग्स पीता था। एनसीबीआई की ही दूसरी स्टडी में बताया गया है कि नारियल पानी में कार्बोहायड्रेट की शॉर्ट चेन होती है इंटेस्टाइन में पानी को खींच लेती है। इसकी वजह से कुछ लोगों में डायरिया जैसी डायजेस्टिव तकलीफें हो सकती हैं

    और पढ़ें: Diarrhea After Drinking Alcohol: एल्कोहॉल के सेवन के बाद डायरिया की समस्या क्यों हो सकती है?

    नारियल पानी और डायरिया (Coconut water and diarrhea) के लिंक का एक कारण यह भी

    नारियल पानी और डायरिया (Coconut water and diarrhea)

    व्यावसायिक रूप से तैयार नारियल पानी में उच्च मात्रा में अतिरिक्त शर्करा या कृत्रिम मिठास हो सकती है, जिससे पाचन संबंधी परेशानियां हो सकती हैं। इसलिए बहुत अधिक मीठा या सुगंधित नारियल पानी पीने से दस्त हो सकते हैं। नारियल पानी से होने वाले दस्त के जोखिम को कम करने के लिए, बिना चीनी वाली किस्मों का चयन करें और एक बार में कई सर्विंग्स का सेवन करने से बचें।

    इस प्रकार नारियल पानी और डायरिया (Coconut water and diarrhea) का कनेक्शन आसानी से समझा जा सकता है। एक तरफ जहां नारियल पानी डायरिया के कारण होने वाले डीहायड्रेशन को ठीक करने में मदद करता है तो वहीं दूसरी ओर यह डायरिया का कारण भी बन सकता है। इसलिए इसका उपयोग सोच समझकर करें। नारियल पानी और डायरिया के कनेक्शन को जानने के बाद चलिए अब यह भी जान लीजिए कि डायरिया होने पर नारियल पानी के अलावा खाने पीने में किन चीजों का ध्यान रखना चाहिए।

    और पढ़ें: Diarrhea After Eating: खाने के बाद क्या हो सकती है डायरिया की समस्या, नहीं जानते हैं तो पढ़ें यहां!

    डायरिया होने पर इस प्रकार का फूड पहुंचा सकता है नुकसान (This type of food can harm in case of diarrhea)

    डायरिया होने पर तले हुए खाद्य पदार्थों के सेवन से बचना चाहिए। क्योंकि फ्रायड फूड में फैट अधिक होता है और डायरिया की वजह से सेंसटिव हुए डायजेस्टिव सिस्टम के लिए अधिक फैट और तेल वाले फूड्स को प्रोसेस करना मुश्किल होता है। इसके अलावा मसालेदार भोजन डायजेस्टिव सिस्टम को इर्रिटेट करने का काम करता है। इसके साथ ही आर्टिफिशियल स्वीटनर्स और शुगरी प्रोडक्ट्स भी डायरिया होने पर अवॉइड किए जाने चाहिए। साथ ही हाय फायबर फूड्स के सेवन से भी बचना चाहिए क्योंकि फायबर को पचने में कम समय लगता है।

    डायरिया होने पर इन चीजों को खाएं (Eat these things when you have diarrhea)

    डायरिया का सामना कर रहे लोगों को ब्लैंड फूड्स खाना चाहिए क्योंकि मसालेदार और कॉम्प्लैक्स फूड्स बॉवेल को इर्रिटेट कर सकते हैं। जिसमें निम्न शामिल होते हैं।

    • उबला हुआ आलू
    • ओट्स
    • दलिया
    • केला
    • सादा सफेद चावल
    • ब्रेड या टोस्ट

    दस्त के पहले दिन ये खाद्य पदार्थ विशेष रूप से सहायक हो सकते हैं। कुछ लार्ज मील्स खाने के बजाय पूरे दिन में कई छोटे मील लेने से पाचन तंत्र को अधिक काम करने से बचाया जा सकता है। अगर डायरिया बिगड़ी हुई स्थिति में है तो डॉक्टर की सलाह के बिना किसी प्रकार के फूड का सेवन ना करें। दवाओं का उपयोग भी डॉक्टर की सलाह लेने के बाद ही करें।

    प्रोबायोटिक्स (Probiotics)

    प्रोबायोटिक्स फूड्स जैसे कि दही इस मामले में मदद कर सकते हैं। ये डायजेशन में मदद करने के साथ ही पेट में अच्छे और बुरे बैक्टीरिया के बीच बैलेंस बनाने में मदद करते हैं। हालांकि डेयरी प्रोडक्ट्स डायजेस्टिव सिस्टम को इर्रिटेट कर सकते हैं क्योंकि इनका डायजेशन थोड़ा मुश्किल हो सकता है। इसलिए प्रोबायोटिक्स के नॉन डेयरी सोर्सेज को ट्राय किया जा सकता है जैसे कि फल, सब्जियां और फर्मेंटेड सॉय मिल्क। प्रोबायोटिक सप्लिमेंट्स के रूप में भी उपलब्ध हैं। प्रोबायोटिक्स का सेवन करने से पहले डॉक्टर से सलाह जरूर लेना चाहिए।

    और पढ़ें: बच्चों में FPIES: बच्चों में बार-बार उल्टी और डायरिया होना, कहीं कोई सिंड्रोम तो नहीं!

    उम्मीद करते हैं कि आपको नारियल पानी और डायरिया (Coconut water and diarrhea) से संबंधित जरूरी जानकारियां मिल गई होंगी। अधिक जानकारी के लिए एक्सपर्ट से सलाह जरूर लें। अगर आपके मन में अन्य कोई सवाल हैं तो आप हमारे फेसबुक पेज पर पूछ सकते हैं। हम आपके सभी सवालों के जवाब आपको कमेंट बॉक्स में देने की पूरी कोशिश करेंगे। अपने करीबियों को इस जानकारी से अवगत कराने के लिए आप ये आर्टिकल जरूर शेयर करें।

    health-tool-icon

    बीएमआर कैलक्युलेटर

    अपनी ऊंचाई, वजन, आयु और गतिविधि स्तर के आधार पर अपनी दैनिक कैलोरी आवश्यकताओं को निर्धारित करने के लिए हमारे कैलोरी-सेवन कैलक्युलेटर का उपयोग करें।

    पुरुष

    महिला

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    सूत्र

    Diarrhea/niddk.nih.gov/health-information/digestive-diseases/diarrhea/Accessed on 10/05/2022

    Diarrhea management and treatment/my.clevelandclinic.org/health/diseases/4108-diarrhea/management-and-treatment/ Accessed on 10/05/2022

    Coconut water-induced hyperkalemia/https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/23124410/ Accessed on 10/05/2022

    Diarrhea/mayoclinic.org/diseases-conditions/diarrhea/symptoms-causes/syc-20352241/Accessed on 10/05/2022

    Diarrhea/https://medlineplus.gov/diarrhea.html/Accessed on 10/05/2022

    Comparison of coconut water and a carbohydrate-electrolyte sport drink on measures of hydration and physical performance in exercise-trained men
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3293068/Accessed on 10/05/2022

    लेखक की तस्वीर badge
    Manjari Khare द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 11/05/2022 को
    डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
    Next article: