home

What are your concerns?

close
Inaccurate
Hard to understand
Other

लिंक कॉपी करें

क्या फिंगरिंग से आप गर्भवती हो सकती हैं? जानिए फिंगरिंग और प्रेग्नेंसी में संबंध

क्या फिंगरिंग से आप गर्भवती हो सकती हैं? जानिए फिंगरिंग और प्रेग्नेंसी में संबंध

सेक्स को बहुत ही निजी मामला माना जाता है और आज भी इसके बारे में बात करने से लोग शर्माते हैं। हालांकि, पहले के मुकाबले कुछ बदलाव तो आया है और बदल चुके हैं सेक्स करने के तरीके भी। ऑर्गेज्म और पूरा सुख पाने के लिए आजकल लोग नए-नए तरीके अपनाने से नहीं हिचकते। सेक्स का जो तरीका आजकल प्रचलित है वो है फिंगरिंग। फिंगरिंग को सेफ सेक्स का तरीका माना जाता है। इसके साथ ही इससे यौन संक्रामक रोगों से भी बचा जा सकता है। लेकिन, लोगों में इसको लेकर कई सवाल हैं और लोग ऐसा सोचते हैं कि फिंगरिंग से महिला गर्भवती भी हो सकती है। जानिए फिंगरिंग और प्रेग्नन्सी में संबंध है या नहीं।

फिंगरिंग क्या है?

जैसा की पहले बताया गया है फिंगरिंग सेक्स का ही एक तरीका है। इसमें योनि को उत्तेजित करने के लिए उंगलियों का प्रयोग किया जाता है। इसमें पार्टनर एक या अधिक उंगलियों को अपनी महिला साथी की योनि में प्रवेश कराता है। गुदा में उंगलियों को डालना भी फिंगरिंग ही कहलाता है और फिंगरिंग मास्टरबेशन का हिस्सा भी हो सकता है। फिंगरिंग का प्रयोग कामोत्तेजना या फोरप्ले के रूप में भी किया जाता है जिससे महिला को ऑर्गेज्म यानि संभोग सुख प्राप्त करने में मदद मिलती है। अर्थात, फिंगरिंग केवल सम्भोग सुख प्राप्त करने के लिए ही है

और पढ़ें: सेक्स को एंजॉय करने के लिए ट्राई करें सेक्स लुब्रिकेंट्स (sex lubricants)

क्या फिंगरिंग से आप गर्भवती हो सकती हैं?

जब बात आती है फिंगरिंग और प्रेग्नेंसी में संबंध की तो कई बार महिलाओं के मन में यह सवाल आता है कि क्या वो फिंगरिंग से गर्भवती हो सकती हैं? तो इसका जवाब है नहीं, फिंगरिंग से गर्भवती नहीं हुआ जा सकता। हालांकि कुछ स्थितियों में ऐसा होना संभव भी है। लेकिन असल में यह शारीरिक संबंध बनाते हुए चरम सुख पाने का केवल एक तरीका भर है।

और पढ़ें: पार्टनर को पसंद है आक्रामक सेक्स (Rough Sex), तो काम आएंगी ये टिप्स

किन स्थितियों में आप गर्भवती हो सकती हैं?

जैसे की बताया गया है कि फिंगरिंग और प्रेग्नेंसी में संबंध नहीं है। महिला प्रेग्नेंट तभी हो सकती हैं जब उसकी योनि में पुरुष का वीर्य जाए। लेकिन फिंगरिंग में पुरुष का वीर्य महिला की योनि में नहीं जाता, ऐसे में गर्भवती होने की संभावना नहीं होती। हालांकि, कुछ स्थितियों में ऐसा होना संभव हो सकता है जैसे :

  • अगर पुरुष का पूर्व स्खलन हो गया हो और वो वीर्य पुरुष की उंगली में लगा हो। अगर ऐसा है और इन्ही उंगलियों को पुरुष महिला की योनि में डाल देता है तो महिला गर्भवती हो सकती है। हालांकि, इस स्थिति में भी प्रेग्नेंसी के चान्सेस बहुत कम होंगे।
  • अगर आपके पार्टनर ने फिंगरिंग से पहले हस्तमैथुन किया हो और वो वीर्य उसके हाथों या उंगलियों में लगा हो। तो इस स्थिति में भी आपके गर्भवती होने की संभावना हो सकती है। लेकिन तभी जब वीर्य उसके हाथों में हो और वो वीर्य फिंगरिंग करते समय आपकी योनि में जाए।
  • ऐसा कहा जाता है कि जब पुरुष का लिंग इरेक्ट होता है जब उसमे से वीर्य की कुछ बूंदे निकलती हैं। अगर आपने अपने पार्टनर के लिंग को हाथ में पकड़ा हो और उसके बाद खुद फिंगरिंग की हो तो उस स्थिति में भी आप गर्भवती हो सकती हैं।
  • अगर आपके पार्टनर का फिंगरिंग करने से पहले आपके ऊपर ही पूर्व स्खलन हुआ हो तो इस स्थिति में भी यह संभावना हो सकती है कि उंगलियों के माध्यम से वीर्य आपकी योनि में चला जाए और आप गर्भवती हो जाएं। हालांकि इन सभी स्थितियों में गर्भवती होने की संभावना न के बराबर है और फिंगरिंग और प्रेग्नेंसी में संबंध भी न के बराबर है । लेकिन, इससे पूरी तरह से इंकार नहीं किया जा सकता और आप इससे भी गर्भवती हो सकती हैं।

फिंगरिंग और प्रेग्नेंसी में संबंध

फिंगरिंग और प्रेग्नेंसी में संबंध को समझने के लिए आपको यह समझना होगा कि स्थिति चाहे कोई भी हो अगर आप गर्भवस्था से बचना चाहती हैं तो बस इस बात का ध्यान रखें कि किसी भी तरह से वीर्य आपकी योनि में न जाए। अगर वीर्य शरीर के बाहर है और सूख जाता है तो वो नष्ट हो जाता है। इसके बाद वो महिला के अंडाणु को फर्टिलाइज़ नहीं कर सकता। अगर यह सूख जाता है तो उसका फिर से जीवित नहीं हो सकता। लेकिन, यह महिला की योनि या गर्भाशय में तीन से पांच दिन तक जीवित रह सकता है और महिला के गर्भवती होने के चांस बढ़ जाते हैं।

और पढ़ें: सेक्स मिस्टेक्स (sex mistakes) : यौन संबंध के समय जाने-अनजाने महिलाएं करती हैं ये 9 गलतियां

मुझे कैसे पता चलेगा कि मैं गर्भवती हूँ

अगर आपको ऐसा लगे कि आप गर्भवती हैं तो न घबराएं। गर्भवस्था का पता लगने या इसके लक्षण सामने आने में थोड़ा समय लगता है। आप एक दिन या एक हफ्ते में इस बारे में नहीं जान सकते। लेकिन अगर फिंगरिंग के तुरंत बाद आपको लगता है कि आपने कोई सुरक्षा नहीं अपनायी है तो आप आपातकालीन बर्थ कंट्रोल पिल ले सकती हैं जो बाजार में आसानी से उपलब्ध है। इसके बाद भी अगर आपको थोड़ा सा भी शक है कि आप गर्भवती हो सकती हैं तो सबसे पहले गर्भवस्था के लक्षणों पर नजर रखें। इसके लिए आपको फिंगरिंग और प्रेग्नन्सी में संबंध के बारे में अधिक जानने के साथ-साथ गर्भवस्था के शुरुआती लक्षणों के बारे में पता होना चाहिए जो इस प्रकार हैं :

पीरियड ना आना:

गर्भवती होने का सबसे सामान्य लक्षण है पीरियड न आना। अगर आपके पीरियड मिस हुए हैं तो यह आपके गर्भवती होने का संकेत हो सकता है। लेकिन, ऐसा आवश्यक नहीं कि इसके पीछे गर्भावस्था ही हो कई बार बीमारी, तनाव ,ख़राब लाइफस्टाइल आदि के कारण भी पीरियड आने में देरी हो सकती है।

1) हल्की ब्लीडिंग या स्पॉटिंग :

हल्की ब्लीडिंग या स्पॉटिंग होना भी प्रेगनेंसी का एक लक्षण है।

2) छाती में सूजन या सख्त होना :

अगर आप गर्भवती हैं तो आपको अपनी छाती में सूजन महसूस हो सकती हैं या यह सामान्य से अधिक सख्त लग सकती है।

3) कमजोरी महसूस करना

गर्भावस्था में कमजोरी आ जाती है और थोड़ा सा भी काम करने पर आप थका हुआ महसूस कर सकती हैं।

4) जी मचलना

जी मचलना, मूड स्विंग्स और अधिक चिड़चिड़ापन भी गर्भवस्था के शुरुआती लक्षण हैं।

5) अधिक बार पेशाब आना

अगर आप प्रेग्नेंट हैं तो आपको बार-बार पेशाब आने की समस्या हो सकती है।

हर गर्भवती महिला ऊपर दिए सभी लक्षणों को महसूस नहीं करती है। लेकिन, अगर आप प्रेग्नेंट हैं तो आपको इनमें से कोई न कोई लक्षण अवश्य महसूस होगा। कई बार मासिक धर्म आने से पहले, हार्मोनल बर्थ कंट्रोल पिल्स लेने और शुरुआती गर्भवस्था के लक्षण एक समान हो सकते हैं। अगर आपको ऊपर दिए लक्षण महसूस हों और आपके मासिक धर्म आने में देरी हो रही हो। तो उस स्थिति में आप प्रेगनेंसी टेस्ट कर सकती हैं। यह प्रेग्नेंसी टेस्ट किट बाजार में आसानी से मिल जाती है। अगर आपका टेस्ट रिजल्ट पॉजिटिव आता है। तो आप तुरंत डॉक्टर के पास जाएँ और अपनी जाँच कराएं। गर्भवती होने की स्थिति में आगे के उपचार आदि की सही सलाह आपको डॉक्टर ही दे सकते हैं।

और पढ़ें:Termination Of Pregnancy : टर्मिनेशन ऑफ प्रेग्नेंसी (अबॉर्शन) क्या है?

किस बात का रखें ध्यान

तो अंत में आप यह अच्छे से जान चुके होंगे कि फिंगरिंग और प्रेग्नेंसी में संबंध नहीं है फिंगरिंग का सबसे बड़ा फायदा यही है कि यह पूरी तरह से सेफ है और इससे ऑर्गेज्म पाने में मदद मिलती है। लेकिन, इससे एक नुकसान भी है। फिंगरिंग से इन्फेक्शन होने की संभावना बढ़ सकती है और यह सेक्सुअली ट्रांसमिटेड डिजीज (STDs) का कारण भी बन सकती है। इसलिए अगर आप इन्फेक्शन की स्थिति से बचना चाहती हैं और यह भी चाहते है कि उंगलियों के माध्यम से वीर्य आपकी योनि में न जाए तो फिंगरिंग से पहले अपने पार्टनर को हाथ धोने की सलाह दें।

 

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर badge
Anu sharma द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 26/07/2020 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड