Gallbladder Sludge: गॉलब्लैडर स्लज किसे कहते हैं, क्या होते हैं इसके लक्षण?

    Gallbladder Sludge: गॉलब्लैडर स्लज किसे कहते हैं, क्या होते हैं इसके लक्षण?

    गॉलब्लैडर शरीर का महत्पूर्ण ऑर्गन होता है, जो आंत और लिवर के बीच में स्थित होता है। गॉलब्लैडर यानी पित्ताशय की थैली में बाइल (Bile) स्टोर होता है। गॉलब्लैडर में बाइल लिवर से आता है। गॉलब्लैडर में बाइल तब तक इकट्ठा रहता है, जब तक कि ये आंत में न पहुंचे। अगर ठीक समय पर किन्हीं कारणों से गॉलब्लैडर खाली नहीं हो पाता है, तो बाइल में उपस्थित पार्टिकल जैसे कि कोलेस्ट्रॉल (cholesterol) या कैल्शियम सॉल्ट इकट्ठा होते रहते हैं। लंबे समय तक गॉलब्लैडर में इकट्ठा होने के कारण ये बाइलरी स्लज (biliary sludge) का निर्माण करते हैं। बाइलरी स्लज को ही गॉलब्लैडर स्लज (Gallbladder Sludge) कहते हैं। आज इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको गॉलब्लैडर स्लज (Gallbladder Sludge) के बारे में जानकारी देंगे और साथ ही बताएंगे कि किस कारण से ये समस्या पैदा होती है।

    और पढ़ें: Gallbladder polyp: क्या गॉलब्लैडर पॉलिप कैंसर को दे सकता है दावत?

    गॉलब्लैडर स्लज के लक्षण (Symptoms of gallbladder sludge)

    गॉलब्लैडर स्लज

    गॉलब्लैडर स्लज (Gallbladder Sludge) की समस्या जिन लोगों को हो जाए, ये जरूरी नहीं है कि उनको इस बीमारी के लक्षण नजर आएं। कुछ लोगों को तो इस बात की जानकारी ही नहीं हो पाती है कि उन्हें बाइलरी स्लज (Biliary sludge) की समस्या है। वहीं कुछ लोगों को गॉलब्लैडर स्टोन (Gallbladder stones) या फिर गॉलब्लैडर में सूजन (Inflamed gallbladder) के कारण कुछ लक्षणों का सामना करना पड़ सकता है। शुरुआती लक्षणों में पेट में दर्द या एब्डॉमिनल पेन (Abdominal pain) शामिल होता है। ये दर्द पेट के ऊपरी दाएं हिस्से में होता है। खाने के बाद दर्द की समस्या बढ़ सकती है। बाइलरी स्लज (biliary sludge) की समस्या होने पर निम्नलिखित लक्षण दिख सकते हैं।

    अगर आपको उपरोक्त लक्षणों में कोई भी लक्षण नजर आए या फिर पेट में दर्द की समस्या हो, तो बिना देर किए डॉक्टर को जरूर दिखाएं। गॉलब्लैजडर स्टोन के कारण अक्सर लोगों को पेट में दर्द की समस्या के साथ ही वॉमिटिंग की समस्या हो जाती है।

    और पढ़ें: गॉलब्लैडर स्टोन्स (Gallbladder stones) डायट क्या है?

    गॉलब्लैडर स्लज के क्या होते हैं कारण (causes gallbladder sludge)?

    गॉलब्लैडर में लंबे समय तक बाइल इकट्ठा होने के कारण गॉलब्लैडर का म्यूकस कोलेस्ट्रॉल (Cholesterol) और कैल्शियम सॉल्ट के साथ मिल कर स्लज बनाने का काम करता है। ऐसा प्रेग्नेंसी के दौरान हो सकता है। अगर आप प्रेग्नेंसी के दौरान कड़ी डायट का पालन कर रही हैं, तो गॉलब्लैडर स्लज बनने की संभावना बहुत बढ़ जाती है। बाइलरी स्लज कॉमन या सामान्य समस्या नहीं होती है। ये सभी व्यक्तियों में नहीं होती है बल्कि कुछ लोगों में इस बीमारी की संभावना बढ़ जाती है। पुरुषों की तुलना में जिन महिलाओं में पित्ताशय की थैली की समस्या अधिक होती है, इनमें स्लज की संभावन बढ़ जाती है। साथ ही जो लोग फूड के अन्य विकल्पों का इस्तेमाल करते हैं, उनमें भी ये बीमारी हो सकती है। डायबिटीज से पीड़ित लोगों, अधिक बीमार लोगों, अधिक वजन वालों में और ऑर्गन ट्रांसप्लांट वाले लोगों में गॉलब्लैडर स्लज की अधिक संभावन रहती है। आप इस बारे में अधिक जानकारी के लिए डॉक्टर से भी संपर्क कर सकते हैं।

    और पढ़ें: GALLBLADDER DISEASES: जानिए गॉलब्लैडर से जुड़ी बीमारियों के बारे में

    बाइलरी स्लज कैसे किया जाता है डायग्नोज (How biliary sludge Diagnosed)

    अगर आपको पेट में दर्द की समस्या हो रही है, तो आपको डॉक्टर से जांच करानी चाहिए। डॉक्टर आपसे बीमारी के लक्षणों के बारे में जानकारी लेंगे और शारीरिक जांच करेंगे। डॉक्टर पेट के विभिन्न हिस्से को दबा कर देखते हैं और दर्द के बारे में जानकारी लेते हैं। अगर पित्त की थैली में दर्द हो रहा है, तो डॉक्टर अल्ट्रासाउंड की सलाह देते हैं। जिन लोगों में पित्त की पथरी होती है, उन्हें अक्सर पेट दर्द का सामना करना पड़ता है। अगर आपको गॉलब्लैडर स्लज की समस्या है, तो डॉक्टर आपको ब्लड टेस्ट कराने की सलाह भी देंगे, ताकि उसका सही कारण पता लगाया जा सके। लिवर फंक्शन के सही कार्य की जानकारी के लिए टेस्ट कराना जरूरी होता है। अधिक जानकारी के लिए डॉक्टर से परामर्श जरूर करें।

    बाइलरी स्लज क्या बन सकता है समस्या का कारण?

    गॉलब्लैडर स्लज को कुछ मामलों में ट्रीटमेंट की जरूरत नहीं होती है क्योंकि ये किसी भी तरह का लक्षण प्रदर्शित नहीं करते हैं। वहीं कुछ मामलों में ये गॉलस्टोन का कारण भी बन सकते हैं। ऐसे मामलों में सर्जरी की जरूरत भी पड़ती है। गॉलस्टोल बाइल डक्ट में समस्या पैदा करते हैं, जिसके कारण इसका इलाज जरूरी हो जाता है।

    गॉलब्लैडर स्लज (Gallbladder sludge) के कारण कोलेसिस्टिटिस (cholecystitis) की समस्या पैदा हो सकती है। इस कारण से गॉलब्लैडर में सूजन और दर्द की समस्या होती है। ऐसे में गॉलब्लैडर को हटाना एकमात्र रास्ता होता है।

    ये समस्या कुछ लोगों में एक्यूट पेनक्रिएटाइटिस (acute pancreatitis) की समस्या भी पैदा कर सकती है। इस कारण से अग्नाशय में सूजन पैदा हो सकती है। इस कारण से आंतों के बजाय अग्नाशय में ही एंजाइम एक्टिव हो जाते हैं, जो मृत्यु का कारण भी बन सकता है। ऐसा पैनक्रिएटिक डक्ट के ब्लॉक होने के कारण होता है।

    और पढ़ें: Inguinal hernia: इंग्वाइनल हर्निया क्या है?

    गॉलब्लैडर स्लज का ट्रीटमेंट (Gallbladder sludge Treatment)

    गॉलब्लैडर स्लज को हमेशा ट्रीटमेंट की जरूरत नहीं पड़ती है। कुछ लोगों में तो ये समय के साथ ही खत्म हो जाता है। वहीं कुछ लोगों में दर्द की समस्या हो सकती है। ऐसे में डॉक्टर जांच के बाद कुछ मेडिसिन लेने की सलाह देते हैं, ताकि स्लग को खत्म किया जा सके या फिर घोला जा सके। अगर स्लग के कारण दर्द, सूजन या फिर गॉलस्टोन की समस्या है, तो ऐसे में डॉक्टर गॉलब्लैडर को निकालने की सलाह देते हैं। आपको इस समस्या से छुटकारे के लिए हेल्दी लाइफस्टाइल अपनानी चाहिए। लो फैट ईटिंग, खाने में कॉलेस्ट्रॉल की कम मात्रा और कम मात्रा में नमक आपको कई समस्याओं से बचाने का काम करते हैं। अधिक जानकारी के लिए डॉक्टर से संपर्क करें।

    गॉलब्लैडर संबंधी समस्याओं का सामना किसी को भी करना पड़ सकता है। गॉलब्लैडर में स्टोन की समस्या कम उम्र में भी हो सकती है। आपको शुरुआत से ही अपनी आदतों में बदलाव करना चाहिए और अच्छी आदतें अपनानी चाहिए। हेल्दी हैबिट्स आपको फिट रखने में मदद करेंगी और बीमारियों के खतरे को भी कम करेंगी।

    हैलो हेल्थ किसी भी प्रकार की चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार उपलब्ध नहीं कराता। इस आर्टिकल में हमने आपको गॉलब्लैडर स्लज (Gallbladder Sludge) के संबंध में जानकारी दी है। हम उम्मीद करते हैं कि आपको ये आर्टिकल पसंद आया होगा। आप स्वास्थ्य संबंधी अधिक जानकारी के लिए हैलो स्वास्थ्य की वेबसाइट विजिट कर सकते हैं। अगर आपके मन में कोई प्रश्न है, तो हैलो स्वास्थ्य के फेसबुक पेज में आप कमेंट बॉक्स में प्रश्न पूछ सकते हैं और अन्य लोगों के साथ साझा कर सकते हैं।

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    लेखक की तस्वीर badge
    Bhawana Awasthi द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 27/05/2021 को
    डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड